Day
Night

1 The Fun They Had

पढ़ने से पूर्व : 

• कहानी जो हम पढ़ेंगे वह भविष्य की ओर संकेत करती है, जब पुस्तकें व विद्यालय जैसा हम उन्हें आज जानते हैं शायद ऐसे ही अस्तित्व में नहीं रहेंगे। बच्चे तब कैसे पढ़ेंगे? निम्न रेखाकृति शायद आपको कुछ विचार दे–

• युगल बनाकर, उन तीन चीजों पर परिचर्चा करें जो आप अपने विद्यालय के विषय में सर्वाधिक पसन्द करते हैं और अपने विद्यालय की उन तीन चीजों के विषय में भी जिन्हें आप परिवर्तित करना चाहेंगे।
• क्या आपने कभी टेलीविजन (या कम्प्यूटर) के पर्दे पर शब्दों को पढ़ा है? क्या आप परिकल्पना कर सकते हैं जब समस्त पुस्तकें कम्प्यूटर पर होंगी, और कागज पर छपी हुई कोई पुस्तक नहीं होगी? क्या आप ऐसी पुस्तकों को और अधिक पसन्द करेंगे?

कठिन शब्दार्थ एवं हिन्दी अनुवाद 

1. Margie even………………….first time. 

कठिन शब्दार्थ : headed (हेड्ड) = ऊपर, printed (प्रिन्ड) = छपी थी, turned (टन्ड) = पल्टे, crinkly (क्रिङ्कलि) = सिलवटों वाले, awfully (ऑफ्लि ) = अत्यधिक, funny (फनि) = अजीब/हास्यकर, stood still (स्टुड स्टिल्) = स्थिर थे, moving (मूविङ्) = चलते हुए/गतिमान, supposed to (सपोज्ड टु) = अपेक्षित था, screen (स्क्रीन्) = पर्दा ।।

हिन्दी अनुवाद : मार्गी ने उस रात अपनी डायरी में भी लिखा था। पृष्ठ पर ऊपर 17 मई, 2157, उसने लिखा, ‘आज टॉमी को एक वास्तविक पुस्तक मिली!’ यह एक बहुत प्राचीन पुस्तक थी। मार्गी के दादाजी ने एक बार कहा था कि जब वह एक छोटा बालक था तो उसके (मार्गी के दादा के) दादाजी ने उसे बताया था कि एक समय था जब सभी कहानियाँ कागज पर छपती थीं। उन्होंने पन्ने पल्टे, जो पीले व सलवटों वाले थे, और यह अत्यधिक हास्यकर था कि उन शब्दों को पढ़ना जो स्थिर थे बजाय उस तरीके से गतिमान होने के जैसा कि पर्दे पर उनसे अपेक्षित था व आप जानते हैं। और फिर जब उन्होंने पूर्व वाला ही पन्ना पलटकर देखा, तो इस पर वही शब्द थे जो इस पर तब थे जब उन्होंने प्रथम बार इसे पढ़ा था। 

2. ‘Gee’, said Tommy, ……’School’. 

कठिन शब्दार्थ : Gee (जी) = आश्चर्य व्यक्त करने वाला शब्द, through (श्रू) = पढ़कर समाप्त करना, throw away (थ्रो अवे) = फेंक देना, guess (गेस्) = अनुमान लगाना, million (मिल्यन्). = दस लाख, plenty more (प्लेन्टि मॉर) = और बहुत-सी, telebooks (टेलिबुक्स) = दूर-पुस्तकें, pointed (पॉइन्ट्ड) = उत्तर दिया, attic (ऐटिक्) = अटारी।

हिन्दी अनुवाद : ‘आश्चर्य’, टॉमी ने कहा, ‘क्या अपव्ययता है। जब आप पुस्तक पढ़कर समाप्त कर लेते हैं, तो आप इसे केवल फेंक देते हैं, ऐसा मैं अनुमान करता हूँ। हमारे टेलिविजन पर्दे पर निश्चित रूप से दसियों लाख पुस्तकें हैं तथा यह और अधिक के लिए भी उपयुक्त है। मैं इन्हें नहीं फेंकूँगा।’ ‘मेरे साथ भी ऐसा ही है’, मार्गी ने कहा। वह ग्यारह वर्ष की थी और इतनी टेलि-पुस्तकें नहीं देखी थीं जितनी टॉमी ने देखी थीं। वह तेरह वर्ष का था।
उसने (मार्गी ने) कहा, ‘तुम्हें यह कहाँ से मिली?’ ‘मेरे घर में।’ बिना देखे उसने उत्तर दिया, क्योंकि वह पढ़ने में व्यस्त था। ‘अटारी में।’ ‘यह किसके बारे में है?’ ‘विद्यालय। 

3. Margie was scornful……… Inspector. 

कठिन शब्दार्थ : scornful (स्कॉन्फ्ल ) = घृणा से भरना, mechanical (मकैनिकल) = मशीनी, geography. (जिऑग्रफि) = भूगोल, worse and worse (वस् अन्ड् वस्) = बद से बदतर, until (अन्टिल) = जब तक, shaken (शेकन्) = हिलाया, sorrowfully (सॉरोफलि) = उदासी से, County (काउन्टि) = ब्रिटेन में स्थानीय स्वशासन वाला क्षेत्र ।

हिन्दी अनुवाद : मार्गी घृणा से भर गई। विद्यालय? विद्यालय के विषय में लिखने वाली क्या बात है? मैं विद्यालय से घृणा करती हूँ।’ मार्गी हमेशा विद्यालय से घृणा करती थी, लेकिन अब उसे इससे पहले से अधिक घृणा हो गई। मशीनी शिक्षक भूगोल में उसे टेस्ट पर टेस्ट दिये जा रहा था और वह बद से बदतर किये जा रही थी जब तक कि उसकी माँ ने उदासी से सिर नहीं हिलाया और काउन्टि इन्स्पेक्टर को नहीं बुला भेजा।

4. He was a……… ………….no time.

कठिन शब्दार्थ : whole (होल्) = पूरा भरा, tools (टूल्ज) = यन्त्र, dials (डाइअल्ज) = घड़ीनुमा प्लेटें, wires (वाइअ(र)ज) = तार, took apart (टुक अपाट्) = पुरजे खोल दिये, hoped (होप्ट) = आशा की, put together (पुट टगेद(र)) = जोड़ना, ugly (अग्लि) = भद्दा, shown (शोन) = दिखाये, slot (स्लॉट) = निर्धारित स्थान, punch code (पन्च् कोड्) = छेदों की गुप्त भाषा, calculated (कैल्क्यु लेट्ड) = गणना की।

हिन्दी अनुवाद : वह एक गोल-मटोल लाल मुख वाला छोटा-सा आदमी था और उसके पास डायलों व तारों सहित यन्त्रों का पूरा भरा बॉक्स था। वह मार्गी को देख मुस्कराया और उसे एक सेब दिया, फिर उसके अध्यापक के पुरजे खोल दिये। मार्गी ने आशा की थी कि उसे इसे वापस जोड़ना नहीं आयेगा, लेकिन वह सबकुछ कितनी अच्छी तरह जानता था, और लगभग एक घण्टे के पश्चात् यह पुनः वहाँ था – बड़ा व काला व भद्दा – एक बड़े पर्दे के साथ जिस पर सभी पाठ दिखाये गये थे और प्रश्न पूछे गये थे। वह इतना बुरा नहीं था। मार्गी जिस भाग से सर्वाधिक घृणा करती थी यह वह निर्धारित स्थान था जिसमें उसे अपना होमवर्क व टेस्ट पेपर रखने होते थे। उसे हमेशा उन्हें छेदों की गुप्त भाषा में लिखना पड़ता था जिसे उन्होंने उसे तब सिखाया था जब वह छः वर्ष की थी, और उसके मशीनी शिक्षक ने न के बराबर समय में अंकों की गणना कर डाली। 

5. The Inspector had………..about school?”

कठिन शब्दार्थ : finished (फिनिश्ट) = समाप्त किया, patted (पैट्ड) = थपथपाया, fault (फॉल्ट्) = गलती, geared (गिअ(र)ड) = चला, happen (हैपन्) = घटित होना, slowed (स्लोड) = धीमा कर दिया, average (ऐवरिज्) = औसतन, level (लेवल) = स्तर, actually (ऐक्चु अलि) = वास्तव में, overall (ओवर ऑल) = सम्पूर्ण, pattern (पैट्न्) = नमूना, progress (प्रग्रेस्) = प्रगति, quite (क्वाइट) = काफी, satisfactory (सैटिस्फैक्टरि) = सन्तोषजनक, disappointed (डिसपॉइन्टिड्) = निराश हो गई, altogether (ऑलटॅगेद(र)) = पूर्णतया, blanked out (ब्लै फ्ट आउट) = सफाया हो गया।

हिन्दी अनुवाद : जब इन्स्पेक्टर ने काम समाप्त कर लिया तब वह मुस्कराया और मार्गी का सिर थपथपाया। उसने अपनी माँ से कहा, ‘श्रीमती जोन्स, यह इस छोटी-सी लड़की की गलती नहीं है। मेरा ख्याल है कि भूगोल का भाग थोड़ा तेज चल रहा था। ऐसी चीजें कभी-कभी घटित हो जाती हैं । मैंने इसे एक औसतन दस वर्ष के बच्चे के स्तर तक धीमे कर दिया है। वास्तव में उसकी प्रगति का सम्पूर्ण नमूना काफी सन्तोषजनक है।’ और उसने मार्गी का सिर पूनः थपथपाया। मार्गी निराश थी। वह आशा कर रही थी कि वे अध्यापक को पूर्णतया बाहर निकाल देंगे। एक बार । उन्होंने टॉमी के अध्यापक को लगभग एक महीना बाहर निकाले रखा क्योंकि उसके इतिहास के पूरे भाग का सफाया हो गया था। अतः उसने टॉमी से कहा, ‘कोई विद्यालय के विषय में क्यों लिखेगा?’ 

6. Tommy looked……………………………them questions.

कठिन शब्दार्थ : superior (सूपिअरिअ(र)) = गर्व से/श्रेष्ठ, stupid (स्ट्यूपिड्) = मूर्ख, loftily (लॉटिलि) = गर्व से, pronouncing (प्रनाउन्सिंग) = उच्चारण करते हुए, centuries (सेन्चरिज) = सैकड़ों वर्ष, hurt (हट) = आहत होना, shoulder (शोल्ड(र)) = कंधा, for a while (फॉ(र) ऐ वाइल्) = कुछ समय के लिए, anyway (एनिवे) = जो भी हो, sure (शॉ (र्)) = निश्चय ही, regular (रेग्यल(र) = नियन्त्रित।

हिन्दी अनुवाद : टॉमी ने उसकी ओर गर्व से देखा। क्योंकि यह हमारी तरह का विद्यालय नहीं है, मूर्ख। यह प्राचीन प्रकार का विद्यालय है जो कि सैकड़ों वर्ष पूर्व हुआ करते थे।’ उसने गर्व से जोड़ा, शब्द का ठीक से उच्चारण करते हुए, ‘सैकड़ों वर्ष पूर्व ।’ मार्गी आहत थी। ‘अच्छा, मुझे नहीं पता वर्षों पूर्व कैसे विद्यालय होते थे।’ उसके कंधे पर से कुछ समय के लिए उसने वह पुस्तक पढ़ी, फिर कहा, ‘जो भी हो, उनका अध्यापक भी था।’ ‘निश्चय ही उनका अध्यापक था, किन्तु यह नियन्त्रित अध्यापक नहीं था। यह एक मानव था।’ ‘एक मानव? एक मानव अध्यापक कैसे हो सकता है?’ ‘अच्छा, वह छात्र-छात्राओं को कुछ बातें बताता था और उनको होमवर्क देता था और उनसे प्रश्न पूछता था।’

7. ‘A man isn’t………..same age.’ 

कठिन शब्दार्थ : smart (स्माट्) = चतुर, enough (इनफ्) = पर्याप्त, betcha (बेटचा) = शर्त लगाकर कहना/निश्चय से कहना, prepared (प्रिपेअ(र)ड) = तैयार, dispute (डिस्प्यूट्) = विवाद, strange (स्ट्रेन्ज्) = अजनबी, screamed (स्क्रीम्ड) = चीखा, laughter (लाफ्ट(र)) = हँसी, kids (किड्ज) = बच्चे, learn (लन्) = सीखना।

हिन्दी अनुवाद : ‘एक मानव पर्याप्त चतुर नहीं होता है।’ ‘निश्चय ही वह है। मेरे पिता उतना ही जानते हैं जितना मेरे अध्यापक।’ ‘वह लगभग उतना ही जानते हैं, मैं शर्त लगाकर/निश्चय से कहती हूँ।’
मार्गी उस पर विवाद करने के लिए तैयार नहीं थी। उसने कहा, ‘मैं नहीं चाहूँगी कि एक अजनबी व्यक्ति मेरे घर में मुझे पढाये।’ टॉमी हँसी से चीखा। ‘तुम अधिक नहीं जानती, मार्गी । अध्यापक घर में नहीं रहते थे। उनके पास एक विशेष भवन होता था और सभी बच्चे वहाँ जाते थे।’ ‘और सभी बच्चे समान विषय-वस्तु सीखते थे?’ ‘निश्चय ही, यदि वे समान आयु के होते थे।’ 

8. But my mother………….after school? 

कठिन शब्दार्थ : adjusted (अजस्ट्ड) = के अनुरूप ढाला, taught (टॉट) = पढ़ाया/सिखाया, probably (प्रॉबब्लि) = शायद। … हिन्दी अनुवाद : ‘किन्तु मेरी माँ कहती है कि अध्यापक को प्रत्येक बालक व बालिका को जिसे वह पढ़ाता है, के मस्तिष्कानुसार फिट होने के लिए अपने को ढालना पड़ता है और कि प्रत्येक बच्चे को भिन्न तरीके से सिखाना होता है।’

‘ऐसा ही है पर उस समय वे इसे उस प्रकार नहीं करते थे। यदि आप इसे पसन्द नहीं करते हैं, तो आपको पुस्तक पढ़ना आवश्यक नहीं है।’ ‘मैंने नहीं कहा कि मैंने इसे पसन्द नहीं किया’, मार्गी ने शीघ्रता से कहा। वह उन अजीब विद्यालयों के विषय में पढ़ना चाहती थी।उन्होंने अभी आधी भी समाप्त नहीं की थी कि मार्गी की माँ ने पुकारा, ‘मार्गी! विद्यालय!’ मार्गी ने ऊपर देखा। ‘अभी नहीं, मॅमा।’ ‘अब!’ श्रीमती जोन्स ने कहा। और शायद टॉमी का समय भी हो गया है।’ मार्गी ने टॉमी से कहा, ‘क्या मैं विद्यालय पश्चात् आपके साथ यह पुस्तक थोड़ा और पढ़ सकती हूँ?’ 

9. “May be”,………………………………proper slot.” 

कठिन शब्दार्थ : nonchalantly (नॉन्शलटिल) = उदासीनता से, whistling (विस्लिंग) = सीटी बजाते, dusty (डस्टि) = धूलभरी, tucked (टक्ट) = ह्सी, beneath (बिनीथ्) = नीचे, waiting (वेटिंग) = प्रतीक्षा करना, except (इक्सेप्ट्) = को छोड़कर, lit up (लिट् अप्) = प्रकाशित किया, arithmetic (अरिथ्मटिक्) = अंकगणित, addition (अडिशन्) = जोड़, proper (प्रॉप(र)) = वास्तविक, fractions (फ्रैकश्न्ज ) = भिन्नों, insert (इन्सॅट) = डालना।

हिन्दी अनुवाद : ‘शायद’, उसने उदासीनता से कहा। वह उस धूलभरी पुरानी पुस्तक को अपनी बाजू के नीचे दबाकर सीटी बजाते हुए चला गया। मार्गी विद्यालय कक्ष में गई। यह उसके शयन-कक्ष के ठीक अगले वाला था और मशीनी शिक्षक तैयार था और उसकी प्रतीक्षा कर रहा था। यह प्रत्येक दिन इस ही समय चालू होता था केवल शनिवार व रविवार को छोड़कर, क्योंकि उसकी माँ कहती थी कि छोटी लड़कियाँ अधिक अच्छा सीखती थीं यदि वे नियमित समय पर सीखें। पर्दा प्रकाशित किया गया, और इसने कहा : ‘आज का अंकगणित का पाठ वास्तविक भिन्नों को जोड़ने पर है। कृपया कल के होमवर्क को निर्धारित स्थान पर (मशीन के अन्दर) डालें।’

10. Margie did…………they had. 

कठिन शब्दार्थ : sigh (साइ) = आह, neighbourhood (नेबहुड्) = पड़ोस, shouting (शाउटिंग) = चिल्लाते हुए, flashing (फ्लैशिंग) = प्रदर्शित कर रहा।

हिन्दी अनुवाद : मार्गी ने एक आह के साथ ऐसा किया। वह प्राचीन विद्यालयों के विषय में सोच रही थी जो उसके दादा के दादा जब छोटे लड़के थे, हुआ करते थे। अड़ोस-पड़ोस के सभी बच्चे हँसते और चिल्लाते विद्यालय के प्रांगण में आते, विद्यालय-कक्ष में एक-साथ बैठते, दिन समाप्ति पर घर साथ-साथ जाते। वे समान विषय-वस्तु सीखते थे, अतः वे होमवर्क में एक-दूजे की सहायता कर सकते थे और इस पर बात कर सकते थे। और अध्यापक लोग (मनुष्य) थे. यांत्रिक शिक्षक पर्दे पर प्रदर्शित कर रहा था : “जब हम भिन्नों 11 व 11 को जोड़ते हैं……..मार्गी सोच रही थी कि पुराने दिनों में बच्चों को यह अवश्य ही कितना अच्छा लगता होगा। वह सोच रही थी कि उन्होंने कितना आनन्द लिया होगा।

0:00
0:00