Albert Einstein at School [स्कूल में अल्बर्ट आइन्स्टीन]

-Patrick Pringle

• कहानी के बारे में-अल्बर्ट आइन्स्टीन (1879-1955) को न्यूटन के बाद बहुत बड़ा भौतिक वैज्ञानिक माना जाता है। ‘The Young Einstein’ से लिये गये निम्नलिखित सार में प्रसिद्ध जीवनी लेखक पैट्रिक प्रिंगल उन परिस्थितियों का वर्णन करते हैं जिसके कारण अल्बर्ट आइन्स्टीन को जर्मन स्कूल से निष्कासित कर दिया गया था।

कठिन शब्दार्थ एवं हिन्दी अनुवाद

“In what year, Einstein………………..education. (Page 25)

कठिन शब्दार्थ : regarded (रिगाड्ड) = माना गया, physicist (फिजिसिस्ट्) = भौतिकशास्त्री, extract (एक्स्ट्रैक्ट) = सार, expulsion (इक्स्प ल्शन्) = निष्कासन, circumstances (सकम्स्टन्स्ज) = परिस्थिति, amaze (अमेज्) = आश्चर्य करना, realise (रिअलाइज्) = महसूस करना, applies (अप्लाइज) = लागू होना, facts (फैक्ट्स) = तथ्य, frankly (झैङ्कलि) = स्पष्ट रूप से।

हिन्दी अनुवाद : “किस वर्ष में प्रशा वालों ने वाटरलू के युद्ध में फ्रांस को परास्त किया?” इतिहास के अध्यापक ने पूछा।

“मैं नहीं जानता, श्रीमान्।”

“तुम क्यों नहीं जानते हो? तुम्हें यह बात प्रायः कई बार बतलायी गई है।”

“मैं भूल गया हूँगा।”

“क्या तुमने कभी याद करने की कोशिश की?” मिस्टर ब्रॉन ने पूछा।

“नहीं, श्रीमान्” अल्बर्ट ने पूर्व की तरह बिना विचारे ईमानदारी से उत्तर दिया।

“क्यों नहीं?”

“मुझे तारीख याद रखने में कोई समझदारी नहीं दिखती। कोई भी उनको हमेशा पुस्तक में देख सकता है।”

कुछ क्षण के लिए श्री ब्रॉन अवाक रह गए।

“तुमने मुझे चकित कर दिया, आइन्स्टीन”, अन्त में उसने कहा।

“क्या तुम महसूस नहीं करते हो कोई अधिकतर चीजों को हमेशा पुस्तकों में देख सकता है? यह बात उन तमाम तथ्यों पर लागू होती है जो तुम स्कूल में सीखते हो।”

“हाँ श्रीमान्।”

“तब मैं मानता हूँ कि तथ्य याद करने में तुम्हें कोई समझदारी नहीं दिखाई देती है।”

“स्पष्ट रूप से, श्रीमान्, बिल्कुल नहीं,” अल्बर्ट ने कहा।

“तब तो तुम्हारा शिक्षा में बिल्कुल विश्वास नहीं है।”

“ओह, हाँ, श्रीमान्, मेरा विश्वास है। मैं नहीं मानता कि तथ्यों को याद करना शिक्षा है।” .

“In that case……………………continue to come. (Page 26)

कठिन शब्दार्थ : sarcasm (साकैज्म) = ताना मारना, कटाक्ष, Theory (थिअरि) = सिद्धान्त, flushed (फ्लश्ट) = शर्म से लाल होना, battle (बैट्ल) = युद्ध, cruel (क्रूअल) = निर्दयी, lecture (लेक्च(र)) = भाषण, extra (एक्स्ट्रा ) = अतिरिक्त, imagine (इमैजिन्) = कल्पना करना, disgrace (डिस्ग्रेस) = अपमान।

हिन्दी अनुवाद : “ऐसी परिस्थिति में”, इतिहास के अध्यापक ने कटाक्ष करते हुए कहा, “शायद, तुम कक्षा को शिक्षा का आइन्स्टीन सिद्धान्त बतलाने की मेहरबानी करोगे।”

अल्बर्ट शर्म से लाल हो गया।

“मेरे खयाल से तथ्य जरूरी नहीं अपितु विचार हैं,” उसने कहा। “मुझे युद्ध की तारीखें याद करने में भी समझदारी नहीं दिखाई देती। या कौनसी सेना ने ज्यादा आदमी मारे। मैं तो यह जानने में ज्यादा रुचि रखता हूँ कि ये सैनिक एक-दूसरे को मारते क्यों हैं?”.

“बहुत हो गया”, मिस्टर ब्रॉन की आँखों में निष्ठुर एवं क्रूर भाव थे।

“हम तुमसे भाषण सुनना नहीं चाहते आइन्स्टीन। आज तुमको एक अतिरिक्त कालांश रुकना पड़ेगा, यद्यपि मैं कल्पना तक नहीं कर सकता कि तुम्हें इससे कोई फायदा होगा। इससे स्कूल को भी कोई लाभ नहीं होगा। तुम एक अपमान हो। मैं नहीं जानता कि तुम लगातार स्कूल क्यों आते हो।”

“It’s not my wish………beat her. (Page 26)

कठिन शब्दार्थ : pointed out (पॉइन्ट्ड आउट) = बतलाया, ungrateful (अनग्रेटफ्ल) = कृतघ्न, ashamed (अशेम्ड्) = शर्मिंदा, miserable (मिज़ब्ल्) = दयनीय, stay (स्टे) = रुकना, lodgings (लॉजिङ्स) = आवास, cheer up (चीअ(र) अप्) = प्रसन्न होना, spare (स्पेअर) = रखना anarters (क्वॉट(र)स) = छोटे-छोटे मकान, atmosphere (ऐट्मस्फिअ(र)) = (स्लम्) = गंदी बस्ती, झुग्गी-झोंपड़ी, violence (वाइअलन्स्) = हिंसा, squalor (स्क्वॉल(र)) = गंदगी, landlady (लैन्ड्लेडि) = मकान-मालकिन, beat (बीट) = पीटना।

हिन्दी अनुवाद : “यह मेरी इच्छा नहीं है, श्रीमान्” अल्बर्ट ने कहा।

“तब तुम एक कृतघ्न लड़के हो और अपने आप पर शर्म आनी चाहिए। मेरा तुम्हें सुझाव है कि तुम्हारे पिताजी आएँ और तुम्हें ले जावें।”

अल्बर्ट ने उस दिन दोपहर बाद जब स्कूल छोड़ा उसने दु:ख महसूस किया, इसलिए नहीं कि वह बुरा दिन था, अब तो अधिकतर दिन बुरे होते थे, लेकिन उसे अगले दिन सुबह उस घृणास्पद स्थान पर फिर जाना था। उसकी केवल यही इच्छा थी कि उसके पिताजी आकर उसे ले जाएँ, लेकिन कहने से भी कोई लाभ नहीं होने वाला था। वह जानता था कि उत्तर क्या होगा; जब तक वह अपना डिप्लोमा नहीं ले लेता उसे वहीं रुकना पड़ेगा।

अपने आवास पर वापस जाते हुए उसे प्रसन्नता नहीं होती थी। उसके पिताजी उसके लिए इतना ही धन बचा पाते थे कि उसे म्यूनिख के निर्धनतम लोगों के मकानों में एक कमरा मिल पाया था। वह खराब भोजन और आराम की कमी और धूल व गंदगी की परवाह नहीं करता था, लेकिन वह गन्दी बस्ती की हिंसा से घृणा करता था। उसकी मकान-मालकिन अपने बच्चे की नियमित पिटाई करती थी और हर शनिवार उसका पति पिए हुए आता और उसकी पिटाई करता था।

“But at least……………………said Yuri.” (Page 26)

कठिन शब्दार्थ : at least (एट लीस्ट) = कम-से-कम, civilized. (सिवलाइज्ड्) = सभ्य, human being (ह्यूमन् बीइङ्) = मानव प्राणी, duel (ड्यूअल) = द्वन्द्व, authorities (ऑथॉरटिज) = अधिकारीगण, scar (स्का(र)) = घाव का निशान, badge (बैज्) = पदक, honour (ऑन(र)) = सम्मान।

हिन्दी अनुवाद : “लेकिन कम-से-कम तुम्हारे पास अपना कमरा तो है जो मेरे विचार से काफी है”, यूरी ने उससे कहा जब वह शाम को उससे मिलने गया।

“कम-से-कम तुम सभ्य मानव प्राणियों के बीच में तो रहते हो। चाहे वे गरीब विद्यार्थी ही सही”, अल्बर्ट ने कहा।

“वे सब सभ्य नहीं हैं,” यूरी ने उत्तर दिया। “क्या तुमने नहीं सुना कि उनमें से एक पिछले सप्ताह द्वन्द्व युद्ध में मारा गया?”

“और उसका क्या हुआ जिसने उसे मारा था?”

“निस्सन्देह, कुछ नहीं हुआ। उसे तो इस पर गर्व है। उसकी तो केवल मात्र चिन्ता यह है कि अधिकारियों ने उससे कहा है कि वह अब और द्वन्द्व न करे। वह इस बात को लेकर परेशान है कि उसके पास सम्मान के तमगे के रूप में चेहरे पर शेष जीवन में दिखाने के लिए कोई घाव का निशान नहीं है।”

“ऊह !” अल्बर्ट चिल्लाया, “और ये विद्यार्थी हैं।”

“अच्छा, तुम भी एक दिन विद्यार्थी बनोगे,” यूरी ने कहा।

“I doubt it. …………..with your diploma.” (Page 27)

कठिन शब्दार्थ : doubt (डाउट) = शंका, glumly (ग्लम्लि) = उदासी से, निराशा से, normally (नॉमलि) = सामान्यतया, stupid (स्ट्यूपिड्) = बेवकूफ, get through (गेट् श्रू) = सफल होना, understand (अन्डस्टैन्ड्) = समझना, repeat (रिपीट्) = दोहराना, trouble (ट्रब्ल) = मुसीबत, learn by heart (लन् बाइ हाट्) = रहना, कण्ठस्थ याद करना, added (एड्ड) = शामिल किया, जोड़ा, geology (जिओलोजी) = भूगर्भ विज्ञान, rocks (रॉक्स) = चट्टानें, hardly (हाड्लि) = मुश्किल से ही, reason (रीज्न्) = कारण, sighed (साइड) = आह भरी।

हिन्दी अनुवाद : “मुझे इसमें शंका है”, अल्बर्ट ने निराशा से कहा। “मैं नहीं सोचता कि मैं कभी स्कूल डिप्लोमा की परीक्षा पास कर पाऊँगा।” उसने अपनी चचेरी बहिन एल्सा से वही बात कही, अगली बार जब वह म्यूनिख आई हुई थी। सामान्य रूप से वह बर्लिन में रहती थी, जहाँ उसके पिताजी का व्यवसाय था।

“मुझे विश्वास है तुम परीक्षा पास करने लायक सीख सकते हो, अल्बर्ट, यदि तुमने कोशिश की” उसने कहा। “मैं बहुत से लड़कों को जानती हूँ जो तुमसे भी ज्यादा बेवकूफ हैं, जो सफल हो जाते हैं। वे कहते हैं तुम्हारे पास जानने को कुछ भी नहीं है। तुम्हें जो पढ़ाया जाता है, तुम्हें वह समझना नहीं है, बस इसे परीक्षाओं में दोहराने योग्य होना है।”

“यही तो मुसीबत है”, अलबर्ट ने कहा। “मैं बातों को रट नहीं सकता हूँ।”

“तम्हें इसके लिए अच्छा होने की आवश्यकता नहीं है। कोई भी तोते की तरह याद कर सकता है। तुम कोशिश मत करो और मैं फिर भी तुम्हारी बगल में हमेशा पुस्तक देख सकती हूँ”, एल्सा ने आगे कहा।

“वह क्या है जो तुम पढ़ रहे हो?”

“भूगर्भशास्त्र की पुस्तक।”

“भूगर्भशास्त्र? चट्टानें और ऐसी ही वस्तुएँ? क्या तुम इसे याद करते हो?”

“नहीं। हमें स्कूल में मुश्किल से ही विज्ञान पढ़ाई जाती है।”

“तब तुम इसे क्यों पढ़ रहे हो?”

“क्योंकि मैं इसे पसन्द करता हूँ। क्या यह पर्याप्त कारण नहीं है?”

एल्सा ने आह भरी।

“तुम ठीक कहते हो, निःसन्देह, अल्बर्ट”, उसने कहा। “लेकिन यह तुम्हें डिप्लोमा में मदद नहीं करेगा।”

Apart from books……………………………….from it. (Page 27)

कठिन शब्दार्थ : wailing (वेलिङ्) = चीखना, nerves (नव्स) = स्नायु तन्त्र, kids (किड्स) = छोटे बच्चे, howling (हाउलिङ्) = चीखना, tempted (टेम्प्ट्ड ) = लालायित होना, point out (पॉइन्ट आउट) = बतलाना, absurd (अब्सड्) = भद्दा, gleamed (ग्लीम्ड) = चमकी, nervous breakdown (नवस् ब्रेकडाउन्) = स्नायु-तन्त्र की खराबी, घबराना।

हिन्दी अनुवाद : विज्ञान की पुस्तकों के अतिरिक्त उसे एकमात्र चैन संगीत से मिलता था और वह अपनी वीणा नियमित रूप से बजाता रहता था जब तक मकान-मालकिन उसे रोकने के लिए नहीं कहती। वह “चीख मेरे तन्त्रिका तन्त्र को प्रभावित करती है”, उसने कहा। “तमाम बच्चों के चिल्लाने से घर में बहुत शोर होता है।”

अल्बर्ट को यह कहने की लालसा हुई कि अधिकतर समय वही उन्हें शोर मचाने पर मजबूर करती थी लेकिन उसने निश्चय किया कि कुछ न कहना ही ज्यादा अच्छा था।

“मुझे यहाँ से चले जाना चाहिए” उसने यूरी से कहा, “छ: माह म्युनिख में अकेले बिताने के बाद मेरे लिए इस तरह चलना बहुत बुरा होगा। अन्त में यह बात साबित हो जाएगी कि मैं अपने पिता के पैसे को व्यर्थ में नष्ट कर रहा हूँ और प्रत्येक के समय को। यदि मैं अभी बन्द कर दूं तो सबके लिए अच्छा रहेगा।”

“और तब तुम क्या करोगे?” यूरी ने पूछा।

“मैं नहीं जानता। यदि मैं मिलान जाता हूँ मुझे डर है। मेरे पिताजी मुझे वापस भेज देंगे। यदि नहीं…” उसकी आँखों में एक अचानक विचार से चमक आ गई। “यूरी, क्या तुम किसी डॉक्टर मित्र को जानते हो?”

“मैं बहुत से चिकित्सा के विद्यार्थियों को जानता हूँ। और उनमें से कुछ मित्रवत् हैं”, यूरी ने कहा। “डॉक्टर, नहीं। मेरे पास इतना पैसा नहीं कि मैं किसी डॉक्टर के पास जाऊँ। क्यों?”

“मान लो”, अल्बर्ट ने कहा, “कि मेरा तन्त्रिका तन्त्र खराब हो। मान लो डॉक्टर कहे, स्कूल जाना मेरे लिए बुरा है और मुझे इनसे अलग हो जाना चाहिए।”

I can’t imagine……………….quite nervous. (Page 28)

कठिन शब्दार्थ : imagine (इमैजिन्) = कल्पना करना, specialises (स्पेशलाइज्ज) = विशेष योग्यता रखने वाला, plenty (प्लेन्टि) = पर्याप्त, hesitated (हेजिटेट्ड) = हिचकिचाया, reluctantly (रिलक्टट्लि) = तसल्ली से, declared (डिक्लेअ(र)ड) = घोषणा की, real (रीअल) = वास्तविक, merrily (मेरिलि) = प्रसन्नता से, remarked (रिमाक्ट) = बतलाया, assured (अशॉ (र)ड) = विश्वास दिलाया, spirit (स्पिरिट्) = उमंग, जोश, satisfy (सैटिस्फाइ) = सन्तुष्ट करना, appointment (अपाइंटमेंट) = मिलने का समय माँगना, नियुक्त करना, warned (वॉन्ड) = चेतावनी दी, pull the wool over his eyes (पुल् दी वुल् ओवर हिज आइज) = धोखा देना, frank (फ़ैङ्क) = स्पष्ट कहना, pretend (प्रिटेन्ड) = बहाना बनाना, liar (लाइअ(र)) = झूठा।

हिन्दी अनुवाद : “मैं एक डॉक्टर को ऐसा कहने की कल्पना नहीं करता,” यूरी ने कहा।

“मुझे ऐसा डॉक्टर तलाश करने की कोशिश करनी चाहिए जो तन्त्रिका तन्त्र रोग का विशेषज्ञ हो,” अल्बर्ट ने कहा।

“उनमें ऐसे पर्याप्त हैं”, यूरी ने उसे बतलाया। वह एक क्षण के लिए हिचकिचाया और तब बड़े चैन से यह बात जोड़ दी, “यदि तुम चाहो तो मैं कुछ विद्यार्थियों से पूछूगा, यदि वे किसी को जानते हों।”

– “क्या तुम पूछोगे? ओह, धन्यवाद यूरी”, अल्बर्ट की आँखें चमक रही थीं।

“एक क्षण इन्तजार करो, अभी तक मुझे कोई डॉक्टर मिला नहीं….,. ।”

“ओह, लेकिन तुम तलाश कर लोगे।” ।

“और यदि मैं तलाश कर लूँ तो मैं नहीं जानता कि वह तुम्हारी मदद को इच्छुक होगा…..”

“वह मदद करेगा, वह मदद करेगा”, अल्बर्ट ने घोषणा की।

“वास्तव में मुझे घबराहट होने वाली है यह। उसके लिए इसे आसान कर देगी।” वह केवल हँस दिया। “मैंने तुम्हें कम घबराने वाला कभी नहीं देखा”, यूरी ने कहा।

“स्कूल एक या दो दिन जाने पर जल्दी ही ठीक हो जायेगा।” अल्बर्ट ने उसे विश्वास दिलाया। यूरी ने उसे जब दूसरी बार देखा तो निश्चयपूर्वक वह अपना उत्साह खो चुका था।

“इस तरह अधिक समय तक मैं रुक नहीं सकता हूँ”, उसने कहा। “निश्चयपूर्वक मुझे घबराहट हो जाएगी जो किसी भी डॉक्टर को सन्तुष्ट कर देगी।”

“तब इसे बनाए रखो”, यूरी ने कहा। “मैंने तुम्हारे लिए एक डॉक्टर तलाश कर लिया है।”

“तुमने तलाश कर लिया है?” अल्बर्ट का चेहरा खिल उठा।”ओह, अच्छा। मैं इससे कब मिल सकता

. हूँ?”

“मैंने उससे तुम्हें मिलने के लिए कल शाम का समय ले लिया है”, यूरी ने कहा। “ये रहा पता।” उसने अल्बर्ट को एक कागज का टुकड़ा सौंप दिया।

“डॉक्टर अन्स्ट वेल—क्या यह तन्त्रिका तन्त्र की बीमारी का विशेषज्ञ है?” अल्बर्ट ने पूछा।

“ठीक-ठीक मालूम नहीं”, यूरी ने स्वीकार किया। “सही बात यह है कि उसने गत सप्ताह ही डॉक्टर की योग्यता हासिल की है। तुम उसके पहले मरीज हो सकते हो।”

“तुम उसे तब एक विद्यार्थी के रूप में जानते थे?”

“मैं अन्स्ट को वर्षों से जानता हूँ”, यूरी कुछ क्षण हिचकिचाया। “वह मूर्ख नहीं है”, यूरी ने अल्बर्ट को चेतावनी दी।

“तुम्हारा क्या मतलब है?”

“उसे धोखा देने की कोशिश मत करना, बस यही। उसे स्पष्ट बतला देना लेकिन जो बीमारी तुम्हें नहीं है उसका बहाना मत बनाना। यह भी नहीं तुम्हें किसी को धोखा देना है”, यूरी ने जोड़ दिया। “तुम संसार के सबसे बुरे झूठ बोलने वाले हो।”

अल्बर्ट ने अगला दिन यह सोचने में बिता दिया कि डॉक्टर से क्या कहा जाये। जब उसके मिलने का समय आया तो वह इतना चिन्तित हो गया कि उसे वास्तव में अत्यन्त घबराहट हो गई।

I don’t really…………………….supper. (Page 29)

कठिन शब्दार्थ : smile (स्मॉइल्) = मुस्कराना, case (केस्) = मामला, wide-eyed (वाइड् आइड्) = फटी आँखों से, close (क्लोज) = निकट, briskly (ब्रिस्क्ल ) = फुर्ती से, dejected (टिड्) = निराश हो गया, quickly (क्विक्ल) = शीघ्रता से, showed off (शोड् ऑफ) = दिखाया।

हिन्दी अनुवाद : “मैं वास्तव में नहीं जानता कि अपने कष्ट का वर्णन कैसे करूँ, डॉक्टर वेल”, उसने शुरू किया।

“कोशिश मत करो”, नौजवान डॉक्टर ने मित्रवत् मुस्कराहट के साथ कहा।

“यूरी मुझे पूरे मामले का इतिहास पहले ही दे चुका है।”

“ओह! उसने क्या कहा?”

“केवल यही कि तुम यह चाहते हो कि मैं यह सोचूँ कि तुम घबराहट (तन्त्रिका तन्त्र की खराबी) से पीड़िति हो और यह कहूँ कि तुम्हें स्कूल नहीं जाना चाहिए।”

“ओह प्रिय”, अल्बर्ट के चेहरे पर उदासी छा गई। “उसे आपको ऐसा नहीं कहना चाहिए था।”

“क्यों नहीं? तब क्या यह बात सच नहीं है?”

“हाँ, यही तो मुसीबत है। अब आप यह कहेंगे कि मुझे कोई गड़बड़ नहीं है और आप मुझे वापस स्कूल जाने को कहेंगे।”

“इसके प्रति इतने विश्वसनीय मत बनो”, डॉक्टर ने कहा। “जहाँ तक सच बात है, मुझे बहुत अच्छा विश्वास है कि तुम स्कूल के बारे में घबराहट की स्थिति में हो।”

“लेकिन मैंने तो इसके बारे में आपको कुछ नहीं बतलाया है”, अल्बर्ट ने आश्चर्यचकित होकर कहा। “आप यह कैसे जानते हैं?”

“क्योंकि यदि तुम्हें घबराहट की अच्छी बीमारी नहीं होती तो तुम मेरे पास नहीं आते, यही कारण है, अब” फुर्ती से डॉक्टर ने कहा, “यदि मैं यह प्रमाणित कर दूँ कि तुम्हें घबराहट की बीमारी है और थोड़े समय के लिए स्कूल से दूर रहना चाहिए, तुम क्या करोगे?”

“मैं इटली चला जाऊँगा”, अल्बर्ट ने कहा। “मिलान में, जहाँ मेरे माता-पिता रहते हैं।”

“और तुम वहाँ क्या करोगे?”

“मैं इटली के कॉलेज या संस्था में प्रवेश ले लूँगा।”

“बिना डिप्लोमा के तुम कैसे प्रवेश ले सकते हो?”

“मैं अपने गणित के अध्यापक से अपने कार्य के लिए कुछ देने को कहूँगा, और शायद यह पर्याप्त होगा। उन्होंने स्कूल में जो गणित पढ़ाया वह मैं सीख चुका हूँ और इससे थोड़ा अधिक”, उसने यह बात और जोड़ दी जब डॉक्टर वेल सशंकित दिखाई दिए।

“अच्छा, यह तुम पर निर्भर करता है”, उसने कहा। “मुझे शंका है कि यह सम्भव होगा लेकिन मैं देख सकता हूँ कि यह तुम स्वयं नहीं कर रहे हो या कोई और यहाँ रह कर अच्छा नहीं करेगा। तुम मुझसे कितने समय तक स्कूल से दूर रहने के लिए कहलवाना चाहते हो? छः माह का समय ठीक रहेगा?”

“यह आपकी बहुत मेहरबानी होगी।”

“कोई खास बात नहीं। मैं स्वयं केवल एक विद्यार्थी होने के नाते रुका हुआ था इसलिए मैं जानता हूँ तुम कैसा महसूस करते हो, ये रहा।” डॉक्टर वेल ने प्रमाण-पत्र सौंपते हुए कहा, “और शुभकामना।” ।

“कितना…… ?”

“कुछ नहीं, यदि आपके पास कुछ अतिरिक्त है तो यूरी को भोजन पर निमन्त्रित करना। वह मेरा अच्छा मित्र है और तुम्हारा भी, मैं सोचता हूँ।”

अल्बर्ट के पास फालतू पैसा नहीं था, लेकिन उसने होने का बहाना बनाया और यूरी को भोजन पर बाहर ले गया।

Isn’t it wonderful…………….Mathematics. (Page 30)

कठिन शब्दार्थ : fine (फाइन्) = सुन्दर, अच्छा, agreed (एग्रीड्) = सहमत हुआ, actually (ऐक्चु अलि) = वास्तव में, worst (वस्ट्) = सबसे बुरा, carry on (कैरि ऑन्) = चालू रखना, forget (फगेट्) = भूलना, reference (रेफ्रन्स्) = सन्दर्भ, reminded (रिमाइन्ड्ड) = याद दिलाया, willingly (विलिङलि) = इच्छा से, seriously (सिअरिअस्लि) = गम्भीरता से, glowing (ग्लोइङ्) = शानदार, immediately (इमीजिअट्लि ) = तुरन्त।

हिन्दी अनुवाद : “क्या यह आश्चर्यजनक नहीं है?” यूरी को प्रमाण-पत्र दिखलाने के बाद उसने कहा।

“हाँ, यह अच्छा है।” यूरी सहमत हो गया। “छः माह का समय अच्छा समय है। इस तरह तुम वास्तविक रूप से स्कूल भी नहीं छोड़ रहे हो, यदि बुरे से बुरा होगा तो तुम वापस आ जाओगे और अपना डिप्लोमा चालू रखोगे।”

“मैं उस स्थान पर वापस कभी नहीं जाऊँगा”, अल्बर्ट ने उसे विश्वास दिलाया। “कल मैं प्रधानाध्यापक के पास यह प्रमाण-पत्र लेकर जाऊँगा और इसका अन्त हो जाएगा।”

“तुम पहले अपने गणित के अध्यापक से लिखित में सन्दर्भ लेना मत भूलना”, यूरी ने उसे याद दिलाया। मिस्टर कोच ने खुशी से अल्बर्ट को जो सन्दर्भ प्रमाण-पत्र वह चाहता था, दे दिया।

“यदि मैं यह कहूँ कि मैं तुमको और अधिक नहीं सिखा सकता, और सम्भवतया शीघ्र ही तुम मुझे सिखाने योग्य हो जाओगे, क्या यह उचित रहेगा?” उसने कहा।

“यह कहना अतिशयोक्ति होगी श्रीमान्”, अल्बर्ट ने कहा।

“यह केवल सच है। लेकिन ठीक। मैं इसे अधिक गम्भीरता से लूँगा।”

यह एक शानदार सन्दर्भ है और मिस्टर कोच ने वह बिन्दु तय किए जिनके आधार पर अल्बर्ट तुरन्त कॉलेज या संस्था में गणित के उच्च अध्ययन के लिए प्रवेश ले लेगा।

I’m sorry…………………….expelled. (Page 30)

कठिन शब्दार्थ : puzzled (पज्ल्ड ) = परेशान, interview (इन्टव्यू) = साक्षात्कार, summoned (समन्ड) = बुलाया, bothered (बाँद(र)ड) = परेशान होना, vaguely (वेग्लि ) = संदेह से, supposed (सपोज्ड) = माना गया, laziness (लेजीनेस) = आलसीपन, terrible (टेरब्ल) = भयंकर, repeated (रिपीटिड) = दोहराया, dazed (डेज्ड्) = सुन्न या जड़ हो जाना, expelled (इक्सपेल्ड) = निकाल दिया।

– हिन्दी अनुवाद : “मुझे खेद है तुम हमें छोड़ रहे हो । यद्यपि तुम मेरी कक्षा में अपना समय बर्बाद कर रहे हो”, उसने कहा।

“यही लगभग वह कक्षा है जहाँ मैं अपना समय बर्बाद नहीं कर रहा हूँ”, अल्बर्ट ने कहा। “लेकिन श्रीमान् आपको कैसे पता लगा कि मैं स्कूल छोड़ रहा हूँ?”

“ऐसा न हो तो तुम मुझसे यह सन्दर्भ लिखने को नहीं कहते।”

“मैंने सोचा आपको आश्चर्य होगा……..”

“इसमें आश्चर्य की कोई बात नहीं, आइन्स्टीन । मैं जानता था तुम अपने आपको समझो इससे पहले तुम स्कूल छोड़कर जाने वाले थे।”

अल्बर्ट परेशान था। अध्यापक का क्या मतलब था? उसे शीघ्र ही पता चल गया। इससे पहले कि उसे मुख्य अध्यापक से मिलने के लिए समय माँगने का अवसर मिलता, उसे मुख्य अध्यापक के कमरे में बुलवाया गया।

“अच्छा, इससे मेरा एक या दो घण्टे बाहर इन्तजार करने का समय बच जाएगा”, उसने सोचा।

उसे मुश्किल से ही यह आश्चर्य करने में परेशानी नहीं होगी कि उसे क्यों बुलाया गया लेकिन शंका थी कि उसे दुबारा बुरे कार्य और आलसीपन के लिए सजा दी जाएगी। अच्छा, उसने अपनी बात सजा के साथ पूरी की।

‘मैं तुम्हें सजा देने नहीं जा रहा हूँ”, प्रधानाध्यापक ने कहा। अल्बर्ट के आश्चर्य का ठिकाना नहीं रहा। “तुम्हारा कार्य भयानक है, और अब मैं भविष्य में तुमको यहाँ रखने को तैयार नहीं हूँ, आइन्स्टीन । मैं चाहता हूँ कि तुम अब स्कूल छोड़ दो।”

“अभी स्कूल छोड़ दूं?” अल्बर्ट ने सुन्न होकर दोहराया।”

“यह वही है जो मैंने कहा।”

“आपका अभिप्राय है”, अल्बर्ट ने कहा, “कि मुझे निष्कासित किया जाता है?”

“You can take it……………….happier there.” (Page 31)

कठिन शब्दार्थ : not mincing words (नॉट मिन्सिङ् वड्ज) = स्पष्ट रूप से नहीं कहना, own accord (ओन् अकॉड्) = अपने आप ही, अपने अनुसार, arise (अराइज्) = उठना, उत्पन्न होना, crime (क्राइम्) = अपराध, committed (कमिटिड्) = किया, constant (कॉन्स्टन्ट्) = लगातार, rebellion (रिबेल्यन्) = विद्रोह, burning a hole in his pocket (बनिङ् अ होल् इट् हिज् पॉकिट) = छेद कर रहा था, बेकार था, agreement (एग्रीमन्ट) = समझौता, tempted (टेम्प्ट्ड ) = लालायित होना, stalked out (स्टॉक्ट आउट) = गर्व से बाहर निकला, ignored (इग्नॉ(र)ड) = ध्यान न देना, उपेक्षा करना, straight (स्ट्रेट्) = सीधा, goodbye (गुड्बाइ) = अलविदा।

हिन्दी अनुवाद : “तुम इसे ऐसा ही समझ सकते हो यदि तुम चाहो तो, आइन्स्टीन।” प्रधानाध्यापक ने स्पष्ट शब्दों में नहीं कहा। “तुम्हारे लिए सबसे आसान तरीका होगा कि तुम अपने अनुसार चलो, तब प्रश्न ही पैदा नहीं होगा।”

“लेकिन” अल्बर्ट ने कहा, “मैंने क्या अपराध किया है?”

“कक्षा में तुम्हारी उपस्थिति अध्यापक का पढ़ाना असम्भव कर देती है और दूसरे विद्यार्थियों का सीखना असम्भव कर देती है। तुम सीखने से मना करते हो, तुम लगातार विद्रोह करते रहे हो और जब तुम कक्षा में होते हो कोई भी गम्भीर कार्य नहीं हो सकता है।”

अल्बर्ट को चिकित्सा प्रमाण-पत्र जेब में जलता हुए छिद्र करता हुआ प्रतीत हुआ।

“मैं किसी भी तरह से छोड़ रहा था”, उसने कहा।

“तब कम-से-कम हमारा समझौता हो गया, आइन्स्टीन”, प्रधानाध्यापक ने कहा।

एक क्षण के लिए अल्बर्ट उस आदमी से कहने को लालायित था कि उसके बारे में उसने क्या सोचा था और उसके स्कूल के बारे में। तब उसने स्वयं को रोका। अपना सिर ऊँचा किए बिना एक शब्द कहे वह गर्व से बाहर आ गया।

“अपने पीछे दरवाजा बन्द कर देना”, प्रधानाध्यापक चिल्लाया।

अल्बर्ट ने उसकी बात पर ध्यान नहीं दिया।

वह स्कूल से सीधा बाहर आ गया जहाँ उसने पाँच कष्टपूर्ण वर्ष बिताए थे, इसे अन्तिम निगाह से देखने को बिना सिर घुमाये। उसे ऐसा कोई नहीं सूझा जिसे वह अलविदा कहना चाहेगा । वास्तव में, यूरी ही म्युनिख में एकमात्र ऐसा व्यक्ति था जिससे उसने मिलने के बारे में महसूस किया। इसके पहले कि वह उस शहर को छोड़े जिससे वह इतनी घृणा करता था जितनी स्कूल से। एल्सा वापस बर्लिन आ गई थी और उसका कोई सच्चा मित्र नहीं था।

“अलविदा, सौभाग्य आपके साथ हो”, जब उसने प्रस्थान किया यूरी ने कहा। “तुम एक आश्चर्यजनक देश में जा रहे हो, यह मेरा विचार है। मैं आशा करता हूँ कि तुम वहाँ ज्यादा प्रसन्न रहोगे।”

Albert Einstein at School Hindi Translation