7The Adventure [साहसिक कार्य]

-Jayant Narlikar

TEXTBOOK QUESTIONS

Understanding the Text :

I. Tick the statements that are true.

1. The story is an account of real events.

2. The story hinges on a particular historical event.

3. Rajendra Deshpande was a historian.

4. The places mentioned in the story are all imaginary.

5. The story tries to relate history to science.

Ans. (1) false (2) true (3) false (4) false (5) true.

II. Briefly explain the following statements from the text :

पाठ के निम्न कथनों को संक्षेप में समझाइए-

1. “You neither travelled to the past nor the future. You were in the present experiencing a different world.”

“आप न तो भूतकाल में चले गये थे न ही भविष्य में। आप वर्तमान में ही एक-दूसरे संसार का अनुभव कर रहे थे।”

Ans. Professor Gaitonde has undergone a strange experience. He was hit by a truck and lost consciousness. Before this accident he was thinking about the Panipat battle between the Marathas and Abdali. His mind continued working though he was unconscious after the accident. His mind takes him to the Town Hall Library in Bombay—where he reads a book which narrates the victory of the Marathas in the battle. His mind also takes him to the Azad Maidan where a seminar (a lecture) is going on and he occupies the chair of the president. Gaitonde feels the difference between the world he knows and the world he experienced for two days. Rajendra Deshpande explains to him that Gaitonde neither travelled to the past nor to future. He only experienced another world. डिशा प्रोफेसर गाइटोंडे को एक विचित्र अनुभव हुआ है। उन्हें एक ट्रक ने टक्कर मार दी थी जिससे उनका होश जाता रहा। इस दुर्घटना के ठीक पहले तक वे मराठा और अब्दाली के बीच हुए पानीपत युद्ध के बारे में सोच रहे थे। वे बेहोश हो गये थे किन्तु उनका मस्तिष्क काम कर रहा था। उनका मस्तिष्क उन्हें बम्बई के टाउन हॉल पुस्तकालय में ले जाता है। वहाँ वे एक ऐसी पुस्तक पढ़ते हैं जो पानीपत युद्ध में मराठों की विजय का विवरण देती है। मस्तिष्क ही उन्हें आजाद मैदान में ले जाता है जहाँ एक व्याख्यान चल रहा है और प्रो. गाइटोंडे वहाँ अध्यक्ष की खाली कुर्सी पर बैठ जाते हैं। गाइटोंडे को महसूस होता है कि जिस संसार को वे जानते हैं और जिसका उन्होंने पिछले दो दिनों तक अनुभव किया अलग-अलग हैं। राजेन्द्र देशपांडे उन्हें समझाते हैं कि वे न तो भूतकाल में गये न ही भविष्य में। उन्होंने तो सिर्फ एक भिन्न संसार का अनुभव किया है।

2. “You have passed through a fantastic experience; or more correctly, a catastrophic experience.”

“आप एक अद्भुत अनुभव से गुजरे हैं, या यह कहना ज्यादा ठीक होगा कि केटेस्ट्रोफिक (इतिहास निर्णायक) अनुभव से गुजरे हैं।”

Ans. Prof. Gaitonde lost consciousness after a truck hit him during his evening stroll. He was found lying on the road the next morning. When he came to senses he narrated his experiences to Rajendra Deshpande. Before the accident he had been thinking about the Panipat war between the Marathas and Abdali. He was to deliver a lecture on “What course history would have taken if the result of the battle of Panipat had gone the other way.” i.e. if the Marathas had won. During his unconsciousness he began to retrace Indian history from the battle till the end of the 20th century. He experienced that the Marathas chased away Abdali. He also perceived that the British could not conquer India. India remained independent, self-confident and proud. When he wakes up he returns to a different world.

प्रोफेसर गाइटोंडे शाम को सड़क पर घूमते हुए एक ट्रक से टकरा कर बेहोश हो गये। अगली सुबह वे सड़क पर पड़े हुए पाये गये। जब वे होश में आये तो अपने अनुभव राजेन्द्र देशपांडे को सुनाने, लगे। दुर्घटना के पहले वे मराठों और अब्दाली में हुए पानीपत युद्ध के बारे में सोच रहे थे। उन्हें एक व्याख्यान देना था जिसका विषय था—’अगर पानीपत की लड़ाई का नतीजा भिन्न होता तो इतिहास कौनसा रास्ता लेता।’ अर्थात् अगर मराठे जीत गये होते। बेहोशी के दौरान उन्होंने पानीपत के युद्ध से लेकर बीसवीं सदी के अन्त तक के इतिहास को नये सिरे से खोजा। उन्होंने अनुभव किया कि मराठों ने अब्दाली को पीछा करके भगा दिया। उन्होंने यह भी देखा कि अंग्रेज भारत को नहीं जीत सके। भारत आजाद, आत्मविश्वासपूर्ण और अभिमानी बना रहा। जब वे होश में आते हैं तो अपने आप को एक भिन्न संसार में पाते हैं।

3. Gangadhar Pant could not help comparing the country he knew with what he was witnessing around him.

गंगाधर पंत जिस संसार में जा पहुँचे थे वहाँ के भारत को अपने जाने-पहचाने भारत से तुलना किये बिना नहीं रह सके।

Ans. The country known to Gangadhar Pant is the real India that all of us know. After the battle of Panipat this real India began to grow weaker and poorer. This India was later conquered by the British. The British ruled the country for more than 150 years. India became a British colony. The country lost its self-confidence and pride. However, Gangadhar Pant reached a different India during his unconsciousness. He saw that the Marathas chased away Abdali from India. The British also failed to conquer and rule this country. India had only some trade relationship with the British. The Marathas were the supreme political power in India till the 20th century. Finally Marathas were replaced by democratic rule. नि

गंगाधर पंत का जाना-पहचाना देश यही भारत है जिसे हम सब जानते हैं। पानीपत की लड़ाई के बाद यह असली भारत निर्धन और कमजोर होता चला गया। बाद में इस भारत को अंग्रेजों ने जीत लिया। अंग्रेजों ने इस देश पर 150 वर्ष से ज्यादा शासन किया। भारत ब्रिटेन का उपनिवेश बन गया। देश ने आत्मविश्वास और अभिमान खो दिया। गंगाधर पंत अपनी बेहोशी के दौरान एक-दूसरे ही भारत में पहुँच गये थे। उन्होंने देखा कि मराठों ने अब्दाली को पराजित करके भारत से भगा दिया था। अंग्रेज भी इस देश पर अधिकार अथवा शासन नहीं कर सके। भारत ने अंग्रेजों से सिर्फ कुछ व्यापारिक सम्बन्ध बनाये थे। 20वीं सदी तक मराठे ही सर्वोच्च राजनीतिक शक्ति बने रहे। अन्त में मराठों की जगह लोकतान्त्रिक व्यवस्था आ गई।

4. ‘The lack of determinism is in quantum theory!’

‘क्वांटम सिद्धान्त में नियतिवाद का अभाव है!’

Ans. Quantum theory is a theory in physics. If an electron is fixed from a source it will rotate round the nucleus of the atom. It has been observed that it does not follow a definite course. It can be observed at one point of place at one point of time. It goes on changing its path. It is totally unpredicatable. Now imagine that our earth is moving round the sun like an electron round its nucleus. The earth has no definite path. Nothing can be known about where it will be the next moment. In this situation everything is beyond our guess or plan. Everything is uncertain. There is no plan or no idea of future. A man can experience different worlds at different moments.

___ क्वांटम सिद्धान्त भौतिकी का सिद्धान्त है। अगर किसी इलेक्ट्रोन को चालित किया जाये तो यह परमाणु के केन्द्रक के चक्कर लगाता रहेगा। देखा गया है कि इलेक्ट्रोन किसी निश्चित मार्ग पर नहीं चलता। इसे किसी भी समय के बिन्दु पर किसी स्थान के बिन्दु पर देखा जा सकता है। यह अपने मार्ग को बदलता रहता है। यह पूरी तरह अनिश्चित राह पर है। अब कल्पना कीजिए कि हमारी पृथ्वी भी सूर्य के चारों तरफ उसी तरह घूम रही है जैसे इलेक्ट्रोन केन्द्रक के चारों तरफ घूमता है । पृथ्वी का भी कोई निश्चित मार्ग नहीं है। अगले क्षण यह कहाँ होगी यह नहीं जाना जा सकता। ऐसी हालत में सब कुछ हमारे अंदाजे और योजना से बाहर होगा। सब कुछ अनिश्चित होगा। कोई योजना अथवा भविष्य का विचार नहीं होगा। एक आदमी भिन्न-भिन्न क्षणों में अलग-अलग संसारों में हो सकता है।

5. “You need some interaction to cause a transition.”

“परिवर्तन के लिए कोई क्रिया-प्रतिक्रिया आवश्यक होती है।”

Ans. Professor Gaitonde and Rajendra are talking about catastrophe theory of history. The theory means that small events bring big changes in the course of history. Before his

collision with the truck Prof. Gaitonde was thinking about what course history would have taken if Marathas had defeated Abdali. If Vishwasrao had escaped the bullet Marathas would have been greatly inspired. They could have chased Abdali to Kabul. But the bullet killed Vikshwasrao and the Marathas lost their morale completely. Prof. Gaitonde was wondering about these possibilities when he was hit by a truck. In the unconscious state the neurons in his mind acted as a trigger to change the history of India from the Panipat war onwards. ____

प्रो. गाइटोंडे और राजेन्द्र इतिहास की केटेस्ट्रोफी थियरी पर चर्चा कर रहे हैं । यह सिद्धान्त बताता है कि छोटी घटनाएँ बड़े ऐतिहासिक परिवर्तन ला देती हैं । ट्रक से टकराने के पहले प्रो. गाइटोंडे यह विचार कर रहे थे कि अगर मराठे अब्दाली से लड़ाई जीत जाते तो इतिहास के क्रम में क्या परिवर्तन हो सकते थे। अगर विश्वासराव गोली से बच जाते तो मराठों में उत्साह फैल जाता। वे अब्दाली को काबुल तक खदेड़ देते। लेकिन गोली ने विश्वासराव को मार डाला और मराठों की हिम्मत पूरी तरह टूट गई। प्रो. गाइटोंडे इसी विषय पर चिन्तन कर रहे थे जब ट्रक ने उनको टक्कर मारी। बेहोशी की हालत में उनके दिमाग के न्यूरोन्स ने प्रेरक का काम किया और उसी प्रभाव से पानीपत युद्ध से बाद का भारत का इतिहास उनकी

दृष्टि में बदल गया।

( ADDITIONAL QUESTIONS

Short Answer Type Questions (Word Limit: 10-15 Words)

Q. 1. Describe the railway station of Victoria Terminus.

विक्टोरिया टर्मिनस रेलवे स्टेशन का वर्णन कीजिए।

Ans. It was a neat and clean place. Most of the railway staff were Anglo-Indians and Parsees with some British officers.

यह एक साफ-सुथरा स्थान था। अधिकांश रेलवे स्टाफ के लोग एंग्लो-इण्डियन्स और फारसी थे कुछ अंग्रेज अफसर सहित।

Q. 2. What shocked Gangadhar Pant after he came out of the railway station?

रेलवे स्टेशन से बाहर आते ही गंगाधर पंत को पहला धक्का क्या लगा?

Ans. Prof. Gaitonde saw a big building which was the headquarters of the East India Company.

प्रो. गाइटोंडे ने एक विशाल भवन देखा जो ईस्ट इण्डिया कम्पनी का हेडक्वार्टर था।

Q. 3. Narrate Prof. Gaitonde’s experiences in the Forbes building.

फोर्बीज बिल्डिंग में प्रो. गाइटोंडे को क्या अनुभव हुआ?

Ans. He asked the receptionist about his son Mr. Vinay Gaitonde. She examined all the staff lists but could not find this name. __

उन्होंने स्वागतकर्ता से अपने पुत्र विनय गाइटोंडे के बारे में पूछा। उसने सारी स्टाफ सूचियाँ देख लीं मगर यह नाम वहाँ नहीं था। ___

Q.4. What was the strange experience of Prof. Gaitonde when he-was reading his own history books?

प्रो. गाइटोंडे को अपनी ही लिखी इतिहास की पुस्तकों को पढ़ते समय क्या विचित्र अनुभव हुआ?

Ans. In the 5th volume he found that the Marathas had conquered Abdali. History had taken a new turn from here.

पाँचवीं किताब में उन्होंने पढ़ा कि मराठों ने अब्दाली को हरा दिया था। यहाँ से इतिहास ने नया मोड़ ले लिया था।

Q. 5. What happened after the ‘imaginary’ victory of the Marathas over Abdali?

अब्दाली पर मराठों की इस ‘काल्पनिक’ विजय के बाद क्या हुआ?

Ans. Victory in this battle was a great morale booster to the Marathas. They established their supremacy in northern India.

__ इस युद्ध में विजय मराठों के लिए बहुत उत्साहवर्धक रही। उन्होंने उत्तरी भारत में अपनी श्रेष्ठता स्थापित कर ली।

Q. 6. What was Professor Gaitonde’s plan of action in Bombay ? ।

प्रोफेसर गाइटोंडे की बम्बई में क्या कार्य-योजना थी?

Ans. He planned to go to a big library and browse through history books.

उनकी योजना थी किसी बड़े पुस्तकालय में जाकर इतिहास की पुस्तकें पढ़ना।

Q. 7. With whom did he plan to have a long talk at Pune ?

पुणे में उनकी किस व्यक्ति से लम्बी बातचीत करने की योजना थी?

Ans. He had a plan to have a long talk with Rajendra Deshpande who would explain what had happened.

____ उनकी योजना थी कि राजेन्द्र देशपांडे से लम्बी बात की जाए ताकि वह जो कुछ हुआ है उसको ठीक तरह से समझा दें।

Q.8. Why does Professor Gaitonde think that history had taken a different turn before 1857 ?

प्रोफेसर गाइटोंडे यह क्यों सोचते हैं कि 1857 के पहले से ही इतिहास ने एक नया मोड़ ले लिया था?

Ans. Professor Gaitonde finds that the East India Company which had been wound up before 1857 was still flourishing.

प्रोफेसर गाइटोंडे देखते हैं कि ईस्ट इण्डिया कम्पनी जो 1857 के पहले ही समाप्त हो गई थी अब भी फल-फूल रही है।

Q. 9. What is the precise moment when history takes a turn? जब इतिहास मोड़ लेता है तो वह स्पष्ट क्षण क्या है?

Ans. The precise is when Professor Gaitonde reads in his own book that the Marathas defeat Abdali in the Battle of Panipat.

स्पष्ट क्षण वह होता है जब प्रोफेसर गाइटोंडे स्वयं की पुस्तक में पढ़ते हैं कि पानीपत के युद्ध में मराठे अब्दाली को हराते हैं।

Q. 10. What does Gaitonde think of a public meeting without a chairperson?

प्रोफेसर गाइटोंडे बिना किसी अध्यक्ष के होने वाली जनसभा के बारे में क्या सोचते हैं?

Ans. He thinks that a public meeting without a chairperson is nonsense. It is like Shakespeare’s ‘Hamlet’ without its hero.

– वह सोचते हैं कि अध्यक्ष के बिना जनसभा करना अर्थहीन है। यह ऐसे है जैसे शेक्सपीयर का नाटक ‘हेमलेट’ बिना अपने नायक (हेमलेट) के हो।

Q. 11. How does Gangadhar Pant disappear in the crowd ?

गंगाधर पंत भीड़ में कैसे अदृश्य हो जाते हैं?

Ans. Gangadhar Pant occupies the presidential chair. People oppose it. At last they eject him from the stage. He disappears.

गंगाधर पंत अध्यक्षीय कुर्सी पर बैठ जाते हैं। लोग विरोध करते हैं। अन्त में लोग उन्हें मंच से हटा देते हैं। तब वे गायब हो जाते हैं।

Q. 12. What had Professor Gaitonde been doing before his collision with the

truck ?

ट्रक से टकराने के पहले प्रो. गाइटोंडे क्या कर रहे थे?

Ans. Professor Gaitonde had been thinking about the catastrophe theory of history before his collision with the truck.

प्रोफेसर गाइटोंडे ट्रक से टकराने के पहले इतिहास के केटेस्ट्रोफी सिद्धान्त (छोटी घटना से इतिहास की दिशा बदल जाना) पर विचार कर रहे थे।

Q. 13. What is meant by lack of determinism in quantum theory ?

क्वांटम सिद्धान्त में पूर्व निश्चितता न होने का क्या अर्थ है?

Ans. An electron fired from its source has no definite orbit. It can be anywhere at any point of time.

एक इलेक्ट्रोन का कोई पूर्व निश्चित मार्ग नहीं होता। वह किसी भी क्षण किसी भी स्थान पर हो सकता

Q. 14. Do there exist many different worlds at the same time according to Rajendra ?

क्या राजेन्द्र के अनुसार बहुत से विश्व एक-साथ अस्तित्व में हो सकते हैं ?

Ans. Yes. There are many alternatives for the world but an observer can experience only one world at a time.

हाँ। विश्व के बहुत से विकल्प हो सकते हैं लेकिन अनुभवकर्ता को एक समय में एक ही विश्व का अनुभव होगा।

Q. 15. Will Professor Gaitonde preside over other meetings in future ?

क्या प्रोफेसर गाइटोंडे भविष्य में अन्य सभाओं की अध्यक्षता करते रहेंगे?

Ans. No. Prof. Gaitonde has decided not to preside over any meeting in future.

नहीं, प्रोफेसर गाइटोंडे ने भविष्य में किसी भी सभा की अध्यक्षता न करने का निश्चय कर लिया है। [Talking about the Text:]

1. Discuss the following statements in groups of two pairs, each pair in group taking opposite point of view :

[Note : Do it yourself in your class with the help of your teacher.]

2. (i) The story is called “The Adventure’. Compare it with the adventure form described in ‘We’re Not Afraid to Die………’

यह कहानी The Adventure’ कहलाती है। इसकी तुलना उस साहसिक कारनामे से कीजिए जिसका वर्णन ‘We’re Not Afraid to Die……. कहानी में किया गया है।

Ans. In the story “The Adventure the adventure of Professor Gaitonde is purely an intellectual search. In the other story “We’re Not Afraid to Die….’, however, the adventure described is that of a voyage round the world. While in that story, the voyager has to face the roughest weather of the ocean while in this story the professor makes himself busy in the history books to find out certain historical facts. However, the end of both the adventures is similar. The voyager anchors safely at the shore of French Island, while the professor succeeds in connecting the catastrophe theory with the battle of Panipat.

The Adventure’ नामक कहानी में प्रोफेसर गाइटोंडे का साहसिक कार्य असल में एक बौद्धिक खोज है। दूसरी कहानी ‘We’re Not Afraid to Die……’ में यद्यपि, साहसिक कार्य सारी दुनिया का चक्कर लगाने वाले नौका-यात्री का है। जहाँ उस कहानी में, नौका-यात्री को समुद्र पर अत्यन्त बुरे मौसम का सामना करना पड़ता है, वहीं इस कहानी में प्रोफेसर ऐतिहासिक तथ्यों की खोज में स्वयं को इतिहास की पुस्तकों में व्यस्त कर लेता है। हालाँकि, दोनों साहसिक कार्यों का अन्त समान होता है। नौका-यात्री सुरक्षित अपनी नौका फ्रांस के टापू पर खड़ी कर देता है जबकि प्रोफेसर संकटकालीन सिद्धान्त को पानीपत के युद्ध के साथ जोड़ने में सफल हो जाता है।

II. Why do you think Professor Gaitonde decided never to preside over meeting again ?

___आपके विचार से प्रोफेसर गाइटोंडे ने पुनः कभी किसी सभा की अध्यक्षता न करने का निश्चय क्यों fall?

Ans. The accident of the Azad Maidan turns the professor into a sad but a wise man. The uncivil and violent reception he gets through the hands of audience makes him hopeless and bitter. He is so much grieved that he decides never to preside over meetings again. When the organisers of Panipat seminar contact him to preside the seminar, he expresses his regrets.

___ आजाद मैदान की दुर्घटना प्रोफेसर को एक अधिक दु:खी, परन्तु अधिक बुद्धिमान मनुष्य में परिणत कर देती है। श्रोताओं के हाथों जो असभ्यतापूर्ण और हिंसक स्वागत उसे मिलता है वह उसे असहाय तथा कड़वा बना देता है। वह इतना दु:खी होता है कि वह यह तय कर लेता है कि अब वह पुनः किसी सभा का सभापतित्व नहीं करेगा। जब पानीपत में होने वाली सभा के आयोजक उससे सभा का सभापतित्व करने की बाबत सम्पर्क करते हैं, तो वह अपना खेद व्यक्त करता है।

Thinking about Language:

Q. 1. In which language do you think Gangadharpant and Khan Sahib talked to each other ? Which language did Gangadharpant use to talk to the English receptionist?

Ans. They talked in Urduised Hindustani. Gangadharpant spoke English with the English receptionist.

Q. 2. In which language do you think Bhausahebanchi Bakhar was written ?

Ans. Marathi.

Q. 3. There is mention of three communities in the story: the Marathas, the Mughals, the Anglo-Indians. Which language do you think they used within their communities and while speaking to the other groups ?

Ans. The Marathas spoke Marathi within their communities and they used Hindi and English while speaking to the other groups.

The Mughals spoke Turkish, Persian and later on Urdu while talking within their own communities and to the other groups.

Anglo-Indians spoke English or local languages while talking within their communities and to the other groups.

Q. 4. Do you think that the ruled always adopt the language of the ruler?

Ans. Yes. This has always happened in History. But, sometimes, the rulers also use the language of the ruled to gain acceptability and popularity.

Working with Words :

I. Tick the item that is closest in meaning to the following phrases :

1. to take issue with—

(i) to accept

(ii) to discuss

(iii) to disagree

(iv) to add

Ans. (ii) to discuss

2. to give vent to

(i) to express

(ii) to emphasise

(iii) suppress

(iv) dismiss

Ans. (i) to express

3. to stand on one’s feet

(i) to be physically strong

(ii) to be independent

(iii) to stand erect

(iv) to be successful

Ans. (i) to be independent

4. to be wound up

(i) to become active

(ii) to stop operating

(iii) to be transformed

(iv) to be destroyed

Ans. (ii) to stop operating

5. to meet one’s match

(i) to meet a partner who has similar tastes

(ii) to meet an opponent

(iii) to meet someone who is equally able as oneself

(iv) to meet defeat

Ans. (iii) to meet someone who is equally able as oneself.

II. Distinguish between the following pairs of sentences.

निम्न वाक्यों के जोड़ों में अन्तर कीजिए।

1. (1) He was visibly moved

(ü) He was visually impaired.

2. (i) Green and black stripes were used alternately.

(ii) Green stripes could be used or alternatively black ones.

3 (i) The team played the two matches successfully.

(ii) The team played two matches successively.

4. (1) The librarian spoke respectfully to the learned scholar.

(i) You will find the historian and the scientist in the archaeology and natural science

sections of the museum respectively.

Ans. 1.(i) Visibly here means clearly.

(i) visually here means regarding eyesight.

2. (i) Alternately here means one after the other. To

niste (ü) Alternatively here means that there is an option.

3. (i) Successfully here means with success.

(i) Successively here means one after the other.de

4. (1) Respectfully here means full of respect or with respect.

(ii) Respectively here means according to order.