उपसर्ग एवं प्रत्यय

‘उपसर्ग’ शब्द उप’ एवं ‘सर्ग’ शब्द के मेल से बना है, जिसमें ‘सर्ग’ मूल शब्द है, जिसको अर्थ होता है- ग्रंथ को अध्याय, जोड़ना, रचना, निर्माण करना आदि। यानी मूल शब्दों के पहले अथवा आगे जो शब्दांश लगाए जाते हैं, वे उपसर्ग कहलाते हैं।
इस प्रकार मूल शब्द से पहले जुड़कर जो शब्दांश उस शब्द के अर्थ में परिवर्तन ला देते हैं, वे उपसर्ग कहलाते हैं।

उपसर्ग के भेद
हिंदी भाषा में चार प्रकार के उपसर्ग होते हैं।

  • संस्कृत के उपसर्ग
  • हिंदी के उपसर्ग
  • उर्दू के उपसर्ग
  • संस्कृत के अव्यय

संस्कृत के उपसर्ग

उपसर्ग

अर्थ

शब्द रचना

अव

बुरा, हीन, नीच

अवगुण, अवनति, अवशेष, अवतार, अवज्ञा, अवसान

उत/उद्

ऊँच, श्रेष्ठ, ऊपर, उत्कर्ष

उत्पत्ति, उत्कर्ष, उत्थान, उत्साह, उत्सव, उद्घाट, उद्भव, उद्घाटन, उद्घोष

दुर

बुरा, कठिन

दुर्घटना, दुर्बल, दुर्जन, दुर्गुण, दुर्लभ, दुरात्मा, दुर्भाग्य

नि

नीचे, निपुणता के साथ

निम्न, निबंध निवेदन, निवारण, निचला, निवास

हिंदी के उपसर्ग

उपसर्ग

अर्थ

शब्द रचना

औ/अव

हीनता, रहित

औगुण, औघट, अवनति, अवगुण, अवतार

अभाव, निषेध

अनजान, अनपढ़, अनादि, अनुपस्थित, अनमोल, अनबन

अः अन

नहीं

अनाथ, अछूत, अनपढ़, अनहोनी, अनचाहा

बिन

बिना/रहित

बिनमाँगा, बिनकहा, बिनब्याहा, बिनसुना

उर्दू के उपसर्ग और शब्द

उपसर्ग

अर्थ

शब्द रचना

बे

बिना

बेईमान, बेरहम, बेगुनाह, बेकार बेचारा

खुश

अच्छा

खुशहाल, खुशबू, खुशदिल, खुशनसीब

ना

नहीं

नाखुश, नासमझ, नादान, नालायक, नाकाम

बद

बुरा

बदनाम, बदबू, बदसूरत, बदकिस्मत, बदमाश

कम

थोड़ा

कमज़ोर, कमउम्र, कमअक्ल

उपसर्ग की तरह प्रयोग किए जाने वाले संस्कृत के अव्यय

अधः नीचे – अध:पतन – अधोगति, अधोमुख अधोमार्ग
आन – मिलान, उठान, उड़ान, लगान, ढलान
अक्कड़ – भुलक्कड़, घुमक्कड़, कुदक्कड़
स – सहित – सपरिवार, सचित्र, सप्रसंग, सजल, सफल
ई – रेती, कटारी, हँसी, बोली, घाटी, डोरी

प्रत्यय – जो शब्दांश किसी शब्द के अंत में जुड़कर उसके अर्थ में विशेषता या परिवर्तन लाते हैं, उन्हें प्रत्यय कहते हैं।

उपसर्ग और प्रत्यय में समानता
ये दोनों ही शब्दों के अंश होते हैं, पूर्ण शब्द नहीं। इनका अकेले प्रयोग नहीं किया जाता। दोनों के प्रयोग से ही शब्द के अर्थ में अंतर आता है। एक शब्द में ये दोनों भी जोड़े जा सकते हैं, जैसे

उपसर्ग

मूल शब्द

प्रत्यय

नया शब्द

अभि

स्व

मान
ज्ञान
तंत्र



ता

अभिमानी
अज्ञानी
स्वतंत्रता

उपसर्ग और प्रत्यय में अंतर
उपसर्ग शब्द के पूर्व जुड़ते हैं तथा प्रत्यय शब्द के अंत में; जैसे-
प्रति (उपसर्ग) दिन (शब्द) प्रतिदिन
रख (शब्द) + वाला प्रत्यय रखवाला

बहुविकल्पी प्रश्न

नीचे दिए गए शब्दों के लिए प्रयुक्त उपसर्गों के सही विकल्प को चिह्नित कीजिए।
1. दुर्बल
(i) दुर
(ii) दु
(iii) दुर्ग
(iv) ति

2. आजीवन
(i) अ
(ii) आ
(iii) आज
(iv) आजी

3. प्रतिक्षण
(i) प्र.
(ii) प्रति
(iii) प्रत
(iv) कूल

4. बेसहरा
(i) बेस
(ii) ब
(iii) बे
(iv) समझ

5. दुर्गति
(i) दु
(ii) दुर
(iii) दुर्द
(iv) दशा

6. प्रतिक्षण
(i) प्र
(ii) प्रति
(iii) क
(iv) कूल

7. कमजोर
(i) अक्ल
(ii) कम्
(iii) क
(iv) कम

8. सुराज्य
(i) स
(ii) सु
(iii) सुरा
(iv) सुरा

उत्तर-
1. (i)
2. (ii)
3. (ii)
4. (iii)
5. (ii)
6. (ii)
7. (iv)

उपसर्ग एवं प्रत्यय 7