Day
Night

8 On Killing a Tree

• कविता के विषय में : आप, लोगों को वृक्ष काटते अवश्य देख चुके हैं। परन्तु क्या वे एक वृक्ष की हत्या कर सकते हैं? क्या ऐसा करना आसान है? आइए कविता पढ़ते हैं और पता लगाते हैं कि कवि एक वृक्ष की हत्या के संबंध में क्या कहता है।
 
किठिन शब्दार्थ एवं हिन्दी अनुवाद  

1. It takes………………………..leaves. 

कठिन शब्दार्थ : jab (जैब्) = चुभोना/धकेलना (कुछ नुकीली चीज), consuming (कन्स्यूमिङ्) = उपभोग करते हुए, feeding (फीड्रङ्) = लेते हुए (भोजन), crust (क्रस्ट) = भूमि की ऊपरी परत, absorbing (अबजॉबिङ्) = सोखते हुए, leprous (लेपरस) = कोढ़ी (अर्थात् अंकुरण से पूर्व बीज गलता-सड़ता है), hide (हाइड्) = छिपने का स्थान (बीज पृथ्वी के अन्दर दबा-छिपा पड़ा रहता है), sprouting (स्प्राउट्ङ्) = अंकुरण।

हिन्दी अनुवाद : वृक्ष की हत्या करने में (काट कर नष्ट करने में) बहुत समय लगता है, चाकू की एक साधारण चुभन (घोंपना) इसकी हत्या नहीं कर पायेगी। यह मिट्टी का धीरे-धीरे उपभोग करता हुआ उगा है, जमीन से बाहर निकला है, इसकी ऊपरी सतह से भोजन ग्रहण करते हुए, वर्षों तक ऊष्मा, वायु, जल को सोखते हुए और अपने कोढ़युक्त छिपाव से पत्ते अंकुरित करते हुए बाहर निकलता है।

भावार्थ : वृक्ष के विनिर्माण में समय लगता है तो विनाश में भी। यह सभी क्षेत्र में लागू होता है। 

2. So hack ……………. size

हिन्दी अनुवाद : अतः इसे चाहे उग्रता से काटें और टुकड़े-टुकड़े कर डालें। किन्तु केवल ऐसा करने से भी कुछ नहीं होगा। न ही इतना अधिक दर्द इसका कुछ करेगा। रक्तरंजित छाल पुनः स्वस्थ हो जायेगी और जमीन के पास से मुड़ी हुई हरी टहनियाँ (कोंपलें), लघु शाखाएँ ऊपर उठेगी जिन्हें यदि नियंत्रित नहीं किया गया तो पूर्व के आकार में पुनः फैल जायेंगी।

भावार्थ : वृक्ष को हम जमीन तक भी काट दें तो भी वह मरता नहीं है (क्योंकि जड़ हरी है)। वह पुनः हरा व बड़ा हो जायेगा। गुणों की जड़ों को हरा रखना चाहिए। 

3. No, …………….the earth.

कठिन शब्दार्थ : anchoring (एङ्क(र्)ङ्) = जड़ जमाए हुए, roped (रोप्ट) = रस्से से बांधा जाए, snapped out (स्नैप्ट आउट) = झटके से उखाड़ना, earth-cave (अथ्-केव्) = पृथ्वी-गुफा (जमीन के अन्दर की जड़), exposed (इक्स्पोज्ड्) = प्रकट करना (बाहर निकालना), sensitive (सेन्सटिव्) = संवेदनशील।

हिन्दी अनुवाद : ऐसे नहीं। इसे तो जड़ से उखाड़ना है-जमी हुई जमीन से बाहर (उखाड़ना है); इसमें रस्सा लगाना होगा, बांधना होगा, और बाहर खींचना होगा-झटके से उखाड़ना होगा, या पूर्ण रूप से बाहर निकालना होगा, जमीनी-गुफा से बाहर (करना होगा)। (जड़ बाहर आने से) वृक्ष की शक्ति का प्रकटीकरण हो जाता है। यह स्रोत (शक्ति का) श्वेत व गीला होता है। सर्वाधिक संवेदनशील, जो वर्षों से जमीन के अन्दर छिपा हुआ था।

भावार्थ : यदि कोई कार्य करना हो तो उसे जड़ से ही (सम्पूर्णता में ही) करें तो नवीन वस्तुएँ व अनुभव प्राप्त होंगे। 

4. Then the ……………. done. 

कठिन शब्दार्थ : matter (मैट()) = कार्य, scorching (स्कॉचिङ्) = झुलसाना, choking (चोक्ङ्) = दम घोटना, browning (ब्राउनङ्) = भूरा बनाने का, twisting (ट्वस्ट्ङ् ) = मोड़ने का, withering (विद(र)ङ्) = सुखाने का।

हिन्दी अनुवाद : फिर धूप व वायु में इसे झुलसाने का व दम घोटने का कार्य है, भूरा करने का, सख्त करने का, मोड़ने का, सुखाने आदि का कार्य है। और फिर यह मर जाता है।

भावार्थ : अंत में इसके उपयोग से संबंधित कुछ कार्य करने होते हैं । अंतिम कार्य भी पूर्ण करने चाहिए अन्यथा पुनः हरा हो सकता है।

0:00
0:00