English Senior Secondary Board Exam 2019

  1. Where does Saheb work and how much money is he paid there?

(Lost Spring)

साहब कहां काम करते हैं और उन्हें वहां कितना पैसा मिलता है? [2]

Answer: Saheb has got a job at a small tea stall. He is paid Rs. 800 and all his meals.

साहेब को एक छोटी सी चाय की दुकान पर नौकरी मिल गई है। उसे रुपये का भुगतान किया जाता है। 800 और उसके सभी भोजन।

2. Why did William Douglas decide to join the YMCA pool? [2]

(Deep Water)

विलियम डगलस ने वाईएमसीए पूल में शामिल होने का फैसला क्यों किया?

Answer: When Douglas decided to overcome his childhood fear of water he preferred to go to YMCA swimming pool to learn swimming because it was safe

उत्तर: जब डगलस ने पानी के अपने बचपन के डर को दूर करने का फैसला किया तो उन्होंने तैराकी सीखने के लिए वाईएमसीए स्विमिंग पूल जाना पसंद किया क्योंकि यह सुरक्षित था।

3. Draw a character-sketch of Mr. Lamb.

(On the Face of It)

श्रीमान लैम्ब का चरित्र-चित्र बनाइए।

Answer: He is an important character in the lesson “On the face of it”. He has a tin leg. Children called him Lamey- Lamb. He lived alone and kept the doors of his garden open which symbolises his open-mindedness to all who visited his garden. He knew the art of living. He was a man with positive attitude. He brought a major change in Derrys attitude towards life as he was full of negativity due to the scar on his face. Mr. Lamb told him to meet people happily and learn to be happy with himself instead of burning himself with the acid of hatred for others. Mr. Lamb was a lonely person. He used to get happiness by spending time with others and reading books. In the end Derry shows respect for him by coming back to him to help him pluck crab apples but finds him dead due to his Mr. Lamb s fall from the ladder.

वह “इसके चेहरे पर” पाठ में एक महत्वपूर्ण चरित्र है। उसके पास एक टिन पैर है। बच्चे उन्हें लेमी- लैम्ब कहते थे। वह अकेला रहता था और अपने बगीचे के दरवाजे खुले रखता था जो उसके बगीचे में आने वाले सभी लोगों के लिए उसके खुले विचारों का प्रतीक है। वह जीने की कला जानता था। वे सकारात्मक सोच वाले व्यक्ति थे। उन्होंने डेरी के जीवन के प्रति दृष्टिकोण में एक बड़ा बदलाव लाया क्योंकि उनके चेहरे पर चोट के निशान के कारण वे नकारात्मकता से भरे हुए थे। मिस्टर लैम्ब ने उससे कहा कि लोगों से खुशी-खुशी मिलें और दूसरों के लिए नफरत के तेजाब से खुद को जलाने के बजाय खुद से खुश रहना सीखें। श्रीमान लैम्ब एक अकेले व्यक्ति थे। उन्हें दूसरों के साथ समय बिताकर और किताबें पढ़कर खुशी मिलती थी। अंत में डेरी उसके पास वापस आकर केकड़ा सेब तोड़ने में मदद करने के लिए उसके प्रति सम्मान दिखाता है लेकिन सीढ़ी से उसके मिस्टर लैम्ब के गिरने के कारण उसे मृत पाता है।

4. Why did Franz start for school very late that morning?

(The Last Lesson)

फ्रांज उस सुबह स्कूल के लिए बहुत देर से क्यों शुरू हुआ?

Answer: Hamel was to question them on ‘Participles’. He did not know a word about participles. He was frightened and was to get a scolding for not learning his lesson. So he started very late for school that morning

हमेल को उनसे ‘प्रतिभागियों’ पर सवाल करना था। वह प्रतिभागियों के बारे में एक शब्द भी नहीं जानता था। वह डरा हुआ था और सबक न सीखने पर उसे डांट भी खानी पड़ी। तो वह उस सुबह स्कूल के लिए बहुत देर से शुरू हुआ

English Senior Secondary Board Exam 2019