Rajasthan Board RBSE Class 12 English Panorama Chapter 4 Drought

RBSE Class 12 English Panorama Chapter 4 Textual Questions

Comprehension Questions
A. Choose the correct alternative:

Question 1.
Who killed Mahesh?
(a) Tarak Ratna
(b) Shibu
(c) Gafur
(d) Amina

Question 2.
Who was Amina?
(a) Tarakaratna’s daughter
(b) Shibu’s daughter
(c) Gafur’s sister
(d) Gafur’s daughter

Question 3.
The story took place in……
(a) April
(b) December
(c) May
(d) June

Question 4.
Shibu is the name of the……
(a) bull
(b) zamindar
(c) priest
(d) tanner

Question 5.
Why did Gafur go to Fuller at the end?
(a) to sell Mahesh
(b) to attend a funeral
(c) to work at the jute mill
(d) to befool Amina

Answers:
1. (c)
2. (d)
3. (d)
4. (b)
5. (C)

B. Answer the following questions in 30-40 words each:
निम्नलिखित प्रत्येक प्रश्न का उत्तर 30-40 शब्दों में दीजिये।

Question 1.
‘Many a time Gafur was forgiven by the landlord’. Why?
‘कितनी ही बार जमींदार के द्वारा गफूर को माफी मिल गयी थी।’ क्यों?
Answer:
Many a time Mahesh had broken loose and entered the landlord’s garden or field and eaten his flowers. But Gafur was forgiven because he was poor and begged pardon.

कितनी ही बार महेश ने रस्सी तुड़ा दी थी और जमींदार के खेत या बगीचे में घुस कर फूलों को खा चुका था। पर गफूर को माफी मिल जाती थी क्योंकि वह गरीब था और माफी माँग लेता था।

Question 2.
Describe the two times when Gafurlost self-control.
उन दो अवसरों का वर्णन कीजिए जब गफूर ने आत्म-नियंत्रण खो दिया था।
Answer:
First, when Gafur had returned home at noon after a futile search for work and did not get food and water at home and the second time, when the landlord’s messenger had spoken to him roughly, Gafur lost self-control.

प्रथम बार, जब गफूर दोपहर को काम की तलाश में असफल होकर घर लौटा था और उसे घर में भोजन और पानी भी नसीब नहीं हुआ था तथा दूसरी बार जब जमींदार के संदेशवाहक ने उससे रुखाई से बात की थी, तो गफूर अपना आपा खो बैठा था।

Question 3.
What is penance? Why did Gafur think of doing it?
प्रायश्चित क्या होता है? गफूर ने प्रायश्चित करने की बात क्यों सोची?
Answer:
Penance is an act you do in order to show that you are sorry for the wrong you have done. Gafur thought of doing it because he thought himself to be responsible for Mahesh’s killing.

प्रायश्चित एक ऐसी क्रिया है जिसे आप यह दिखाने के लिए करते हैं कि आपके द्वारा किए गए गलत कार्य पर आप दु:खी हैं। गफूर ने प्रायश्चित करने की बात इसलिए सोची क्योंकि वह स्वयं को महेश की हत्या का जिम्मेदार मानता था।

Question 4.
What kind of life did poor Amina lead right from her childhood?
अमीना को अपने बचपन से ही किस प्रकार का जीवन बिताना पड़ा था?
Answer:
Amina was a motherless child. She had been bearing hunger and misery since her childhood. Even in that tender age, she had to do all the household chores.

अमीना एक बिन माँ की बच्ची थी। वह बचपन से ही भूख और तकलीफ सहती आई थी। यहाँ तक कि उस कोमल आयु में ही उसे घर के सारे काम करने पड़ते थे।

Question 5.
Why was there so much scarcity of water in the village?
गाँव में पीने के पानी की इतनी कमी क्यों थी?
Answer:
Because of the drought, two out of the three village tanks had dried up. The private tank of Shibu Babu was not for public use. Hence there was so much scarcity of water in the village.

सूखे के कारण गाँव के तीन में से दो तालाब सूख गए थे। शिबू बाबू के निजी तालाब में से आम जनता को पानी लेने की अनुमति नहीं थी। इसीलिए गाँव में पीने के पानी की इतनी कमी हो गयी थी।

Question 6.
Why did Gafur lose his temper and kill Mahesh? (Board Sample Paper 2018)
गफूर ने अपना आपा खो कर महेश की हत्या क्यों कर दी?
Answer:
Mahesh had knocked down Amina on the ground. She shrieked loudly. The pitcher tumbled over and Mahesh was sucking up the water as it flowed on the earth. Seeing it Gafur lost temper and killed Mahesh by hitting him on the head with his plough-head.

महेश ने अमीना को जमीन पर गिरा दिया था। वह जोर से चीख पड़ी। घड़ा लुढ़क गया और महेश जमीन पर बहते पानी को चाटने लगा। यह देखकर गफूर अपना आपा खो बैठा और अपने हल की मूठ से महेश के सिर पर प्रहार कर उसे मार डाला।

Question 7.
Write a character-sketch of Tarak Ratna.
तारकरत्न को चरित्र-चित्रण कीजिए।
Answer:
Tarkaratna is the family priest of Shibu Babu. He is a cunning fellow. He is seen berating Gafur while showing sympathy to the bull’s condition but refuses to lend any straw for the bull.

तारकरत्न शिबू-बाबू के पारिवारिक पुरोहित हैं। वह एक धूर्त किस्म के इंसान हैं। वह बैल के प्रति झूठी सहानुभूति दर्शाते हुए गफूर को डांटते हुए दिखाई देते हैं किन्तु उस जानवर के लिए थोड़ा-सा भूसा भी उधार देने को तैयार नहीं होते हैं।

C. Answer the following questions in 125 words each:
निम्नलिखित प्रत्येक प्रश्न का उत्तर 125 शब्दों में दीजिये:

Question 1.
Giving examples from the story, comment on the relationship between Shibu and Gafur.
कहानी से उदाहरण प्रस्तुत करते हुए शिबू और गफूर के मध्य रिश्तों पर टिप्पणी कीजिए।
Answer:
The relationship between Shibu and Gafur is that of between a cruel ruler and a helpless subject. Shibu is the landlord of the village while Gafur is his tenant. The ruler has no sympathy for the ruled. The landlord, for example, has been shown taking all the straw of Gafur’s share and keeps all on account of his last year’s rent. When Gafur falls at his feet and implores, he leaves very little paddy to last only for two months. The landlord is aware of the condition of the crop because of the drought. But he hardly cares for what Gafur and his bull will eat. He punishes Gafur ruthlessly when he refuses to comply with his order. On knowing that Gafur has killed his bull, Shibu seeks Tarakratna’s advice as to how Gafur would pay for the penance which the killing of a sacred animal demands.

शिबू और गफूर के बीच वही रिश्ता है जो एक क्रूर शासक और एक असहाय शासित के बीच होता है। शिबू गाँव का जमींदार है जबकि गफूर उसका काश्तकार। शासक के मन में शासित के प्रति कोई सहानुभूति नहीं है। उदाहरण के लिए, जमींदार को गफूर के हिस्से का भी सारा पुआल लेते हुए दिखाया गया है और सारा पिछले वर्षों के लगान के नाम पर रख लेता है। जब गफूर उसके पैरों में गिर जाता है व विनती करता है तो वह बमुश्किल दो महीने चलने भर धान गफूर के लिए छोड़ता है। सूखे के कारण फसल की स्थिति से वह अवगत है। किन्तु उसे शायद ही इस बात की परवाह है कि गफूर और उसका बैल क्या खाएँगे। अपनी आज्ञा न मानने पर वह क्रूरतापूर्वक गफूर को सजा देता है। यह जानकर कि गफूर ने अपने बैल को मार दिया है, शिबू तारकरत्न को यह सलाह लेने के लिये बुलाता है कि गफूर ने जो पवित्र पशु को मारा है उसको चुकाने के लिये क्या पश्चाताप किया जावे।

Question 2.
Draw a graphic picture of the Indian summer as depicted by the writer.
लेखक के द्वारा वर्णित भारतीय ग्रीष्म ऋतु का सजीव चित्रण कीजिए।
Answer:
In India, summer is the most terrible of all the seasons. Water sources dry up. The scorching sun sets the sky blazing. Only one, who has looked at the Indian summer sky, can realize how unrelenting the heat can be. Not a trace of mercy can be seen anywhere. The expectation that someday this aspect of the sky would change, that it would become overcast with soft, moisture-laden clouds, is impossible. It seems as though the whole blazing sky would go on burning endlessly. The fields break up into tens of thousands of fissures. It looks as though the lifeblood of Mother Earth is unceasingly flowing out through them like smoke. If one gazes long at its rising, flame-like sinuous movement, it leaves him as it were, dazed with drunkenness. Water sources dry up.

भारत में, ग्रीष्म ऋतु सभी ऋतुओं में सबसे अधिक भयंकर होती है। दहकता हुआ सूरज आकाश से आग की वर्षा करता है। जिसने भारतीय ग्रीष्म ऋतु के आकाश को देखा है वही समझ सकता है कि गर्मी कितनी निष्ठुर हो सकती है। दया का कहीं कोई चिह्न नजर नहीं आता है। यह सोचना भी असंभव प्रतीत होता था कि किसी दिन आसमान का यह रूप बदलेगा, कि इस पर कोमल, नमी-भरे बादल छा जाएँगे। ऐसा मालूम पड़ता है मानो जलता हुआ पूरा आकाश कालांतर तक जलता रहेगा। खेतों में हजारों दरारें पड़ जाती हैं। ऐसा मालूम पड़ता है मानो धरती माँ का जीवन-रक्त उनसे होकर धुएँ के रूप में लगातार बाहर निकल रहा हो। यदि कोई इसकी ज्वाला-सी लपकती, लहराती गति को देर तक देखता रहे तो वह ऐसा हो जाता मानो किसी नशे में चूर हो।

Question 3.
Describe the attitude of Shibu Babu towards the villagers.
ग्रामीणों के प्रति शिबू बाबू के दृष्टिकोण का वर्णन कीजिए।
Answer:
Shibu Babu is the landlord of the village, Kashipur. He is cruel and ruthless. His tenants, the villagers dare not stand up against him. The whole area is struck by a famine. The villagers have nothing to eat but he hardly shows any mercy in charging his due amount from them. Two of the three ponds of the village have dried up because of the drought but the villagers are not allowed to take water from Shibu’s private pond. Tarak Ratna, the village priest also helps Shibu in his ruthless activities. Shibu does not leave any chance that allows him to extort money from the poor villagers. When Gafur kills his bull, he wants to take advantage of the situation in the name of penance. This shows that he has no sympathy for the villagers at all.

शिबू बाबू काशीपुर गाँव के जमींदार हैं। वह क्रूर और निष्ठुर हैं। उनके काश्तकार, ग्रामवासी, उनके खिलाफ आवाज़ उठाने की हिम्मत नहीं रखते हैं। पूरा इलाका सूखे से प्रभावित है। गाँववालों के पास खाने को कुछ नहीं है परन्तु शिबू बाबू उनसे अपना बकाया वसूलने में कोई दया नहीं दिखाते। गाँव के तीन में से दो तालाब सूखे के कारण सूख चुके हैं, किन्तु गाँववासियों को शिबू बाबू के निजी तालाब से पानी लेने की अनुमति नहीं है। गाँव का पुजारी तारकरत्न भी शिबू की निष्ठुर गतिविधियों में मदद करता है। शिबू ऐसा कोई अवसर नहीं गॅवाता है जो कि उसे गरीब गाँव वालों से धन छीनने का मौका प्रदान करे। जब गफूर अपने बैल को मार देता है तो वह इस पश्चाताप के नाम पर स्थिति का फायदा उठाना चाहता है। यह दर्शाता है कि उसके मन में गाँववालों के प्रति कोई सहानुभूति नहीं है।

Question 4.
Draw the character-sketch of Gafur.
गफूर का चरित्र-चित्रण कीजिए।
Answer:
Gafur, a poor weaver, lives with his motherless daughter, Amina. Drought has affected his fields badly. As a result, he finds it difficult to feed himself, his daughter and his bull, Mahesh. He loves the bull Mahesh as his son. Though he has to beg for rice-water from his neighbours to feed it, he doesn’t think of selling it in the cattle market. This shows he is kind by nature. He is a victim of circumstances, which at times compel him to behave angrily, but he is not cruel. He slaps his dear daughter for not getting anything to eat and drink, but the next moment he is filled with remorse for behaving like that. He becomes violent when he hears the shriek of his daughter and hits Mahesh to death. This shows that he loves his daughter more than anything else.

गफूर एक गरीब जुलाहा है जो अपनी बिन माँ की बेटी अमीना के साथ रहता है। सूखे ने उसके खेतों को बुरी तरह प्रभावित किया है। परिणामस्वरूप उसे स्वयं, अपनी बेटी तथा अपने बैल महेश का भोजन जुटाने में दिक्कत होती है। वह अपने बैल महेश को बेटे की तरह मानता है। यद्यपि उसे अपने पड़ोसियों से चावल का माँड़ मांगकर उसे खिलाना पड़ता है, फिर भी वह महेश को पशु-बाजार में बेचने की बात सोचता भी नहीं है। इससे पता चलता है कि वह दयालु प्रकृति का है। वह परिस्थितियों का मारा हुआ है जो कभी-कभी उसे क्रोधपूर्ण व्यवहार करने को विवश करती हैं, किन्तु वह क्रूर नहीं है। वह कुछ भी खाने पीने को न पाकर अपनी प्रिय पुत्री को थप्पड़ मारता है लेकिन अगले ही क्षण वह इस प्रकार से बर्ताव करने के लिये पश्चाताप से भर जाता है। जब वह अपनी पुत्री की चीख को सुनता है तो वह हिंसक हो जाता है तथा महेश पर घातक प्रहार करता है। यह दर्शाता है कि वह किसी भी और चीज से अधिक अपनी पुत्री से प्यार करता है।

D. State True/False:

Question 1.
Gafur tilled eight bighas of land for the landlord.

Question 2.
It was Zamindar’s elder son’s birthday.

Question 3.
Amina informed Gafur that Mahesh was at Dariapur.

Question 4.
Gafur left the brass plate behind as payment for penance.

Question 5.
All the three tanks in the village had dried up.

Answers:
1. False
2. False
3. True
4. True
5. False

E. Creative Writing:

Imagine you have been invited to participate in a discussion on how to face scarcity of water during the drought. What suggestions would you give?
Answer:
There are many ways to save water and we must follow them:
(i) We should always check the leaks of the pipes and faucets.
(ii) We should use water saving heads and low flow faucet aerators.
(iii) We should turn off the taps after use or while not in use.
(iv) Let minimize the use of the sink in the kitchen for disposing of garbages.
(v) We should use the overflow water in the garden of our lawn.
(vi) We should not let the water flow in gutter uselessly.
(vii) We should not use the hose pipe for washing our vehicles. We should wash them using buckets and a washcloth/brush.
(viii) We should use a shorter shower.
(ix) We should use bucket and mug instead of a shower to bathe.

RBSE Class 12 English Panorama Chapter 4 Additional Questions

A. Answer the following questions in 30-40 words each:
निम्नलिखित प्रत्येक प्रश्न का उत्तर 30-40 शब्दों में दीजिये।

Question 1.
Who was Mahesh? How did Gafur feed him?
महेश कौन था? गफूर किस प्रकार उसे खिलाता था?
Answer:
Mahesh was Gafur’s bull. Gafur loved him as his son. Because of the drought, he had nothing to feed Mahesh. So he begged rice-water from his neighbours and fed him.

महेश गफूर का बैल था। गफूर उससे बेटे की तरह प्रेम करता था। सूखे के कारण उसके पास महेश को खिलाने के लिए कुछ भी नहीं था। इसलिए वह पड़ोसियों से चावल का माँडे मांग कर उसे पिलाता था।

Question 2.
What did Tarak Ratna do at the landlord’s house on his youngest son’s birthday?
तारकरत्न ने जमींदार के सबसे छोटे पुत्र के जन्मदिन पर उसके घर क्या किया?
Answer:
Tarak Ratna offered prayers at the landlord’s house on the occasion of his youngest son’s birthday. The landlord gave him some rice and fruit in return.

तारकरन ने जमींदार के सबसे छोटे पुत्र के जन्मदिन पर जमींदार के घर पर पूजा-पाठ किया। बदले में जमींदार ने उसको कुछ चावल व फल दिए।

Question 3.
What did Tarak Ratna ask Gafur while returning from the landlord’s house?
जमींदार के घर से लौटते समय तारकरत्न ने गफूर से क्या कहा?
Answer:
Tarak Ratna asked Gafur to take care of the bull and feed him properly. He said that if the bull died his master would flay him alive. He will not tolerate it.

तारकरत्न ने गफूर से कहा कि वह बैल की देखभाल करे और उसे ढंग से खिलाये-पिलाये। उसने कहा कि यदि बैल मर गया तो उसका मालिक जीवित ही उसकी चमड़ी उधेड़ देगा। वह इस बात को सहन नहीं करेगा।

Question 4.
Why was the bull hungry?
बैल भूखा क्यों था?
Answer:
Because of the drought, there was only a little paddy and therefore almost no straw to eat for the bull. Gafur, his owner, had no straw to feed him. Hence he was hungry.

सूखे के कारण धान की पैदावार बहुत कम हुई थी, फलस्वरूप बैल के खाने के लिए पुआल नहीं था। उसके मालिक गफूर के पास खिलाने के लिए कोई पुआल नहीं था। इसीलिए वह भूखा था।

Question 5.
What risk was involved in letting Mahesh loose?
महेश को खुला छोड़ने में क्या खतरा था?
Answer:
If he had been let loose, he might have started poking his nose into somebody’s paddy or would have eaten somebody’s straw. The result would be fatal for his owner Gafur.

यदि उसे खुला छोड़ दिया गया होता तो वह किसी के धान में मुँह मार सकता था या किसी का पुआल खाना शुरू कर सकता था। इसका परिणाम उसके मालिक गफूर के लिये घातक होता।

Question 6.
Was Tarakaratna really worried about the condition of the bull?
क्या तारकरत्न सचमुच बैल की दशा के बारे में चिन्तित था?
Answer:
Tarakaratna refused to give a little straw or even a handful of rice to the bull from his bundle. It shows that he was not worried at all about the condition of the bull.

तारकरत्न ने बैल को थोड़ा-सा पुआल या अपनी पोटली से एक मुठ्ठी चावल भी देने से इन्कार कर दिया। यह दर्शाता है कि वह बैल की दशा के बारे में तनिक भी चिन्तित नहीं था।

Question 7.
What warning did Tarakaratna give Gafur regarding Mahesh?
तारकरत्न ने महेश के संबंध में गफूर को क्या चेतावनी दी?
Answer:
Tarakaratna saw that the bull was ill-fed. So he warned Gafur that the bull was not being paid proper attention. He said if the bull died, the master would flay him alive.

तारकरत्न ने देखा कि बैल को अच्छी प्रकार से नहीं खिलाया जा रहा था। इसलिए उसने गफूर को चेतावनी दी कि वह बैल के रख-रखाव पर समुचित ध्यान नहीं दे रहा था। उसने कहा कि यदि बैल मर गया तो मालिक (जमींदार) जीवित ही उसकी (गफूर की) चमड़ी उधेड़ देंगे।

Question 8.
How did Gafur get his bull released from the police pen?
गफूर ने अपने बैल को कांजी हाउस से कैसे छुड़वाया?
Answer:
Gafur borrowed a rupee from Banshi’s shop by putting down a brass plate as security. He paid the fine with the rupee and got his bull released from the police pen.

गफूर ने एक पीतल की थाली को जमानत पर रखकर बंशी की दुकान से एक रुपया उधार लिया। उसने उस रुपये से जुर्माना चुकाया और कांजी हाउस से अपने बैल को छुड़वाया।

Question 9.
In what way are Gafur, Tarakaratna and Shibu Babu related?
गफूर, तारकरत्न और शिबू बाबू आपस में किस प्रकार संबंधित हैं?
Answer:
Gafur is a poor weaver who lives in a village, Kashipur. He is a tenant of Shibu who is the landlord of the village. Tarakaratna is Shibu Babu’s family priest. Thus all three are related to each other.

गफूर एक गरीब जुलाहा है जो काशीपुर गाँव में रहता है। यह शिबू बाबू का काश्तकार है जो उस गाँव के जमींदार हैं। तारकरत्न शिबू बाबू के पारिवारिक पुरोहित हैं। इस प्रकार से तीनों एक दूसरे से संबंधित हैं।

Question 10.
Who was Amina? Why did Gafur slap her?
अमीना कौन थी? गफूर ने उसे थप्पड़ क्यों मारा?
Answer:
Amina was Gafur’s ten-year-old motherless daughter. Gafur returned home hungry and thirsty. He found no food to eat and no water to drink. This enraged him and he slapped Amina.

अमीना गफूर की दसवर्षीया बिन माँ की बेटी थी। गफूर भूखा-प्यासा घर लौटा था। उसे न खाने के लिए भोजन मिला और न पीने को पानी ही। इस बात पर वह क्रोधित हो उठा और उसने अमीना को थप्पड़ मार दिया।

Question 11.
Why did Gafur not sell Mahesh at the cattle market?
गफूर ने महेश को पशु-बाजार में क्यों नहीं बेचा?
Answer:
The animals sold at cattle market were killed for flesh and skin. Gafur loved his bull Mahesh as his own son. Hence Gafur did not sell Mahesh at the cattle market.

पशु-बाजार में बेचे जाने वाले जानवरों को माँस एवं चमड़े के लिए मार दिया जाता था। गफूर अपने बैल महेशको अपने पुत्र के समान प्यार करता था। इसलिए गफूर ने महेश को पशु-बाजार में नहीं बेचा।

Question 12.
Why did Shibu beat Gafur?
शिबू ने गफूर को क्यों पीटा?
Answer:
On the one hand, Gafur’s bull created nuisance in Shibu’s compound and on the other hand instead of begging pardon, Gafur claimed that he paid rent and that he was nobody’s slave. This being too much to swallow for Shibu, he beat Gafur.

एक तरफ तो गफूर के बैल ने शिबू के परिसर में उपद्रव मचा दिया और दूसरी ओर माफी मांगने की बजाय गफूर ने दावा किया था कि वह लगान देता था तथा किसी का भी गुलाम नहीं था। इस अपमान को सह पाना शिबू बाबू के लिए संभव नहीं था, इसलिए उन्होंने गफूर को पीटा।

Question 13.
Why did Amina cry?
अमीना क्यों रो पड़ी?
Answer:
When Amina saw that her father had killed their beloved bull Mahesh in a fit of anger and depression, she cried out. She was also very sorry for the bull.

जब अमीना ने देखा कि उसके पिता ने क्रोध व निराशा के वशीभूत होकर उनके प्यारे बैल महेश को मार डाला है, तो वह रो पड़ी। वह भी बैल के लिए बहुत दु:खी थी।

Question 14.
What were the articles Gafur left for the penance for Mahesh?
महेश की मृत्यु का प्रायश्चित करने हेतु गफूर ने कौन-कौन सी चीजें छोड़ दीं?
Answer:
When Gafur killed Mahesh, he had to leave his village for fear of the landlord. But Gafur left the drinking bowl and his brass plate for the penance for Mahesh.

जब गफूर ने महेश को मार दिया तो उसे जमींदार के भय से गाँव छोड़ना पड़ा था। लेकिन गफूर ने महेश की मृत्यु का प्रायश्चित करने के उद्देश्य से अपना पानी पीने का कटोरा तथा अपनी पीतल की थाली छोड़ दी।

Question 15.
Why had Gafur declined to go to Fulbere?
गफूर ने फूलबेड़े जाने से क्यों इन्कार कर दिया था?
Answer:
There was a jute mill at Fuller. According to Gafur, there was no religion, no respect, and no privacy for womenfolk at Fuller. He, therefore, had declined to go there.

फूलबेड़े में एक जूट मिल थी। गफूर के अनुसार फूलबेड़े में न धर्म था, न सम्मान था और न ही औरतों के लिए निजता थी। अतः उसने वहाँ जाने से इन्कार कर दिया था।

Question 16.
What did Gafur ask God to do?
गफूर ने ईश्वर से क्या करने को कहा?
Answer:
Gafur sought punishment for himself for killing the bull. In addition, he asked God not to forgive the guilt of those who did not let Mahesh eat the grass and drink the water given by him.

गफूर ने महेश को मारने के लिए ईश्वर से अपने लिए सजा मांगी। इसके अलावा उसने ईश्वर से उन लोगों के अपराध को भी क्षमा न करने की प्रार्थना की जिन्होंने महेश को न उसकी (ईश्वर की) दी हुई घास को ही चरने दिया, न पानी ही पीने दिया।

D. Answer the following questions in 125 words each:

Question 1.
Calamities hurt human relationships. Explain on the basis of:
(a) Gafur – Amina
(b) Gafur – Mahesh
(c) Gafur – other villagers
आपदाएँ मानवीय संबंधों को नुकसान पहुँचाती हैं। निम्नलिखित आधार पर व्याख्या करें:
(a) गफूर – अमीना
(b) गफूर – महेश
(c) गफूर – दूसरे ग्रामवासी

Answer:
Man is a slave of circumstances. His relationships with other people depend upon whether he is under the influence of good or bad circumstances. Calamities put him under a severe strain which affects his relationships.
Though Gafur, for example, loved his motherless daughter, Amina, very dearly, we find him cursing and slapping her for no fault of hers. Later he repented for his deed. He felt sorry for Amina.
In a fit of anger, he kills Mahesh, the bull, which he loves as his own son. On the one hand, he does not sell him to the butcher and on the other hand, he kills him.
At the time of leaving the village, he does not think it necessary to meet any villager. He has nobody to call his own in the village.

आदमी परिस्थितियों का दास होता है। दूसरे लोगों से उसके संबंध इस बात पर निर्भर करते हैं कि वह अच्छी परिस्थितियों के प्रभाव में है या बुरी परिस्थितियों के। आपदाएँ उसे गहरे तनाव में ला खड़ा करती हैं जिससे उसके संबंध भी प्रभावित होते हैं।
उदाहरण के लिए यद्यपि गफूर, अपनी बिन माँ की बेटी, अमीना को बहुत प्यार करता है, हम उसे बिना किसी कसूर के उसको (अमीना को) कोसते और थप्पड़ मारते हुए पाते हैं। बाद में वह अपने किये पर पश्चाताप करता है। वह अमीना के लिए दु:खी होता है।
क्रोध के आवेग में वह उस बैल, महेश को भी मार डालता है जिसे वह बेटे की भाँति प्यार करता है। एक ओर तो वह उसे कसाई को नहीं बेचता है और दूसरी ओर स्वयं ही उसे मार देता है।
गाँव छोड़कर जाते समय वह किसी गाँव वाले से मिलकर जाना आवश्यक नहीं समझता। गाँव में ऐसा कोई नहीं है जिसे वह अपना कह सके।

Question 2.
How was the financial condition of Gafur?
गफूर की आर्थिक स्थिति कैसी थी?
Answer:
Gafur was a poor weaver who lived in Kashipur. He had only four bighas of land. His house was at the end of the field, beside the road. The mud walls of his house were in ruins, the courtyard touched the public highway and the inner privacy was thrown on the mercy of the passers-by. He had to patch the roof with palm leaves and manage the rainy weather. He had a daughter and a bull. He didn’t have enough money to have food for himself and his daughter. It was impossible to feed the bull. During the drought, he didn’t have paddy for his bull. Once he decided to sell his bull but later he changed his mind. There was nothing to eat and drink in his house. Gafur borrowed money from Bansi on the security of his household goods.

गफूर एक गरीब जुलाहा था, जो कि काशीपुर में रहता था। उसके पास केवल चार बीघा भूमि थी। उसका घर सड़क के किनारे खेत के अंत में था। उसके घर की कच्ची दीवारें खण्डहर हो गई थी, आंगन सड़क तक पहुँच गया था तथा आंतरिक निजता राहगीरों की दया पर निर्भर थी। उसे छत को ताड़ के पत्तों से ढक कर बरसात से बचाव करना पड़ता था। उसके एक पुत्री व एक बैल था। उसके पास इतना पैसा भी नहीं था कि वह अपना और अपनी पुत्री का पेट भर सके। बैल का पेट भरना सम्भव नहीं था। सूखे के दौरान उसके पास अपने बैल के लिए भूसा भी नहीं था। एक बार उसने अपने बैल को बेचने का निश्चय किया फिर उसका मन बदल गया। उसके घर में खाने व पीने को कुछ भी नहीं था। गफूर बंशी से अपने घर के सामान गिरवी रखकर उधार लेता. था।

Question 3.
How can it be said that Mahesh was the cause of worry for Gafur?
कैसे कहा जा सकता है कि महेश गफूर के लिये परेशानी का कारण था?
Answer:
There are many incidents in the story that show that Mahesh was the cause of worry for Gafur. It is famine and Gafur has no paddy for Mahesh so he becomes very sad for Mahesh. He cannot let him loose otherwise he might start poking his nose into somebody’s paddy or eating somebody’s straw. Gafur has no rice at his home to give boiled rice-water to Mahesh to drink. He is sad that the landlord gave him paddy to last only two months. When Mahesh breaks loose from his tether and enters the grounds of the landlord, eats up flowers, upsets the corn drying in the sun and hurts the landlord’s youngest daughter, he is beaten badly by the landlord. When Gafur sees that Mahesh is sucking up the water flowing on the earth due to the tumbling of his daughter’s pot, he becomes furious and kills him.

कहानी में कई सारी घटनाएं हैं जो बताती है कि महेश गफूर के लिए परेशानी का कारण था। अकाल है और गफूर के पास महेश के लिए कोई भूसा नहीं है इसलिए वह महेश के लिए बहुत ही दु:खी होता है। वह उसे खुला भी नहीं छोड़ सकता है अन्यथा वह दूसरों के भूसे में अपना मुँह मारेगा या दूसरों का भूसा खायेगा। महेश को पीने के लिये मांड देने के लिए गफूर के घर में चावल भी नहीं है। उसे दु:ख है कि जमींदार ने उसे केवल दो महीने चलने जितना ही भूसा दिया था। जब महेश अपनी रस्सी तुड़ा लेता है और जमींदार के मैदान में घुस जाता है, फूल खा लेता है, धूप में सुखाई फसल को बिखेर देता है तथा जमींदार की सबसे छोटी लड़की को घायल कर देता है तो गफूर को जमींदार के द्वारा बुरी तरह से पीटा जाता है। जब गफूर यह देखता है कि महेश जमीन पर बहते हुए उस पानी को पी रहा है जो कि उसकी पुत्री के मटके लुढ़कने से बहा है तो वह क्रोधित होकर उसे मार देता है।

Question 4.
What made Gafur leave the village?
गफूर ने किस वजह से गाँव छोड़ा था?
Answer:
Gafur was a poor weaver. He lived in a village with his daughter and a bull Mahesh. There was a drought in the village. So he had nothing to eat and drink. He did not get any work anywhere so he had no money at all. He was in distress. He was shaken out of his listlessness by the shriek of his daughter. He could not bear the scene. In a fit of rage, he hit his bull. The bull died on the spot. After killing the bull, he came to know that the landlord had sent for Tarkaratna to seek his advice about how Gafur would pay for the penance which the killing of a sacred animal demanded. He knew that those people would either beat him or extort money in the name of penance. So he left the village to look for work in the jute mill at Fuller.

गफूर एक गरीब जुलाहा था। वह अपनी पुत्री तथा एक बैल, महेश के साथ रहता था। गाँव में सूखा पड़ा था। इसलिए उसके पास खाने पीने के लिए कुछ भी नहीं था। उसे कहीं पर भी कोई काम नहीं मिला था इसलिए उसके पास पैसा भी नहीं था। वह अत्यधिक दु:खी था। वह अपनी पुत्री की चीख से अपनी तन्द्रा से जागा। वह उस दृश्य को सह नहीं सका। आक्रोश में आकर उसने बैल को मारा। बैल उसी समय मर गया। बैल को मारने के बाद उसे पता चला कि जमींदार ने तारकरत्न को यह पूछने के लिए बुलाया कि बैल जैसे पवित्र जानवर को मारने के बाद गफूर को पश्चाताप करने के लिए क्या चुकाना पड़ेगा। वह जान गया कि वे लोग पश्चाताप के नाम पर या तो उसे पीटेंगे या उससे रूपये ऐंठेगें। इसलिए उसने फूलबेड़े में स्थित जूट मिल में काम करने के लिए गाँव छोड़ दिया।