1 The Summer of the Beautiful White Horse

– William Saroyan

| ADDITIONAL QUESTIONS

I. Short Answer Type Questions |Limit : 30-40 Words]

Q. 1. Who tapped the windows? What did Aram see when he looked out of the window?

खिडकी किसने थपथपाई? एरम ने क्या देखा जब उसने खिडकी से बाहर देखा?

Ans. Aram’s cousin Mourad tapped the window. Aram saw that his cousin was sitting on a beautiful white horse and inviting him to ride. He felt as if he were dreaming. He couldn’t believe how a poor boy could have a horse.

एरम के चचेरे भाई मोरेड ने खिडकी थपथपायी। एरम ने देखा कि उसका चचेरा भाई एक सुन्दर सफेद घोड़े पर बैठा हुआ है और उसे सवारी के लिए आमन्त्रित कर रहा था। उसने ऐसा महसूस किया मानो वह सपना देख रहा हो। वह विश्वास नहीं कर सका कि एक गरीब लड़के के पास इतना सुन्दर घोड़ा कैसे हो सकता है।

Q. 2. Why couldn’t the narrator believe that the cousin Mourd couldn’t have bought the horse?

लेखक यह विश्वास क्यों नहीं कर सका कि उसका चचेरा भाई मोरेड घोडा नहीं खरीद सकता?

Ans. One morning the narrator saw from his window that his cousin Mourad was sitting on a beautiful white horse. He was surprised. He belonged to Garoghlanian family. The family was very poor. So how could he have such a horse.

एक दिन सुबह लेखक ने खिड़की से बाहर देखा कि उसका चचेरा भाई मोरेड एक खूबसूरत सफेद घोड़े

पर बैठा हुआ था| उसके आश्चर्य का ठिकाना नहीं रहा। वह गैरोघलेनियन परिवार का था। यह परिवार बहुत गरीब था। अतः वह ऐसा घोड़ा कैसे रख सकता था।

Q. 3. Why did the narrator believe that stealing a horse for a ride was not the same thing as stealing something else, such as money?

लेखक ने यह विश्वास क्यों किया कि सवारी के लिए घोड़ा चुराना वैसा कार्य नहीं था जैसे कोई अन्य चीज चुराना, यथा धन की चोरी करना।

Ans. The narrator tried to justify the action of his cousin. Mourad was fond of horse riding. Therefore he caught the horse for this purpose. He neither wanted to keep it nor to sell.

लेखक अपने चचेरे भाई के कार्य को सही सिद्ध करने की कोशिश कर रहा था। मोरेड घोड़े की सवारी का बहुत शौकीन था। इसलिए उसने घोड़े को पकड़ा था। वह उसे न तो रखना चाहता था न बचना।

Q. 4. Describe the character of narrator’s uncle Khosrove.

लेखक के चाचा खोस्रोव का चरित्र-चित्रण कीजिए।

Ans. The narrator’s uncle, Khosrove, was considered to be a crazy man. He was a huge and powerful man. He was short-tempered and of irritated nature. He could not allow anybody to speak before him. He would stop him shouting, “It is no harm, pay no attention to it.”

लेखक के चाचा, खोस्रोव सनकी समझे जाते थे। वे विशाल और शक्तिशाली व्यक्ति थे। वह उग्र स्वभाव के थे तथा चिड़चिड़ी प्रवृत्ति के थे। वे अपने सामने किसी को बोलने नहीं देते थे। वे उसे चिल्लाकर रोक देते, “इसमें कोई नुकसान नहीं, इस पर ध्यान मत दो।”

Q.5. Describe the first experience of the narrator when he rode the horse alone?

लेखक के अकेले घोड़े की सवारी करने के प्रथम अनुभव का वर्णन करो।

Ans. Mourad got off the horse and asked his cousin Aram to ride on it. The narrator kicked the horse. It ran down the road to the vineyard and began to leap over the vines. The horse leaped over seven vines before the narrator was thrown down.

मोरेड घोड़े से उतर गया और अपने चचेरे भाई एरम से सवारी के लिए कहा। लेखक ने घोड़े को ऐड लगाई। वह सड़क से होकर अंगूर की बेलों की तरफ दौड़ा तथा बेलों पर उछलने लगा। लेखक के गिरने से पहले वह सात बेलों पर उछला।

Q. 6. Who was John Byro ? Why had he come to the narrator’s house?

जॉन बायरो कौन था? वह लेखक के घर क्यों आया था? _____Ans. John Byro was a farmer. He was an Assyrian. He had learnt to speak Armenian. He told the narrator’s mother that his beautiful white horse had been stolen last month. He was trying to find out it.

जॉन बायरो एक किसान था। वह असीरियन था। उसने आरमेनियन बोलना सीख लिया था। उसने लेखक की माँ को बतलाया कि उसका सुन्दर सफेद घोड़ा पिछले माह किसी ने चुरा लिया। वह उसी की तलाश में आया था।

Q. 7. Where did they hide the horse and why?

उन्होंने घोड़े को कहाँ छिपाया और क्यों?

Ans. Aram and Mourad didn’t want to be caught with a stolen horse. Mourad had found a deserted vineyard. He took the horse inside it and tied it there. They did not want to bring disgrace to their family which was known for honesty.

एरम और मोरेड चुराए घोड़े के साथ पकड़े जाना नहीं चाहते थे। मोरेड को एक सुनसान अंगूर का खलिहान मिल गया। वह घोड़े को उसके अन्दर ले गया और वहाँ बाँध दिया। वे अपने परिवार को अपमानित नहीं करवाना चाहते थे जो परिवार इमानदारी के लिए प्रसिद्ध था।

Q. 8. Why did John Byro think that the horse was the twin of his horse?

जॉन बायरो ने यह क्यों सोचा कि यह घोड़ा उसके घोड़े का जुड़वाँ था?

Ans. John Byro was surprised to see his white horse with Aram and Mourad. He studied the horse carefully and looked into the mouth of the horse. He found it tooth for tooth. He thought that the horse was twin of his own horse.

जॉन बायरो एरम और मोरेड के पास अपना घोड़ा देखकर आश्चर्यचकित हो गया। उसने घोड़े का अध्ययन किया और उसके मुंह में देखा। उसने इसे हूबहू वैसा ही पाया। उसने सोचा कि वह घोड़ा उसके घोड़े का जुड़वाँ था।

Q. 9. How did Aram conclude that Mourad had stolen the horse?

एरम ने यह निष्कर्ष कैसे निकाला कि मोरेड ने घोड़ा चुराया था?

Ans. Aram knew that he and his cousin Mourad belonged to the tribe that was poverty-stricken. He couldn’t have brought such a beautiful horse. It was impossible for their family to purchase such a horse. Hence he concluded that Mourad had stolen the horse.

एरम जानता था कि वह और उसका चचेरा भाई मोरेड गरीबी से ग्रस्त परिवार के थे। वह इतना सुन्दर घोड़ा नहीं खरीद सकता था। उनके परिवार के लिए घोड़ा खरीदना असम्भव था। अतः उसने निष्कर्ष निकाला कि मोरेड ने घोड़ा चुराया था।

Q. 10. How did narrator’s mother welcome the Farmer John Byro?

लेखक की माँ ने किसान जॉन बायरो का स्वागत कैसे किया?

Ans. A visitor came to Aram’s house. His name was John Byro, an Assyrian. Narrator’s mother brought the lonely visitor coffee and tobacco. He rolled a cigarette and

sipped and smoked.

एरम के घर एक आगन्तुक आया। उसका नाम जॉन बायरो था, वह असीरियन था। लेखक की माँ उसके स्वागत के लिए कॉफी और तम्बाकू लाई। उसने एक सिगरेट गोल की (बनाई) और कॉफी की चुसकी लेने लगा तथा सिगरेट पीने लगा।

Q. 11. Describe the traits of Garoghlanian family.

गैरोघलेनियन परिवार की विशेषताओं का वर्णन करो।

Ans. All the members of the Garoghlanian family were poor. They were living in the amazing and comical poverty in the world. But they were famous for their honesty for the last eleven centuries. They had never compromised with their honesty.

गेरोघलेनियन परिवार के सारे सदस्य गरीब थे। वे आश्चर्यजनक और हास्यास्पद गरीबी का जीवन जीते थे। परन्तु पिछली ग्यारह शताब्दियों से वे अपनी ईमानदारी के लिए प्रसिद्ध थे। उन्होंने अपनी ईमानदारी से कभी समझौता नहीं किया।

Q. 12. Who was John Byro and what was his problem?

जॉन बायरो कौन था और उसकी समस्या क्या थी?

Ans. John Byro was an Assyrian. He was a farmer. His white horse was stolen last month and he could not find it. He said how he could ride in his surrey without a horse. What good was a surrey without a horse.

जॉन बायरो असीरियन था। वह एक किसान था। पिछले माह उसका घोड़ा चोरी हो गया था और वह उसे तलाश नहीं कर सका। उसने कहा कि वह बिना घोड़े के बग्घी की सवारी कैसे कर सकता था। बिना घोड़े के बग्घी का क्या फायदा।

Q. 13. How was Mourad a natural descendant of Khosrove?

मोरेड, खोस्रोव का प्राकृतिक उत्तराधिकारी कैसे था?

Ans. Uncle Khosrove was a crazy streak. His behaviour was very hot. He was hot tempered person. The habit of Mourad was like his uncle. He was a crazy streak too. He could not differentiate between good and bad. He did what he liked.

चाचा खोस्रोव सनकी प्रवृत्ति का व्यक्ति था। उसका व्यवहार बहुत उग्र था। वह गर्म स्वभाव का व्यक्ति था। मोरेड की आदत चाचा की तरह थी। वह भी सनकी स्वभाव का था। वह अच्छे और बुरे में भेद नहीं कर सकता था। वह वही करता जो चाहता था।

Q. 14. What is nostalgia? Describe the nostalgic beginning of the story. .

गृह-विरह क्या है? गृह-विरह का कहानी के प्रारम्भ में वर्णन करो।

Ans. Nostalgia is a feeling of sadness mixed with joy and affection. It is remembrance of some old and sweet memories. In the beginning the narrator remembers the good old days, when he was nine. At that time the world was full of every imaginable kind of

magnificence.

गृह-विरह अतीत में खो जाने से उत्पन्न दु:ख-सुख की भावना में उदासी का प्रतीक है। यह पुराने समय की कुछ प्राचीन मधुर यादें हैं। प्रारम्भ में लेखक अच्छे पुराने दिनों को याद करता है, जब वह 9 वर्ष का था। उस समय संसार प्रत्येक कल्पनाशील बातों से युक्त था।

II. Long Answer Type Questions : (Limit: 50-60 Words)

Q. 1. Compare and contrast the two cousins Aram and Mourad.

दो चचेरे भाई मोरेड और एरम की तुलना करो। बार

Ans. Mourad and Aram belonged to the same tribe. The narrator Aram was nine years old while Mourad was thirteen years old. The world was like a delightful and mysterious dream for Aram. His cousin Mourad was considered crazy by everybody except him. Mourad had stolen a white horse but Aram did not accept it a theft. It was his childish nature.

मोरेड और एरम एक ही कबीले के थे। लेखक एरम नौ साल का था जबकि मोरेड 13 वर्ष का था। एरम के लिए संसार सुन्दर और रहस्यमय सपने जैसा था। उसका चचेरा भाई मोरेड सबके द्वारा सनकी समझा जाता था, सिवाय उसके। मोरेड ने एक सफेद घोड़ा चुराया था लेकिन एरम उसे चोरी नहीं मानता था। यह उसका बचपना था।

Q. 2. Why did Uncle Khosrove’s son come to him at barber’s shop and what did uncle reply?

चाचा खोस्रोव का बेटा नाई की दुकान पर क्यों आया था और उसके चाचा ने क्या उत्तर दिया?

Ans. Once uncle Khosrove’s son Arak came running to the barber’s shop where his father was having his moustache trimmed to tell him that their house was on fire. This man Khosrove sat up in the chair and roared. “It is no harm, pay no attention to it.” The barber said, “But the boy says your house is on fire.” So Khosrove roared, “Enough, it is no harm.” He always behaved like these.

या एक बार चाचा खोस्रोव का बेटा एरक दौड़ता हुआ नाई की दुकान पर आया, जहाँ वह नाई से अपनी मूंछ ठीक करवा रहे थे, यह कहने को कि उनके घर में आग लग गई थी। यह व्यक्ति खोस्रोव कुर्सी में बैठे हुए दहाड़ने लगा।”कोई हानि नहीं, इस पर ध्यान मत दो” नाई ने कहा, “लेकिन लड़का कह रहा है आपके घर में आग लग गई है।” अतः खोस्रोव दहाड़े, “बहुत हो गया, कोई हानि नहीं।’ वे हमेशा इसी तरह का व्यवहार करते थे।

Q. 3. Describe the condition of Garoghlanian family.

गैरोघलेनियन परिवार की स्थिति का वर्णन करो।

Ans. All the members of Garoghlanian family were poor. They were living in the most amazing and comical poverty in the world. But they were famous for their honesty. For the last eleven centuries they had never compromised with their honesty. They were rather proud of their honesty. Everyone in the neighbourhood believed in their honesty.

गैरोघलेनियन परिवार के सभी सदस्य गरीब थे। वे संसार की अत्यधिक आश्चर्यजनक और उपहासपूर्ण गरीबी में रह रहे थे। लेकिन वे अपनी ईमानदारी के लिए प्रसिद्ध थे। पिछली ग्यारह शताब्दियों से उन्होंने अपनी ईमानदारी के साथ कभी भी समझौता नहीं किया था। अपितु उनको अपनी ईमानदारी पर गर्व था। पड़ोस में प्रत्येक व्यक्ति उनकी ईमानदारी पर विश्वास करता था।

Q. 4. Garoghlanian family has a crazy streak. Discuss.

गैरोघलेनियन परिवार में सनक की प्रवृत्ति थी। तक दीजिए।

Ans. Every family has a crazy streak in it somewhere. Uncle Khosrove was the true inheritor of that crazy streak. He was a big man with black hair and large moustache. He was very furious in temper. He was irritable and impatient. He stopped anyone from talking by roaring. His pet words were, “It is no harm, pay no attention to it.” Mourad was considered to be the natural descendant of uncle Khosrove.

हर परिवार में कहीं न कहीं सनक की प्रवृत्ति होती है। चाचा खोस्रोव उस सनक प्रवृत्ति के सच्चे उत्तराधिकारी थे। वह काले बालों और लम्बी मूंछों वाला एक भीमकाय व्यक्ति था। वह स्वभाव में अत्यन्त प्रचण्ड था। वह चिड़चिड़ा एवं अधीर था। वह दहाड़कर किसी को भी बोलने से रोक देता था। उसका तकिया कलाम था, “कोई नुकसान नहीं, इसकी परवाह मत करो।” मोरेड को चाचा खोस्रोव का स्वाभाविक वंशज समझा जाता था।

Q.5. Why did the dogs not bark on Mourad?

कुत्ते मोरेड पर क्यों नहीं भौंके?

Ans. Early the following morning Aram and Mourad took the horse to John Byro’s Vineyard and put it in the barn. The dogs followed them around without making a sound . Aram thought they would bark. Mourad said that he had a way with dogs. Mourad put his arms around the horse, pressed his nose into the horse’s nose, patted it and then they went away. The dogs considered them acquaintant.

.अगले दिन प्रात:काल एरम तथा मोरेड घोड़े को जॉन बायरो के अंगूर के बगीचे में ले गये तथा उसे पशुशाला में बाँध दिया। कुत्तों ने बिना आवाज किये उनका पीछा किया। एरम ने सोचा वे भौंकेंगे। मोरेड ने कहा, उसके पास कुत्तों से मेलजोल का तरीका है। मोरेड ने घोड़े की गर्दन के चारों ओर अपनी बाँहें डालीं, घोड़े की नाक से अपनी नाक रगड़ी, उसे थपथपाया और तब वे चले गए। कुत्तों ने उन्हें परिचित समझा।