Keeping Quiet

Textbook Questions and Answers

Question 1.
What will counting upto twelve and keeping still help us achieve?
बारह तक गिनना और चुप (शान्त) रहना हमें क्या हासिल करने में सहायता करेंगे?
Answer:
Counting upto twelve and keeping still will give us some moments of peace to feel the beauty of life, introspect our ownselves and restore energy to move in the right direction.

बारह तक गिनने और चुप रहने से हमें शान्ति के कुछ क्षण मिलेंगे जिससे हम जीवन की सुन्दरता अनुभव कर सकें, अपने विषय में मनन कर सकें, और सही दिशा में चलने के लिए ऊर्जा इकट्ठी हो सकें ।

Question 2.
Do you think the poet advocates total inactivity and death?
क्या आपको लगता है कि कवि सम्पूर्ण निष्क्रियता और मृत्यु की बात करते हैं?
Answer:
No, the poet does not advocate total inactivity and death like stillness. He makes it clear that ‘total inactivity’ brings in death. He just wants us to stay away from the monotonous life of single mindedness.

नहीं, कवि पूर्णतः निष्क्रियता की वकालत नहीं करता है और न ही मृत्यु जैसे सन्नाटे की बात करता है। वह स्पष्ट करता है कि सम्पूर्ण निष्क्रियता मृत्यु को आमन्त्रित करती है। वह तो मात्र यह चाहता है कि हम एक ही उद्देश्य की दिशा में चलते रहने वाले नीरस जीवन से दूर रहें ।

Question 3.
What is the ‘sadness’ that the poet refers to in the poem?
वह ‘उदासी’ क्या है जिसे कवि कविता में इंगित करते हैं?
Answer:
This ‘sadness’ comes from not understanding ourselves. We are running after worldly gains and hạve no time to know the true purpose of life. It makes us sad and dull.

यह उदासी स्वयं को न समझने से आती है। हम सांसारिक लाभों के पीछे भाग रहे हैं और हमारे पास जीवन के सच्चे उद्देश्य को जानने का समय नहीं है। इससे हम दुखी व नीरस हो जाते हैं

Question 4.
What symbol from Nature does the poet invoke to say that there can be life under apparent stillness?
कवि यह बताने के लिये कि दिखने वाली चुप्पी (शान्ति) में भी जीवन हो सकता है, प्रकृति से क्या प्रतीक उद्धृत करते हैं?
Answer:
The poet gives the example of the earth which seems still but is active and alive. It is the source of all life and motion. Man too can be dynamic in a calm and quiet life. He can learn a lot from the earth.

कवि पृथ्वी का उदाहरण देता है जो रुकी हुई प्रतीत होती है परन्तु सक्रिय और जीवित है। यह सभी प्रकार के जीवन और गति का स्रोत है। मनुष्य भी एक शान्त और स्थिर जीवन में गतिशील हो सकता है। वह पृथ्वी से बहुत कुछ सीख सकता है।

RBSE Class 12 English Keeping Quiet Important Questions and Answers
Short Answer Type Questions

Answer the following questions in about 20-25 words.

Question 1.
Why does the poet want us to keep quiet?
कवि क्यों चाहते हैं कि हम चुप (शान्त) रहें ?
Answer:
The poet wants us to be quiet so that we may feel the joy of those exotic moments and enjoy the company of our fellow men.

कवि हमें शांत रहने के लिए कहता है ताकि हम उन निराले क्षणों का आनंद ले सकें तथा अपने साथी मनुष्यों के सानिध्य का सुख प्राप्त लें।

Question 2.
Why does the poet not want us to speak in any language?
कवि क्यों नहीं चाहते कि हम किसी भी भाषा में बोलें (एक क्षण के लिये)?
Answer:
The poet wants us not to speak in any language so that we may introspect and have spiritual contact with others for sometime.

कवि चाहता है कि हम किसी भी भाषा में न बोलें जिससे हम आत्म-चिंतन कर सकें तथा दूसरों (मानव-बंधुओं) के साथ कुछ समय के लिए आत्मिक सम्पर्क बना सकें।

Question 3.
What will be an exotic moment ?
कौन-सा क्षण विलक्षण होगा ?
Answer:
An exotic movement will happen when all machines stop for a second and people do not talk in any language. Then there will be complete stillness.

विलक्षण क्षण वह होगा जब सभी मशीनें कुछ क्षण के लिए बंद हो जाएँगी तथा लोग किसी भी भाषा में बात नहीं करेंगे। तब पूर्ण शांति ही होगी।

Question 4.
What alternative does the poet suggest instead of waging wars?
युद्धों की तैयारी करने के बजाय कवि किस विकल्प का सुझाव देते हैं ?
Or
What does the poet want the people to do instead of fighting wars?
कवि लोगों को युद्ध लड़ने के बजाय किस विकल्प का सुझाव देते हैं ?
Answer:
The poet advises people to stop waging wars and instead enjoy the companionship of their fellow beings in the lap of nature.

कवि लोगों को यह सलाह देता है कि वे युद्ध लड़ना बंद करें तथा इसके स्थान पर प्रकृति की गोद में अपने भाइयों (मानव साथियों) के साथ का आनंद लें।

Question 5.
What lesson can the earth give us? पृथ्वी हमें क्या सीख दे सकती है?
Or
What is the message conveyed by the earth in the last lines of the poem?
कविता की अंतिम पंक्तियों में पृथ्वी द्वारा क्या संदेश प्रदान किया गया है?
Answer:
The earth teaches us that inactivity and silence do not mean death, rather it enables rejuvenation and introspection which are necessary for the continuation of a meaningful life.

पृथ्वी हमें यह शिक्षा देती है कि निष्क्रियता व निशब्दता का अर्थ मृत्यु नहीं है, बल्कि ये नई ऊर्जा प्राप्त करने व आत्म-चिंतन का अवसर देती है जो एक अर्थपूर्ण जीवन के विस्तार हेतु आवश्यक है।

Question 6.
How does the poet differentiate between ‘stillness’ and ‘total inactivity’?
कवि ‘शान्ति’ और ‘पूर्ण निष्क्रियता’ में किस प्रकार अंतर करते हैं ?
Or
What is the confusion that the poet is talking about?
वह समझने की भूल क्या है जिसके विषय में कवि बात कर रहे हैं?
Answer:
The poet says that people confuse ‘stillness’ with ‘total inactivity’, which is untrue. Stillness brings peace and progress for mankind while total inactivity brings death.

कवि कहता है कि लोग ‘शान्ति’ का अर्थ पूर्ण निष्क्रियता’ से लगाते हैं, जो सत्य नहीं है। ‘शान्ति’ मानव जाति के लिए अमन-चैन व प्रगति लाती है जबकि ‘पूर्ण निष्क्रियता’ केवल मृत्यु ही लाती है।

Question 7.
What does the poet say about wars and victory?
कवि युद्धों व विजय के सम्बन्ध में क्या कहते हैं ?
Answer:
The poet derides the war-mongers, for wars may produce victors, but the result of war is death and destruction for both, the victor and the defeated.

कवि युद्ध भड़काने और लड़ने वालों की भर्त्सना करता है क्योंकि युद्ध विजेता तो बना सकता है, किंतु युद्ध का परिणाम, विजेता और पराजित, दोनों के लिए केवल मृत्यु व विनाश ही है।

Question 8.
What is the cause of our sadness according to the poet ?
कवि के अनुसार हमारी उदासी का क्या कारण है ?
Answer:
In the poet’s view, the cause of our sadness is our endless pursuit of comforts and wealth.
This makes us unable to understand ourselves and the greater meaning of life.

कवि के विचार में, हमारे दुःख का कारण धन और सुविधाएँ प्राप्त करने के हमारे अथक प्रयास व कामना ही हैं। इसी कारण हम स्वयं को तथा जीवन के वास्तविक अर्थ को समझने में असमर्थ हैं।

Question 9.
How can we understand ourselves ? हम स्वयं को कैसे समझ सकते हैं?
Answer:
We can understand ourselves if we give ourselves some moments of silence and inactivity.
By doing so we may introspect ourselves and draw upon our inner strength.

हम स्वयं को तभी समझ सकते हैं जब हम स्वयं को नि:शब्दता व निष्क्रियता के कुछ क्षण दें। ऐसा करके
हम आत्म-चिंतन कर सकेंगे और अपनी आंतरिक (आध्यात्मिक) शक्ति का प्रयोग कर सकेंगे।

Question 10.
What does the poet ask the fishermen and the salt-gatherers?
कवि मछुआरों और नमक एकत्रित करने वालों से क्या कहते हैं?
Answer:
The poet asks the fishermen and the salt-gatherers to stop all activity for a while and think about the harm they are doing to other creatures and to themselves.

कवि चाहता है कि मछुआरे व नमक इकट्ठा करने वाले अपना सारा कार्य कुछ समय के लिए रोक दें तथा उस क्षति के विषय में सोचें जो वे अन्य जीवों व स्वयं को पहुंचा रहे हैं।

Question 11.
Why does the poet oppose the state of being single minded?
कवि एकाग्र होने की स्थिति का विरोध क्यों करते हैं?
Answer:
If we always focus our minds in pursuit of our endless desires, we can never have peace and happiness, and our life will become a burden.

यदि हम अपने ध्यान को सदैव अंतहीन कामनाओं की प्राप्ति पर केंद्रित रखेंगे तो हम कभी भी शान्ति व आनंद का अनुभव नहीं करेंगे। हमारा जीवन एक बोझ बनकर रह जाएगा।

Question 12.
What is the theme of the poem?
इस कविता का कथानक (विषय-वस्तु या सार) क्या है?
Answer:
The theme of the poem is that moments of silence are necessary for us to introspect and rejuvenate ourselves. This would bring us peace and happiness.

कविता का सार यह है कि नि:शब्दता के क्षण हमारे लिए आत्म-चिंतन व नई ऊर्जा प्राप्त करने हेतु आवश्यक हैं। यह हमें शान्ति व प्रसन्नता प्रदान करता है।

Question 13.
Why does the poet ask people to walk together with their brothers under shady trees?
कवि लोगों से क्यों कहते हैं कि उन्हें अपने भाईयों के साथ छायादार वृक्षों के नीचे सैर करनी चाहिये?
Answer:
The poet asks people to do so because he wants to bring them closer. He feels that peace and harmony are absolutely essential for mankind.

कवि लोगों से ऐसा करने के लिए इसलिए कहता है क्योंकि वह लोगों को एक-दूसरों के करीब लाना चाहता है। वह मानते हैं कि मानवता के लिए शान्ति और आपसी सौहार्द अति आवश्यक है।

Question 14.
What does the title of the poem suggest you ?
कविता का शीर्षक आपको क्या सुझाव देता है ?
Answer:
The title of the poem represents the central idea of the poem very clearly. It also conveys the importance of silence and introspection in every person’s life.

कविता का शीर्षक बहुत ही स्पष्ट रूप से कविता के मुख्य विचार को प्रतिबिम्बित करता है। यह प्रत्येक व्यक्ति के जीवन में शान्ति व आत्म-चिंतन के महत्त्व को उजागर भी करता है।

Question 15.
Name the poet and the title of this poem.
इस कविता का शीर्षक और कवि का नाम बताइये।
Answer:
This poem is written by Pablo Neruda and the title of this poem is ‘Keeping Quiet’.
यह कविता पाब्लो नेरूदा द्वारा लिखी गई है और इस कविता का शीर्षक ‘Keeping Quiet’ है।

Question 16.
How will ‘Keeping Quiet’ protect our environment ?
‘Keeping Quiet’ किस प्रकार हमारे पर्यावरण की रक्षा करेगा?
Answer:
‘Keeping quiet’ will prevent wars, pollution and other harms to the environment, because in these moments we will cease all destructive activities and introspect only.

शान्त रहने से युद्ध प्रदूषण व पर्यावरण को होने वाली अन्य हानियाँ नहीं होंगी, क्योंकि इन (शान्त) क्षणों में हम सभी विनाशक गतिविधियाँ रोक देंगे और केवल आत्म-चिंतन करेंगे।

Question 17.
Why is the poet against total inactivity ?
कवि पूर्ण निष्क्रियता का विरोधी क्यों है?
Answer:
The poet is against total inactivity because it means death, and he believes in life. He believes that one should live life to its fullest.

कवि पूर्ण निष्क्रियता का विरोधी है क्योंकि इसका अर्थ मृत्यु है, और वह जीवन में विश्वास करता है। वह मानता है कि किसी को भी जीवन को इसकी पूर्णता में जीना चाहिए।

Question 18.
What does the poet advocate in the poem ?
कवि इस कविता में किस बात का समर्थन करता है?
Answer:
The poet advocates the importance of silence and stillness. He inspires people to introspect and make a spiritual connection with their fellow-men, so that the world would become a better place to live in.

कवि शान्ति व निष्क्रियता के महत्त्व का समर्थन करता है। वह लोगों को प्रेरणा देता है कि वे आत्म-चिंतन करें व अपने मानव-बंधुओं से आध्यात्मिक सम्पर्क बनाएँ, जिससे यह संसार रहने के लिये एक बेहतर स्थान बन सके।

Long Answer Type Questions

Answer the following questions in about 80 words.

Question 1.
Elaborate upon the central idea of the poem, ‘Keeping Quiet’.
कविता ‘Keeping Quiet’ के केंद्रीय भाव पर प्रकाश डालिए।
Answer:
The poem, ‘Keeping Quiet’ composed by Pablo Neruda is all about the benefits and bliss of silence. Brief moments of silence and stillness take away our attention from useless everyday affairs and we are able to focus on our inner self.

It gives us new energy us and stops all such activities that harm our fellow-men and other creatures who share this planet with us. These save nature from its mindless exploitation and man-made pollution, and makes the world a better place to live.

पैब्लो नेरुडा द्वारा रचित कविता ‘Keeping Quiet’ मुख्यतः शान्ति के लाभ व आनंद के विषय में है। शान्ति व निष्क्रियता के कुछ क्षण हमारे ध्यान को रोजमर्रा के निरर्थक विचारों से हटाते हैं तथा हम अपने अंतर में ध्यान केंद्रित कर पाते हैं। इससे हमें नई ऊर्जा प्राप्त होती है,

वे सभी गतिविधियाँ रुक जाती हैं जिनसे हमारे मानव बंधुओं और धरती पर हमारे साथ रहने वाले अन्य प्राणियों को हानि पहुँचती हैं। ये (शान्ति व निष्क्रियता) प्रकृति को भी अंधाधुंध शोषण व मानव-निर्मित प्रदूषण से बचाते हैं, और इस संसार को रहने के लिए एक बहुत बेहतर स्थान बनाते हैं।

Question 2.
Why does the poet call people ‘single-minded’ ? Why does he warn us about this, and what advice does he give in this regard ?
कवि लोगों को एक ही लक्ष्य के पीछे भागने वाले क्यों कहता है? वह हमें इसके प्रति क्यों सचेत करता है व इस विषय में क्या सुझाव देता है?
Answer:
The poet calls people ‘single-minded’ because they spend their entire life in pursuit of wealth, comforts and physical pleasures. This ceaseless activity becomes a race that must be run and won. We have no spare time to introspect or think about our actions.

As a result, we do not understand ourselves and the aim of our life. This blind race dulls our mind and engenders hatred towards our own kind and an uncaring attitude towards nature. The best course would be to stop, revaluate and make corrections in what we do.

कवि लोगों को एक ही धुन में रहने वाले इसलिए कहता है क्योंकि वे अपना सम्पूर्ण जीवन धन, सुविधाओं व भौतिक सुखों को प्राप्त करने में बिता देते हैं। यह अविरत गतिविधि एक दौड बन जाती है, जिसे दौडना व जीतना पड़ता है। हमारे पास आत्म-चिंतन करने या अपने कर्मों के विषय में विचार करने का समय नहीं होता।

परिणामस्वरूप, हम स्वयं को व इस जीवन के वास्तविक उद्देश्य को समझ ही नहीं पाते हैं। यह अंधी दौड़ हमारे मस्तिष्क को कुंठित करती है तथा अपने मानव-बंधुओं के प्रति ईष्या व प्रकृति के प्रति उदासीनता का भाव उत्पन्न करती है। उत्तम तरीका यह है कि हम रुकें, चिंतन करें व अपने कार्य की कमियों को दूर करें।

Question 3.
According to the poet, which activities would cease if we keep silent and still ? What will be the effect of this ?
कवि के अनुसार यदि हम शान्त व स्थिर रहेंगे तो कौन-सी गतिविधियाँ रुक जाएँगी ? इसका प्रभाव क्या होगा?
Answer:
The poet is of the view that if we stop speaking and keep still, all human activities will come to a halt. It would be an exotic moment, as every movement and the noise of machinery will stop. Fishermen will stop hunting whales in the deep seas, salt-gatherers will stop to tend to their bruised hands, and warring men will understand the folly of war. Instead, people in their new clothes will enjoy the company of their fellow-beings amidst shady trees. Peace and happiness will reign in the world.

कवि के विचार में यदि हम निःशब्द व स्थिर हो जाएँ तो सभी मानवीय गतिविधियाँ रुक जाएँगी। यह एक विलक्षण क्षण होगा, क्योंकि प्रत्येक भागा-दौड़ी, मशीनों का शोर रुक जाएगा।

मछुआरे गहरे समुन्द्र में व्हेल मछली मारना बंद कर देंगे (गहरे समुद्र में), नमक बटोरने वाले (श्रमिक) अपने छिले हाथों का इलाज करने के लिये रूकेंगे, व युद्ध करने वाले युद्ध की मूर्खता को समझ जाएँगे। इसकी बजाय नए कपड़े पहने लोग अपने मानव-बंधुओं के सानिध्य का आनंद छायादार पेड़ों के नीचे लेंगे। संसार में शान्ति तथा प्रसन्नता का राज्य होगा।

Question 4.
Write a brief summary of the poem ‘Keeping Quiet’ in your own words.
कविता ‘Keeping Quiet’ का सारांश अपने शब्दों में लिखें।
Answer:
The poet emphasises the importance of silence and stillness. He wants people to rest and put wars to an end. He asks people to enjoy life and have a care for nature and all the creatures that share the planet with them. He asks people to imagine that eternal moments of absolute peace and silence, when all speech and human activity would cease.

The experience will be energizing and calming for all. The poet gives the examples of fishermen and salt-gatherers who harm nature and themselves thoughtlessly. Finally he tells us to learn from the silence and patience of the earth.

कवि शान्ति व स्थिरता के महत्त्व पर बल देता है। वह चाहता है कि लोग आराम करें तथा युद्ध को समाप्त करें। वह लोगों से कहता है कि वे जीवन का आनंद लें तथा प्रकृति व पृथ्वी पर रहने वाले सभी जीवों के प्रति संवेदना रखें। वह लोगों से कहता है कि वे उस नैसर्गिक क्षण की कल्पना करें जब पूर्ण शान्ति व नि:स्तब्ध ता होंगी क्योंकि सभी भाषण व मानव-गतिविधियाँ रुक जाएँगी।

यह अनुभव सभी के लिए नई ऊर्जा प्रदान करने वाला व चित्त को स्थिर करने वाला होगा। कवि मछुआरों व नमक-इकट्ठा करने वालों का उदाहरण देता है जो प्रकृति व स्वयं को बिना सोचे-समझे हानि पहुँचाते हैं। अंत में कवि हमसे इस पृथ्वी से सीख लेने को कहता है जो सदैव शांत व सहनशील रहती है।

Keeping Quiet Textbook Questions and Answers