Rajasthan Board RBSE Class 12 English Panorama Chapter 7 Dead Men’s Path

RBSE Class 12 English Panorama Chapter 7 Textual Questions

Comprehension Questions
A. Choose the correct alternative:

Question 1.
Obi and his wife were married for …………. years.
(a) five
(b) four
(c) two
(d) one

Question 2.
…………………. was the name of Obi’s wife.
(a) Michael
(b) Nancy
(c) Odanta
(d) Marry

Question 3.
………………….. was the name of the school.
(a) Missionary School
(b) Ndume Central School
(c) Secondary School
(d) Onitsha School

Question 4.
……….. died in the village.
(a) A little boy
(b) An old man
(c) A young woman
(d) A priest

Answers:
1. (c)
2. (b)
3. (b)
4. (c)

B. Answer the following questions in 30 to 40 words:
निम्नलिखित प्रत्येक प्रश्न का उत्तर 30-40 शब्दों में दीजिये।

Question 1.
Why was Obi given the responsibility of the Ndume Central School?
ओबी को एनड्यूम सेंट्रल स्कूल की जिम्मेदारी क्यों दी गई?
Answer:
Ndume Central School had been an unprogressive school. Micheal Obi was a young and energetic man. So the authorities sent him to run this school to improve its condition.

एनड्यूम सेन्ट्रल स्कूल एक पिछड़ा हुआ स्कूल था। माइकल ओबी एक युवा और ऊर्जावान व्यक्ति था। इसलिए अधिकारियों ने उसे इसे स्कूल की स्थिति को सुधारने के लिए, उसको चलाने भेजा।

Question 2.
What were the two aims set by Obi for the betterment of the school?
विद्यालय की उन्नति के लिए ओबी द्वारा दो उद्देश्य क्या निर्धारित किये गए?
Answer:
A high standard of teaching in the school and changing the school compound into a place of beauty were the two aims that were set by Obi for the betterment of the school.

विद्यालय में शिक्षण का उच्च स्तर और विद्यालय परिसर को सुन्दर बनाना, ये दो उद्देश्य ओबी के द्वारा विद्यालय की उन्नति के लिए निर्धारित किये गए थे।

Question 3.
What did the priest of Ani tell Obi about the path?
एनी गाँव के पादरी ने ओबी को रास्ते के बारे में क्या बताया?
Answer:
The village priest told Obi that the path was used by the villagers much before he (Obi) was born and before his (Obi’s) father was born. He also stressed the fact that the path was very important for the villagers.

गाँव के पादरी ने ओबी को बताया कि वह पगडंडी गाँवों वालों द्वारा उस समय से प्रयुक्त की जा रही है जब ओबी व उसके पिता का जन्म भी नहीं हुआ था। उसने इस तथ्य पर भी बल दिया कि यह पगडंडी गाँव वालों के लिए बहुत महत्वपूर्ण थी।

Question 4.
Why was the path very important for the villagers?
गाँव वालों के लिए यह रास्ता बहुत ही महत्वपूर्ण क्यों था?
Answer:
The path was very important for the villagers because it was the path by which their dead relatives departed and their ancestors visited them. It was the path of the children yet to be born. It connected the village shrine with their place of burial.

यह रास्ता गाँव वालों के लिये बहुत ही महत्वपूर्ण था क्योंकि यह वही रास्ता था जिससे उनके मृत रिश्तेदार जाया करते थे और उनके पूर्वज उनसे मिलने आते थे। यह उन बच्चों के लिए भी महत्वपूर्ण रास्ता था जो अभी पैदा होने थे। यह गाँव के पूजा स्थल को उनके कब्रिस्तान से जोड़ता था।

Question 5.
What did the diviner suggest at the death of a young woman?
एक युवती की मृत्यु पर शगुनियाँ ने क्या सलाह दी?
Answer:
At the death of a young woman, the diviner suggested heavy sacrifices to pacify ancestors. He said that they were insulted by the closure of the path and they had to be pleased.

एक युवती की मृत्यु पर शगुनियाँ ने पूर्वजों को शांत करने के लिए भारी बलिदान की सलाह दी। उसने कहा कि रास्ता बंद करके उनका अपमान हुआ है और उनको प्रसन्न करना होगा।

Question 6.
Describe the report prepared by the white supervisor.
गोरे निरीक्षक द्वारा तैयार की गई रिपोर्ट का वर्णन कीजिए।
Answer:
The white supervisor wrote a little on the state of the school campus but more seriously about the tribal conflict between the school and the village, arising in part from the misguided zeal of the new headmaster.

गोरे निरीक्षक ने विद्यालय-परिसर की स्थिति पर बहुत कम किन्तु गाँव तथा विद्यालय के बीच पनप रहे जनजातीय द्वन्द्व के बारे में ज्यादा गम्भीरतापूर्वक लिखा जो नये प्रधानाध्यापक के विभ्रान्त उत्साह के कारण पैदा हुआ।

C. Answer the following questions in 125 words each:
निम्नलिखित प्रत्येक प्रश्न का उत्तर 125 शब्दों में दीजिये:

Question 1.
Describe the condition of the Ndume Central School before and after Michael Obi.
माइकल ओबी के पहले व बाद की एनड्यूम सेंट्रल स्कूल की स्थिति का वर्णन कीजिए।
Answer:
Before Michael Obi’s appointment, Ndume Central School was an unprogressive school. It was backward in every sense of the word. Mr Obi and his wife put their whole attention into the task of improving it. He had two aims – a high standard of teaching and to turn the school campus into a place of beauty and worked accordingly. Their dream-gardens came to life with the coming of the rains and blossomed. Beautiful hibiscus and allamanda hedges in brilliant red and yellow marked out the carefully tended school compound from the rank neighbourhood bushes. He planted heavy sticks closely across the path at the two places where it entered and left the school premises. These were further strengthened with barbed wire. In this way, he closed the path that crossed the school campus.

माइकल ओबी की नियुक्ति से पूर्व एनड्यूम सेन्ट्रल स्कूल एक पिछड़ा हुआ विद्यालय था। यह प्रत्येक तरह से पिछड़ा हुआ था। मि. ओबी और उसकी पत्नी ने विद्यालय में परिवर्तन लाने के लिए अपना पूरा ध्यान उसे सुधारने में लगा दिया। उसके दो उद्देश्य थे- शिक्षण का उच्च स्तर तथा विद्यालय परिसर को एक सुन्दर स्थान बनाना और तदनुरूप कार्य भी किया। वर्षा के आने से तथा फूलों के खिलने से उनका स्वप्न सच हो गया। चमकीले लाल और पीले सुन्दर गुड़हल और अलमान्डा की बाड़े सुव्यवस्थित विद्यालय मैदान को अत्यधिक बढने वाली समीपवर्ती झाड़ियों से अलग दिखा रही थीं। उसने रास्ते के आर-पार दो स्थानों पर जहाँ यह विद्यालय परिसर में प्रवेश करता और जहाँ इसे छोड़ता था भारी डण्डे गाड़ दिये गए। इन्हें काँटेदार तारों से और मजबूत कर दिया गया। इस तरह से उसने विद्यालय को पार करने वाले रास्ते को बंद कर दिया।

Question 2.
Describe the character sketch of Obi.
ओबी का चरित्र-चित्रण कीजिये।
Answer:
Michael Obi was a handsome young man with high aspirations. He wanted to excel in the field of education. He had sound secondary education which designated him a “pivotal teacher” in the official records. He was considered to be a very distinguished headmaster in the mission field. He would frankly condemn narrow views of the older and less-educated people. He did not approve of baseless and irrational beliefs, which were rife in society. He had great energy but looked weak. He sometimes surprised people with sudden bursts of physical energy. His deep-set eyes had an extraordinary power of penetration. He was only twenty-six but looked thirty or more. He worked hard for the Ndume Central School and changed it according to his aim.

माइकल ओबी’उच्च आकांक्षाओं वाला सुन्दर युवक था। वह शिक्षण क्षेत्र में श्रेष्ठ बनना चाहता था। वह सेकॅन्डरि में अच्छी शिक्षा प्राप्त कर चुका था जिससे वह मिशन क्षेत्र में एक प्रधान शिक्षक’ के रूप में जाना जाता था। उसे मिशन के क्षेत्र में बहुत ही महत्वपूर्ण प्रधानाध्यापक के रूप में जाना जाता था। अपेक्षाकृत बूढे और कम पढ़े-लिखे लोगों के संकीर्ण विचारों की वह खुलकर भर्त्सना करता था। वह समाज में प्रचलित निराधार और तर्कहीन विश्वासों को स्वीकार नहीं करता था। उसमें अपार ऊर्जा थी परन्तु वह कमजोर दिखता था। वह कभी कभी शारीरिक ऊर्जा के अचानक उफान से लोगों को चकित कर देता था। उसकी धंसी हुई आँखों में असाधारण विवेक-शक्ति थी। वह केवल छब्बीस वर्ष का था लेकिन तीस या ज्यादा का दिखता था। उसने। एनड्यूम पब्लिक स्कूल के लिए कठोर परिश्रम किया और अपने उद्देश्य के अनुसार उसे परिवर्तित किया।

Question 3.
Why were the school building and hedges ruined?
विद्यालय भवन तथा बाड़ को क्यों नष्ट कर दिया गया?
Answer:
The Headmaster Michael Obi closed the path that passed across the school compound. The village priest suggested reopening the path but Michael refused to do so. According to Obi, it was a baseless idea and the whole purpose of the school was to eradicate just such beliefs. He did not allow the reopening of the path. Three days later a young woman died in the village in childbirth. A diviner was consulted who prescribed heavy sacrifices to pacify ancestors who were insulted by the fence. Next day the beautiful hedges were torn up right around the school, the flowers were trampled to death and one of the school buildings was pulled down. It was reported that the misguided zeal of the new headmaster had caused a tribal-war situation between the school and the village.

प्रधानाध्यापक माइकल ओबी ने विद्यालय के मैदान में से होकर गुजरने वाले रास्ते को बन्द कर दिया। गाँव के पादरी ने माइकल से उस रास्ते को पुनः खोलने का सुझाव दिया पर माइकल ने ऐसा करने से मना कर दिया। ओबी के अनुसार यह एक निराधार विचार था तथा विद्यालय का उद्देश्य ऐसे विश्वासों को नष्ट करना था। उसने रास्ते को दुबारा खोलने से मना कर दिया। तीन दिन बाद गाँव में प्रसव के दौरान एक नवयुवती की मृत्यु हो। गई। एक शगुनियाँ से परामर्श लिया गया जिसने बाड़ से अपमानित पूर्वजों की शान्ति के लिए भारी बलिदान करने की सलाह दी। अगले दिन विद्यालय के चारों ओर की सुन्दर बाड़ों के टुकड़े-टुकड़े कर दिए गए, फूलों को कुचल कर नष्ट कर दिया गया और विद्यालय के एक भवन को ढहा दिया गया। यह रिपोर्ट की गई कि नये प्रधानाध्यापक का भ्रमित जोश विद्यालय तथा गाँव के बीच एक जनजातीय झगड़े का कारण बना।

D. State True or False:

Question 1.
Michael Obi was 30 years of age.

Question 2.
Nancy was the name of Obi’s wife.

Question 3.
A young woman died in a road accident in the village.

Question 4.
Michael Obi and the priest of Ani had a heated discussion between them.

Question 5.
The White Supervisor wrote a good report of Obi’s work in the school.

Answers:
1. False
2. True
3. False
4. True
5. False

E. Creative Writing:
Extend the story and imaginatively create a new end of the story.
Answer:
The teacher himself came to know that the villagers were angry with him. He could not think of what to do. In the meantime, an incident took place. A bung woman died in childbirth. He came to know that the village priest had called a diviner. And he knew that it was another superstition. He also reached there. All the villagers gathered around the shrine of the village. He explained to them that the death of the woman was not the cause of the closing of the path. If the spirits of the dead man returned, they would not need any path. He told them that he was there to educate them. He took the help of some other friends from the town. They also explained the truth to them. He mentioned some popular superstitions and told them that they were all baseless. In this way, he pacified the villagers who decided to use the disputed path no longer.

RBSE Class 12 English Panorama Chapter 7 Additional Questions

A.Answer the following question in 30-40 words each:
निम्नलिखित प्रत्येक प्रश्न का उत्तर 30-40 शब्दों में दीजिये।

Question 1.
Why did Obi accept his new responsibility with enthusiasm?
ओबी ने नयी जिम्मेदारी को उत्साह के साथ क्यों स्वीकार कर लिया?
Answer:
Obi was a young and energetic man who was selected to run a school. He had many wonderful ideas and that was an opportunity to put them into practice. So he accepted the responsibility with enthusiasm.

ओबी एक युवा व ऊर्जावान व्यक्ति था। जिसको चयन एक विद्यालय को चलाने हेतु किया गया था। उसके पास बहुत सारे अद्भुत विचार थे जिनको व्यावहारिक रूप देने का यह अवसर था। इसलिए उसने उत्तरदायित्व को उत्साह के साथ स्वीकार कर लिया।

Question 2.
How can you say that Obi was outspoken?
कैसे कहा जा सकता है कि ओबी एक स्पष्टवादी था?
Answer:
It can be said that Obi was outspoken because he did not like the narrow views of the older and often less educated ones. He bluntly condemned such people.

ऐसा कहा जा सकता है कि ओबी एक स्पष्टवादी था क्योंकि वह बूढे तथा अक्सर कम पढ़े लिखे लोगों के संकीर्ण विचारों को पसंद नहीं करता था। वह ऐसे लोगों की भर्त्सना करता था।

Question 3.
Was Nancy happy on hearing the news of Obi’s promotion?
ओबी की पदोन्नति की खबर को सुनकर क्या नैंसी खुश हुई थी?
Answer:
Yes, Nancy was happy. She told him that they would do their best. They would have a beautiful garden and everything would be modern and delightful. She began to see herself as the admired wife of the young headmaster.

हाँ, नैंसी खुश थी। उसने उससे (ओबी से) कहा कि वे भरसक प्रयास करेंगे। वे एक सुंदर बगीचा लगायेंगे तथा सभी कुछ आधुनिक तथा प्रसन्नतादायक होगा। उसने अपने आप को युवा प्रधानाध्यापक की प्रशंसनीय पत्नी के रूप में देखना शुरू कर दिया था।

Question 4.
How was Nancy inspired by her husband Michael?
नैंसी अपने पति माइकल से किस प्रकार से प्रेरित हुई।
Answer:
In their two years of married life, Nancy was greatly inspired by Michael’s passion for “modern methods” and his denigration of the old and superannuated people in the teaching field.

उनके शादीशुदा जीवन के दो वर्षों में नैंसी माइकल के “आधुनिक तरीकों” के जोश से तथा शिक्षण-क्षेत्र में लगे बूढ़े और पुरातनपंथी लोगों की भर्त्सना (बदनामी) से बहुत प्रेरित हुई थी।

Question 5.
What made Nancy anxious?
नैंसी किस बात से चिंतित हो गई?
Answer:
Nancy thought that she would be the admired wife of the young headmaster, the queen of the school. Then, suddenly, it occurred to her that there might not be any other wives who would envy her position. This made her anxious.

नैंसी ने सोचा कि वह युवा प्रधानाध्यापक की प्रशंसनीय पत्नी तथा विद्यालय की रानी होगी। फिर अचानक उसको सूझा कि वहाँ पर कोई अन्य पत्नियाँ नहीं होंगी जो कि उसकी स्थिति पर ईर्ष्या करेंगी। इसने उसे चिंतित कर दिया।

Question 6.
Why could Nancy not remain sad for a long time?
नैंसी ज्यादा देर तक दु:खी क्यों नही रह पाई?
Answer:
Nancy was sad for a few minutes because she was doubtful about the new school. But she could not remain sad for a long time because her little personal misfortune could not blind her to her husband’s happy prospects.

नैंसी कुछ देर के लिए दुःखी रही क्योंकि उसे नये विद्यालय के बारे में संदेह था। लेकिन वह ज्यादा देर तक दु:खी नहीं रह पाई क्योंकि उसको अपना थोड़ा सा दुर्भाग्य उसके पति की खुशी-भरी सम्भावनाओं के प्रति उसे अन्धो न बना सका।

Question 7.
Describe the carefully tended school compound’.
‘परिश्रमपूर्वक सजाए-सँवारे गए क्द्यिालय-परिसर’ का वर्णन कीजिए।
Answer:
The school compound came to life with the blossoming hedges of beautiful hibiscus and Alamanda flowers. These could be seen distinct from its rank neighbourhood bushes.

विद्यालय-परिसर गुड़हल और अलामाण्डा के सुन्दर खिले फूलों वाली बाड़ों से जीवन्त हो उठा था। इन्हें अत्यधिक बढ़ने वाली समीपवर्ती झाड़ियों से भिन्न देखा जा सकता था।

Question 8.
What did Mr Obi notice one evening?
एक शाम को श्रीमान ओबी ने क्या देखा?
Answer:
One evening as Obi was admiring his work he was scandalized to see an old woman from the village hobbling right across the school compound, through a marigold flower-bed and the hedges.

एक शाम को जब ओबी अपने कार्य की प्रशंसा कर रहे थे वह गाँव की एक वृद्ध महिला को देखकर नाराज हो गया जो एक गेंदे की क्यारी और बाड़ में से लंगड़ाकर चलते हुए विद्यालय के मैदान को पार कर रही थी।

Question 9.
How did the new headmaster come to know about the path?
नये प्रधानाध्यापक को रास्ते के बारे में कैसे पता चला?
Answer:
The new headmaster saw an old woman from the village hobble right across the compound, through a marigold flower-bed and the hedges. He went up and found faint signs of an almost disused path from the village across the school compound to the bush on the other side.

नये प्रधानाध्यापक ने गाँव की एक वृद्ध महिला को गेंदे की क्यारी तथा बाडों से लंगड़ाकर पार करके जाते हुए देखा। वह वहाँ गया और उसने वहाँ पर गाँव से विद्यालय प्रांगण से होकर दूसरी तरफ की झाड़ी के आर-पार एक लगभग प्रयोग में न लिए गये मार्ग के हल्के चिह्न देखे।

Question 10.
How was the path closed?
रास्ते को किस प्रकार से बंद किया गया?
Answer:
Heavy sticks were planted closely across the path at the two places where it entered and left the school premises. These were further strengthened with barbed wire. In this way, the path was closed.

रास्ते के आर-पार दो स्थानों पर जहाँ यह विद्यालय परिसर में प्रवेश करता और जहाँ इसे छोड़ता था, भारी डण्डे गाड़ दिये गये। इन्हें काँटेदार तारों से और मजबूत कर दिया गया। इस प्रकार से रास्ते को बंद कर दिया गया।

Question 11.
What happened when the school teachers attempted to close the path?
जब विद्यालय के शिक्षकों ने मार्ग बन्द करने का प्रयास किया तो क्या हुआ?
Answer:
When the school teachers attempted to close the path, the village priest called on the headmaster and reasoned with him to reopen the path. He said that it was wrong to do so. It was an important path for the villagers.

जब विद्यालय के शिक्षकों ने मार्ग बन्द करने का प्रयास किया तो गाँव का पादरी प्रधानाध्यापक से मिलने आया और उसे मार्ग पुनः खोलने के लिए समझाया। उसने कहा कि ऐसा करना गलत था। गाँव वालों के लिए यह महत्वपूर्ण रास्ता था।

Question 12.
Draw a character sketch of the village priest.
गाँव के पादरी का चरित्र-चित्रण कीजिए।
Answer:
The old village priest did not have any rationality. He believed in customs and traditions only. He tapped his heavy walking stick on to the floor to emphasize his statements which showed that he had crude manners.

गाँव के बूढे पादरी में विवेक नहीं था। वह केवल प्रथाओं और परम्पराओं में ही विश्वास करता था। वह अपने कथनों पर जोर देने के लिए अपनी भारी लाठी को फर्श पर मारता था जिससे जाहिर होता था कि उसके तौर-तरीके अपरिष्कृते थे।

Question 13.
What, according to the new headmaster, was the purpose of the school?
नये प्रधानाध्यापक के अनुसार विद्यालय का उद्देश्य क्या था?
Answer:
According to the new headmaster, the purpose of the school was to eradicate baseless and irrational beliefs from the children’s mind. Their duty was to teach the children to laugh at such baseless ideas.

नये प्रधानाध्यापक के अनुसार, विद्यालय का उद्देश्य बच्चों के मस्तिष्क से निराधार और तर्कहीन विश्वासों का उन्मूलन करना था। उनका कर्तव्य था वे बच्चों को ऐसी आधारहीन बातों की खिल्ली उड़ाना सिखाएँ।

Question 14.
What was the suggestion of the priest?
पादरी की सलाह क्या थी?
Answer:
The priest suggested that they would follow the practices of their fathers. If he reopened the path, they would have nothing to quarrel about. He requested to let the hawk perch and let the eagle perch.

पादरी का सुझाव था कि वे (वह और गाँव वाले) अपने पूर्वजों की प्रथाओं का पालन करें। यदि वह (ओबी) रास्ता पुनः खोल देगा तो उनके पास लड़ने को कोई कारण नहीं है। उसने कहा कि लोगों को उनके विश्वासों में विश्वास करने दो चाहे आप उनके विश्वासों से असहमत हैं।

B. Answer the following questions in 125 words each:
निम्नलिखित प्रत्येक प्रश्न का उत्तर 125 शब्दों में दीजिये:

Question 1.
Compare and contrast Michael with the village priest.
माइकल और गाँव के पादरी की समानताएँ और विरोधाभास बताइये।
Answer:
Both Michael and the village priest are ardent supporters of the values their generations stand for both Michael and the village priest occupy places of importance in the society. They are supposed to enlighten people. But as far as their convictions are concerned, they stand out in contrast. Michael is educated and well-mannered while the village priest is ill-mannered and illiterate. Michael does not believe in baseless and irrational thoughts. He wants to eradicate such baseless beliefs and customs while the village priest is all for sustaining them. When a young woman dies in childbirth, the priest takes the help of a diviner. On his suggestion, he gets the beautiful hedges torn up near the path and right around the school and a school building is pulled drawn.

माइकल और पादरी दोनों ही अपनी-अपनी पीढ़ी के मूल्यों के प्रबल समर्थक हैं। माइकल और गाँव के पादरी दोनों ही का समाज में प्रमुख स्थान है। दोनों से ही यह आशा की जाती है कि वे लोगों का पथ-प्रदर्शन करेंगे। परन्तु जहाँ तक उनके विचारों का प्रश्न है, वे बिल्कुल विरोधाभासी हैं। माइकल पढ़ा-लिखा और शिष्ट है जबकि गाँव का पादरी अनपढ़ और अशिष्ट है। माइकल निराधार और तर्करहित विचारों में विश्वास नहीं रखता है। वह ऐसे निराधार विश्वासों और प्रथाओं का उन्मूलन करना चाहता है जबकि गाँव का पादरी उन्हें बनाए रखने पर आमादा है। जब एक युवती बच्चे को जन्म देते समय मर जाती है तो वह शगुनियाँ का सहारा लेता है। उसकी सलाह के अनुसार वह रास्ते के पास की तथा विद्यालय के ठीक चारों ओर की बाड़ को उखड़वा देता है व विद्यालय के एक भवन को गिरा दिया जाता है।

Question 2.
Discuss the appropriateness of the title ‘Dead Men’s Path’.
शीर्षक ‘Dead Men’s Path की उपयुक्तता की चर्चा कीजिए।
Answer:
The whole story is woven around the path, which, according to the village priest, was used by their dead relatives. It was the path that was there before, the teacher was born and before his father was born. Their dead relatives departed by it and their ancestors visited them by it. It was the path of children yet to be born. So it was the path that was brewing the conflict between the school and the village. The path is the focal point of the story apparently seems to be a suitable title. Moreover, the phrase ‘Dead Men’s Path’ seems to be suggestive of customs and traditions. For customs and traditions are in themselves Dead Men’s Path on which subsequent generations keep on treading. Hence the title ‘Dead Men’s Path’ is very apt.

पूरी कहानी उस मार्ग के इर्द-गिर्द बुनी हुई है जो गाँव के पादरी के अनुसार, उनके मृत रिश्तेदारों द्वारा काम में लिया जाता था। यह वह मार्ग था जो उस अध्यापक के पैदा होने के पहले से था तथा उसके पिता के पैदा होने के पहले से था। इसी मार्ग से उनके मृतक रिश्तेदार गये थे और उनके पूर्वज उनसे मिलने आते थे। यह पैदा होने वाले बच्चों के आने का मार्ग था। इसलिए इसी मार्ग ने गाँव और विद्यालय के बीच झगड़ा पैदा किया। कहानी का केन्द्रीय बिन्दु होने के कारण यह मार्ग स्पष्टतः कहानी का उपयुक्त शीर्षक प्रतीत होता है। इसके अलावा वाक्यांश ‘Dead Men’s Path’ से प्रथाओं और परम्पराओं की अभिव्यंजना प्रतीत होती है क्योंकि परम्पराएँ और प्रथाएं भी मृत लोगों के ही मार्ग होते हैं जिस पर अनुवर्ती पीढ़ियाँ चलती रहती हैं। इसलिए शीर्षक ‘Dead Men’s Path बहुत उपयुक्त है।

Question 3.
What do you mean by ‘Superstitions’? Discuss some of the Superstitions described in the story. Do you find such superstitions in your society?
अन्धविश्वासों से आप क्या समझते हैं? कहानी में वर्णित कुछ अन्धविश्वासों का वर्णन कीजिए। क्या आपके समाज में ऐसे अन्धविश्वास मिलते हैं?
Answer:
Irrational beliefs can be termed as superstitions. In ancient times when people did not know the cause of a particular disease, they ascribed it to some evil spirit or witchcraft. There is a superstition mentioned in the story that dead men use a particular path. It is the path through which their dead ancestors visit them. It is the path of children yet to be born. And that they become angry if it is closed. A young woman died during childbirth but the villagers thought that their ancestors were angry because their path had been closed. Even today we have a number of superstitions in our society. For example, one defers one’s journey if a cat passes across one’s path.

तर्करहित विश्वासों को अन्धविश्वास कहा जा सकता है। प्राचीन काल में जब लोग किसी बीमारी के होने का कारण नहीं जानते थे तो वे इसकी जिम्मेदारी किसी दुरात्मा अथवा जादू पर डाल देते थे। कहानी में वर्णित यह एक अन्धविश्वास है कि मृत लोग एक खास रास्ते का प्रयोग करते हैं। इसी रास्ते से उनके पूर्वज उनसे मिलने आते हैं। यह उनके जन्म लेने वाले बच्चों के आने का मार्ग है। और यह कि यदि रास्ता बन्द कर दिया तो वे नाराज हो जाते हैं। एक युवती प्रसव के दौरान मर गई। किन्तु गाँव वालों ने सोचा कि उनके पूर्वज नाराज हो गये हैं क्योंकि उनका मार्ग बन्द कर दिया गया था। आज भी हमारे समाज में बहुत-से अन्धविश्वास हैं। उदाहरण के लिए, यदि बिल्ली रास्ता काट जाये तो लोग यात्रा स्थगित कर देते हैं।

Question 4.
‘Dead men do not require footpaths.’ Explain on the basis of the story.
‘मृत लोगों को पगडंडियों की आवश्यकता नहीं होती है। कहानी के आधार पर व्याख्या कीजिए। \
Answer:
There was an almost disused path across the school-ground. As it connected the village shrine with their place of burial, the villagers believed that their dead relatives departed by that path and visited them by that path. The children that were about to born would come by that path. So the village priest wanted the new headmaster of the school to accept this belief and re-open the path which he had closed. But the headmaster told the village priest that dead men did not require such paths and that it was an absurd idea which he would like their children to laugh at. The headmaster suggested constructing another path, going around their premises. He said that the ancestors would not find the little detour too burdensome.

विद्यालय के मैदान के आर-पार एक ऐसा रास्ता था जिसे प्रायः काम में नहीं लिया जाता था। चूँकि रास्ता गाँव के पूजा स्थल को कब्रिस्तान से जोड़ता था, अतः गाँव के लोगों को ऐसा विश्वास था कि उनके मृत रिश्तेदार इस मार्ग से उनसे मिलने आते थे। पैदा होने वाले बच्चे उसी रास्ते से आएंगे। इसलिए गाँव का पादरी चाहता था कि स्कूल को नया प्रधानाध्यापक इस विचार से सहमत हो जाए और बन्द मार्ग को खोल दे। परन्तु प्रधानाध्यापक ने गाँव के पादरी से कहा कि मृत लोगों को एसे रास्तों की जरूरत नहीं होती है और यह कि यह एक बेतुका विचार था जिस पर वह चाहेगा कि उनके बच्चे हँसें प्रधानाध्यापक ने दूसरी पगडंडी बनाने की सलाह दी जो उनके परिसर के चारों ओर होकर गुजरे उसने कहा कि पूर्वजों को थोड़ा-सा चक्करदार मार्ग इतना ज्यादा भारी नहीं लगेगा।