Chapter 3 प्रबंध एवं व्यावसायिक वातावरण

प्रबंध एवं व्यावसायिक वातावरण Important Questions

प्रबंध एवं व्यावसायिक वातावरण वस्तुनिष्ठ प्रश्न

प्रश्न 1.
सही विकल्प चुनकर लिखिए-

प्रश्न 1.
निम्न में से कौन -सी व्यावसायिक पर्यावरण की विशेषता नहीं है –
(a) शहरीकरण
(b) कर्मचारी
(c) तुलनात्मकता
(d) अनिवार्यता।
उत्तर:
(b) कर्मचारी

प्रश्न 2.
निम्न में कौन -व्यावसायिक पर्यावरण का सर्वश्रेष्ठ द्योतक है –
(a) पहचान करना
(b) निष्पादन में सुधार
(c) हो रहे परिवर्तनों का सामना
(d) उपर्युक्त सभी।
उत्तर:
(d) उपर्युक्त सभी।

प्रश्न 3.
निम्न में कौन -सा सामाजिक पर्यावरण का उदाहरण है –
(a) अर्थव्यवस्था में धन की आपूर्ति
(b) उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम
(c) देश की संरचना
(d) परिवार का गठन
उत्तर:
(d) परिवार का गठन

प्रश्न 4.
उदारीकरण का अर्थ है –
(a) अर्थव्यवस्थाओं के बीच एकात्मकता
(b) सरकारी बाध्यता एवं संशोधन में कमी
(c) योजनाबद्ध विनिवेश नीति
(d) इनमें से कोई नहीं।
उत्तर:
(b) सरकारी बाध्यता एवं संशोधन में कमी

प्रश्न 5.
जनसंख्या के आकार एवं वितरण को माना जाता है –
(a) टेक्नॉलॉजीकल परिवेश का अंग
(b) कानूनी परिवेश का अंग
(c) राजनैतिक परिवेश का अंग
(d) सामाजिक परिवेश का अंग
उत्तर:
(d) सामाजिक परिवेश का अंग

प्रश्न 2.
रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए

  1. आधुनिक टेक्नॉलॉजी अर्थव्यवस्था के शीघ्र विकास में …………. होती है।
  2. प्रथम पंचवर्षीय योजना …………. से प्रारंभ की गई थी।
  3. भारत में नये आर्थिक सुधारों का प्रारंभ …………… से किया गया।
  4. व्यवसाय के ……………………. घटक नियंत्रणीय होते हैं।
  5. भारत में …………………..आर्थिक प्रणाली को अपनाया गया है।
  6. अंतर्राष्ट्रीय परिवेश सदैव ………….. रहता है।
  7. कानूनी परिवेश का संबंध सरकार द्वारा पारित ………. से होता है।

उत्तर:

  1. सहायक
  2. 1 अप्रैल 1951
  3. सन् 1991
  4. आंतरिक
  5. मिश्रित
  6. परिवर्तनशील
  7. अधिनियम।

प्रश्न 3.
एक शब्द या वाक्य में उत्तर दीजिए

  1. वैश्वीकरण का क्या अर्थ है ?
  2. लोगों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए बनाई गई नीति को क्या कहते हैं ?
  3. विदेश नीति, किस व्यावसायिक वातावरण का घटक है ?
  4. EPCG स्कीम का पूरा नाम क्या है ?
  5. निर्यात को प्रोत्साहित करने हेतु स्थापित व्यावसायिक क्षेत्र को क्या कहते हैं ?

उत्तर:

  1. विश्व की अर्थव्यवस्थाओं का एकीकरण
  2. रोजगार नीति
  3. राजनैतिक
  4. निर्यात संवर्द्धन सामान योजना
  5. निर्यात संवर्द्धन नीति।

प्रश्न 4.
सत्य या असत्य बताइये-

  1. उदारीकरण भारत में व्यवसाय तथा उद्योग को प्रभावित करने में असफल रहा है।
  2. आर्थिक सामाजिक तथा राजनीतिक परिस्थितियाँ व्यावसायिक वातावरण का निर्माण करती हैं।
  3. वैश्वीकरण ने भारत में व्यवसाय तथा उद्योग को प्रभावित किया है। ।
  4. बाहरी घटक व्यावसायिक वातावरण को प्रभावित नहीं करते।
  5. सरकारी नीति में परिवर्तनों का व्यवसाय तथा उद्योग पर प्रभाव नहीं पड़ता है।

उत्तर:

  1. असत्य
  2. सत्य
  3. सत्य
  4. असत्य
  5. असत्य।

प्रश्न 5.
सही जोड़ी बनाइये-

प्रबंध एवं व्यावसायिक वातावरण अति लघु उत्तरीय प्रश्न

प्रश्न 1.
व्यावसायिक वातावरण के संदर्भ में LPG का क्या अर्थ है ?
उत्तर:
L- Liberalisation उदारीकरण
P- Privatisation निजीकरण
G- Globalisation वैश्वीकरण

प्रश्न 2.
फेरा (FERA) तथा फेमा (FEMA) का पूरा नाम लिखिए।भारत में नई औद्योगिक नीति के अंतर्गत किस नियम को समाप्त करके FEMA लागू किया गया ?
उत्तर:
FERA – Foreign Exchange Regulation Act
FEMA – Foreign Exchange Management Act.
भारत में नई औद्योगिक नीति के अंतर्गत FERA को समाप्त करके FEMA लागू किया गया।

प्रश्न 3.
व्यष्टि (सूक्ष्म) तथा समष्टि (व्यापक) वातावरण से क्या अभिप्राय है?
उत्तर:
व्यष्टि (सूक्ष्म) वातावरण-इसका अभिप्राय उस पर्यावरण या वातावरण से है जिसके अंतर्गत उन घटकों को सम्मिलित किया जाता है जिनका व्यवसाय के साथ नजदीकी संबंध होता है।

समष्टि (व्यापक) वातावरण-इसका अभिप्राय उस वातावरण से है जिसके अंतर्गत उन घटकों को सम्मिलत किया जाता है जिनका व्यवसाय के साथ दूर का संबंध होता है।

प्रश्न 4.
सामान्य तथा विशिष्ट पर्यावरण में अंतर स्पष्ट कीजिए।
उत्तर:
सामान्य तथा विशिष्ट पर्यावरण में अंतर-

सामान्य पर्यावरण

  1. सामान्य पर्यावरण वह है जो फर्मों को अप्रत्यक्ष रूप से प्रभावित करता है।
  2. इसमें सामान्य शक्तियाँ शामिल होती हैं।
  3. इसके घटक हैं-सामाजिक पर्यावरण, राजनैतिक पर्यावरण l

विशिष्ट पर्यावरण

  1. विशिष्ट पर्यावरण उस पर्यावरण को कहते हैं। जो फर्मों को अप्रत्यक्ष रूप से प्रभावित करता है।
  2. इसमें विशिष्ट शक्तियाँ शामिल होती हैं।
  3. इसके घटक हैं-ग्राहक, जनता, पूर्तिकर्ता,विपणन मध्यस्थ आदि।

प्रश्न 5.
भारत सरकार को नई आर्थिक नीति किन कारणों से अपनानी पड़ी?
उत्तर:
भारत को नई आर्थिक नीति को अपनाने के निम्न कारण थे –

  1. राजकोषीय संकट
  2. आंतरिक ऋण में वृद्धि
  3. मुद्रा स्फीति में वृद्धि
  4. विदेशी विनिमय संचय में गिरावट
  5. रुपये के मूल्य में कमी
  6. नकारात्मक भुगतान संतुलन
  7. भारतीय रिजर्व बैंक तथा भारतीय स्टेट बैंक द्वारा सोना बंधक रखना।

प्रश्न 6.
भारतीय कानूनी पर्यावरण के कोई तीन उदाहरण दीजिए जिन्होंने व्यवसाय को प्रभावित किया है।
उत्तर:
भारतीय कानूनी पर्यावरण ने व्यवसाय को निम्न प्रकार से प्रभावित किया है

  1. नशा संबंधी उत्पाद का विज्ञापन करना प्रतिबंधित है।
  2. उद्योगों की लाइसेंस से मुक्ति की नीति।
  3. तम्बाकू उत्पादों पर वैधानिक चेतावनी होना आवश्यक है।

प्रश्न 7.
उन्नत तकनीकी में किन-किन बातों पर जोर दिया जाता है ?
उत्तर:
उन्नत तकनीकी में निम्न बातों पर जोर दिया जाता है

  1. वैज्ञानिक शोध
  2. नव-प्रवर्तन
  3. आविष्कार
  4. सुधार
  5. नव-प्रवर्तन का प्रसार।

प्रश्न 8.
सन् 1991 के पश्चात् भारत के आर्थिक परिवेश में जो परिवर्तन हुए उनके नाम लिखिए।
उत्तर:
सन् 1991 के पश्चात् भारत के आर्थिक परिवेश में जो परिवर्तन हुए उनके नाम निम्न हैं

  1. आधुनिकीकरण
  2. निजीकरण
  3. वैश्वीकरण
  4. उदारीकरण।

प्रश्न 9.
भारत में नई आर्थिक नीति को अपनाये जाने के क्या कारण थे?
उत्तर:
भारत में नई आर्थिक नीति को अपनाये जाने के निम्न कारण थे

  1. विदेशी विनिमय की कमी
  2. उच्च सरकारी घाटा
  3. बढ़ती हुई कीमतें
  4. आन्तरिक ऋण में वृद्धि
  5. विदेशी व्यापार में गिरावट।

प्रश्न 10.
1956 की औद्योगिक नीति में उद्योगों का वर्गीकरण किस प्रकार किया गया था ?
उत्तर:
1956 की औद्योगिक नीति को तीन वर्गों में बाँटा गया था

  1. प्रथम वर्ग-प्रथम वर्ग में वे उद्योग रखे गये थे, जिनका विकास केवल राज्य द्वारा होता है।
  2. द्वितीय वर्ग-इस वर्ग में वे उद्योग रखे गये थे जो राज्यों के स्वामित्व में चले जाएँगे तथा भविष्य में नये कारखानों की स्थापना राज्य द्वारा ही की जायेगी।-
  3. तृतीय वर्ग-तृतीय वर्ग में शेष उद्योग रखे गये थे। ये उद्योग मुख्य रूप से उपभोक्ता वस्तुओं का उत्पादन करने वाले उद्योग थे।

प्रश्न 11.
नई आर्थिक नीति में किन-किन उद्योगों के लिये लाइसेंस लेना अनिवार्य है ?
उत्तर:
नई आर्थिक नीति में, वर्तमान में छः उद्योगों के लिये लाइसेंस लेना अनिवार्य है जो कि निम्नांकित हैं-

  1. खतरनाक रसायन
  2. सिगरेट
  3. ड्रग्स एवं फार्मास्युटिकल्स
  4. एल्कोहॉलिक पेय
  5. प्रतिरक्षा उपकरण
  6. औद्योगिक विस्फोटक।

प्रश्न 12.
भारत की चार आर्थिक नीतियों के नाम बताइये।
उत्तर:
भारत की चार आर्थिक नीतियाँ निम्न हैं

  1. आयात-निर्यात नीति
  2. रोजगार नीति
  3. औद्योगिक नीति
  4. कृषि नीति
  5. विदेशी विनियोग नीति
  6. कर नीति।

प्रश्न 13.
सन् 1991 के पश्चात् भारत के आर्थिक परिवेश की विवेचना कीजिए।
उत्तर:
सन् 1991 के पश्चात्, भारत के आर्थिक परिवेश में अनेक क्रांतिकारी परिवर्तन हुए। सरकार ने व्यवसाय तथा उद्योग से संबंधित नीतियों में अनेक परिवर्तन किये, जिनमें से प्रमुख निम्नलिखित हैं

  1. नई औद्योगिक नीति की घोषणा- उद्योगों को लाइसेंस मुक्त कर विभिन्न उद्योगों के लिए पूँजी की सीमा समाप्त कर दी गई।
  2. नई व्यापार नीति-व्यापार में न्यूनतम प्रतिबंध, न्यूनतम प्रशासनिक नियम नियंत्रण सुनिश्चित किया गया।
  3. पूँजी बाजार में सुधार-भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड की स्थापना।
  4. राजकोषीय नीति में सुधार-सार्वजनिक व्ययों पर नियंत्रण तथा सभी राज्यों में ‘वैट ‘ योजना लागू करना।

प्रश्न 14.
नवीन मौद्रिक नीति पर प्रकाश डालिये।
उत्तर:
उदारीकरण करने तथा अन्तर्राष्ट्रीय व्यापार बढ़ाने के लिये सरकार द्वारा मौद्रिक नीति में सुधार करने हेतु नरसिंहम समिति गठित की गई जिसमें निम्न सिफारिशें पेश की गई

  1. ब्याज दरों का निर्धारण स्वतंत्र रूप से किया जाये अर्थात् इसमें रिजर्व बैंक का हस्तक्षेप न हो।
  2. बैंकिंग पद्धति की संरचना नये ढंग से की जाये।
  3. बैंकों को अधिक स्वतंत्रता प्रदान की जाये।

प्रश्न 15.
व्यावसायिक वातावरण से आपका क्या आशय है ?
उत्तर:
व्यावसायिक वातावरण दो शब्दों का संयोजन है। व्यावसायिक शब्द का अर्थ है व्यवसाय से संबंधित तथा वातावरण का अर्थ है वे समस्त बाह्य शक्तियाँ जिनका प्रभाव व्यवसाय के संचालन पर पड़ता है। व्यावसायिक वातावरण सामाजिक, आर्थिक, राजनैतिक, कानूनी तथा तकनीकी घटकों का मिश्रण है।

प्रश्न 16.
व्यावसायिक उद्यमों के लिए अपने पर्यावरण को समझना क्यों महत्वपूर्ण है ? स्पष्ट कीजिए।
उत्तर:
व्यावसायिक पर्यावरण से आशय सभी व्यक्ति, संस्थाओं तथा अन्य शक्तियों से है जो व्यावसायिक संगठन को प्रभावित करते हैं। जैसे-सरकारी नीतियाँ, तकनीकी परिवर्तन, सामाजिक तथा राजनैतिक परिस्थितियाँ। व्यवसाय के प्रबंधकों को अपने पर्यावरण को समझना इसलिए आवश्यक है क्योंकि वे बाहरी शक्तियों को पहचानकर उनसे अपना बचाव कर सकें। निम्नलिखित कारणों से भी व्यावसायिक उपक्रम के लिए अपने आसपास के पर्यावरण को समझना आवश्यक होता है

  1. भविष्य के लिए मार्ग को निर्धारित करने में सहायक
  2. प्रतियोगिता का सामना करने के लिए,
  3. तेजी से हो रहे परिवर्तनों से सुरक्षा के लिए
  4. अवसरों की पहचान करना।

प्रश्न 17.
व्यावसायिक वातावरण के विभिन्न आयाम लिखिए।
उत्तर:
व्यावसायिक वातावरण के आयाम निम्न हैं

  1. जनसंख्या संबंधी परिवेश
  2. भौतिक परिवेश
  3. आर्थिक परिवेश
  4. सामाजिक परिवेश।

प्रश्न 18.
वैश्वीकरण के कोई दो उद्देश्य लिखिए।
उत्तर:
वैश्वीकरण के दो उद्देश्य निम्न हैं

  1. अकुशलता को दूर करना-उद्योगों तथा फर्मों की अकुशलता को दूर करना वैश्वीकरण का प्रमुख उद्देश्य है।
  2. उत्पादकता में वृद्धि-अल्पविकसित राष्ट्रों में संसाधनों के आबंटन में सुधार लाना है, इसमें पूँजी उत्पाद अनुपात कम होगा और श्रम की उत्पादकता बढ़ेगी।

प्रश्न 19.
व्यवसाय के आंतरिक वातावरण को स्पष्ट कीजिए।
उत्तर:
व्यावसायिक वातावरण के वे घटक जिनका निर्धारण संस्था द्वारा होता है उसे आंतरिक घटक (वातावरण) कहते हैं। ये घटक नियंत्रणीय होते हैं जिनका व्यवसाय पर प्रत्यक्ष प्रभाव पड़ता है एवं इनमें आवश्यकतानुसार परिवर्तन किया जा सकता है। ये घटक इस प्रकार हैं

  1. व्यवसाय की नीतियाँ, नियम व योजनाएँ
  2. व्यवसाय के उद्देश्य, लक्ष्य एवं दृष्टिकोण
  3. व्यवसाय की उत्पादन प्रणाली
  4. व्यवसाय के साधन, संसाधन ।

प्रश्न 20.
व्यवसाय के सामाजिक वातावरण को समझाइये।
उत्तर:
सामाजिक वातावरण का आशय समाज में होने वाली समस्त गतिविधियों से है। इन गतिविधियों में सांस्कृतिक गतिविधियाँ भी सम्मिलित हैं। व्यवसाय की समस्त गतिविधियाँ व क्रियायें समाज के अन्दर ही की जाती है अर्थात् व्यवसाय भी एक सामाजिक कार्य है। समाज में जाति, धर्म, लिंग, परिवार, समूह आदि से सम्बन्धित क्रियायें होती हैं। इन समस्त क्रियाओं का प्रभाव व्यवसाय पर पड़ता है। अर्थात् सामाजिक वातावरण का प्रभाव व्यावसायिक परिस्थितियों पर अवश्य पड़ता है। सामाजिक वातावरण के प्रमुख घटक निम्न हैं जिनसे व्यावसायिक वातावरण प्रभावित होता है

  1. परिवार की संरचना एवं भूमिका
  2. समाज में जाति एवं वर्ग व्यवस्था

प्रश्न 21.
व्यवसाय के वैधानिक नियामक पर प्रकाश डालिये।
उत्तर:
कानून विधान या नियमावली सर्वशक्तिमान होते हैं इनके अनुसार कार्य न करने पर व्यक्ति दण्ड का भागी होता है। इसलिये वैधानिक नियमों का व्यवसाय पर बहुत अधिक प्रभाव पड़ता है। व्यवसाय के संचालन के लिये सुरक्षा व अधिकारों से रक्षा आवश्यक है जो केवल वैधानिक नियमों से ही हो सकती है। वैधानिक वातावरण से व्यवसाय को संरक्षण मिलता है । वैधानिक वातावरण का क्षेत्र काफी विस्तृत हो रहा है तथा सम्पूर्ण आर्थिक जगत पर इससे नियन्त्रण रखा जा सकता है। वैधानिक वातावरण का निर्माण करने वाले या घटक जो व्यवसाय को प्रभावित करते हैं, वे निम्नानुसार हैं

  1. संवैधानिक प्रावधान
  2. व्यापारिक सन्नियम
  3. आर्थिक सन्नियम
  4. श्रम सन्नियम।

प्रश्न 22.
बाह्य वातावरण से आप क्या समझते हैं ?
उत्तर:
किसी वातावरण में ऐसे घटक या तत्त्व जिनका अर्थ (मुद्रा) से सम्बन्ध नहीं रहता है और वे व्यवसाय के बाहर की परिस्थितियाँ निर्मित करते हैं, उन्हें अनार्थिक बाह्य वातावरण के नाम से जाना जाता है। ये अनार्थिक या गैर आर्थिक घटक निम्न होते हैं

  1. राजनैतिक वातावरण
  2. सामाजिक वातावरण
  3. वैधानिक वातावरण
  4. भौतिक वातावरण
  5. शैक्षिक वातावरण
  6. नैतिक वातावरण
  7. सांस्कृतिक वातावरण
  8. अन्तर्राष्ट्रीय वातावरण
  9. ऐतिहासिक वातावरण
  10. तकनीकी वातावरण।