Chapter 5 कोयला और पेट्रोलियम

पाठ के अन्तर्गत के प्रश्नोत्तर

पाठ्य-पुस्तक पृष्ठ संख्या # 56

क्रियाकलाप 5.1

प्रश्न 1.
अपने दैनिक जीवन में उपयोग में लाये जाने वाले पदार्थों की एक सूची बनाइए और उनको प्राकृतिक तथा मानव निर्मित वर्गों में वर्गीकृत कीजिए –
उत्तर:

प्रश्न 2.
क्या इस सूची में वायु, जल, मृदा और खनिज सम्मिलित हैं?
उत्तर:
हाँ, इस सूची में वायु, जल, मृदा और खनिज सम्मिलित हैं।

प्रश्न 3.
क्या हम अपने सभी प्राकृतिक संसाधनों का निरन्तर उपयोग कर सकते हैं?
उत्तर:
नहीं, हम अपने सभी प्राकृतिक संसाधनों का निरन्तर उपयोग नहीं कर सकते हैं। एक दिन वे समाप्त हो जायेंगे।

प्रश्न 4.
क्या वायु, जल और मृदा मानवीय क्रियाकलापों द्वारा समाप्त हो सकते हैं?
उत्तर:
नहीं, वायु, जल और मृदा मानवीय क्रियाकलापों द्वारा समाप्त नहीं हो सकते हैं।

प्रश्न 5.
क्या जल एक असीमित संसाधन है?
उत्तर:
हाँ, जल एक असीमित संसाधन है। लेकिन इसके असीमित दोहन से यह संकट उत्पन्न कर सकता है।

क्रियाकलाप 5.2

प्रश्न 1.
अब अन्तिम रूप से देखिए कि तीसरी पीढ़ी के सभी उपभोक्ताओं को खाने हेतु कुछ मिला या नहीं। यह भी देखिए कि क्या पात्रों में अब भी कुछ शेष बच गया है?
उत्तर:
हाँ, तीसरी पीढ़ी के उपभोक्ताओं को खाने हेतु कुछ मिला है, लेकिन उन्हें बहुत थोड़ी मात्रा में मिला है।’ नहीं, पात्रों में अब कुछ शेष नहीं बचा है।

प्रश्न 2.
क्या किसी समूह की पहली पीढ़ी बहुत अधिक लालची है?
उत्तर:
हाँ, किसी समूह की पहली पीढ़ी बहुत अधिक लालची है।

पाठ्य-पुस्तक पृष्ठ संख्या # 57

प्रश्न 3.
कोयला हमें कहाँ से प्राप्त होता है और यह कैसे बनता है?
उत्तर:
कोयला हमें जमीन के अन्दर से प्राप्त होता है। बाढ़ जैसे प्राकृतिक प्रक्रमों के कारण वन मृदा के नीचे दब जाते हैं। इनके ऊपर मृदा जम जाने के कारण ये सम्पीडित हो जाते हैं। जैसे-जैसे ये गहरे होते जाते हैं उनका ताप भी बढ़ता जाता है। उच्च ताप व उच्च दाब के कारण पृथ्वी के अन्दर मृत पेड़-पौधे धीरे-धीरे कोयले में परिवर्तित हो जाते हैं। कोयले में मुख्य रूप से कार्बन होता है। यह प्रक्रम कार्बनीकरण कहलाता है।

पाठ्य-पुस्तक पृष्ठ संख्या # 59

पेट्रोलियम

प्रश्न 1.
क्या आप जानते हैं कि पेट्रोलियम कैसे बनता है?
उत्तर:
पेट्रोलियम का निर्माण समुद्र में रहने वाले जीवों से हुआ। जब ये जीव मृत हुए तो इनके शरीर समुद्र के तल में जाकर बैठ गए और फिर रेत तथा मिट्टी की तहों द्वारा ढक गए। लाखों वर्षों के बाद वायु की अनुपस्थिति, उच्च ताप और उच्च दाब के कारण मृत जीव पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस में परिवर्तित हो गए।

प्रश्न 2.
पेट्रोलियम तेल और गैस की परत, जल की परत के ऊपर है। ऐसा क्यों है?
उत्तर:
पेट्रोलियम तेल और गैस जल से हल्के होते हैं, ये जल में मिश्रित नहीं होते। अतः ये जल की परत के ऊपर रहते हैं।

पाठ्य-पुस्तक पृष्ठ संख्या # 61

प्रश्न 1.
क्या प्रयोगशाला में मृत जीवों से पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस बनाई जा सकती है?
उत्तर:
नहीं, पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस का बनना एक बहुत धीमा प्रक्रम है और इसके बनने की परिस्थितियाँ प्रयोगशाला में उत्पन्न नहीं की जा सकती। अतः इन्हें प्रयोगशाला में नहीं बनाया जा सकता।

पाठान्त अभ्यास के प्रश्नोत्तर

प्रश्न 1.
सीएनजी और एलपीजी का ईंधन के रूप में उपयोग करने के क्या लाभ हैं?
उत्तर:
सीएनजी और एलपीजी उपयोग करने के लाभ:

  1. ये कम प्रदूषणकारी है।
  2. ये स्वच्छ ईंधन है।
  3. ये अन्य ईंधनों की अपेक्षा सस्ते हैं।
  4. ये आसानी से उपलब्ध हैं।
  5. इन्हें घरों और कारखानों में सीधा जलाया जा सकता है, जहाँ इनकी आपूर्ति पाइपों के द्वारा की जाती है।

प्रश्न 2.
पेट्रोलियम का कौन-सा उत्पाद सड़क निर्माण हेतु उपयोग में लाया जाता है?
उत्तर:
सड़क निर्माण हेतु पेट्रोलियम उत्पाद बिटुमिन उपयोग में लाया जाता है।

प्रश्न 3.
वर्णन कीजिए, मृत वनस्पति से कोयला किस प्रकार बनता है? यह प्रक्रम क्या कहलाता है?
उत्तर:
कोयला हमें जमीन के अन्दर से प्राप्त होता है। बाढ़ जैसे प्राकृतिक प्रक्रमों के कारण वन मृदा के नीचे दब जाते हैं। इनके ऊपर मृदा जम जाने के कारण ये सम्पीडित हो जाते हैं। जैसे-जैसे ये गहरे होते जाते हैं उनका ताप भी बढ़ता जाता है। उच्च ताप व उच्च दाब के कारण पृथ्वी के अन्दर मृत पेड़-पौधे धीरे-धीरे कोयले में परिवर्तित हो जाते हैं। कोयले में मुख्य रूप से कार्बन होता है। यह प्रक्रम कार्बनीकरण कहलाता है।

प्रश्न 4.
रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए –

  1. …………. तथा ………… जीवाश्म ईंधन हैं।
  2. पेट्रोलियम के विभिन्न संघटकों को पृथक करने का प्रक्रम ………… कहलाता है।
  3. वाहनों के लिए सबसे कम प्रदूषक ईंधन ……..।

उत्तर:

  1. कोयला, पेट्रोलियम
  2. परिष्करण
  3. सीएनजी (Compressed Natural Gas-CNG)

प्रश्न 5.
निम्नलिखित कथनों के सामने सत्य/असत्य लिखिए –

  1. जीवाश्म ईंधन प्रयोगशाला में बनाए जा सकते हैं। (सत्य/असत्य)
  2. पेट्रोल की अपेक्षा सीएनजी अधिक प्रदूषक ईंधन (सत्य/असत्य)
  3. कोक, कार्बन का लगभग शुद्ध रूप है। (सत्य/असत्य)
  4. कोलतार विभिन्न पदार्थों का मिश्रण है। (सत्य/असत्य)
  5. मिट्टी का तेल एक जीवाश्म ईंधन नहीं है। (सत्य/असत्य)

उत्तर:

  1. असत्य।
  2. असत्य।
  3. सत्य।
  4. सत्य।
  5. असत्य।

प्रश्न 6.
समझाइए, जीवाश्म ईंधन समाप्त होने वाले प्राकृतिक संसाधन क्यों हैं?
उत्तर:
जीवाश्म ईंधन समाप्त होने वाले संसाधन हैं क्योंकि इनके बनने में मृतजीवों को ईंधन में परिवर्तित होने के लिए लाखों वर्ष लगते हैं और उपलब्ध भण्डार सीमित हैं। इसलिए जीवाश्म ईंधन समाप्त होने वाले प्राकृतिक संसाधन हैं।

प्रश्न 7.
कोक के अभिलक्षणों और उपयोगों का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
कोक के अभिलक्षण: कोक एक कठोर, सरन्ध्र और काला पदार्थ है। यह कार्बन का लगभग शुद्ध रूप है।

कोक का उपयोग: कोक का उपयोग इस्पात के औद्योगिक निर्माण और बहुत से धातुओं के निष्कर्षण में किया जाता है।

प्रश्न 8.
पेट्रोलियम निर्माण के प्रक्रम को समझाइए।
उत्तर:
पेट्रोलियम का निर्माण समुद्र में रहने वाले जीवों से हुआ। जब ये जीव मृत हुए तो इनके शरीर समुद्र के तल में जाकर बैठ गए और फिर रेत तथा मिट्टी की तहों द्वारा ढक गए। लाखों वर्षों के बाद वायु की अनुपस्थिति, उच्च ताप और उच्च दाब के कारण मृत जीव पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस में परिवर्तित हो गए।

प्रश्न 9.
निम्नलिखित सारणी में 2004 से 2010 तक भारत में विद्युत् की कुल कमी को दिखाया गया है। इन आँकड़ों को ग्राफ द्वारा आलेखित करिए। वर्ष में कमी प्रतिशतता को Y-अक्ष पर तथा वर्ष को X-अक्ष पर आलेखित करिए।

उत्तर:

Chapter 5 कोयला और पेट्रोलियम