Rajasthan Board RBSE Class 12 English Speech Writing (Visual Input)

Visual Input
(Speech)

Question 1.
Use the picture given below to deliver a speech on ‘World Environment Day’ in your school, telling how the pollution and deforestation have led to Global Warming, which in turn will destroy the world if it continues to increase at such an alarming rate. You are Shantanu / Shanti.
RBSE Class 12 English Speech Writing (Visual Input) q 2 Answer:

Pollution & Global Warming

Respected Principal, teachers and dear friends! It is a matter of deep concern that the world is standing on the verge of destruction. It has started from the mere cutting of just a small number of trees to fulfil a few basic needs of the people. But now it has resulted in massive deforestation. The invention of smoke producing vehicles from the initial bullock carts and cycles surely gave speed to life but it has now become a curse. We have come in direct contact with the ultraviolet rays of the sun, due to a hole in the ozone layer. This warming is causing the melting of glaciers which will result in the rise of the water level. It’s high time that the situation should be brought under control.

आदरणीय प्रधानाचार्य जी, अध्यापकगण एवं प्यारे मित्रो! यह एक गहरे सोच-विचार की बात है कि दुनिया विनाश के कगार पर खड़ी है। यह आदमी की कुछ मूल आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए मात्र कुछ पेड़ों के कटान से आरम्भ हुआ था। लेकिन अब यह भारी पेड़ कटान में बदल गया है। पहले चलने वाली बैलगाड़ियों और साइकिलों के स्थान पर धुआँ उगलने वाले वाहनों के आविष्कार ने जीवन को गति अवश्य दी है परन्तु प्रदूषण भी अभिशाप में दिया है। ओजोन परत में छेद होने के कारण हम सूर्य की पराबैंगनी किरणों के सीधे सम्पर्क में आ गये हैं। इस बढ़ते तापमान से ग्लेशियर पिघल रहे हैं जिससे पानी का स्तर बढ़ जायेगा। अब यही समय है कि स्थिति को नियंत्रित करना चाहिए।

Question 2.
Write a speech in about 100 words on the given picture.
RBSE Class 12 English Speech Writing (Visual Input) q 4 Answer:

Beware – Your Credit Card Is At Risk

Dear friends! As you know today nobody wants to keep money in cash while travelling and shopping. We can do our shopping through credit cards. But, the tendency of the people has opened new scope for the thieves. The fraud begins with either the theft of the physical card or the compromise of data associated with the account. The purpose may be to obtain goods without paying or to obtain unauthorized funds from an account. Stolen cards can be reported quickly by cardholders, but a compromised account can be kept by a thief for weeks or months before any fraudulent use. It makes difficult to identify the source of the compromise. So, friends! If anyone of you has a credit card, be very careful.

प्यारे मित्रो! जैसा कि आप जानते हो आज कोई भी व्यक्ति यात्रा तथा खरीददारी के दौरान नकदी नहीं रखना चाहता है। हम क्रेडिट कार्ड के द्वारा अपनी खरीददारी कर सकते हैं। लेकिन लोगों की प्रवृत्तियों ने चोरों के लिए नयी गुंजाइश पैदा कर दी है। धोखाधड़ी का काम, कार्ड के चोरी हो जाने से या फिर खाते से संबंधित सूचना के साझा करने से शुरू होता है। इसका उद्देश्य बगैर पैसे चुकाये सामान प्राप्त करने, या खाते से अनाधिकृत धन निकालने के लिए। हो सकता है। कार्ड धारक के द्वारा कार्ड के गुम हो जाने की सूचना तुरन्त दी जा सकती है, लेकिन चोरी किये गये डाटा को चोर के द्वारा किसी प्रकार की धोखाधड़ी करने से पूर्व कई सप्ताहों या महीनों तक के लिए रखा जा सकता है। इससे चोरी गये डाटा के स्रोत का पता लगा पाना कठिन कार्य हो जाता है। इसलिए मित्रो! यदि आपके पास क्रेडिट कार्ड है तो बहुत सावधान रहें।

Question 3.
Write a speech in about 100 words on the given picture.
RBSE Class 12 English Speech Writing (Visual Input) q 6 Answer:

Right To Education

Dear friends! As you know that Rajasthan govt has implemented the Right to Education Act since March 29, 2011. It is followed by the Act implemented by the Central govt in 2009. Under this Act, every child of age between 6 to 14 years has got a right to get free and compulsory education. The school has to focus attention to provide education to children of the weak and deprived section of society. Every private school has to give free admission to 25% of students from the weak and deprived group of society. No student will be declared fail. After passing the eighth class, the student will be provided with a certificate stating that the child has completed his elementary education.

प्रिय मित्रो! जैसा कि आप जानते हो कि राजस्थान सरकार ने शिक्षा का अधिकार कानून 29 मार्च 2011 से लागू कर दिया है। यह केन्द्र सरकार द्वारा लागू किये गये 2009 के कानून के अनुपालन में है। इस कानून के तहत 6 से 14 वर्ष के प्रत्येक बालक को मुफ्त व अनिवार्य शिक्षा प्राप्त करने का अधिकार प्राप्त हो गया है। विद्यालयों को अपना ध्यान समाज के कमजोर व वंचित वर्ग के बालकों की शिक्षा देने पर केन्द्रित करना है। प्रत्येक निजी विद्यालय को समाज के गरीब व वंचित वर्ग के 25 प्रतिशत बच्चों को मुफ्त प्रवेश देना होगा। किसी भी विद्यार्थी को अनुत्तीर्ण नहीं किया जायेगा। कक्षा आठ उत्तीर्ण करने के पश्चात बालक को एक प्रमाण-पत्र दिया जायेगा कि उसने अपनी प्रारम्भिक शिक्षा पूरी करे ली है।

Question 4.
Look at the picture of a boy carrying a heavy load of the school bag. Write a speech on the cruelty against the kids in about 100 words.
RBSE Class 12 English Speech Writing (Visual Input) q 7 Answer:

Heavy Load Of School Bags

Dear friends!
Do you sometimes feel that schools are training children to be coolies (porters) when they grow up? All over the world, parents, doctors and educationists are worrying about not only the weight that children have to carry but also the adverse effect it has on their backs, shoulders, and general health.
An average school day consists of eight periods usually of different subjects. Each subject requires the child to carry a textbook and several notebooks. Added to the several kilograms of books and notebooks are lunch-boxes, water-bottles, and sports equipment. Children end up carrying huge burdens on their backs. Parents and teachers have to pay attention to this situation. Thanks!

प्यारे मित्रो!
क्या आप कभी-कभी यह सोचते हो कि विद्यालय क्या बच्चों को बड़े होकर कुली बनने का प्रशिक्षण दे रहे हैं? पूरा संसार, माता-पिता, डॉक्टर तथा शिक्षाविद् बच्चों के द्वारा ले जाये जाने वाले न केवल बोझ से बल्कि इससे उनकी पीठ, उनके कंधों तथा सामान्य स्वास्थ्य पर पड़ने वाले विपरीत प्रभाव के भी बारे में चिंतित हैं।
एक विद्यालयी दिन में आठ कालांश होते हैं जो कि सामान्यतया अलग-अलग विषय के होते हैं। प्रत्येक बच्चे को प्रत्येक विषय की एक पाठ्यपुस्तक व कई कापियाँ लेकर जाना होता है। कुछ किलोग्राम की पुस्तकों व कापियों के साथ लंच-बाक्स, पानी की बोतल व खेल की सामग्री भी होती है। बच्चे अपनी पीठ पर भारी बोझ ले जाकर अप्रत्याशित स्थिति में पहुँच जाते हैं। माता-पिता और अध्यापकों को इस स्थिति पर ध्यान देना आवश्यक है। धन्यवाद!

Question 5.
The picture given below gives the message of safety for the eyes. Write a speech in about 100 words giving some safety tips for our eyes. You are Sunil/Sunita.
RBSE Class 12 English Speech Writing (Visual Input) q 9 Answer:

Save Your Eyes

Friends! Our eyes are valuable to us for work, study and play. So it is important that we should take care of them. By using our eyes foolishly, it is possible to damage them severely. Whatever work we are doing, there should be enough light. It should be spread evenly. Very strong light is tiring so it should be avoided. While reading or writing, it is better to sit straight and keep the page away about twelve inches from our eyes. Never look directly at the very bright light such as the sun or a welder’s arc. They can damage the retina beyond repair. Thanks!

मित्रो! हमारी आँखें हमारे लिए काम करने, अध्ययन करने व खेलने के लिए बहुमूल्य हैं। इसलिए यह महत्वपूर्ण है। कि हमें उनकी देखभाल करनी चाहिये। अपनी आँखों का मूर्खतापूर्वक उपयोग करके यह सम्भव है कि हम उन्हें बुरी तरह से क्षतिग्रस्त कर लेंगे। जो कोई भी काम हम कर रहे हों वहाँ पर पर्याप्त रोशनी होनी चाहिये। यह समान रूप से फैली होनी चाहिये। बहुत अधिक रोशनी थकाने वाली होती है इसलिए इससे बचा जाना चाहिये। पढ़ते या लिखते समय, बढ़िया है कि सीधे बैठो और पेज को अपनी आँखों से लगभग 12 इंच दूर रखो। कभी भी बहुत तेज रोशनी जैसे सूर्य या वेल्डर की राड की तरफ सीधे मत देखो। वे रेटिना को ऐसा क्षतिग्रस्त कर सकते हैं कि उसे ठीक भी नहीं किया जा सके। धन्यवाद!

Question 6.
You are Raja / Rani. You came across the following visual. Write a speech in about 100 words to be delivered in the morning assembly of your school.
RBSE Class 12 English Speech Writing (Visual Input) q 10 Answer:

Drive Safely

Respected Principal, teachers and my dear friends, good morning to everybody! I am Rani a student of class XII. Today I am going to give you some very important suggestions related to safe driving. Driving at top speed leads you directly to the hospital. Life is precious. It is to live and enjoy not to meet with an accident and die or become permanently handicapped. Such a life is a curse and worse than death. Some safety tips have been written on the pamphlet. We should always wear a helmet on two-wheeler vehçiles. We should obey traffic rules. We should not cross a red light. By following traffic rules we show gentleness. I am sure that you will follow my advice. Thanks!

आदरणीय प्रधानाचार्य महोदय, गुरुजनो व मेरे प्यारे दोस्तो! सभी को शुभ प्रभात! मैं कक्षा 12 की एक विद्यार्थी रानी हूँ। आज मैं सुरक्षित ड्राईविंग के बारे में आपको कुछ बहुत ही महत्त्वपूर्व सुझाव देने वाली हूँ। तेज गति से (वाहन) चलाना आपको सीधा ही अस्पताल पहुंचाता है। जीवन कीमती है। यह जीने व आनन्द लेने के लिए है, न कि दुर्घटनाग्रस्त होकर मरने या स्थायी रूप से अपंग होने के लिए है। ऐसा जीवन एक अभिशाप तथा मृत्यु से भी बदतर है। पम्पलेट पर सुरक्षा के कुछ तरीके लिखे हुए हैं। हमें दोपहिया वाहनों पर चलते समय हमेशा हेलमेट पहनना चाहिये। हमें यातायात के नियमों का पालन करना चाहिये। हमें लाल बत्ती पार नहीं करनी चाहिये। यातायात के नियमों का पालन करके हम सौम्यता दिखाते हैं। मुझे पक्का विश्वास है कि आप मेरी सलाह का पालन करेंगे। धन्यवाद!

Question 7.
Look at the visual on ‘Fast Food’. These days people, especially youngsters, like to eat fast food. So prepare a speech on the harmful effects of fast food in about 100 words.
RBSE Class 12 English Speech Writing (Visual Input) q 13 Answer:

Fast Food

Respected Principal sir, teachers and dear friends! Today, I want to tell you something about eating habits. We all love to eat fast food like pizza, burger etc. But do you know fast foods cause obesity and also lead to poor nutrition? Junk foods or fast foods usually have preservatives and artificial colours which are like poison to our bodies. This kind of food lacks fibre contents which are essential for our health. Junk food includes potato crisps, sauces and salted snacks. Regular consumption of fast foods can lead to hypertension, migraine, loss of appetite, and other health problems. So friends! We should not eat fast food regularly. Thank you!

सम्मानित प्रधानाचार्य, अध्यापकगण व प्रिय मित्रो! आज मैं आपको भोजन सम्बन्धी आदतों के विषय में कुछ बताना चाहता हूँ। हम सभी को पिज्जा, बर्गर, चाऊमीन इत्यादि फास्ट फूड खाना प्रिय होता है। लेकिन क्या आप जानते हैं। कि फास्ट फूड अत्यधिक मोटापा बढ़ाता है और यह खराब पोषण की ओर भी ले जाता है। जंक फूड या फास्ट फूड में प्रायः परिरक्षक पदार्थ व कृत्रिम रंग होते हैं जो हमारे शरीर के लिए विष के समान होते हैं। इस प्रकार के भोजन में रेशों की मात्रा कम होती है जो हमारे स्वास्थ्य के लिए अति आवश्यक है। जंक फूड में आलू के चिप्स, सॉस और नमकीन स्नैक्स शामिल होते हैं। फास्ट फूड के नियमित सेवन से तनाव, सिर दर्द, भूख न लगना व अन्य स्वास्थ्य समस्याएँ हो सकती हैं। इसलिए मित्रो! हमें नियमित रूप से फास्ट फूड नहीं खाना चाहिए। धन्यवाद!

Question 8.
Look at the picture related to the mobile phone. Prepare a speech on the topic ‘Negative Effects of Mobile Phone’ in about 100 words to be delivered in your school assembly. You are Manasi/Manu.
RBSE Class 12 English Speech Writing (Visual Input) q 14 Answer:

Negative Effects Of Mobile Phone

Respected Principal sir, teachers, and my dear friends! I, Manasi, a student of class XII A, want to tell you the negative effects of mobile phone. We all know that mobile phone is a very useful device used for communication. But very few of us know that it has some negative effects also. Its most negative effect is seen when people use it frequently while driving. It leads to deadly accidents. Chatting continuously for many hours over mobile phone disturbs the sleep patterns. Since mobile phones serve many purposes like chatting, e-mail, playing games, listening to music, videography etc., youngsters get very limited time to interact with their families. Therefore, we should make limited use of mobile phones. Thank you!

आदरणीय प्रधानाचार्य महोदय, अध्यापकगण व मेरे प्रिय मित्रो! मैं मानसी कक्षा XII A की विद्यार्थी आपको मोबाइल फोन के नकारात्मक प्रकार के बारे में बताना चाहती हूँ। हम सभी जानते हैं कि मोबाइल फोन एक अत्यन्त उपयोगी यन्त्र है जो संचार के काम आता है। लेकिन हममें से बहुत कम लोग जानते हैं कि इसके कुछ नकारात्मक प्रभाव भी हैं। इसका सर्वाधिक नकारात्मक प्रभाव तब दिखाई देता है जब लोग गाड़ी चलाते समय बहुधा इसका प्रयोग करते हैं। इससे घातक दुर्घटनाएँ होती हैं। मोबाइल फोन पर घंटों लगातार बातें करते रहने से नींद का समय व तरीका बाधित होता है। चूँकि मोबाइल फोन से बातचीत, ई-मेल, गेम खेलना, संगीत सुनना, वीडियोग्राफी आदि बहुत से काम होते हैं, इसलिए बच्चों को अपने परिवार के साथ घुलने-मिलने का बहुत कम समय मिलता है। इसलिए हमें मोबाइल फोन का सीमित प्रयोग करना चाहिए। धन्यवाद!