Day
Night

7 The Duck and the Kangaroo

• कविता के विषय में : यह एक हास्यपूर्ण कविता है जो दुर्बोध तुकांत रचना/पद्य के रूप में है जिसे एडवर्ड लिअर द्वारा लिखा गया है। इसे पढ़ें व इसका आनन्द लें।

कठिन शब्दार्थ एवं हिन्दी अनुवाद 

1. Said the Duck……………………the Kangaroo.

कठिन शब्दार्थ : good gracious (गुड् ग्रेशस्) = वाह ! (आश्चर्य की अभिव्यक्ति), hop (हॉप्) = फुदकना, nasty (नास्टि) = खराब।

हिन्दी अनुवाद : बत्तख ने कंगारू से कहा, ‘वाह! तुम कैसे फुदकते हो। खेतों में से भी और पानी के ऊपर से भी, ऐसे जैसे कि तुम कभी रुकोगे ही नहीं। इस खराब/गंदे से पोखर में मेरा जीवन ऊबाऊ है, और मेरी इस संसार में दूर जाने की इच्छा है ! मेरी इच्छा है कि मैं तुम्हारी तरह फुदक सकूँ !’ बत्तख ने कंगारू से कहा।

भावार्थ : बत्तख, कंगारू की प्रशंसा करती है और अपनी इच्छा प्रकट करती है। 2

2. ‘Please give……………Kangaroo. 

कठिन शब्दार्थ : sit quite still (सिट क्वाइट स्टिल) = बिल्कुल शान्त बैठना।

हिन्दी अनुवाद : ‘कृपया, मुझे अपनी पीठ पर सवारी दे दो!’ बत्तख ने कंगारू से कहा। मैं बिल्कुल शान्त बैलूंगी और ‘काँ-काँ’ के सिवाय सारा दिन कुछ नहीं बोलूँगी! और हम Dee, Jelly Bo Lee (काल्पनिक स्थान) की सैर करने जाएंगे और पृथ्वी पर तथा समुद्र की सैर करेंगे। कृपया मुझे सैर पर (सवारी) ले चलो! अरे (कंगारू), अवश्य ले चलो!’ बत्तख ने कंगारू से कहा।

भावार्थ : बत्तख की विश्व भ्रमण की अभिलाषा है। उसके लिए सभी शर्ते स्वीकार्य हैं। 

3. Said the…………..Kangaroo. 

कठिन शब्दार्थ : reflection (रिफ्लेक्श्न् ) = चिन्तन, roo-Matiz (rheumatism) (रूमटिजॅम) = गठिया का रोग, probably (प्रॉबब्लि ) = सम्भवतः।

हिन्दी अनुवाद : कंगारू ने बत्तख से कहा, ‘इसे कुछ थोड़े चिन्तन की आवश्यकता है (अर्थात् मुझे कुछ समय विचार करने दो)। शायद कुल मिलाकर यह मेरे लिये सौभाग्य ले आए (कंगारू चिन्तन कर रहा है). लेकिन एक आपत्ति दिखाई दे रही है, जो कि यह है, यदि तुम मुझे निर्भीकता से बोलने की आज्ञा दो, तुम्हारे पैर असुहावने रूप से गीले और ठण्डे हैं, और शायद मुझे गठिया का रोग दे दे’ कंगारू ने कहा। 

भावार्थ : कोई व्यक्ति आपसे कैसा भी आग्रह करे, उस पर चिन्तन अवश्य करना चाहिए और फिर निर्भीकता से अपने विचार व्यक्त करने चाहिए। 

4. Said the Duck……………..of a Kangaroo !” 

कठिन शब्दार्थ : worsted socks (वस्ट्ड सॉक्स) = गर्म जुराबें, web-feet (वेब् फीट) = जालीदार पैर, cloak (क्लोक्) = लबादा।

हिन्दी अनुवाद : बतख ने कहा, ‘जब मैं चट्टान पर बैठी थी तब मैंने इस पर पूर्णतः विचार किया था, और मैंने चार जोड़ा गर्म जुराब खरीद लिये हैं जो मेरे जालीदार पैर पर एकदम फिट आ रहे हैं। और ठंड को दूर रखने के लिए मैंने एक लबादा खरीद लिया है। और नित्यप्रति मैं एक सिगार पीऊँगी। यह सब एक कंगारू के प्रति अपने प्रिय सच्चे प्रेम के अनुसरण में होगा!’

भावार्थ : जहाँ चाह वहाँ राह । दृढ़ संकल्प हो तो रास्ते निकाल लिये जाते हैं। 

5. Said the………………..and the Kangaroo? 

कठिन शब्दार्थ : pale (पेल्) = मद्धम, steady (स्टेडि) = बिना हिले-डुले।

हिन्दी अनुवाद : कंगारू ने कहा, ‘मैं तैयार हूँ! इस हल्की-सी चाँदनी में, किन्तु मेरा संतुलन ठीक से बना रहे इसके लिए प्रिय बतख, बिना हिले-डुले बैठना! और ठीक मेरी पूंछ के अंत में!’ इस प्रकार वे फुदकते और छलांग मारते चले गए। और उन्होंने सारे विश्व का तीन बार चक्कर काटा। और कौन इतना प्रसन्न था-अरे कौन, जितना कि बतख व कंगारू?

भावार्थ : जीवन को आकर्षक बनाए रखने के लिए पर्यटन भी जरूरी है।

0:00
0:00