The Tiger King

Textbook Questions and Answers
Reading with Insight

Question 1.
The story is a satire on the conceit of those in power. How does the author employ the literary device of dramatic irony in the story ? यह कहानी शक्तिशाली लोगों के घमंड पर एक व्यंग्य है । लेखक इस कहानी में नाटकीय विडम्बना नामक साहित्यिक युक्ति का प्रयोग किस प्रकार करता है ?
Answer:
The story is about a king who causes death to a hundred innocent tigers. He does so because a tiger has been predicted as the cause of his death. In his pride of power, he takes so many lives of the tigers. But in spite of his hunting so many tigers, the prediction comes true.

One day, he is playing with his son with a wooden tiger which has sharp slivers of wood. One such piece pierces his hand. The wound takes his life. Thus, it is a fine example of dramatic irony.

यह कहानी एक राजा के बारे में है जो सौ निर्दोष व्याघ्रों की मृत्यु का कारण बनता है । वह ऐसा इस कारण करता है क्योंकि उसकी मृत्यु एक व्याघ्र द्वारा होने की भविष्यवाणी की गई थी । अपनी शक्ति के घमंड में वह अनेक व्याघ्रों की जान ले लेता है । लेकिन उसके इतने अधिक व्याघ्रों का शिकार करने के बावजूद वह भविष्यवाणी सत्य होती है ।

एक दिन वह अपने पुत्र के साथ एक लकड़ी के व्याघ्र से खेल रहा होता है जिसकी खुरदरी सतह पर लकड़ी की फांसें होती हैं । एक ऐसी ही तेज फांस उसके हाथ को भेद देती है । वह घाव राजा का जीवन ले लेता है । इस प्रकार यह नाटकीय विडम्बना का एक अच्छा उदाहरण है।

Question 2.
What is the author’s indirect comment on subjecting innocent animals to the willfulness of human beings?
निर्दोष जानवरों को मनुष्यों की मनमर्जी का विषय बनाने पर लेखक की अप्रत्यक्ष टिप्पणी क्या है ?
Answer:
In the story “The Tiger King’, we see innocent tigers being killed at the whim of a king. Just to prove the prediction of the astrologers wrong, the proud king does so. The author seems to comment that a killer of innocent animals is never spared by nature. It looks to be a lesson for those who are cruel to innocent animals and treat them at their will.

‘व्याघ्र राजा’ नामक इस कहानी में हम निर्दोष व्याघ्रों को एक राजा की सनक का शिकार बनते हुए देखते हैं। सिर्फ भविष्यवक्ताओं की भविष्यवाणी को गलत सिद्ध करने के लिये वह अहंकारी राजा ऐसा करता है । लेखक यह टिप्पणी करता हुआ प्रतीत होता है कि निर्दोष जानवरों को मारने वाले को प्रकृति कभी नहीं बख्शती है। यह उन लोगों के लिए एक सीख प्रतीत होती है जो निर्दोष जानवरों के साथ मनमर्जी का व्यवहार करते हैं ।

Question 3.
How would you describe the behaviour of the Maharaja’s minions towards him ? Do you find them truly sincere towards him or are they driven by fear when they obey him ? Do we find a similarity in today’s political order ?
आप महाराजा के सेवकों के उनके प्रति व्यवहार का वर्णन किस रूप में करेंगे ? क्या आप उन्हें उनके (महाराज के) प्रति वास्तव में निष्ठावान पाते हैं या फिर वे डर के कारण उनकी आज्ञा का पालन करते हैं ? क्या हम आज की राजनीतिक व्यवस्था को इसी के समान पाते हैं?
Answer:
The Maharaja orders his dewan to find out a tiger at any cost. Being afraid of losing his job, the poor dewan brings a tiger from the zoo. The king misses his last target (the hundredth tiger). The hunters instead of telling him the truth, shoot the tiger themselves. Otherwise they could lose their jobs. Same is the political order of today. The employees are not truly sincere to the government. Their main aim is to keep their officers pleased so that to have their graces.

महाराजा अपने दीवान को किसी भी कीमत पर एक व्याघ्र को ढूंढ निकालने का आदेश देते हैं । अपनी नौकरी खोने के डर से बेचारा दीवान चिड़ियाघर से एक व्याघ्र लाता है । राजा का अन्तिम निशाना (सौवां बाघ) चूक जाता है। शिकारी उसे (राजा को) सच बताने के बजाय स्वयं उस बाघ को मार देते हैं ।

अन्यथा वे (शिकारी) अपनी नौकरी खो सकते थे । आज की राजनीतिक व्यवस्था भी ऐसी ही है । कर्मचारी सरकार के प्रति हृदय से निष्ठावान नहीं हैं। उनका मुख्य उद्देश्य अपने अधिकारियों को प्रसन्न रखना होता है जिससे वे उनके कृपापात्र बने रहें ।

Question 4.
Can you relate instances of game-hunting among the rich and the powerful in the present times that illustrate the callousness of human beings towards wildlife?
क्या आप आज के समय में धनी व शक्तिशाली लोगों के बीच से शिकार के खेल के उदाहरण दे सकते हैं जो मनुष्य की वन्य जीवन के प्रति निर्ममता के उदाहरण हैं ?
Answer:
Though we have laws today to protect wildlife, yet incidents of game-hunting are still seen every now and then. The rich and the powerful have no fear of laws. They take wild animals at their will. They think it to be a thing of royal pleasure to go for game-hunting. They kill innocent animals just for fun. Rich Sheikhs hunting black bucks in Rajasthan are one such example of such callous people. Famous film star Salman Khan has been convicted for hunting black bucks.

यद्यपि आज हमारे देश में वन्य जीवन के संरक्षण के लिए कानून हैं फिर भी शिकार के खेल की घटनाएँ अब भी प्रायः सुनने को मिल जाती हैं । धनी और शक्तिशाली लोगों को कानून का कोई डर नहीं है । वे जंगली जानवरों के साथ मनमर्जी का व्यवहार करते हैं । उन्हें लगता है कि शिकार पर जाना शाही आनन्द की बात है । राजस्थान में कृष्णमृग का शिकार करने वाले धनी शेख ऐसे ही निर्मम लोगों का एक उदाहरण हैं । प्रसिद्ध फिल्म स्टार सलमान खान कृष्णमृग के शिकार के आरोपी हैं ।

Question 5.
We need a new system for the age of ecology-a system which is embedded in the care of all people and also in the care of the Earth and all life upon it. Discuss.
पारिस्थितिकी के युग के लिए हमें एक नई व्यवस्था की आवश्यकता है- एक ऐसी व्यवस्था की जो सभी लोगों, इस पृथ्वी और इस पृथ्वी पर रहने वाले सभी जीवों की सुरक्षा कर सके । चर्चा कीजिए ।
Answer:
The Earth today is a different planet from what it used to be. Forests have been destroyed. Roads have been made into mountains. Glaciers are shrinking. Toxic gases are making the environment fatal. Global warming stands as a great danger to whole life on the Earth.

We are inviting a number of natural calamities such as drought, floods, cyclones etc. The depletion of the Ozone layer has put our survival in danger. At this stage, we are in dire need of a system that may protect our ecology. We have to create a balance between development and natural atmosphere.

आज पृथ्वी पहले से बिल्कुल भिन्न ग्रह है । वनों को नष्ट कर दिया गया है । पहाड़ों में सड़कें बना दी गई हैं । ग्लेशियर सिकुड़ रहे हैं । विषैली गैसें पर्यावरण को घातक बना रही हैं । ग्लोबल वार्मिंग पृथ्वी के समग्र जीवन के समक्ष एक बड़े खतरे के रूप में खड़ी हुई है ।

हम सूखा, बाढ़, समुद्री तूफान जैसी बहुत-सी प्राकृतिक आपदाओं को आमन्त्रित कर रहे हैं । ओजोन परत में छेद ने हमारे अस्तित्व को खतरे में डाल दिया है। इस स्थिति में हमें एक ऐसी व्यवस्था की बहुत अधिक आवश्यकता है जो हमारी पारिस्थितिकी की सुरक्षा करे । हमें विकास और प्राकृतिक वातावरण के बीच एक संतुलन बनाना है ।

Read and find out

Question 1.
Who is the Tiger King ? Why does he get that name ? (Page 8)
व्याघ्र राजा कौन है ? उसका यह नाम कैसे पड़ता है ?
Answer:
The Tiger King is the king of Pratibandapuram. At the time of his birth, royal astrologers predict his death to be caused by a tiger. When he grows up, he hunts ninety-nine tigers. For killing so many tigers, he gets the name “Tiger King’.

व्याघ्र राजा प्रतिबन्धपुरम का राजा है । उसके जन्म के समय राज ज्योतिषी भविष्यवाणी करते हैं कि उसकी मृत्यु का कारण कोई व्याघ्र होगा । बड़ा होने पर वह निन्यानवे व्याघ्रों का शिकार करता है । इतने अधिक व्याघ्रों को मारने के कारण उसका नाम ‘व्याघ्र राजा’ पड़ता है।

Question 2.
What did the royal infant grow up to be ?
राजसी शिशु बड़ा होकर क्या बना ? (Page 10)
Answer:
The royal infant grew up to be very tall and strong. He learnt all the manners of the English rulers. At the age of twenty, he became the king. He became famous as a brave and courageous king who did not fear from fighting tigers even without arms.

राजसी शिशु बड़ा होकर बहुत लम्बा और शक्तिशाली बना । उसने अंग्रेजों के सभी तौर-तरीके सीखे । बीस वर्ष की आयु में वह राजा बना। उसने एक वीर व साहसी राजा के रूप में प्रसिद्धि प्राप्त की जो निहत्था भी व्याघ्रों से लड़ने में डरता नहीं था।

Question 3.
What will the Maharaja do to find the required number of tigers to kill ? (Page 13)
व्याघ्रों को मारने के लिए आवश्यक संख्या को पाने के लिए महाराजा क्या करेंगे ?
Answer:
The Maharaja has hunted all the tigers found within his state. Now he will find out which state has a large number of tigers. Then he will marry the princess of that state. Thus, he will get a chance to hunt the tigers of that state too.

महाराजा ने अपने राज्यक्षेत्र में पाये जाने वाले सभी व्याघ्रों का शिकार कर लिया है। अब वह पता लगायेंगे कि व्याघ्रों की बड़ी संख्या रखने वाला राज्य कौन-सा है। फिर वह उस राज्य की राजकुमारी से विवाह कर लेंगे। इस प्रकार उन्हें उस राज्य के व्याघ्रों का भी शिकार करने का अवसर मिल जायेगा।

Question 4.
How will the Maharaja prepare himself for the hundredth tiger which was supposed to decitle his fate ?
महाराजा सौवें व्याघ्र को मारने के लिये स्वयं को कैसे तैयार करेंगें जिस व्याघ्र को उनके भाग्य का निर्णायक माना गया था ?
Answer:
On receiving the news of the hundredth tiger’s presence, the Maharaja will set out to hunt it. He will remain very careful with that tiger. He will refuse to leave the forest till that tiger is found. He will order his dewan to find out the hundredth tiger at any rate.

सौवें व्याघ्र की उपस्थिति का समाचार पाकर महाराजा उसके शिकार पर निकल पड़ेंगे। वह उस व्याघ्र से बहुत सावधान रहेंगे। वह उस व्याघ्र के मिलने तक जंगल में ही टिके रहेंगे । वह अपने दीवान को किसी भी कीमत पर उस सौवें व्याघ्र को ढूंढ निकालने का आदेश देंगे ।

Question 5.
What will now happen to the astrologer ? Do you think the prophecy was indisputably disproved?(Page 15)
अब ज्योतिषी का क्या होगा ? क्या आपको लगता है कि भविष्यवाणी निर्विवाद रूप से गलत हो गई थी ?
Answer:
Nothing will happen to the astrologer as he is most probably already dead. Besides, the prophecy of the Maharaja’s death by a tiger proves true. The Maharaja’s death is caused by a tiger, though it is made of wood.

ज्योतिषी को कुछ नहीं होगा क्योंकि पूरी सम्भावना है कि उसकी पहले ही मृत्यु हो चुकी है । इसके अलावा, एक व्याघ्र के द्वारा महाराजा की मृत्यु की भविष्यवाणी सही साबित होती है । महाराजा की मृत्यु एक व्याघ्र के कारण ही होती है, भले ही वह व्याघ्र लकड़ी का बना हुआ था।

RBSE Class 12 English The Tiger King Important Questions and Answers
Multiple Choice Questions

Select the correct option for each of the following questions :

Question 1.
The story “The Tiger King’ is about the king of :
(a) Tilak Nagaram
(b) Rajvilas Puram
(c) Pratibhandapuram
(d) Anand Puram
Answer:
(c) Pratibhandapuram

Question 2.
The Tiger King became king at the age of :
(a) twenty years
(b) twenty one years
(c) twenty two years
(d) twenty five years
Answer:
(a) twenty years

Question 3.
The king could fight with tigers :
(a) with a stick only
(b) with a sword only
(c) w t arms
(d) with gun only
Answer:
(c) w t arms

Question 4.
The king decided to marry with the princess of that state which had :
(a) large area of forest
(b) large number of tigers in its forests
(c) large number of soldiers
(d) no tigers within its territory
Answer:
(b) large number of tigers in its forests

Question 5.
The king succeeded in killing :
(a) ninety nine tigers
(b) hundred tigers
(c) hundred and one tigers
(d) none of these
Answer:
(a) ninety nine tigers

Question 6.
How old was the prince when he spoke the words clearly before the astrologers ?
(a) ten weeks
(b) ten days
(c) ten months
(d) ten years
Answer:
(b) ten days

Question 7.
The hundredth tiger was brought from :
(a) People’s park, Madras
(b) People’s park, Bombay
(c) People’s park, Jaisalmer
(d) People’s park, Dhanbad
Answer:
(a) People’s park, Madras

Question 8.
The hundredth tiger was killed in real by :
(a) the king
(b) the dewan
(c) the hunters
(d) the public
Answer:
(c) the hunters

Question 9.
Maharaja could not kill the hundredth tiger because :
(a) he could not find it
(b) he missed his target
(c) he became ill and weak
(d) he left hunting
Answer:
(b) he missed his target

Question 10.
The king brought a gift for his son on his third birthday. What was it?
(a) A golden aeroplane
(b) A silver car
(c) A wooden tiger
(d) A beautiful bird toy
Answer:
(c) A wooden tiger

Question 11.
How many tigers had the Maharaja killed within ten years ?
(a) 80
(b) 60
(c) 70
(d) 90
Answer:
(c) 70

Question 12.
Where was the hundredth tiger kept hidden ?
(a) In a park
(b) In a forest
(c) In dewan’s house
(d) none of these
Answer:
(c) In dewan’s house

Question 13.
From where were the doctors called to operate the king ?
(a) Bombay
(b) Calcutta
(c) Jaipur
(d) Madras
Answer:
(d) Madras

Question 14.
The state astrologer warned the king to remain careful while hunting the :
(a) 1st tiger
(b) 99th tiger
(c) 100th tiger
(d) all the tigers
Answer:
(c) 100th tiger

Short Answer Type Questions

Question 1.
What miracle happened when the Tiger King was just an infant ?
जब व्याघ्र राजा एक शिशु ही था, उस समय क्या चमत्कार हुआ ?
Or
What miracle did the ten day old future Tiger King perform ? How did it affect the peoeple who listened to him ?
दस दिन आयु के भावी व्याघ्र राजा ने क्या चमत्कार कर दिखाया? जिन लोगों ने उसे सुना उन पर क्या प्रभाव पड़ा?
Answer:
At the age of ten days, the future Tiger King asked the astrologers the cause of his death. All the people who listened to it were surprised.

दस दिन की उम्र में भाती व्याघ्र राजा ने ज्योतिषियों से अपनी मृत्यु का कारण पूछा । सभी लोग जिन्होंने इसे सुना, आश्चर्यचकित थे।

Question 2.
What prediction was made at the Tiger King’s birth ?
व्याघ्र राजा के जन्म के समय क्या भविष्यवाणी की गई ?
Answer:
At the Tiger King’s birth, royal astrologers predicted that he would grow up as a great warrior, hero and champion. His death was predicted to be caused by a tiger.

व्याघ्र राजा के जन्म के समय राज-ज्योतिषियों ने भविष्यवाणी की कि वह बड़ा होकर एक महान योद्धा, नायक व विजेता बनेगा भविष्यवाणी की गई कि उसकी मृत्यु एक व्याघ्र के कारण होगी ।

Question 3.
How did the infant react to the prediction regarding himself ?
स्वयं के विषय में भविष्यवाणी के प्रति शिशु की कैसी प्रतिक्रिया रही ?
Answer:
The astrologers predicted that the infant would have to die one day. At this, the infant asked them to tell the cause of his death.

ज्योतिषियों ने भविष्यवाणी की कि उस शिशु की एक दिन मृत्यु अवश्य होगी । इस पर शिशु ने उनसे अपनी मृत्यु का कारण बताने को कहा।

Question 4.
How did the chief astrologer explain the manner of the Tiger King’s death ?
प्रधान ज्योतिषी ने व्याघ्र राजा की मृत्यु के तरीके की किस प्रकार व्याख्या की ?
Answer:
The chief astrologer explained that the Tiger King was born in the hour of the Bull. The bull and the tiger are enemies. Therefore, a tiger would be the cause of his death.

प्रधान ज्योतिषी ने व्याख्या की कि व्याघ्र राजा वृषभ (राशि) के प्रभाव में पैदा हुआ है । वृषभ और व्याघ्र शत्रु हैं । इसलिए उसकी मृत्यु का कारण एक व्याघ्र होगा।

Question 5.
How was the crown prince brought up?
युवराज का पालन-पोषण किस प्रकार हुआ ?
Answer:
The crown prince was brought up by an English nanny. He drank milk of an English cow. He was given tuition in English by an Englishman. He saw only English films.

युवराज का पालन-पोषण एक अंग्रेज धाय ने किया। वह एक अंग्रेजी गाय का दूध पीता था । एक अंग्रेज उसे ट्यूशन देता था। वह केवल अंग्रेजी फिल्में ही देखता था ।

Question 6.
Why did the Maharaja start hunting tigers?
महाराजा ने व्याघ्रों का शिकार करना क्यों शुरू किया ?
Answer:
At the time of the Maharaja’s birth, his death was predicted to be caused by a tiger. On knowing this, he decided to kill tigers to defend himself. He started hunting tigers.

महाराजा के जन्म के समय उनकी मृत्यु एक व्याघ्र द्वारा होने की भविष्यवाणी की गई थी । यह जानकर उन्होंने आत्मरक्षा के लिए व्याघ्रों को मारने का निश्चय किया । उन्होंने व्याघ्रों का शिकार करना शुरू कर दिया।

Question 7.
On killing his first tiger, the Maharaja showed it to the state astrologer. What does this signify?
अपना पहला व्याघ्र मारने पर महाराजा ने उसे राज ज्योतिषी को दिखाया । यह बात किस ओर इंगित करती है?
Answer:
The state astrologer had predicted the Maharaja’s death by a tiger. He showed his first prey to the astrologer to prove him wrong.

राज ज्योतिषी ने महाराजा की मृत्यु एक व्याघ्र के द्वारा होने की भविष्यवाणी की थी। उन्होंने ज्योतिषी को गलत सिद्ध करने के लिए अपने द्वारा मारा गया पहला व्याघ्र उसे दिखाया।

Question 8.
What was the state astrologer’s reaction to see the first tiger killed by the Maharaja?
महाराजा के द्वारा मारे गये पहले व्याघ्र को देखकर राज ज्योतिषी ने क्या प्रतिक्रिया की ?
Answer:
He said that his prediction could not be false. The Maharaja might kill ninety nine tigers but he must be alert against the hundredth tiger.

उसने कहा कि उसकी भविष्यवाणी झूठी नहीं हो सकती है । भले ही महाराजा निन्यानवे व्याघ्रों को मार डालें परन्तु उन्हें सौवें व्याघ्र से सावधान रहना होगा।

Question 9.
Why was tiger hunting banned in Pratibandapuram?
प्रतिबन्धपुरम में व्याघ्रों के शिकार पर प्रतिबन्ध क्यों लगा दिया गया ?
Answer:
The tiger hunting was banned there because the Maharaja himself wanted to hunt all the tigers.

वहाँ उनके अलावा किसी और द्वारा व्याघ्र का शिकार करने पर प्रतिबन्ध लगा दिया गया क्योंकि महाराजा स्वयं सभी व्याघ्रों का शिकार करना चाहते थे ।

Question 10.
Give an instance to prove the Maharaja’s bravery.
महाराजा की वीरता सिद्ध करने वाला एक उदाहरण दीजिए ।
Answer:
When the Maharaja’s bullet missed its mark during some tiger hunting, he would fight the beast without arms. Whenever he had such fights, he always won.

जब किसी व्याघ्र के शिकार के दौरान महाराजा की गोली का निशाना चूक जाता था तो वह निहत्थे ही उस जंगली जानवर से लड़ते थे। जब कभी उनकी ऐसी लड़ाइयाँ हुईं, वह हमेशा विजयी रहे |

Question 11.
What brought the Maharaja’s mission to a standstill ?
महाराजा का अभियान किस कारण बीच में ही रुक गया ?
Answer:
When he had killed seventy tigers, the tiger population became extinct in his state. He found no tigers to kill. This brought his mission to a standstill.

जब वह सत्तर व्याघ्रों को मार चुके थे, तब उनके राज्य में व्याघ्रों की जनसंख्या लुप्त हो गई । उन्हें मारने के लिए कोई व्याघ्र नहीं मिले । इस कारण उनका अभियान बीच में ही रुक गया

Question 12.
What celebrations took place at the hundredth tiger’s killing ?
सौवें व्याघ्र के मारे जाने पर क्या आयोजन किये गये ?
Answer:
The dead tiger was brought to the capital of Pratibandapuram in a procession. The procession was taken through the town. There the tiger was buried. A tomb was erected over it.

व्याघ्र को एक जुलूस के रूप में प्रतिबन्धपुरम की राजधानी में लाया गया । जुलूस को पूरे शहर से होकर गुजारा गया । वहाँ व्याघ्र को दफना दिया गया । इसके ऊपर एक मकबरा बना दिया गया ।

Question 13.
What dispelled the Maharaja’s gloom?
महाराजा का दु:ख कैसे दूर हुआ ?
Answer:
There came a news of sheep’s disappearance from a village. This hinted a tiger’s presence. Now his gloom was dispelled.

एक गाँव से भेड़ों के गायब होने का समाचार आया । यह एक व्याघ्र की उपस्थिति का संकेत था । अब महाराजा का दु:ख दूर हो गया ।

Question 14.
What posed the danger of job loss before the dewan ?
दीवान के सामने नौकरी जाने का खतरा कैसे उत्पन्न हुआ ?
Answer:
When Maharaja had killed ninety nine tigers, the hundredth tiger was nowhere to be found. This made him angry. The dewan was asked to either find a tiger or lose his job.

जब महाराजा निन्यानवे व्याघ्र मार चुके तो सौवां व्याघ्र कहीं नहीं मिल रहा था । इससे महाराजा नाराज हो गये । दीवान को कहा गया कि या तो वह सौवां व्याघ्र ढूँढे या नौकरी छोड़ दे ।

Question 15.
Who was the Tiger King ? Why did he get that name ?
व्याघ्र राजा कौन था ? उसका यह नाम क्यों पड़ा?
Answer:
The Tiger King was the Maharaja of Pratibandapuram, but he was better known as the Tiger King. He got this name because he had killed one hundred tigers.

पुरम् का राजा था जिसे व्याघ्र राजा के नाम से अधिक जाना जाता था । उसका यह नाम इसलिये पड़ा क्योंकि उसने सौ व्याघ्र मार दिये थे ।

Question 16.
“You may kill even a cow in self-defence”. What did this old saying mean to the Tiger King ?
“आत्म-रक्षा में आप एक गाय को भी मार सकते हैं ।” इस पुरानी कहावत का व्याघ्र राजा के लिये क्या अर्थ था ?
Answer:
This old saying meant for the Tiger King that if a cow can be killed in self-defence, there is no harm in killing a tiger in self-defence.

इस पुरानी कहावत का व्याघ्र राजा के लिये अर्थ था कि यदि आत्म-रक्षा में एक गाय को मारा जा सकता है तो फिर आत्म-रक्षा में एक व्याघ्र को मारने में कोई नुकसान नहीं है ।

Question 17.
Why did the British officer want to kill a tiger ? Could he kill the tiger ?
अंग्रेज अधिकारी व्याघ्र को क्यों मारना चाहता था ? क्या वह व्याघ्र को मार सका ?
Answer:
The British officer was fond of hunting tigers. He could not kill the tiger because the Tiger King refused permission.

वह अंग्रेज अधिकारी व्याघ्रों का शिकार करने का शौकीन था । वह बाघ को नहीं मार सका क्योंकि व्याघ्र राजा ने उसे स्वीकृति देने से मना कर दिया ।

Question 18.
What was the reason that the Tiger King had come very close to losing his throne ?
क्या कारण था कि व्याघ्र राजा अपना सिंहासन खोने के करीब आ गया था ?
Answer:
A high British officer wanted to hunt a tiger in the Maharaja’s state but was not granted permission. So, the Maharaja came very close to losing his throne.

एक उच्च अंग्रेज अधिकारी महाराजा के राज्य में व्याघ्र का शिकार करना चाहता था। परन्तु उसको इजाजत नहीं दी गई। अतः महाराजा के सामने अपना राज्य खोने की स्थिति उत्पन्न हो गई।

Question 19.
What gift did the Tiger King wish to give his son on his third birthday?
व्याघ्र राजा ने अपने बेटे के तीसरे जन्मदिन पर उसे क्या उपहार देना चाहता था ?
Answer:
The Tiger King wished to give some special gift on his son’s third birthday. It was a wooden toy tiger.
व्याघ्र राजा अपने बेटे के तीसरे जन्मदिन पर उसे कुछ खास उपहार देना चाहता था । यह लकड़ी का खिलौना व्याघ्र था ।

Question 20.
Narrate the ultimate end of the Tiger King.
Tiger King के अंत का वर्णन कीजिए ।
Answer:
One day, the Tiger King was playing with his son with a wooden tiger. Its surface had rough thin pieces of wood. One such piece pierced his hand and made a wound which took his life.

एक दिन व्याघ्र राजा अपने पुत्र के साथ लकड़ी के व्याघ्र से खेल रहा था । उसकी सतह पर लकड़ी के खुरदरे पतले टुकड़े थे । ऐसा एक टुकड़ा उसके हाथ में घुस गया और एक घाव बना दिया जिसने उसके प्राण ले लिए ।

Question 21.
What did the Maharaja do to get more tigers to hunt ?
शिकार के लिये और व्याघ्र पाने के लिये राजा ने क्या किया ?
Answer:
To get more tigers to hunt, the king married a princess from a state which had great population of the tigers.

और अधिक व्याघ्र पाने के लिए राजा ने एक ऐसे राज्य की राजकुमारी से शादी कर ली जहाँ व्याघ्रों की बड़ी आबादी थी ।

Question 22.
Why did the Maharaja order the Diwan to double the land tax ?
महाराजा ने दीवान को भूमि कर दुगुना कर देने का आदेश क्यों दिया?
Answer:
When the Maharaja was not able to get a glance of the tiger even after a three day long wait, he got angry. He ordered the Diwan to double the land tax for that village.

जब महाराजा को तीन दिन के लम्बे इन्तजार के बाद भी व्याघ्र की झलक नहीं मिली तो वह क्रुद्ध हो गया। उसने दीवान को उस गाँव के लिये भूमि कर दुगुना करने का आदेश दिया।

Question 23.
How did the Tiger King’s Diwan prove to be resourceful ? ।
व्याघ्र राजा का दीवान किस प्रकार जुगती (जुगाड़ करने वाला) सिद्ध हुआ?
Or
How did the hundreth tiger reach to forest ?
सौंवा व्याघ्र जंगल में किस प्रकार पहुँचा?
Answer:
Worried Diwan anyhow managed an old tiger from people’s park, Madras and left it in forest where the Maharaja was waiting for his hundredth tiger.

चिन्तित दीवान ने जिस किसी तरह से एक बूढ़े व्याघ्र का पीपुल्स पार्क, मद्रास से इंतजाम किया तथा उसे जंगल में छोड़ दिया जहाँ महाराजा अपने सौवें व्याघ्र की शिकार की प्रतीक्षा कर रहे थे।

Question 24.
When did the Tiger King decide to get married ?
व्याघ्र राजा ने विवाह करने का निश्चय कब किया?
Answer:
When the Tiger King had killed all tigers of his state, then he decided to get married with the princess of such state that had large number of tigers.

जब व्याघ्र राजा अपने राज्य के सभी व्याघ्रों को मार चुका था तो उसने ऐसे राजा की राजाकुमारी से विवाह । करने का निर्णय किया जिसके राज्य में बड़ी संख्या में व्याघ्र हों ।

Question 25.
What made the chief astrologer place his finger on his nose ?
मुख्य ज्योतिषी को अपनी अंगुली नाक पर क्यों रखनी पड़ी?
Answer:
The wonder that the chief astrologer felt when the ten day old baby Tiger King started speaking, made him place his finger on his nose. मुख्य ज्योतिषी को आश्चर्य से अंगुली अपनी नाक पर रखनी पड़ी जब उन्होंने एक दस दिवसीय शिशु को बोलते हुए पाया ।

Question 26.
How much money did theTiger King pay to the British Jewellers for rings ?
ब्रिटिश आभूषण निर्माता कम्पनी को व्याघ्र राजा द्वारा अंगूठियों के लिये कितना धन देना पड़ा?
Answer:
The Tiger King had to pay a sum of three lakh rupees to the British Jewellers for rings.

व्याघ्र राजा द्वारा ब्रिटिश आभूषण निर्माता कम्पनी को तीन लाख रुपये की धनराशि चुकानी पड़ी।

Long Answer Type Questions

Question 1.
What was the rumour rife in Pratibandapuram ?
प्रतिबन्धपुरम में सब ओर क्या अफवाह फैली थी ?
Answer:
There was a rumour rife in Pratibandapuram regarding the king. It was about a miracle that took place at the time of his birth. The astrologers predicted that he would have to die one day. At this the future king asked in a clear voice the manner of his death. The. astrologer told that a tiger would be the cause of his death. The arstrologer told that a tiger would be the cause of his death. The people often discussed this incident.

प्रतिबन्धपुरम में सब ओर राजा के बारे में एक अफवाह फैली थी । यह अफवाह राजा के जन्म के समय हुए एक चमत्कार के विषय में थी । ज्योतिषियों ने भविष्यवाणी की थी कि वह (राजा) एक दिन अवश्य मरेगा । भविष्य में होने वाले राजा ने स्पष्ट आवाज़ में अपने मरने का तरीका पूछा । ज्योतिषी ने बताया कि कोई व्याघ्र उसकी मृत्यु का कारण होगा । लोग इस घटना के बारे में प्रायः चर्चा करते थे ।

Question 2.
Describe the episode when the Maharaja stood in danger of losing his kingdom. How did he solve the crisis ?
उस घटना का वर्णन कीजिए जब महाराजा के सामने अपना राज्य छिनने का खतरा उत्पन्न हो गया था । वह संकट से किस प्रकार बाहर निकले ?
Answer:
Once, a British officer visited Pratibandapuram: He wished to hunt tigers. But the Maharaja refused permission as he had resolved to hunt all tigers by himself. Now for preventing a British officer from fulfilling his desire, the Maharaja stood in danger of losing his kingdom. By sending precious diamond rings as a gift, he solved the crisis.

एक बार एक अंग्रेज अधिकारी प्रतिबन्धपुरम में भ्रमण पर आया। उसने व्याघ्रों के शिकार की इच्छा प्रकट की। लेकिन महाराजा ने अनुमति नहीं दी क्योंकि उन्होंने स्वयं सभी व्याघ्रों का शिकार करने का निश्चय किया था । अब एक अंग्रेज अधिकारी को उसकी इच्छापूर्ति करने से रोकने के कारण महाराजा के सामने अपना राज्य छिनने का खतरा उत्पन्न हो गया । हीरे की कीमती अंगूठियाँ उपहारस्वरूप भेजकर वह उस संकट से बाहर निकले ।

Question 3.
What prediction did the astrologers make about the manner of the Tiger King’s death ? How did the prediction come true ?
व्याघ्र राजा की मृत्यु के बारे ज्योतिषियों ने क्या भविष्यवाणी की थी ? वह भविष्यवाणी किस प्रकार सत्य हुई?
Or
What was the prediction of astrologers regarding the ultimate fate of the Tiger King ? How did it come to be true ? Describe with reference to the story.
व्याघ्र राजा के अंतिम भाग्य के बारे में ज्योतिषियों ने क्या भविष्यवाणी की थी? यह किस प्रकार सत्य हुई? इस कहानी के सन्दर्भ में वर्णन कीजिये।
Answer:
The royal astrologers’ prediction was that the Tiger King would be killed by a tiger. On his son’s birthday, he bought a wooden toy-tiger. A sliver from its rough surface pierced into his hand. Ultimately, the infection proved fatal. Thus, the prediction proved true.

शाही ज्योतिषियों ने भविष्यवाणी की थी कि राजा की मृत्यु एक व्याघ्र के द्वारा होगी । अपने बेटे के जन्मदिन पर उसने लकड़ी का एक व्याघ्र खिलौना खरीदा। उस खिलौने की खुरदरी सतह से एक फांस उसके हाथ में चुभ गई। अन्त में संक्रमण घातक सिद्ध हुआ। इस प्रकार भविष्यवाणी सच्ची सिद्ध हुई ।

Question 4.
How was the hundredth tiger killed ?
सौवाँ व्याघ्र कैसे मारा गया ?
Answer:
The Dewan had brought this tiger from the People’s Park in Madras and kept it hidden in his house. To protect his job, he had secretly brought the tiger to the forest for the Maharaja’s hunt. He shot at the tiger and it fell down. The Maharaja’s bullet had missed its mark. Later on, one of the hunters shot the tiger. This time the tiger was killed.

इस बाघ को दीवान मद्रास के पीपल्ज़ पा:क से लाया था जिसे उसके घर में छुपाकर रखा गया था । अपनी नौकरी बचाने हेतु वह (दीवान) चुपके से इस व्याघ्र को उस जंगल में राजा के शिकार के लिये ले आया था। उन्होंने व्याघ्र पर गोली चलाई और वह गिर पड़ा । महाराजा की गोली का निशाना चूक गया था । बाद में शिकारियों में से एक ने व्याघ्र को गोली मार दी । इस बार व्याघ्र मर गया ।

Question 5.
Why did the Tiger King decide to kill a hundred tigers? Describe the efforts he made to attain his target.
व्याघ्र राजा ने एक सौ व्याघ्रों को मारने का निश्चय क्यों किया? उसके इस लक्ष्य प्राप्ति हेतु किये गये प्रयासों का वर्णन कीजिये।
Answer:
The Tiger King decided to kill a hundred tigers because it was predicated that he would be killed by the 100th tiger. He, then, spent much time and made many efforts to fulfil his target of killing a hundred tigers. He stayed in the forest for many days and nights. The Tiger King even married a girl from another kingdom which had a large tiger population, when tigers became extinct in his own kingdom.

व्याघ्र राजाने एक सौ व्याघ्र मारने का निश्चय किया क्योंकि ऐसी भविष्यवाणी की गई थी कि सौवें व्याघ्र द्वारा उनकी मृत्यु होगी। तब उन्होंने अपने एक सौ व्याघ्र मारने के लक्ष्य की पूर्ति करने में ज्यादातर समय बिताया और कई प्रयास किये। वह कई दिन व रातें जंगल में ही रुका रहा। यहाँ तक कि व्याघ्र राजा ने जब अपने राज्य में व्याघ्र विलुप्त होने लगे तो एक ऐसे अन्य राज्य की लड़की से विवाह किया जहाँ व्याघ्रों की संख्या अधिक थी।

Chapter 2 – The Tiger King Questions and Answers