My Mother at Sixty-Six

Textbook Questions and Answers
Think it out

Question 1.
What is the kind of pain and ache that the poet feels?
कवयित्री जो दर्द व व्यथा महसूस करती हैं वह किस प्रकार का है?
Or
What is the childhood’s fear the poet is suffering from ?
वह बालपन का भय क्या है जिससे कवयित्री परेशान है ?
Answer:
The poet is pained to see her mother’s death pale face. She suffers from her childhood fear of losing her mother. She also aches at the thought that time and age spare none.

कवयित्री अपनी माँ के मृतक स्वरूप पीले चेहरे को देखकर दुखी होती है । वह अपनी माँ के खो देने के अपने बचपन के भय से पीड़ित है। वह इस विचार के आते ही एक दर्द महसूस करती है कि समय और वृद्धावस्था किसी को नहीं छोड़ते।

Question 2.
Why are the young trees described as ‘sprinting’?
युवा वृक्षों को तेज भागते हुए वर्णित क्यों किया गया है?
Answer:
By describing ‘sprinting’ trees, she presents comparison and contrast in the poem. It is between old age and young age. Old age is lifeless and pale while young age is full of joy and energy.

तेज दौड़ते हुए वृक्षों के वर्णन द्वारा वह कविता में तुलना व विरोधाभास प्रस्तुत करती हैं। यह बुढ़ापे तथा जवानी के बीच में है। बुढ़ापा निर्जीव तथा कांतिरहित है जबकि युवावस्था आनंद तथा ऊर्जा से भरी है।

Question 3.
Why has the poet brought in the image of the merry children ‘spilling out of their homes’?
कवयित्री ने प्रसन्नचित्त बच्चों के ‘अपने घरों से बाहर आते हुए’ दृश्य को शामिल क्यों किया है?
Answers:
Children represent joy, carefree life and growing strength. In its contrast, the poet’s mother is the victim of sorrowful old age, cares and weakness. The image of the merry children presents comparison and contrast in the poem.

बच्चे आनन्द, चिन्तारहित जीवन और बढ़ती हुई शक्ति को प्रस्तुत करते हैं । इसके विपरीत कवयित्री की माँ दु:खद वृद्धावस्था, चिन्ताओं और कमजोरी की शिकार है । प्रसन्नचित्त बच्चों का दृश्य कविता में तुलना व विरोधाभास प्रस्तुत करता है ।

Question 4.
Why has the mother been compared to the ‘late winter’s moon’ ?
माँ की तुलना गुजरती हुई शरद् ऋतु के चन्द्रमा से क्यों की गयी है?
Answer:
The late winter’s moon appears dull and shrouded. It loses its brightness. So the poet compares her aged mother’s pale and ash like withered face to the ‘late winter’s moon’.

गुजरती हुई शरद् ऋतु का चन्द्रमा मन्द (धुंधला) और ढका हुआ (बादलों में) लगता है। यह अपनी चमक खो देता है। इसलिये कवयित्री अपनी वृद्ध माँ के पीले व राख समान मुरझाये हुऐ चेहरे की तुलना गुजरती शरद् ऋतु के चन्द्रमा से करती हैं ।

Question 5.
What do the parting words of the poet and her smile signify?
(हवाई अड्डे पर अपनी माँ से) अलग होते समय कवयित्री के शब्द (अन्तिम शब्द) व उनकी मुस्कुराहट क्या प्रकट करते हैं?
Answer:
The parting words of the poet were, ‘see you soon Amma’. These words signify her hope to see her mother soon again. It is a kind of promise to her mother. Her smile signifies that she was trying to hide her pain from her mother.

कवयित्री के अन्तिम शब्द थे – ‘हम शीघ्र मिलेंगे अम्मा’। ये शब्द उनकी अपनी माँ को शीघ्र पुनः देखने की आशा को प्रकट करते हैं। यह एक प्रकार से उनका अपनी माँ से वादा है । उनकी मुस्कुराहट यह प्रकट करती है कि वह अपनी व्यथा (दर्द) को अपनी माँ से छुपाने का प्रयास कर रहीं थीं।

RBSE Class 12 English My Mother at Sixty-Six Important Questions and Answers
Short Answer Type Questions

Answer the following questions in about 20-25 words.

Question 1.
What did the poet realise when she looked at her mother in the car ?
कवयित्री को कार में अपनी माँ को देख क्या अनुभूति हुई ?
Answer:
On seeing her mother’s pale and lifeless face, the poet realised that she had grown old and would soon be no more. This thought pained her.

कवियत्री ने अपनी माँ के पीले व निर्जीव चेहरे को देख यह महसूस किया कि वह वृद्ध हो चुकी है व जल्द ही नहीं रहेंगी। इस विचार ने उसे दुखी किया।

Question 2.
How does the poet describe her mother ?
कवियत्री अपनी माँ को किस प्रकार वर्णित करती है ?
Answer:
The poet describes her mother’s ageing face to be as pale and dim as the late winter moon and whose journey of life is about to end.

कवियत्री अपनी माँ के वृद्ध चेहरे का वर्णन उस बीतती शरद ऋतु के चाँद से करती है जो पीला व धुंधला दिखता है व जिसकी (जीवन) यात्रा समाप्ति की ओर है।

Question 3.
“All I did was smile, smile and smile” – What does the poet mean by this?
“मुझसे जो बन पड़ा वो यह कि मैं बस मुस्कुराती रही” – इससे कवियत्री का क्या आशय है ?
Answer:
While taking leave of her mother, the poet again looks at her She experiences her childhood fear of losing her. She keeps smiling to hide this fear.

अपनी माँ से विदा लेते हुए कवयित्री पुनः उसे देखती है । वह उसे खो देने के अपने बचपन के भय को अनुभव करती है। वह अपने भय को छुपाने के प्रयास में बस मुस्कुराती रहती है।

Question 4.
Why did the poet look out of the car, and what was its result ?
कवयित्री ने कार से बाहर क्यों देखा, व इसका क्या परिणाम हुआ ?
Answer:
The poet looked outside the car to turn her attention away from her mother’s withered and deathly pale face. The sight of merry children told her that joys and sorrows are inseparable.

कवयित्री ने अपनी माँ के मुरझाये व निर्जीव पीले चेहरे से ध्यान हटाने के ध्येय से कार के बाहर देखा। प्रसन्न बच्चों के दृश्य ने उसे यह विदित किया कि खुशी और दुख को अलग नहीं किया जा सकता है।

Question 5.
What all did the poet see out of the car window ?
कवयित्री ने कार की खिड़की से बाहर झाँकते हुए क्या-क्या देखा?
Answer:
The poet saw young trees which appeared to be running back. She also saw children happily coming out of their homes.

कवयित्री ने युवा वृक्षों को देखा जो पीछे भागते हुए प्रतीत हो रहे थे। उसने प्रसन्नचित बच्चों को अपने घरों
से बाहर निकलते भी देखा।

Question 6.
What is the poet’s familiar ache and why does it return?
कवयित्री का चिर-परिचित दर्द क्या है और यह उसे बार-बार क्यों सताता है?
Or
What was the childhood fear which troubles the poet in the end of the poem ?
बचपन का कौनसा भय था जो कि कवयित्री को कविता के अंत में दु:खी करता है?
Answer:
The sight of her mother’s pale and withered face arouses the poet’s childhood fear and pain of losing her mother. She is quickly nearing the end of her life’s journy.

अपनी माँ के पीले व मुरझाये हुए चेहरे का दृश्य, कवयित्री में अपनी माँ को खो देने का बचपन का डर व दर्द जगाता है । वह अपनी जीवन-यात्रा के अंत की ओर शीघ्रता से बढ़ती जा रही है।

Question 7.
What does the poet do after the security check ?
सुरक्षा जाँच के बाद कवयित्री क्या करती है ?
Answer:
After the security check, the poet looks at her mother’s withered face again, which appears like the pale winter’s moon. She, however, bids her farewall with a smiling face.

सुरक्षा जाँच के बाद कवयित्री अपनी माँ के मुरझाए चेहरे को पुनः देखती है, जो शरद् ऋतु के चाँद के समान धूमिल दिख रहा है। फिर भी वह मुस्कुराते हुये उनसे विदा लेती हैं।

Question 8.
Which poetic devices has the poet used in the poem ? .
कवयित्री ने इस कविता में किन काव्य युक्तियों का प्रयोग किया है?
Answer:
Painting vivid imagery in this poem, the poet compares her mother’s deathly pale face with merry, energetic children by using the devices of contrast and comparison.

कवयित्री ने इस कविता में कल्पना-चित्रण करते हुए अपनी माँ के पीले निर्जीव चेहरे की तुलना प्रसन्नचित, उर्जावान बच्चों से करके तुलना व विरोधाभास युक्तियों का प्रयोग किया है।

Question 9.
Why does the poet say, ‘see you soon, Amma’ ?
कवयित्री क्यों कहती है कि, ‘हम शीघ्र ही मिलेंगे अम्मा’?
Answer:
She says so only to reassure her mother, while she knows that she would soon lose her to the ultimate reality of death.
वह केवल आपनी माँ को ढाँढस दिलाने के लिये ऐसा कहती है जबकि वह जानती है कि वह जल्द ही मृत्यु के अंतिम सत्य में उन्हें खो देंगी।

Question 10.
What is the main theme of the poem ?
कविता की मुख्य विषयवस्तु क्या है ?
Answer:
The poem conveys the thought that even though we live in fear of losing our dear ones, life continues with all its joys and sorrows.

यह कविता इस विचार को प्रेषित करती है कि यद्यपि हम अपने प्रियजनों को खो देने के भय से व्याकुल रहते हैं, जीवन अपने समस्त दुखों एवम् खुशियों के साथ चलता रहता है।

Question 11.
Name the poet and the poem.
कवयित्री व कविता का नाम बताइए।
Answer:
The poet is Kamala Das and the poem is titled ‘My Mother at Sixty-six’.
कवयित्री का नाम कमला दास है तथा कविता का शीर्षक ‘My Mother at Sixty-six’ है।

Question 12.
What worried ‘I’ when ‘I’ looked at his/her mother ?
जब ‘I’ ने अपनी माँ की ओर देखा, तो ‘I’ को किसने चिन्तित किया?
Answer:
Her mother’s condition in her old age worried the poet. She realised that her mother would not live long.
अपनी माँ की वृद्धावस्था की दशा ने कवयित्री. को चिंतित किया। उसे आभास हुआ कि उसकी माँ अब अधिक समय तक जीवित नहीं रहेगी।

Question 13.
Why was the realisation painful ?
अनुभूति कष्टपूर्ण क्यों थी ?
Answer:
It pained the poet to see her old mother so weak, pale and lifeless. The thought of losing her mother also distressed her.

कवयित्री को अपनी वृद्ध माँ की क्षीण, पीली व निर्जीव दशा को देखकर कष्ट हुआ। अपनी माँ को खो देने का विचार भी उसे विचलित कर रहा था।

Long Answer Type Questions

Answer the following questions in about 80 words.

Question 1.
How does the poet attempt to divert her attention from the distress that her mother’s condition causes her ?
कवयित्री किस प्रकार से अपनी माँ की दशा से उत्पन्न व्यथा से अपना ध्यान हटाने का प्रयास करती है?
Answer:
The poet is travelling by car with her mother to Cochin airport. She is sitting beside her. Her mother’s old age and its attendant maladies make her worried and anxious. Her mother is weak and pale with age, and the poet tries to divert her thoughts elsewhere by looking out of the car’s window.

She sees young trees rushing past and children merrily running out of their homes. This sight relieves the poet from her anguish, if only for a while.

कवयित्री अपनी माँ के साथ कोचीन हवाई अड्डे कार में जा रही है। वह उसके बगल में बैठी हुई थी। अपनी माँ की वृद्धावस्था व इससे संबंधित समस्याएँ उसको चिंतित व व्याकुल कर रही थी। माँ वृद्ध होने के कारण कमजोर और पीली पड़ी हैं, तथा कवयित्री अपना ध्यान अन्यत्र लगाने हेतु कार की खिड़की से बाहर देखती है। वहाँ वह युवा वृक्षों को पीछे जाते व बच्चों को उल्लासित हो अपने घरों से बाहर भागते देखती है। यह दृश्य कुछ देर के लिए ही सही, उसकी व्यथा से उसे आराम देता है।

Question 2.
How does Kamla Das make use of imagery in her poem ‘My Mother at Sixty-six’ ? Describe briefly.
कमला दास अपनी कविता ‘My Mother at Sixty-six’ में उपमाओं का प्रयोग किस प्रकार करती हैं ? संक्षेप में वर्णन कीजिए।
Answer:
In the beginning, the poet’s mother sits beside her in the car, the poet describes her face to be as ashen as a corpse. Again, to distract herself, she looks out of the window of the car and describes the images of young trees rushing past and children happily running out of their homes in stark contrast to her motionless mother.

While taking leave of her at the airport, she compares her mother’s pale, and wrinkled face with the late winter moon. The poem thus uses vivid imagery to convey the poet’s emotions.

आरंभ में कवयित्री अपनी माँ के साथ कार में बैठी है तो वह अपनी माँ के चेहरे को एक लाश की तरह कांतिहीन बताती है। फिर जब वह अपना ध्यान बंटाने के लिए खिड़की से बाहर देखती है तो अपनी माँ के स्थिर रूप के विरोधाभास में युवा वृक्षों को पीछे भागते व प्रफुल्लित बच्चों को अपने घरों से बाहर भागते हुए बच्चों की छवी प्रस्तुत करती है।

अततः हवाई-अड्डे पर अपनी माँ से विदा होते समय कवयित्री पुनः अपनी माँ के पीले, झुर्सदार चेहरे की तुलना शरद् ऋतु के चाँद से करती है। इस प्रकार यह कविता संवेदनशील चित्रण द्वारा कवयित्री की भावनाओं को प्रदर्शित करती है।

Question 3.
Give a brief characterisation of the poet as a thoughtful and caring daughter.
एक संवेदनशील व चिंता करने वाली पुत्री के रूप में कवयित्री का संक्षेप में चरित्र-चित्रण कीजिए।
Answer:
The poetess comes across as an affectionate, caring and devoted daughter who is an guished by her mother’s deteriorating condition with advancing age. Her pale, ashen face and her weakening state worries her, and she is afraid of losing her.

She wants her mother to be always by her side, but she realises that she would not live long. To put up a brave appearance, the poet smiles at her mother as she leaves her at the airport and promises to meet her again.

कवयित्री एक स्नेहशील, चिंता करने वाली व समर्पित पुत्री के रूप में दिखती है जो अपनी माँ की बढ़ती आयु के साथ बिगड़ती हुई दशा से व्यथित है। उसका पीला, कांतिहीन चेहरा व उसकी कमजोर होती काया उसे चिंतित करती है तथा वह उन्हें खो देने से डरती है। वह अपनी माँ को सदैव अपने साथ चाहती है, किंतु वह जानती है कि माँ अब अधिक समय जीवित नहीं रहेगी। साहस दिखाने के लिए वह हवाई अड्डे पर अपनी माँ से मुस्कुराते हुए विदा लेती है व उससे पुनः मिलने का वादा करती है।

Question 4.
The main theme of the poem is a reflection of poet’s observations of the realities of life.
Justify this statement in light of the poem ‘My Mother at Sixty-six’. इस कविता की मुख्य विषय-वस्तु कवयित्री के वास्तविक जीवन के प्रति दर्शन को परिलक्षित करती है। इस कथन को कविता ‘My Mother at Sixty-six’ के संदर्भ में स्पष्ट कीजिए।
Answer:
Our life is full of joys and sorrows, as is this world. The poet worries about her mother’s physical state in her advanced age. The mother is weak, pale and zestless. The thought of her death frightens the poet, for she cannot stand being separated from her.

When she is pained at such thoughts, she observes that the world around is going on as usual. Young trees grow stronger and merry children run about with joy and excitement. They are without worries or pain and enjoy the blessings of life.

हमारा जीवन, इस संसार के समान, सुख-दुख से पूर्ण है। कवयित्री अपनी माँ की बढ़ती उम्र में शारीरिक दशा देख चिंतित है। माँ कमजोर, कांतिहीन व ऊर्जाहीन है। माँ की मृत्यु का विचार कवयित्री को भयभीत करता है, क्योंकि वह उससे अलग नहीं रह सकती। जब वह इन विचारों से व्यथित है, वह देखती है कि उसके आस-पास का संसार यथावत चल रहा है। युवा वृक्ष और मजबूत हो रहे हैं व उल्लासित बच्चे प्रसन्न हो इधर-उधर भागते हैं। उन्हें कोई चिंता या दुःख नहीं है और जीवन के सुख का आनंद लेते हैं।

My Mother at Sixty-six Textbook Questions and Answers