Day
Night

Chapter 7 पौधों को जानिए

पाठान्त अभ्यास के प्रश्नोत्तर

प्रश्न 1.
निम्न कथनों को ठीक करके लिखिए –

  1. तना मिट्टी से जल एवं खनिज अवशोषित करता है।
  2. पत्तियाँ पौधे को सीधा खड़ा रखती हैं।
  3. जड़ें जल को पत्तियों तक पहुँचाती हैं।
  4. पुष्प में बाह्यदल एवं पंखुड़ियों की संख्या सदा समान होती है।
  5. यदि किसी पुष्प के बाह्य दल परस्पर जुड़े हों तो उसकी पंखुड़ियाँ भी आपस में जुड़ी होंगी।
  6. यदि किसी पुष्प की पंखुड़ियाँ परस्पर जुड़ी हों तो स्त्रीकेसर पंखुड़ियों से जुड़ा होगा।

उत्तर:

  1. जड़ें मिट्टी से जल एवं खनिज अवशोषित करती हैं।
  2. तना पौधों को सीधा खड़ा रखता है।
  3. तना जल को पत्तियों तक पहुँचाता है।
  4. विभिन्न पुष्पों में बाह्य दल और पंखुड़ियों की संख्या में अन्तर होता है।
  5. यदि किसी पुष्पं के बाह्य दल परस्पर जुड़ें हों तो उसकी पंखुड़ियाँ आपस में जुड़ी भी हो सकती हैं और जुड़ी नहीं भी हो सकती।
  6. यदि किसी पुष्प की पंखुड़ियाँ परस्पर जुड़ी हों तो स्त्रीकेसर पंखुड़ियों से जुड़ा हो सकता है और जुड़ा नहीं भी हो सकता।

प्रश्न 2.
निम्न के चित्र बनाइए –

  1. पत्ती
  2. मूसला जड़
  3. एक पुष्प जिसका आपने सारणी 7.3 में अध्ययन किया हो।

उत्तर:

प्रश्न 3.
क्या आप अपने घर के आस-पास ऐसे पौधे को जानते हैं जिसका तना लम्बा परन्तु दुर्बल हो। इसका नाम लिखिए। आप इसे किस वर्ग में रखेंगे?
उत्तर:
हाँ, अंगूर की बेल का तना लम्बा और दुर्बल होता है। इसे आरोही वर्ग में रखेंगे।

प्रश्न 4.
पौधे में तने का क्या कार्य है?
उत्तर:
पौधे में तने का कार्य जल का संवहन करना, भोजन संग्रह करना, स्थिरता प्रदान करना, मजबूती प्रदान करना तथा पत्तियों से भोजन पौधे के अन्य भागों तक पहुँचाना है।

प्रश्न 5.
निम्न में से किन पत्तियों में जालिका रूपी शिरा विन्यास पाया जाता है?
गेहूँ, तुलसी, मक्का, घास, धनियाँ, गुड़हल।
उत्तर:
तुलसी, धनियाँ और गुड़हल की पत्तियों में जालिका रूपी शिरा-विन्यास पाया जाता है।

प्रश्न 6.
यदि किसी पौधे की जड़ रेशेदार हो तो उसकी पत्ती का शिरा-विन्यास किस प्रकार का होगा?
उत्तर:
यदि किसी पौधे की जड़ रेशेदार हो, तो उसकी पत्ती का शिरा-विन्यास समान्तर शिरा-विन्यास होगा।

प्रश्न 7.
यदि किसी पौधे की पत्ती में जालिका रूपी शिरा-विन्यास हो तो उसकी जड़ें किसी प्रकार की होंगी?
उत्तर:
यदि किसी पौधे की पत्ती में जालिका रूपी शिरा-विन्यास हो तो उसकी जड़ें मूसला जड़ें होंगी।

प्रश्न 8.
क्या आप किसी पौधे की पत्ती की छाप देखकर यह पहचान कर सकते हैं कि उसकी जड़ मूसला जड़ होगी अथवा झकड़ा जड़? कैसे?
उत्तर:
हाँ, किसी पौधे को पत्ती की छाप देखकर यह पहचान की जा सकती है कि उसकी जड़ मूसला जड़ होगी अथवा रेशेदार। यदि पत्ती में समान्तर शिरा-विन्यास है, तो जड़ रेशेदार जड़ होगी और यदि पत्ती में जालिका रूपी शिरा-विन्यास है, तो जड़ मूसला जड़ होगी।

प्रश्न 9.
किसी पुष्प के विभिन्न भागों के नाम लिखिए।
उत्तर:
पुष्प के विभिन्न भाग हैं – बाह्य दल, पंखुड़ी, पुंकेसर एवं स्त्रीकेसर।

प्रश्न 10.
निम्न में से किन पौधों के फूल आपने देखे हैं?
घास, मक्का, गेहूँ, मिर्च, टमाटर, तुलसी, पीपल, शीशम, बरगद, आम, जामुन, अमरूद, अनार, पपीता, केला, नींबू, गन्ना, आलू, मूंगफली।
उत्तर:
फूल वाले पौधों ये सभी पौधे फूल वाले पौधे हैं। लेकिन तुलसी, पीपल तथा गन्ना के पौधों के फूल इतने छोटे होते हैं जिन्हें हम अपनी नग्न आँखों से नहीं देख सकते।

प्रश्न 11.
पौधों के उस भाग का नाम लिखिए जो अपना भोजन बनाता है। इस प्रक्रम को क्या कहते हैं।
उत्तर:
पौधों का वह भाग जो भोजन बनाता है पत्तियाँ हैं। पत्तियाँ प्रकाश ओर क्लारोफिल की उपस्थिति में अपना भोजन बनाती हैं। इस प्रक्रम को प्रकाश संश्लेषण कहते हैं।

प्रश्न 12.
पुष्य के किस भाग में अण्डाशय होता है।
उत्तर:
पुष्प के स्त्रीकेसर में अण्डाशय होता है।

प्रश्न 13.
ऐसे दो पुष्पों के नाम लिखिए जिनमें से प्रत्येक में संयुक्त और अलग-अलग पंखुड़ियाँ हों।
उत्तर:

  1. संयुक्त पंखुड़ियाँ: धतूरा, सदाबहार।
  2. पृथक पंखाड़ियाँ: गुलाब, सरसों।

Chapter 7 पौधों को जानिए