Animals Summary and Translation in Hindi
[From “Song of Myself” in Leaves of Grass]

कवि हमें बताता है कि वह इन्सानों, जिन्हें वह जटिल व झूठा पाता है, की बजाय जानवरों के साथ अधिक अपनापन महसूस करता है।

कठिन शब्दार्थ एवं हिन्दी अनुवाद

I think I could……………them long and long. (Page 83)

कठिन शब्दार्थ-placid (प्लैसिड्) = शांत । self-contained (सेल्फ-कन्टेन्ड) = संयमी/आत्म संतुष्ट।

हिन्दी अनुवाद-मैं विचार करता हूँ कि मैं अपने अंदर परिवर्तन कर सकता हूँ और जानवरों के साथ रह सकता है, क्योंकि वे अत्यधिक शांत व संयमी हैं, मैं खडा रहकर उनकी ओर लंबे समय ध्यानपूर्वक देखता रहता हूँ।

भावार्थ-कवि कहता है कि आज का इंसान न शांत चित्त का है और न आत्म-संयमी है। प्रकृति व प्राकृतिक जीवों के लगातार निरीक्षण, पर्यवेक्षण आदि से इंसान बहुत कुछ सीख सकता है।

They do not sweat…………………………….in their possession. (Page 83)

कठिन शब्दार्थ-sweat (स्वेट) = व्यग्र/उदास होना । whine (वाइन्) = शिकायत करना/झींकना। sins (सिन्ज) = गुनाहों। demented (डिमेन्टिड) = पागल। mania (मेनिआ) = अति उत्साह/अति
neels (नाल्ज) = घुटनों पर झुकता है। evince (विन्स) = प्रदशित करना। possession (पजेशन्) = स्वामित्व में।

हिन्दी अनुवाद-कवि कहता है कि जानवर अपनी स्थिति/दशा के बारे में उदास नहीं होते हैं और उसकी शिकायत भी नहीं करते हैं। वे रात्रि में (मनुष्यों की तरह) जागते नहीं हैं और अपने पापों के लिए रोते नहीं हैं। वे ईश्वर के प्रति अपने कर्तव्यों की चर्चा करके

मुझे परेशान भी नहीं करते हैं। कोई भी (जानवर) असंतुष्ट नहीं है, व कोई भी वस्तुओं के स्वामित्व के साथ पागल नहीं होता है। कोई भी (जानवर) दूसरे (जानवर) के सामने घुटने नहीं टेकता है और न ही अपनी किस्म के सामने जो पिछले हजारों वर्ष से जीती आ रही है। इस सम्पूर्ण पृथ्वी पर ” कोई (जानवर) सम्माननीय या अप्रसन्न नहीं है। इसलिए वे अपने रिश्ते मुझे दिखाते हैं और मैं उन्हें अपनाता हूँ। वे मेरे लिए अपनत्व का संकेत लिए आते हैं, परन्तु बिना बोले भावों से प्रकट करते हैं जिसमें कोई मिश्रण नहीं होता है।

भावार्थ-कवि कहता है कि मानवों को जानवरों से शिक्षा लेनी चाहिए अर्थात् जैसी परिस्थिति उन्हें ईश्वर ने प्रदान की है उसी में सन्तुष्ट रहना चाहिये। उन्हें चापलूसी, संग्रहण, भेदभाव और झूठे आँसू बहाने से बचना चाहिए।

I wonder where…………………………negligently drop them? (Page 83)

कठिन शब्दार्थ-negligently (नेगलिजन्टलि) = असावधानी से।

हिन्दी अनुवाद-मुझे आश्चर्य होता है कि वे ये संकेत कहाँ से लाते हैं। क्या मैं उस मार्ग से बहुत समय पहले गुजरा था और मैंने उन्हें सावधानी से गिरा दिया था? मैंने जानवरों से ये सीख पहले नहीं ली थी।

भावार्थ-कवि हैरानी व्यक्त करता है कि जानवरों से सीख प्राप्त करने में उसने देरी क्यों की। कवि के विषय में वॉल्ट विटमॅन (1819-92) आरम्भिक अमेरिकन काव्य में एक मुख्य व्यक्तित्व है। ऐसे युग में जब सभी काव्य, तुकांत/तालबद्ध व प्रबल-दुर्बल बलाघातों की विशिष्ट व्यवस्था वाला होता था, विटमॅन ने परम्परा से विचलन किया और मुक्त छंद में एक नए प्रकार के क्रांतिकारी काव्य की रचना की। वह सभी प्रकार से परम्परा विरोधी था, यहाँ तक कि अपने सामाजिक जीवन में भी।

Extracts for Comprehension and Appreciation

Read the extracts given below and answer the questions that follow

Extract – 1

I think I could turn and live with animals, they are
so placid and self-contain’d,
I stand and look at them long and long.

Question 1.
What does the poet think in these lines?
इन पंक्तियों में कवि क्या सोचता है?
Answer:
In these lines the poet thinks to live with animals when he compares the qualities of hụmans and animals he finds the qualities of animals better.

इन पंक्तियों में कवि जानवरों के साथ रहने की सोचता है जब वह मानव और जानवरों के गुणों की तुलना करता है वह जानवरों के गुणों को ज्यादा अच्छा पाता है।

RBSE Solutions for Class 10 English First Flight Poem 7 Animals

Question 2.
What qualities of animals are given in these lines? What do you think about them?
इन पंक्तियों में जानवरों की क्या विशेषताएँ दी गई हैं? आप इनके बारे में क्या सोचते हैं?
Answer:
The animals are placid and self-contained. We think that our qualities should be … like that of animals.
जानवर शान्त और आत्मसंयमी होते हैं। हम सोचते हैं कि हमारे गुण भी जानवरों के गुणों के समान होने चाहिये।

Extract – 2

They do not sweat and whine about their condition,
They do not lie awake in the dark and weep for their sins,
The do not make me sick discussing their duty to God,

Question 1.
Can you find the bad qualities of man as given in these lines?
क्या आप इन पंक्तियों में दी गई मानव की बुराइयों को खोज सकते हैं?
Answer:
Man always complain about their bad conditions. They are suffering from sleeplessness and also weep for their sins. They discuss about duty to God and make others feel bad.

मानव हमेशा अपनी बुरी दशाओं के बारे में शिकायत करता है। वे अनिद्रा से पीड़ित हैं और अपने पापों के लिए रोते हैं। वे भगवान के प्रति अपने कर्तव्यों पर बात करते हैं और दूसरों को बुरा महसूस करवाते हैं।

RBSE Solutions for Class 10 English First Flight Poem 7 Animals

Question 2.
What good qualities of animals described in these lines?
इन पंक्तियों में जानवरों के क्या अच्छे गुण बताए गए हैं?
Answer:
Animals are calm and donot complain about their conditions to others, they live a sinless life and sleep soundly. They remain silent and serve God.

जानवर शान्त रहते हैं और अपनी दशा के बारे में अन्य से शिकायत नहीं करते हैं। वे पाप रहित जीवन जीते हैं और गहरी नींद लेते हैं। वे शान्त रहकर भगवान की सेवा करते हैं।

Extract – 3.

Not one is dissatisfied, not one is demented with the mania of owning things.
Not one kneels to another, nor to his kind that lived thousands of years ago,
Not one is respectable or unhappy over the whole earth.

Question 1.
What is said about discrimination among humans in these lines?
इन पंक्तियों में मानव के मध्य व्याप्त भेदभाव के बारे में क्या कहा गया है?
Answer:
Humans want to dominate over others. They want to be respectable and superior to others. They don’t like to mix with the common people.

मानव दूसरों पर अधिकार प्रदर्शित करना चाहते हैं। वे दूसरों के समक्ष सम्माननीय और सर्वोच्च बनना चाहते हैं । वे साधारण लोगों के साथ मिलना पसन्द नहीं करते हैं।

Question 2.
How are the animals living for thousands of years?
हजारों सालों से जानवर किस प्रकार से रह रहे हैं?
Answer
The animals are living satisfied, do not collect things and always have the feeling of equality and fraternity. They are always happy in all conditions for years.

जानवर संतुष्ट रहते हैं, वस्तुओं का संग्रह नहीं करते, हमेशा एकता और भाईचारे की भावना रखते हैं। वे हर स्थिति में सभी बरसों से संतुष्ट रहते हैं।

Extract – 4

So they show their relations to me and I accept them,
They bring me tokens of myself, they evince them plainly in their possession.
I wonder where they get those tokens,
Did I pass that way huge times ago and negligently drop them?

Question 1.
What are the “tokens” referred here in these lines?
इन पंक्तियों में “tokens” का सन्दर्भ क्या बताया गया है?
Answer:
The “tokens” referred here are the traits of character like love, cheerfulness and contentment. The animals have all these in abundance. “Tokens”
जो यहाँ पर बताया गया है वे उनके चरित्र के गुण हैं जैसे प्रेम, प्रसन्नता और संतुष्टि । जानवरों में यह सब अत्यधिक मात्रा में हैं।

Question 2.
What do the animals show to the poet?
जानवरों ने कवि को क्या प्रदर्शित किया है?
Answer:
The Animals have shown the poet their relations of love, equality and fraternity.
They have uncomplaining and satisfied life to show to the poet.

जानवरों ने कवि को उनके प्रेम, समानता और भाईचारे के सम्बन्धों को दिखाया है। उनमें बिना शिकायत के संतुष्टिपूर्ण जीवन कवि को दिखाने के लिए है।

Animals Summary and Translation in Hindi