हिन्दी से संस्कृत में अनुवाद

अनुवाद।
एक भाषा की किसी पंक्ति को किसी अन्य भाषा में परिवर्तित करना ही अनुवाद कहलाता है। जैसे—यदि हम संस्कृत के किसी वाक्य को हिन्दी में परिवर्तित करते हैं तो यह ‘संस्कृत का हिन्दी में अनुवाद’ कहा जाता है। ठीक उसी प्रकार यदि हम हिन्दी के किसी वाक्य को संस्कृत में परिवर्तित करते हैं तो यही ‘हिन्दी का संस्कृत में अनुवाद’ कहा जाता है।

हिन्दी भाषा के वाक्यों को संस्कृत भाषा में परिवर्तित करने के लिए निश्चित नियम हैं। उन नियमों के अनुसार हिन्दी वाक्यों का संस्कृत में अनुवाद ठीक प्रकार से किया जा सकता है। वे नियम या बातें निम्न प्रकार हैं।
हिन्दी से संस्कृत में अनुवाद करने के लिए संस्कृत व्याकरण के इन नियमों को भली-भाँति समझना आवश्यक है

संस्कृत में तीन पुरुष, तीन वचन और तीन लिंग होते हैं।
UP Board Solutions for Class 12 Sahityik Hindi हिन्दी से संस्कृत में अनुवाद 1
संस्कृत में कर्ता के पुरुष एवं वचन के आधार पर क्रिया का रूप निर्धारित होता है, किन्तु क्रिया पर लिंग का कोई प्रभाव नहीं पड़ता।। उदाहरणार्थ-‘राम पढ़ता है’ वाक्य के लिए संस्कृत में लिखा जाएगा ‘रामः पठति’, जबकि ‘सीता पढ़ती है’ के लिए भी ‘सीता पठति’ ही लिखा जाएगा। इस प्रकार यहाँ क्रिया कर्ता के लिंग से अप्रभावित है। हिन्दी से संस्कृत में अनुवाद करने के लिए कर्ता के पुरुष और वचन की पहचान करना अति आवश्यक है। संस्कृत में प्रथम पुरुष, मध्यम पुरुष एवं उत्तम पुरुष के प्रत्येक वचन के लिए एक-एक कर्ता होता है।

अतः तीन वचन होने से प्रथम पुरुष के तीन कर्ता, मध्यम पुरुष के तीन कर्ता और उत्तम पुरुष के तीन कर्ता होंगे। इस प्रकार कुल नौ कर्ता हुए। आइए, इस तालिका को समझे-.
UP Board Solutions for Class 12 Sahityik Hindi हिन्दी से संस्कृत में अनुवाद 2

यह ध्यान देने योग्य बात यह है कि ‘तुम’ का बहुवचन में प्रयोग होने पर मध्यम पुरुष बहुवचन की क्रिया ही ली जाती है। उदाहरणार्थ-बालक! तुम विद्यालय जाओ’। का संस्कृत में अनुवाद होगा ‘बालक! यूयं विद्यालयं गच्छत।’ संस्कृत में क्रिया को ‘धातु के नाम से जाना जाता है और मुख्यतः पाँच लकारों के द्वारा धातुओं (क्रियाओं) का बोध कराया जाता है। वर्तमान काल के अर्थ में लट्लकार का, भूतकाल के अर्थ में ललकार का एवं भविष्यत् काल के अर्थ में लट्लकार का प्रयोग होता है। आज्ञा देना, प्रार्थना करना, प्रस्ताव रखना एवं इच्छा ध्या करने के अर्थ में लोट्लकार तथा चाहिए, सम्भावना एवं शनि प्रदर्शन के अर्थ में विधिलिङ्लकार को प्रयोग में लाया जाता हैं। नीचे ‘भू’ धातु अर्थात् ‘होना’ क्रिया के तीनों कालों के लिए लकार में रूप दिए जा रहे हैं

भू (होना)
लट्लकार (वर्तमान काल)

UP Board Solutions for Class 12 Sahityik Hindi हिन्दी से संस्कृत में अनुवाद 3
UP Board Solutions for Class 12 Sahityik Hindi हिन्दी से संस्कृत में अनुवाद 4
(उपर्युक्त धातुओं के भू के तुल्य रूप चलेंगे।)
हिन्दी से संस्कृत में अनुवाद करते समय इस बात का ध्यान रखना आवश्यक है कि कर्ता जिस वचन का होगा, क्रिया भी उसी वचन की ली जाएगी।
UP Board Solutions for Class 12 Sahityik Hindi हिन्दी से संस्कृत में अनुवाद 5


UP Board Solutions for Class 12 Sahityik Hindi हिन्दी से संस्कृत में अनुवाद 6

विभक्तियाँ
संस्कृत में हिन्दी के कारक चिह्नों (परसर्ग) के स्थान पर सात विभक्तियाँ एवं आठवीं सम्बोधन प्रयुक्त किए जाते हैं, जो इस प्रकार हैं-
UP Board Solutions for Class 12 Sahityik Hindi हिन्दी से संस्कृत में अनुवाद 7

प्रथम विभक्ति पर आधारित संस्कृत अनुवाद

हिन्दी वाक्य

संस्कृत अनुवाद

(i) मोहन लिखता है।

मोहनः लिखति।

(ii) मालती बोलती है।

मालतीं वदति।

(iii) आप नहीं खाते हैं।

भवान् न खादति।

(iv) यमुना बहती है।

यमुना वहति।।

द्वितीय विभक्ति पर आधारित संस्कृत अनुवाद

हिन्दी वाक्य

संस्कृत अनुवाद

(i) तुम सब पुस्तक पढ़ते हो।

यूयं पुस्तकं पठथ।

(ii) पण्डित ज्ञान देता है।

पण्डितः ज्ञानं ददाति।

(iii) मैंने पत्र दिया।

अहं पत्रम् अददाम्।

(iv) सीता दान करती है।

सीता दानं करोति।

तृतीय विभक्ति पर आधारित संस्कृत अनुवाद

हिन्दी वाक्य

संस्कृत अनुवाद

(i) राजा स्वभाव से सज्जन है।

नृपः प्रकृत्या सज्जनः अस्ति।

(ii) उमेश सिर से गंजा है।

उमेशः शिरसा खल्वाटोऽरित।

(iii) विनीत कमर से कुबड़ा है।

विनीत कटया कुजः अस्ति।

(iv) वह आँखों से देखती हैं।

सः नेत्राभ्यां पश्यति।

चतुर्थी विभक्ति पर आधारित संस्कृत अनुवाद

हिन्दी वाक्य

संस्कृत अनुवाद

(i) राजा पण्डित को दान देता है।

नृपः पण्डिताय दानं ददाति।

(ii) अनीता को लड्डू अच्छा लगता है।

अनीतायै मोदकम् रोचते।

(iii) इस बालक के लिए मिठाई लाओ।

अस्मै बालकाय मिष्टान्नम् अन्य।

(iv) मोहन ने गरीब को धन दिया।

मोहनः दरिद्राय सम्पदाम् अदात्।

पञ्चमी विभक्ति पर आधारित संस्कृत अनुवाद

हिन्दी वाक्य

संस्कृत अनुवाद

(i) पेड़ से पत्ते गिरते हैं। (2018)

वृक्षात् पत्राणि पतन्ति।

(ii) गाँव से बाहर विद्यालय है।।

ग्रामात् बहिः विद्यालयः अस्ति।

(iii) ममता नदी से जल लाती है।

ममता नद्याः जलम् आनयति।

(iv) सज्जन दुर्जन से डरता है।

सज्जनः दुर्जनात् बिमैति।

षष्ठी विभक्ति पर आधारित संस्कृत अनुवाद

हिन्दी वाक्य

संस्कृत अनुवाद

(i) यह राम की किताब है।

इदं रामस्य पुस्तकम् अस्ति।

(ii) कृष्ण का घर कहाँ है?

कृष्णस्य गृहम् कुत्र अस्ति?

(iii) वह किसका हाथी है?

सः कस्य गजः अस्ति?

(iv) अशोक मगध के राजा थे?

अशोक: मगधस्य नृपः आसीत्।

सप्तमी विभक्ति पर आधारित संस्कृत अनुवाद

हिन्दी वाक्य

संस्कृत अनुवाद

(i) सन्ध्या विद्यालय में है।

सन्ध्या विद्यालये अस्ति।

(ii) भीम युद्ध में प्रवीण था।।

भीमः युद्धे प्रवीणः आसीत्।

(iii) कार्यालय में छुट्टी है।

कार्यालये अवकाशः अस्ति।

(iv) पण्डित आसन पर बैठा है।

पण्डितः आसने तिष्ठति।

सम्बोधन विभक्ति पर आधारित संस्कृत अनुवाद

हिन्दी वाक्य

संस्कृत अनुवाद

(i) हे देव! कल्याण करो।

हे देव! कल्याणं कुरु।

(ii) प्रभु! मेरी रक्षा करो।

भों प्रभु! मां रक्षा

(iii) बालकों! तुम सब घर जाओ।

हे बालकाः! यूयं गृहं गछता

(iv) हे दुर्योधन! प्रिय वचन बोलो।

हे दुर्योधनः! प्रिय वचनं वद।

बोर्ड परीक्षा में पूछे गए हिन्दी-संस्कृत अनुवाद

वर्ष 2018

हिन्दी वाक्य

संस्कृत वाक्य

1. विद्यालय के सामने उपवन है।

विद्यालयं सम्मुखें उपवनम्अस्ति ।

2. हम दोनों को हँसना चाहिए।

आवां हसेव।

3. घोड़ा पाँव से लँगड़ा है।

अश्वः पादेन पङ्गु अस्ति।

4. पुस्तकों में गीता श्रेष्ठ है।

पुस्तकानां पुस्तकेषु वा गीता श्रेष्ठ अस्ति

5. हम लोग कहाँ जाएँगे?

वयं कुत्र गामिष्यामः।

6. बालक पढ़ रहे हैं।

बालकाः पठन्ति।

7. कल मैं विद्यालय जाऊँगा।

श्वः अहं विद्यालयं गमिष्यामि।

8. हमें सदा सत्य बोलना चाहिए।

वयं सदा सत्यं वदेम।

9. विद्या व्यय से बढ़ती है।

विद्या व्ययात् वर्धते।

10. मोहन गा रहा है।

मोहनः गीयते।

11. कवियों में कालिदास श्रेष्ठ हैं।

कवीनां कवीषु वा कालिदासः श्रेष्ठः अस्ति।

12. प्रयाग के दोनों तरफ गंगा बहती है।

प्रयागं परितः गंगा वहति।

13. राधा कृष्ण के साथ यमुना किनारे जाती थी

राधा कृष्णेन सह यमुनातरे गच्छति स्म।

14. भिक्षुक के लिए कपड़ा दीजिए।

भिक्षुकाय वस्त्रं यच्छ।

15, प्रतिदिन प्रातःकाल गुरु जी को प्रणाम करो।

प्रतिदिनं प्रातः गुरवे नमः कुरु।

16. मेरा बड़ा भाई पिता से लड्डू माँगता है।

ममं अग्रजः पितर मोदकं याचते।

17, मैदान के चारों ओर हरे वृक्ष हैं।

क्षेत्रं परितः हरितानि वृक्षाणि सन्ति

18. कवियों में तुलसीदास श्रेष्ठ

कवीनां कवीषु वा तुलसीदासः श्रेष्ः अस्ति।

19. पथिक किसान से रास्ता पूछता है।

पथिकः कृषकं मार्गं पृच्छति।

20. हम लोग तुमको यह पुस्तक देंगे।

वयं तुभ्यं इदं पुस्तकं दास्यामः।

21. भगवान शंकर को नमस्कार है।

भगवते शंकराय नमः

22. संस्कृत भाषा सब भाषाओं की जननी है।

संस्कृत भाषा सर्वांषां भाषाणां जननी अस्ति।

23. दुष्ट कभी दुष्टता नहीं छोड़ता।।

दुष्टः कदापि दुष्टता न त्यजति।

24. प्रतिदिन ईश्वर का स्मरण करो।

प्रतिदिनं ईश्वर स्मर।

25. आज वह वाराणसी जाएगा।

अद्य सः चाराणसीम गमिष्यति।

26. हमें प्रतिदिन खेलना चाहिए।

वयं प्रतिदिन क्रीडेम।

27. ईष्र्या मनुष्य की शत्रु है।

ईष्र्या मनुष्याणां शत्रु अस्ति।

28. सदाचार मनुष्य का आभूषण है।

सदाचारः मनुष्यानाम् आभूषणम् अस्ति

29. कल वर्षा अवश्य होगी।

श्वः वर्षा अबश्या भविष्यति।

30. तुम लोग शीघ्र विद्यालय जाओ।

यूयं शीघ् विद्यालयं गच्छत्।

31. वृक्ष से पत्ते गिरते हैं।

वृक्षात् पत्राणि पतन्ति।

वर्ष 2017

हिन्दी वाक्य

संस्कृत वाक्य

1. तुम्हें क्या करना चाहिए?

त्वं किं कुर्या:?

2. हम जा रहे हैं।

वयं गच्छामः।

3. आज समाज उनका ऋणी है।

अद्य समाजः तेषा ऋणी अरित।

4. रीतिका एक मेधावी छात्रा है।

रीतिको एक मेधावी छात्रा अस्ति!

5. वे दोनों कल काशी गए थे।

तौ हुयः काशीम् अगच्छातम्।

6. कवियों में कालिदास श्रेष्ठ ।

कविषु कालिदासः श्रेष्ठः

7. राम श्याम के साथ घर जाता है।

राम: श्यामेन सह गृहं गच्छतः।

8. पक्षी आकाश में उड़ते है।

खगाः गगने विचरन्ति

9. भिक्षुक राजा से वस्त्र माँगता है।

भिक्षुकः राजानाम् वस्त्रं याचति।

10. अध्यापक के चारों ओर विद्यार्थी दौड़ते हैं।

अध्यापकं परितः छात्राः धावन्ति।

11. हनुमान वानरों के साथ लङ्का गए।

हनुमानः वानरैः सह लङ्काम् अगच्छन्।

12. वृक्ष से पके हुए फल गिरते हैं।

वृक्षात् पक्वानि फलानि पतन्ति।

13. देवी दुर्गा को नमस्कार है।

दुर्गादेव्याः नयः।

14. गीता का छोटा भाई छात्राओं को पुस्तकें देता है।

गीतायाः कनिष्ठ भातरः छात्राणाम् पुस्तकं ददति।।

15. खेत के दोनों ओर भवन हैं।

क्षेत्रम् अभितः भवनानि सन्ति।

16. राम ने रावण को बाण से मारा। (2017)

रामः रावणं बाणेन अह्नत्।

17. मोहन चावलों से भात पकाता है।

मोहनः तण्डुलेन् ओदनं पचति।

18. हिमालय भारत की रक्षा करता हैं।

हिमालयः भारतस्य रक्षां करोति।

19. तुम प्रतिदिन ईश्वर का स्मरण करो।

त्वं प्रतिदिनं ईश्वरस्य स्मरणं कुरू।

20. धीर पुरुष न्याय के रास्ते से विचलित नहीं होते।

न्यायपथात् प्रविचलन्ति पढ़ा न धीराः।

वर्ष 2016

हिन्दी वाक्य

संस्कृत वाक्य

1. शिव पार्वती के साथ कैलाश गए।

शिवः पार्वत्या सह कैलाशम् अगच्छत्।

2. रमेश की छोटी बहन पैर से लंगड़ी हैं।

रमेशस्य अनुजा (भगिनी) पादेन खजः अस्ति।

3. सभी देवताओं को नमस्कार है।

सर्वे देवेभ्यःनमः।।

4. दाता भिखारियों को अन्न देता है।

दाता भिक्षुकेभ्यः अन्नं यच्छति।

5. वृक्ष से फल गिरते हैं।

वृक्षात् फलानि पतन्ति।

6. गाँव के सब ओर उपवन है।

ग्रामम् सर्वतः उपनामि सन्ति।

7. वह भिखारी को भिक्षा देता है।

सः भिक्षुकाय भिक्षा ददाति।

8. बालकों में रमेश सबसे बड़ा है।

बालकेषु रमेशः ज्येष्ठ अस्ति।

9. वे दोनों कहाँ जा रहे हैं?

तौ कुत्र गच्छतः।

10. मैं कल प्रयाग गया था।

अहम् श्वः प्रयागम् अगच्छम्।

11. तुम लोग माँ के साथ जाओ।

यूयम् मात्रा सह गच्छता

12. हमें नित्य पढ़ना चाहिए।

अस्माभिः नित्यं पठितव्यम्।।

13. आकाश कल कहाँ जाएगा?

आकाशः इवः कुत्र गामिष्यतिः

14. श्री राम ने पूछा मुझे कहाँ  रहना चाहिए?

श्री रामः अपृच्छत्-मया कुत्र स्थातव्यम्।।

15. सड़क के दोनों ओर हरे वन हैं।।

मार्गम् उभयतः हरितानि वनानि सन्ति

16. पिता पुत्र को मिठाई देता है।

पिता पुत्राय मिष्ठान्नम् यच्छति।

17. बालिकाएँ अध्यापिकाओं के साथ गीत गाती हैं।

बालिकाः अध्यापिकाभिः सह गीत गायन्ति।

18. कृष्ण ने सुदर्शन चक्र से शिशुपाल को मारा।

कृष्णः सुदर्शन चक्रणे शिशुपाल अनत्।।

19. मेरा बड़ा भाई अपने साथियों में सबसे कुशाग्र हैं।

मम अग्रजः निज मित्रेषु कुशाग्रः अस्ति

20. हमें अपने गुरुजनों का सदैव आदर केरना चाहिए।

अस्माभिः सदैव निजगुरुजनान् सम्मानं कर्तव्यम्।

21. योग स्वस्थ जीवन के लिए आवश्यक है।

योगः स्वस्थ जीवनाय आवश्यकम्। अस्ति

वर्ष 2015

हिन्दी वाक्य

संस्कृत वाक्य

1. नदियों में गंगा श्रेष्ठ है।

नदीषु गङ्गा श्रेष्ठा अस्ति।

2. राम विद्यालय गया।

रामः विद्यालयम् अगच्छत्।

3. यह मोहन की पुस्तक है।

इदं मोहनस्य पुस्तकं अस्ति।

4. मोहन गैर से लंगड़ा है।

मोहनः पार्दन खजः अस्ति।

5. नदी के दोनों ओर नगर हैं।

नदीं उभयतः नगरम् अस्ति।

6. अध्यापक छात्र को पुस्तक देता है।

अध्यापक: छात्राय पुस्तकं ददाति।

7. नदी के दोनों ओर हरे-भरे खेत हैं।

नदीं उभयतः स्यश्यामलानि क्षेत्राणि सन्ति

8. रमेश अपनी बहन को मीठे फल देती हैं।

रमेशः स्वभगिन्यै मधुरं फलं ददाति।

9. अध्यापकों ने विद्यालय आकर छात्रों को पढ़ाया।

अध्यापकाः विद्यालये आगत्य छषान् अध्यापयन्ति स्म।

10. सीता का छोटा भाई मोहन के साथ खेलने जाएगा।

सीतायाः अनुजः मोहनेन सह क्रीडष्यति

11. भिखारी दोनों आँखों से अन्धा है।

भिक्षुक नेत्राभ्याम् अन्धः अस्ति।

12. अभिज्ञानशाकुन्तलम् अन्य नाटकों से अधिक रम्य हैं।

अभिज्ञानशाकुन्तलम् अन्येषुनाटकेषु अधिकं रम्यम् अस्ति।

वर्ष 2014

हिन्दी वाक्य

संस्कृत वाक्य

1. वे दोनों क्या करते हैं?

तौ किं कुरुतः?

2. आकाश विद्वानों में श्रेष्ठ है।

आकाशः विद्वत्सु श्रेष्ठः अस्ति।

3. अध्यापिका छात्रा से प्रश्न का उत्तर पूछती है।

अध्यापिका छात्र प्रश्नोत्तरं पृच्छति।

4. तुम दोनों कल मेरे साथ बाजार नहीं जाओगे।

युवा श्वः मया सह आपणं न गमिष्यथः।

5. स्नान करने से रूप की रक्षा होती है।

स्नानेन रूपस्य रक्षा भवति।

6. लोभ पाप का कारण होता है।

लोभः पापस्य कारणं भवति।

7. वे अपने विद्यालय जाएँ।

ते स्वविद्यालयं गच्छन्तु।

8. पिता की आज्ञा से श्रीराम वन को गए।

पितुः आज्ञया श्रीरामः वनम् अगच्छतु।

9. सुरेश दोनों कानों से बहरा है।

सुरेशः कर्णभ्यां बधिरः अस्ति।

10. हम लोगों ने पानी पीकर अपना पाठ पड़ा।

वयं जलं पीत्वा स्वपाठम् अपठाम्।

वर्ष 2013

हिन्दी वाक्य

संस्कृत अनुवाद

1. तालाब में कमल खिलते हैं।

तड़ागे कमलानि विकसन्ति।

2. वे दोनों विद्यालय जाते हैं।

तौ विद्यालयं गच्छतः।

3. किसी वन में एक सिंह रहता था। (2017)

कस्मिंश्चिद् वने एकः सिंह: निवसति स्म।

4. मैं तुम्हारे साथ विद्यालय नहीं जाऊँगी।

अहं त्वया सह विद्यालयं न गमिष्यामि।

5. पिता की आज्ञा से श्रीराम वन को गए।

पितुः आज्ञया श्रीरामः वनम् अगच्छत्।

6. कुएँ के चारों ओर लोग बैठते हैं

कूपं परितः जनाः तिष्ठन्ति।

7. गाँव के चारों ओर वृक्ष हैं। (2017)

ग्रामं परितः वृक्षाः सन्ति।

8. छात्रों में राम श्रेष्ठ हैं

छात्रेषु रामः श्रेष्ठः अस्ति।

9. चरित्र की यत्नपूर्वक रक्षा करनी चाहिए।

वृत्तं यत्नेन संरक्षेत्।

10. वह चावलों से भात पकाएगी

सा तण्डुलैः ओदनं पक्ष्यति।

11. भिखारी दोनों कानों से बहरा है।

भिक्षुकः कर्णाभ्यां बधिरः, अस्ति।

12. विद्यार्थी को सुख छोड़ना चाहिए।

विद्यार्थी सुखं त्यजेत्।।

13: संस्कृत भाषा देवभाषा है।

संस्कृतभाषा देवभाषा अस्ति।

14. तुम सब संस्कृत पढौ।।

यूयं संस्कृतं पठतम्।।

15. सोनू सिंह से नहीं डरता।

सोनू सिंहात् न बिभेति।

वर्ष 2012

हिन्दी वाक्य

संस्कृत अनुवाद

1. मैं कल बाजार जाऊँगा।।

अहं श्वः आपणं गमिष्यामि।

2. सदा सत्य और प्रिय वचन बोलो।

सदा सत्यं प्रियवचनं च वद।

3. पुरुषोत्तम राम यहाँ आए थे।

पुरुषोत्तमः रामः अत्र आगच्छत्।

4. तेरी पुस्तक कहाँ है?

तव पुस्तकं कुत्र अस्ति?

5. वह मेरे साथ विद्यालय में पढ़ता है।

सः मया सह विद्यालये पठति।

6. हिमालय उत्तर दिशा में स्थित है।

हिमालयः उत्तरदिशि स्थितः।।

7. साँप वेग से चलता है।

सर्पः वेगेन चलति।

8. बाग में आम के पेड़ हैं।

उद्याने आम्रवृक्षाः सन्ति।

9. हम मित्रों के साथ भोजन करेंगे।

वयं मित्रैः सह भोजनं करिष्यामः।

10. यह मेरा विद्यालय है।

अयं मम विद्यालयः अस्ति।

11. मैं दूध नहीं पीऊँगा।

अहं दुग्धं न पास्यामि।

12. तुम सब कहाँ पढ़ते हो?

यूयं कुत्र पथ?

13. छात्रों को विद्यालय जाना चाहिए।

छात्राः विद्यालयं गच्छेयुः।

14. बालकों में राम श्रेष्ठ है।

बालकेषु रामः श्रेष्ठः अस्ति।

15. मेरी माताजी गृहकार्य में निपुण हैं।

मम माता गृहकार्यं निपुणा अस्ति।

वर्ष 2011

हिन्दी वाक्य

संस्कृत अनुवाद

1. पुत्र प्रातः पिता को प्रणाम करता है।

पुत्रः प्रातःकाले पितरं प्रणाम करोति।।

2. क्या राम ने अभी को अपनी पुस्तक अददात्?

किं रामः प्रभायै स्वपुस्तकं न नहीं दी?

3. वह प्रतिदिन प्रातःकाल उठता है।

सः प्रतिदिन प्रातःकाले उत्तिष्ठति।

4. मैं अपने मित्र के साथ विद्यालय जाता हैं।

अहं स्वमित्रेण सह विद्यालयं गच्छामि।

5. इन्द्र बादलों से खेल रहे हैं।

इन्द्रः मेघैः क्रीडति।।

6. सड़क के दोनों ओर हरे-भरे खेत हैं।

मार्ग उभयतः हरितानि क्षेत्राणि सन्ति।

7. मैं कल दिल्ली जाऊँगा।

अहं श्वः दिल्लीं गमिष्यामि।

8. प्रजा का कल्याण हो।

प्रजाभ्यः स्वस्ति।

9. सदा सत्य और प्रिय वचन बोलो।

सदा सत्यं प्रियवचनं च वद।

10. राजा दिलीप एक महापुरुष थे।

राजा दिलीपः एकः महापुरुषः आसीत्।

11. राम, लक्ष्मण के साथ वन में गए।

रामः लक्ष्मणेन सह वनम् अगच्छत्।

12. बालकों में गोविन्द श्रेष्ठ है।

बालकेषु गोविन्दः श्रेष्ठः अस्ति।

13. श्रीकृष्ण के दोनों ओर गोपाल हैं।

श्रीकृष्णम् उभयतः गोपालकाः सन्ति।

14 .हम सब कल प्रयाग गए थे।

वयं ह्यः प्रयागम् अगच्छाम।।

15. फूलों पर भौंरे गूंजते हैं।

पुष्पेषु भ्रमराः गुञ्जन्ति।

वर्ष 2010

हिन्दी वाक्य

संस्कृत अनुवाद

1. क्या तुम आज वाराणसी जाओगे?

किं त्वम् अद्य वाराणसीं गमिष्यति?

2. छात्रों को गुरु के प्रति विनम्र होना चाहिए।

शिष्याः गुरु प्रति विनमः भवेयुः।

3. जानवर सायंकाल जंगल से घर आ गए।

पशवः सायंकाले वनात् गृहे आगच्छन्।

4. पिताजी बालक के साथ विद्यालय जाते हैं।

पिता बालकेन सह विद्यालयं गच्छति।।

5. सफलता के लिए हमें अति परिश्रम करना चाहिए।

सफलतायाः हेतो वयं अतिपरिश्रम कुर्याम्।

6. उमेश दोनों कानों से बहरा है।

उमेशः कर्णाभ्यां दधिरः अस्ति।

7. छात्रों में मोहन श्रेष्ठ है।

छात्रेषु मोहनः श्रेष्ठः अस्ति।

8. विद्यालय का वार्षिकोत्सव कब होगा?

विद्यालयस्य वार्षिकोत्सवः कदा भविष्यति?

9. विद्यालय के चारों ओर वृक्ष हैं।

विद्यालयं परितः वृक्षाः सन्ति

10. हिमालय से गंगा निकलती है।

हिमालयात् गङ्गा प्रभवति।

11. सरोवरों में कमल खिलते हैं।

सरोवरेषु कमलानि विकसन्ति।

12. मनुष्य सदाचार से यश प्राप्त करता है।

मनुष्यः सदाचारेण यशं प्राप्नोति।

13. तुम जल्दी घर जाओ।

त्वं शीघ्रं गृहं गच्छ।

14. गुरु को नमस्कार है।

गुरुवे नमः।।

15. मैं तुम्हारे साथ विद्यालय नहीं जाऊँगी।

अहं त्वया सह विद्यालयं न गमिष्यामि।