3 वस्तुनिष्ठ प्रश्न

प्रश्न
निम्नलिखित में से कोई एक कथन सत्य है, पहचानकर लिखिए-
[सकत-प्रश्न-पत्र में किसी एक वाक्य की सत्यता से सम्बन्धित प्रश्न पूछे जाते हैं। विद्यार्थियों के उचित बोध के लिए हम अन्य प्रश्नों के उत्तर भी दे रहे हैं। दो बार पूछे गये वाक्य हटा दिये गये हैं।]

1.
(i) आचार्य रामचन्द्र शुक्ल एक प्रसिद्ध आलोचक हैं। – सत्य
(ii) श्री गुलाबराय कहानी-लेखक हैं। – असत्य

2.
(i) ‘उर्वशी रामधारी सिंह ‘दिनकर’ द्वारा लिखित निबन्ध-संग्रह है। – असत्य
(ii) चिन्तामणि भाग ।’ आचार्य रामचन्द्र शुक्ल का निबन्ध-ग्रन्थ है। – असत्य
(iii) ‘सिद्धान्त और अध्ययन’ बाबू गुलाबराय का आलोचना-ग्रन्थ है। – सत्य

3.
(i) डॉ० राजेन्द्र प्रसाद कवि-रूप में प्रसिद्ध हैं। – असत्य
(ii) ‘अपनी खबर’ उग्र की आत्मकथा है। – सत्य
(iii) डॉ० लक्ष्मीसागर वाष्र्णेय उपन्यासकार थे! – असत्य

4.
(i) पदुमलाल पुन्नालाल बरी कवि-रूप में प्रसिद्ध हैं। – असत्य
(ii) डॉ० रामकुमार वर्मा कहानीकार थे। – असत्य

5.
(i) मोहन राकेश द्विवेदी युग के कवि हैं। – असत्य
(ii) भारतेन्दु आधुनिक गद्य के प्रवर्तक हैं। – सत्य
(iii) प्रेमचन्द प्रसिद्ध निबन्धकार हैं। – असत्य

6.
(i) कंकाल’ जयशंकर प्रसाद की प्रसिद्ध कहानी है। – असत्य
(ii) ‘ठेले पर हिमालय’ धर्मवीर भारती द्वारा लिखित कहानी-संग्रह है। – असत्य

7.
(i) रामचन्द्र शुक्ल निबन्ध, समालोचना और इतिहास-लेखक के लिए प्रसिद्ध हैं। – सत्य
(ii) प्रेमचन्द कवि के रूप में प्रसिद्ध हैं। – असत्य

8.
(i) आचार्य रामचन्द्र शुक्ल निबन्धकार थे। – सत्य
(ii) डॉ० राजेन्द्र प्रसाद एकांकीकार थे। – असत्य

9.
(i) प्रेमचन्द एक अच्छे उपन्यासकार थे। – सत्य
(ii) गुलाबराय एक अच्छे नाटककार थे। – असत्य
(iii) हरिभाऊ उपाध्याय एक अच्छे कहानीकार थे। – असत्य

10.
(i) डॉ० भगवतशरण उपाध्याय कवि के रूप में प्रसिद्ध हैं। – असत्य
(ii) ‘नदी प्यासी थी’ धर्मवीर भारती को नाटक है। – सत्ये
(iii) ‘अर्द्धनारीश्वर’ दिनकर जी की प्रसिद्ध कहानी है। – असत्य
(iv) ‘यांमा’ जयशंकर प्रसाद का कहानी-संग्रह है। – असत्य

11.
(i) डॉ० लक्ष्मीसागर वाष्र्णेय हिन्दी के सुप्रसिद्ध समीक्षक और उच्चकोटि के निबन्धकार थे। – सत्य
(ii) चाँद और टूटे हुए लोग’ धर्मवीर भारती का प्रसिद्ध उपन्यास हैं। – असत्य
(iii) पदुमलाल पुन्नालाल बख्शी प्रसिद्ध नाटककार थे। – असत्य

12.
(i) पदुमलाल पुन्नालाल बख्शी एक कुशल सम्पादक, श्रेष्ठ निबन्धकार और विचारशील आलोचक थे। – सत्य
(ii) कुरुक्षेत्र’ रामधारी सिंह ‘दिनकर’ का प्रसिद्ध निबन्ध-संग्रह है। – असत्य
(iii) ‘जनमेजय का नागयज्ञ’ जयशंकर प्रसाद का प्रसिद्ध उपन्यास है। – असत्य
(iv) पं० रामचन्द्र शुक्ल एक श्रेष्ठ नाटककार थे। – असत्य

13.
(i) जैनेन्द्र कुमार मुख्यतः नाटककार हैं। – असत्य
(ii) प्रेमचन्द कहानीकार और उपन्यासकार के रूप में प्रसिद्ध हैं। – सत्य [2011]
(iii) हजारीप्रसाद द्विवेदी कवि एवं कहानीकार हैं। – असत्य [2011]
(iv) बाबू गुलाबराय एक उपन्यासकार हैं। – असत्य [2011]

14.
(i) ‘जनमेजय का नागयज्ञ’ बाबू गुलाबराय का प्रसिद्ध नाटक है। – असत्य
(ii) संस्कृति के चार अध्याय’ के लेखक रामधारी सिंह ‘दिनकर’ हैं। – सत्य
(iii) ‘गुनाहों का देवता’ धर्मवीर भारती का आलोचना-ग्रन्थ है। – असत्य [2009]

15.
(i) जयप्रकाश भारती आलोचक के रूप में प्रसिद्ध हैं। – असत्य
(ii) मुंशी प्रेमचन्द एक प्रसिद्ध उपन्यासकार एवं कहानीकार थे। – सत्य [2009]

16.
(i) ‘गबन’ प्रेमचन्द की प्रसिद्ध काव्य-कृति है। – असत्य
(ii) ‘खून के छींटे’ डॉ० भगवतशरण उपाध्याय का नाटक है। – असत्य
(iii) कुरुक्षेत्र’ रामधारी सिंह ‘दिनकर’ का काव्य-ग्रन्थ है। – सत्य
(iv) ‘स्कन्दगुप्त’ रामचन्द्र शुक्ल की रचना है। – असत्य [2009]

17.
(i) भारतेन्दु हरिश्चन्द्र रीतिकाल के रचनाकार हैं। – असत्य
(ii) आचार्य रामचन्द्र शुक्ल प्रख्यात निबन्धकार और आलोचक हैं। – सत्य
(iii) जयशंकर प्रसाद छायावादी कवि हैं। – सत्य
(iv) नागार्जुन प्रयोगवाद के कवि हैं। – असत्य

18.
(i) आचार्य हजारीप्रसाद द्विवेदी श्रेष्ठ ललित निबन्धकार हैं। – सत्य
(ii) ‘तारसप्तक’ का सम्पादन सच्चिदानन्द हीरानन्द वात्स्यायन ‘अज्ञेय’ ने किया है। – सत्य
(iii) ‘गुनाहों का देवता’ शीर्षक उपन्यास के लेखक प्रेमचन्द हैं। – असत्य

19.
(i) हरिभाऊ उपाध्याय ने ‘विचार-वीथी’ पुस्तक लिखी है। – असत्य
(ii) शिक्षा और संस्कृति’ कृति डॉ० राजेन्द्र प्रसाद ने लिखी है। – सत्य
(iii) ‘मेरे निबन्ध’ के लेखक धर्मवीर भारती हैं। – असत्य

20.
(i) पदुमलाल पुन्नालाल बख्शी ‘सरस्वती’ के सम्पादक थे। – सत्य
(ii) ‘मित्रता’ गुलाबराय का निबन्ध है। – असत्य
(iii) नीली झील धर्मवीर भारती को उपन्यास है। – असत्य

21.
(i) ‘रस-मीमांसा’ आचार्य रामचन्द्र शुक्ल की रचना है। – सत्ये
(ii) उर्वशी रामधारी सिंह ‘दिनकर’ का उपन्यास है। – असत्य
(iii) मेरी असफलताएँ’ बाबू गुलाबराय का निबन्ध है। – असत्य
(iv) ध्रुवस्वामिनी’ जयशंकर प्रसाद का नाटक है। – सत्य [2010]

22.
(i) अर्द्धनारीश्वर’ रामधारी सिंह ‘दिनकर’ का प्रसिद्ध निबन्ध-संग्रह है। – सत्य
(ii) चम्पारन में महात्मा गाँधी डॉ० राजेन्द्र प्रसाद का काव्य-संग्रह है। – असत्य
(iii) ‘आँसू’ डॉ० रामकुमार वर्मा का काव्य-संग्रह है। – असत्य
(iv) त्रिवेणी’ रामचन्द्र शुक्ल का कविता-संग्रह है। – असत्य [2010]

23.
(i) ‘फोर्ट विलियम कॉलेज’ डॉ० लक्ष्मीसागर वाष्र्णेय की कृति है। – सत्य
(ii) अजन्ता’ डॉ० राजेन्द्र प्रसाद का निबन्ध है। – असत्य [2010]

24.
(i) ‘इरावती’ वृन्दावनलाल वर्मा की रचना है। – असत्य
(ii) जनमेजय का नागयज्ञ रायकृष्णदास का नाटक है।। – असत्य
(iii) ‘सर्वोदय की बुनियाद’ श्री हरिभाऊ उपाध्याय की रचना है। – सत्य [2010]

25.
(i) डॉ० राजेन्द्र प्रसाद लिखित ‘मेरी आत्मकथा’ एक प्रमुख उपन्यास है। – असत्य
(ii) आचार्य रामचन्द्र शुक्लकृत ‘रस-मीमांसा’ एक आलोचना ग्रन्थ है। – सत्य
(iii) चलो चाँद पर चलें’ रचना पर जयप्रकाश भारती को यूनेस्को पुरस्कार प्राप्त हुआ है। – असत्य
(iv) ‘कलकत्ता से पीकिंग’ डॉ० भगवतशरण उपाध्याय की रिपोर्ताज | रचना है। – असत्य [2010]

26.
(i) उपेन्द्रनाथ ‘अश्क’ प्रसिद्ध कहानी-लेखक हैं। – असत्य
(ii) नदी प्यासी थी’ धर्मवीर भारती को नाटक है। – सत्य [2011]

27.
(i) रेती के फूल’ रामधारी सिंह ‘दिनकर’ का निबन्ध-संग्रह है। – सत्य
(ii) ‘हिन्दी-साहित्य-विमर्श’ पदुमलाल पुन्नालाल बख्शी का महाकाव्य है। – असत्य
(iii) तितली’ जयशंकर प्रसाद का कहानी-संग्रह है। – असत्य
(iv) ‘चिन्तामणि आचार्य रामचन्द्र शुक्ल का उपन्यास है। – असत्य [2011]

28.
(i) ‘चिन्तामणि’ रामचन्द्र शुक्ल का इतिहास-ग्रन्थ है। – असत्य
(ii) तितली’ जयशंकर प्रसाद का प्रसिद्ध उपन्यास है। – सत्य
(iii) ‘गाँधीजी की देन’ डॉ० राजेन्द्र प्रसाद को समालोचना-ग्रन्थ है। – असत्य
(iv) साहित्य और कला’ भगवतशरण उपाध्याय का एक नाट्य-ग्रन्थ है। – असत्य [2011]

29.
(i) मुंशी प्रेमचन्द कहानीकार एवं उपन्यासकार के रूप में प्रसिद्ध हैं। – सत्य
(ii) हजारीप्रसाद द्विवेदी प्रसिद्ध कवि हैं। – असत्य
(iii) कुरुक्षेत्र’ रामधारी सिंह ‘दिनकर’ का निबन्ध-संग्रह है। – असत्य
(iv) डॉ० भगवतशरण उपाध्याय एक कहानीकार थे। – असत्य [2011]

30.
(i) हिन्दी शब्द-सागर’ जयशंकर प्रसाद का सम्पादित ग्रन्थ है। – असत्य
(ii) क्या भूलें क्या याद करू’ हरिवंशराय बच्चन की कृति है। – सत्य
(iii) गुलाबराय भारतेन्दु युग के प्रमुख लेखक हैं। – असत्य
(iv) राहुल सांकृत्यायन की मेरी तिब्बत यात्रा’ जीवनी साहित्य की विधा है। – असत्य [2011]

31.
(i) आचार्य रामचन्द्र शुक्ल एक प्रसिद्ध आलोचक हैं। – सत्य
(ii) भारतेन्दु हरिश्चन्द्र शुक्ल युग के लेखक हैं। – असत्य
(iii) वृन्दावनलाल वर्मा उपन्यासकार नहीं हैं। – असत्य [2011]

32.
(i) झूठा सच’ यशपाल का प्रसिद्ध काव्य है। – असत्य
(ii) डॉ० नगेन्द्र ख्यातिप्राप्त उपन्यासकार हैं। – असत्य
(iii) डॉ० राजेन्द्र प्रसाद निबन्धकार थे। – सत्य
(iv) ‘गबन’ बालकृष्ण भट्ट की प्रसिद्ध कृति है। – असत्य [2012]

33.
(i) धर्मवीर भारती रीतिमुक्त काव्यधारा के प्रमुख कवि हैं। – असत्य
(ii) त्रिवेणी’ रामचन्द्र शुक्ल का प्रसिद्ध उपन्यास है। – असत्य
(iii) ‘कुटज’ डॉ० हजारीप्रसाद द्विवेदी का प्रसिद्ध निबन्ध है। – सत्य
(iv) ‘उर्वशी’ रामधारी सिंह ‘दिनकर’ का आलोचना-ग्रन्थ है। – असत्य [2012]

34.
(i) रामवृक्ष बेनीपुरी को रेखाचित्रों के लेखन में विशेष सफलता मिली है। – सत्य
(ii) डॉ० लक्ष्मीसागर वाष्र्णेय ‘झरना’ के लेखक हैं। – असत्य
(iii) डॉ० राजेन्द्र प्रसाद को काव्य-रचना के क्षेत्र में सफलता मिली है। – असत्य
(iv) अर्द्धनारीश्वर’ के लेखक जयशंकर प्रसाद हैं। – असत्य। [2012]

35.
(i) ‘रांगेय राघव’ द्विवेदी युग के एक प्रसिद्ध कहानीकार हैं। – असत्य
(ii) यशपाल’ एक प्रसिद्ध नाटककार थे। – असत्य
(iii) नन्ददुलारे वाजपेयी शुक्ल युग के प्रमुख लेखक हैं। – सत्य
(iv) हरिभाऊ उपाध्याय एक प्रसिद्ध रिपोर्ताज लेखक हैं। – असत्य [2012]

36.
(i) ‘ऐसे थे हमारे बापू’ के रचयिता डॉ० भगवतशरण उपाध्याय हैं। – असत्य
(ii) राहुल सांकृत्यायन की ‘मेरी तिब्बत यात्रा’ एक रिपोर्ताज विधा है।। – असत्य
(iii) ‘कलम का सिपाही साहित्य की जीवनी विधा है। – सत्य
(iv) विचार-वीथि’ रामचन्द्र शुक्ल का सम्पादित ग्रन्थ है। – असत्य [2012]

37.
(i) जयशंकर प्रसाद समालोचक हैं। – असत्य
(ii) भारतेन्दु जी हिन्दी नाट्य साहित्य के जनक हैं। – सत्य
(iii) डॉ० भगवतशरण उपाध्याय कवि के रूप में विख्यात हैं। – असत्य [2012]

38.
(i) ‘चिन्तामणि आचार्य रामचन्द्र शुक्ल का निबन्ध-संग्रह है। – सत्य
(ii) ‘शतदल’ पदुमलाल पुन्नालाल बख्शी का काव्य-संग्रह है। – सत्य
(iii) ‘मेरी योरोप यात्रा’ डॉ० राजेन्द्र प्रसाद की उल्लेखनीय रचना है। – सत्य
(iv) ‘रश्मिरथी’ रामधारी सिंह ‘दिनकर’ का निबन्ध-संग्रह है। – असत्य [2012]

39.
(i) डॉ० राजेन्द्र प्रसाद कहानीकार हैं। – असत्य
(ii) सेवासदन प्रेमचन्द का काव्य-संग्रह है। – असत्य
(iii) ‘आकाशदीप’ जयशंकर प्रसाद का नाटक है। – असत्य [2012]

40.
(i) महादेवी वर्मा को रेखाचित्रों में विशेष सफलता मिली है।। – सत्य
(ii) डॉ० लक्ष्मीसागर वाष्र्णेय एक प्रसिद्ध आलोचक हैं। – सत्य |
(iii) सुमित्रानन्दन पन्त उपन्यासकार हैं। – असत्य
(iv) गोदान के लेखक अमृतलाल नागर हैं। – असत्य [2013]

41.
(i) ईर्ष्या तू न गई मेरे मन से रामधारी सिंह ‘दिनकर’ का उपन्यास है। – असत्य
(ii) ‘क्या लिखें’ डॉ० राजेन्द्र प्रसाद का निबन्ध है। – असत्य
(iii) “अजन्ता’ जयप्रकाश भारती की कहानी है। – असत्य
(iv) ‘बाणभट्ट की आत्मकथा’ हजारी प्रसाद द्विवेदी का उपन्यास है। – सत्य [2013]

42.
(i) आचार्य रामचन्द्र शुक्ल कवि के रूप में प्रसिद्ध हैं। – असत्य
(ii) ‘गबन’ प्रेमचन्द की एक काव्य-कृति है। – असत्य
(iii) हजारीप्रसाद द्विवेदी निबन्धकार एवं आलोचक के रूप में प्रसिद्ध हैं। – सत्य
(iv) ठेले पर हिमालय’ के लेखक गुलाबराय हैं। – असत्य [2013]

43.
(i) श्रीनारायण चतुर्वेदी एक प्रमुख रेडियो रूपककार थे।– असत्य
(ii) ‘झलमला’ पदुमलाल पुन्नालाल बख्शी का कहानी-संग्रह है। – सत्य
(iii) इँठा आम’ के लेखक जयप्रकाश भारती हैं। – असत्य
(iv) ‘मैला आँचल’ के लेखक फणीश्वरनाथ ‘रेणु’ हैं। – असत्य [2013]

44.
(i) ‘अशोक के फूल’ हजारीप्रसाद द्विवेदी का निबन्ध-संग्रह है। – सत्य
(ii) डॉ० रामकुमार वर्मा ख्यातिप्राप्त कहानीकार है।। – असत्य
(iii) ‘ध्रुवस्वामिनी’ जयशंकर प्रसाद का प्रसिद्ध काव्य है। – असत्य
(iv) त्रिवेणी’ रामचन्द्र शुक्ल का प्रसिद्ध नाटक है। – असत्य [2013]

45.
(i) रांगेय राघव प्रसिद्ध नाटककार हैं।। – असत्य
(ii) ‘गबन’ के लेखक जयशंकर प्रसाद हैं। – असत्य
(iii) ‘माधुरी’ के सम्पादक रामचन्द्र शुक्ल हैं। – असत्य
(iv) डॉ० नगेन्द्र प्रसिद्ध आलोचक हैं। – सत्य [2013]

46.
(i) ‘विचार वीथी’ आचार्य रामचन्द्र शुक्ल का इतिहास-ग्रन्थ है। – असत्य
(ii) ‘इन्द्रजाल’ जयशंकर प्रसाद का नाटक है। – असत्य
(iii) ‘कुरुक्षेत्र रामधारी सिंह ‘दिनकर’ का काव्य-ग्रन्थ है। – सत्य
(iv) ‘संयुक्त राष्ट्र संघ’ जयप्रकाश भारती का साहित्यिक योगदान है। – असत्य [2014]

47.
(i) हजारीप्रसाद द्विवेदी प्रसिद्ध कवि हैं। – असत्य
(ii) ‘कानन-कुसुम’ जयशंकर प्रसाद की प्रसिद्ध कहानी है। – असत्य
(iii) डॉ० नगेन्द्र प्रसिद्ध आलोचक हैं। – सत्य
(iv) ‘गोदान’ प्रेमचन्द्र का प्रसिद्ध काव्य है।– असत्य [2014]

48.
(i) आचार्य रामचन्द्र शुक्ल कवि के रूप में ख्याति प्राप्त हैं। – असत्य
(ii) मुंशी प्रेमचन्द्र उपन्यासकार के रूप में प्रसिद्ध हैं। – सत्य
(iii) ‘गुनाहों के देवता’ के लेखक गुलाबराय हैं। – असत्य
(iv) ‘डॉ० राजेन्द्र प्रसाद’ कहानीकार के रूप में प्रसिद्ध हैं। – असत्य [2014]

49.
(i) आचार्य रामचन्द्र शुक्ल प्रसिद्ध उपन्यासकार हैं। – असत्य
(ii) ‘अथाह सागर’ के लेखक जयप्रकाश भारती हैं। – सत्य
(iii) ‘विश्व को एशिया की देन’ डॉ० राजेन्द्र प्रसाद की प्रमुख रचना है। – असत्य
(iv) ‘गोदान’ प्रेमचन्द्र का काव्य-संग्रह है। – असत्य [2014]

50.
(i) आचार्य रामचन्द्र शुक्ल प्रसिद्ध जीवनी लेखक हैं। – असत्य
(ii) ‘कलम का सिपाही’ के लेखक प्रेमचन्द हैं। – असत्य
(iii) ‘गिरती दिवारें’ के लेखक उपेन्द्रनाथ अश्क हैं। – सत्य
(iv) रामस्वरूप चतुर्वेदी सफल भेटवार्ता लेखक हैं। – असत्य [2014]

51.
(i) ‘मित्रता’ डॉ० राजेन्द्र प्रसाद द्वारा लिखा गया उपन्यास है। – असत्य
(ii) रंगभूमि’ के लेखक आचार्य रामचन्द्र शुक्ल हैं। – असत्य
(iii) अथाह सागर’ जयप्रकाश भारती की रचना है। – सत्य
(iv) ‘ममता’ के लेखक रामधारी सिंह दिनकर हैं। – असत्य [2014]

52.
(i) रामवृक्ष बेनीपुरी ‘सरस्वती’ पत्रिका के सम्पादक थे। – असत्य
(ii) गुलाबराय प्रसिद्ध कवि थे। – असत्य
(iii) हजारीप्रसाद द्विवेदी हिन्दी के प्रसिद्ध आलोचक हैं। – सत्य
(iv) ‘स्कन्दगुप्त’ डॉ० रामकुमार वर्मा की रचना है। – असत्य [2014]

53.
(i) नन्ददुलारे वाजपेयी कहानीकार के रूप में प्रसिद्ध हैं। – असत्य
(ii) ‘गोदान’ प्रेमचन्द का प्रसिद्ध कहानी-संग्रह है। – असत्य
(iii) बूंद और समुद्र के लेखक अज्ञेय हैं। – असत्य
(iv) जैनेन्द्र एक प्रसिद्ध उपन्यासकार हैं। – सत्य [2015]

54.
(i) ‘ध्रुव स्वामिनी’ डॉ० राजेन्द्र प्रसाद की नाट्य-कृति है। – असत्य
(ii) अमृतलाल नागर एक प्रसिद्ध कवि थे। – असत्य
(iii) ‘शेखर : एक जीवनी’ अज्ञेय की रचना है। – सत्य
(iv) रामधारी सिंह ‘दिनकर’ उपन्यासकार के रूप में प्रसिद्ध हैं। – असत्य [2015]

55.
(i) मुंशी प्रेमचन्द्र एक कवि के रूप में प्रसिद्ध थे। – असत्य
(ii) रामवृक्ष बेनीपुरी ‘सरस्वती’ पत्रिका के सम्पादक थे। – असत्य
(iii) चिन्तामणि’ आचार्य रामचन्द्र शुक्ल का निबन्ध संग्रह है। – सत्य
(iv) ‘इरावती’ वृन्दावनलाल वर्मा की रचना है। – असत्य [2015]

56.
(i) जयशंकर प्रसाद आलोचक के रूप में प्रसिद्ध हैं। – असत्य
(ii) महादेवी वर्मा की प्रसिद्ध रचना ‘गोदान’ है। – असत्य
(iii) ‘गुनाहों को देवता’ धर्मवीर भारती का उपन्यास है। – सत्य
(iv) गुलाबराय प्रसिद्ध कवि हैं। – असत्य [2015]

57.
(i) हजारीप्रसाद द्विवेदी निबन्धकार के रूप में प्रसिद्ध हैं। – सत्य
(ii) डॉ० लक्ष्मीसागर एक प्रसिद्ध कवि थे। – असत्य
(iii) ‘कंकाल’ के लेखक गुलाब राय हैं। – असल्य
(iv) राजेन्द्र प्रसाद एक सफल नाटककार हैं। – असत्य [2015]

58.
(i) ‘आकाशदीप जयशंकर प्रसाद का प्रसिद्ध नाटक है। – असत्य
(ii) तीर्थसलिल’ के लेखक पदुमलाल पुन्नालाल बख्शी हैं। – सत्य
(iii) ईष्र्या तू न गयी मेरे मन से’ रामधारी सिंह ‘दिनकर’ की प्रसिद्ध काव्यकृति है।। – असत्य
(iv) ‘हिमालय की पुकार’ भगवतशरण उपाध्याय की रचना है। – असत्य [2015]

59.
(i) आचार्य रामचन्द्र शुक्ल निबन्ध, समालोचना और इतिहास लेखन | के लिए प्रसिद्ध हैं। – सत्य
(ii) डॉ० हजारीप्रसाद द्विवेदी कवि एवं कहानीकार हैं। – असत्य
(iii) जैनेन्द्र कुमार मुख्यत: नाटककार हैं। – असत्य
(iv) ‘गबन’, ‘रंगभूमि’ जयशंकर प्रसादजी के उपन्यास हैं। – असत्य [2015]

60.
(i) डॉ० श्यामसुन्दर दास एक प्रख्यात नाटककार थे। – असत्य
(ii) मुंशी प्रेमचन्द एक प्रसिद्ध उपन्यासकार थे। – सत्य
(iii) जयप्रकाश भारती आलोचक के रूप में प्रसिद्ध हैं। – असत्य
(iv) ‘गुनाहों के देवता’ उपन्यास के लेखक कमलेश्वर हैं। – असत्य [2016]

61.
(i) रामचन्द्र शुक्ल महान कवि के रूप में प्रसिद्ध हैं। – असत्य
(ii) संस्कृति के चार अध्याय’ के लेखक रामधारी सिंह ‘दिनकर’ हैं। – असत्य
(iii) भारतेन्दु हरिश्चन्द्र रीतिकाल के रचनाकार हैं। – सत्य
(iv) स्कन्दगुप्त’ धर्मवीर भारती की रचना है। – असत्य [2016]

62.
(i) जैनेन्द्र कुमार मुख्यत: नाटककार हैं। – असत्य
(ii) ‘यामा’ जयशंकर प्रसाद का कहानी-संग्रह है। – असत्य
(iii) आचार्य रामचन्द्र शुक्ल साहित्येतिहासकार थे। – सत्य
(iv) डॉ० रामकुमार वर्मा कहानीकार थे। – असत्य [2016]

63.
(i) रामविलास शर्मा ख्यातिप्राप्त कवि हैं। – असत्य
(ii) इलाचन्द्र शर्मा सफल उपन्यासकार हैं। – सत्य
(iii) “मैला आंचल’ शैलेश मटियानी का प्रसिद्ध उपन्यास है। – असत्य
(iv) सियाराम शरण गुप्त भेटवार्ताकार हैं। – असत्य [2016]

64.
(i) ममता’ जयशंकर प्रसाद का प्रसिद्ध उपन्यास है। – असत्य
(ii) क्या लिखें? पदुमलाल पुन्नालाल बक्शी का निबंध है। – सत्य
(iii) उजली आग’ रामधारी सिंह ‘दिनकर’ का महाकाव्य है। – असत्य
(iv) ‘अजन्ता’ के लेखक जयप्रकाश भारती हैं। – असत्य [2016]

65.
(i) जयशंकर प्रसाद समालोचक हैं। – असत्य
(ii) डॉ० राजेन्द्र प्रसाद प्रसिद्ध उपन्यासकार हैं। – असत्य
(iii) रामचन्द्र शुक्ल प्रसिद्ध निबन्धकार हैं। – सत्य
(iv) डॉ० भगवतशरण उपाध्याय कवि के रूप में विख्यात हैं। – असत्य [2016]

66.
(i) विद्यानिवास मिश्र कवि के रूप में प्रसिद्ध हैं। – असत्य
(ii) स्कन्दगुप्त आचार्य रामचन्द्र शुक्ल की नाटयकृति है। – असत्य
(iii) जैनेन्द्र मूलतः डायरी लेखक हैं। – असत्य
(iv) ‘मेरी तिब्बत यात्रा’ राहुल सांकृत्यायन की कृति है। – सत्य [2016]

67.
(i) रामचन्द्र शुक्ल महान नाटककार के रूप में प्रसिद्ध हैं। – असत्य
(ii) ‘ममता’ जयशंकर प्रसाद का प्रसिद्ध नाटक है। – असत्य
(iii) भारतीय संस्कृति’ निबन्ध के लेखक डॉ० राजेन्द्र प्रसाद हैं। – सत्य
(iv) ‘स्कन्दगुप्त’ प्रेमचन्द का प्रसिद्ध उपन्यास है। – असत्य [2017]

68.
(i) डॉ० हजारी प्रसाद द्विवेदी नाटककार के रूप में प्रसिद्ध हैं। – असत्य
(ii) ‘अजातशत्रु’ के लेखक उदयशंकर भट्ट हैं। – असत्य
(iii) ‘शेखर : एक जीवनी’ अज्ञेय की कृति है। – सत्य
(iv) राजेन्द्र यादव शुक्ल युग के प्रसिद्ध कहानीकार हैं। – असत्य [2017]

69.
(i) वृन्दावन लाल वर्मा लब्धप्रतिष्ठ कवि हैं। – असत्य
(ii) बच्चन’ प्रसिद्ध समालोचक हैं। – असत्य
(iii) प्रकाश चन्द्र गुप्त ख्यातिप्राप्त रिपोर्ताज लेखक हैं। – सत्य
(iv) बनारसीदास चतुर्वेदी सशक्त व्यंज्य लेखक हैं। – असत्य [2017]

70.
(i) आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी श्रेष्ठ संस्मरण लेखक हैं। – असत्य
(ii) तार सप्तक’ का सम्पादन सच्चिदानन्द हीरानन्द वात्स्यायन ‘अज्ञेय’ ने किया है। – सत्य
(iii) ‘गुनाहों का देवता’ उपन्यास के लेखक प्रेमचन्द हैं। – असत्य
(iv) गुलाबराय प्रसिद्ध कवि हैं। – असत्य [2017]

71.
(i) विद्यानिवास मिश्र नाटककार के रूप में प्रसिद्ध हैं। – असत्य
(ii) डॉ० श्यामसुन्दर दास एक प्रख्यात कवि थे। – असत्य
(iii) ईष्र्या, तू न गई मेरे मन से’ निबन्ध के लेखक जयप्रकाश भारती हैं। – असत्य
(iv) ‘मित्रता’ निबन्ध के लेखक आचार्य रामचन्द्र शुक्ल हैं। – सत्य। [2017]

72.
(i) अमृतलाले सागर प्रसिद्ध एकांकी लेखक हैं। – असत्य
(ii) रामविलास शर्मा प्रसिद्ध भेट वार्ताकार हैं। – असत्य
(iii) डॉ० नगेन्द्र ख्यातिप्राप्त समालोचक हैं। – सत्य
(iv) जयप्रकाश भारती कवि के रूप में विख्यात हैं। – असत्य [2017]

73.
(i) आचार्य रामचन्द्र शुक्ल एक प्रसिद्ध निबन्धकार हैं। – सत्य
(ii) डॉ० हजारीप्रसाद द्विवेदी एक महान् कहानीकार के रूप में प्रसिद्ध हैं। – असत्य
(iii) जयशंकर प्रसाद एक प्रसिद्ध आलोचक हैं। – असत्य
(iv) उर्वशी के लेखक जयप्रकाश भारती हैं। – असत्य [2018]

74.
(i) धर्मवीर भारती रीतिमुक्त काव्यधारा के प्रमुख कवि हैं। – असत्य
(ii) ‘कुटज’ डॉ० हजारी प्रसाद द्विवेदी का प्रसिद्ध निबन्ध है। – सत्य
(iii) ‘उजली आग’ यशपाल का निबन्ध-संग्रह है। – असत्य
(iv) “डॉ० नगेन्द्र ख्यातिप्राप्त उपन्यासकार हैं। – असत्य [2018]

75.
(i) इलाचन्द्र जोशी एकांकीकार के रूप में प्रसिद्ध हैं। – असत्य
(ii) झूठा संच’ के लेखक यशपाल हैं। – असत्य
(iii) दैनिकी प्रसिद्ध कहानी संग्रह है। – असत्य
(iv) राहुल सांकृत्यायन लब्धप्रतिष्ठ आलोचनाकार हैं। – सत्य [2018]

76.
(i) आचार्य रामचन्द्र शुक्ल एक सुप्रसिद्ध कवि हैं। – असत्य
(ii) “ममता’ जयशंकर प्रसाद का एक महाकाव्य है। – असत्य
(iii) ‘गोदान’ प्रेमचन्द का प्रसिद्ध उपन्यास है। – सत्य
(iv) झाँसी की रानी’ के लेखक उपेन्द्रनाथ अश्क’ हैं। – असत्य [2018]

77.
(i) जयशंकर प्रसाद एक आलोचक के रूप में प्रसिद्ध हैं। – असत्य
(ii) ‘प्रेमचन्द अपने घर में की लेखिका शिवरानी देवी हैं। – सत्य
(iii) रामचन्द्र शुक्ल की गणना श्रेष्ठ कवि के रूप में होती है। – असत्य
(iv) ‘रांगेय राघव’ कवि के रूप में प्रसिद्ध हैं। – असत्य [2018]