This is Jody’s Fawn

Summary and Translation in Hindi

पढ़ने से पूर्व : 

कई बार, एक छोटे कट या जलने पर चिकित्सक के पास दौड़ने के बजाय, हम घर पर उपलब्ध वस्तुओं के प्रयोग से शीघ्र व प्रभावी उपचार ढूँढ़ते हैं। क्या आप कुछ ऐसे ही घरेलू उपचार इनके लिए सोच सकते हैं 

  • आपके घुटने पर एक कट 
  • आपकी भुजा पर एक जलन (झुलसन) 
  • मधुमक्खी का एक डंक 

इस कहानी में, जोडि के पिता को रैटलसर्प द्वारा डस लिया गया है। वह शीघ्रता से एक हिरनी को मारता है और इसके हृदय व यकृत का प्रयोग विष को बाहर खींचने के लिए करता है। जोडि परेशान हो जाता है कि उस छोटे से मृगशावक का क्या होगा जो बिना माँ के छोड़ दिया (रह) गया था। 

कठिन शब्दार्थ एवं हिन्दी अनुवाद 
 
Jody allowed his ……………………… see another day. (Pages 86-87) 

कठिन शब्दार्थ : 

allowed (अलाउड) = अनु ते दी, thoughts (थॉट्स) = विचार, drift back to (ड्रिफ्ट बैक टु) = पुनः की ओर प्रवाहित होना, dreams (ड्रीम्ज) = स्वप्न, pupils (प्युपिल्ज) = पुतलियाँ, dilated (डाइलेटिड) = फैली हुई, thieving (थीविंग) = चुराने, elsewhere (ऐल्सवेअर) = अन्यत्र, a close shave (अ क्लोज शेव) = खतरे से बाल-बाल बचने की स्थिति, kept your head (केप्ट योर हेड) = एक कठिन परिस्थिति में शान्त चित्त बने रहना,

recollect (रेकॅलेक्ट) = याद करना, doe (ड) = मादा हरिण/हरिणी, fawn (फॉन) = मृगशावक (एक वर्ष से कम का), scared (स्केअर्ड) = डरा हुआ, raise (रेइज) = पालन-पोषण करना, lay quiet (ले क्वाइअट) – शान्त लेटे रहना, staring (स्टेअरिंग) = घूरना, ceiling (सीलिंग) = कमरे के अन्दर से ऊपर दिखने वाली छत, hemmed in (हेम्ड इन) = ऐसे असमंजस में पड़ना कि न नहीं कह पाना, acoms (एकॉन्ज) = बंजुफल, ungrateful (अनग्रेटफुल) = अकृतज्ञ, starve (स्टाव) = भूखे मरना। 

नुवाद : जोडि ने अपने विचारों को वापिस मृगशावक की ओर प्रवाहित होने की अनुमति दी (अर्थात वह बारंबार मृगशावक के विषय में विचार कर रहा था)। वह इसे अपने मस्तिष्क से बाहर नहीं रख पाया (अर्थात् वह अपना ध्यान उससे नहीं हटा पा रहा था)। उसने इसे थामे रखा था, अपने स्वप्नों में, अपनी बांहों में।

वह मेज से रिपटा (उतरा) और अपने पिता के बिस्तर की बगल में चला गया। पेनि शान्त लेटा रहा। उसके नेत्र खुले व साफ थे, लेकिन पुतलियाँ अभी भी काली व फैली हुई थीं।। जोडि ने कहा, “पा (पापा पिताजी), आप कैसा महसूस कर रहे हैं?” “बिल्कुल अच्छा, पुत्र । पहले वाली मृत्यु चुराने के लिए अन्यत्र चली गई है (अर्थात् मृत्यु किसी और का जीवन चुराने चली गई है)। किन्तु क्या यह खतरे से बाल-बाल बचने की स्थिति नहीं थी।” “मैं सहमत हूँ।”

पेनि ने कहा, “मुझे तुम पर गर्व है, लड़के, जिस तरीके से तुमने कठिन परिस्थिति में भी शान्त चित्त बनाए रखा र (वह) किया जो आवश्यक था।” “पा”। “हाँ, पुत्र।” . “पा, क्या आप मादा मृग व मृगशावक का स्मरण करते हैं?” “मैं उन्हें कभी नहीं भल सकता। बेचारी हरिणी ने मझे बचाया. वह सनिश्चित है।” “पा, वह मृगशावक अभी भी वहाँ बाहर हो सकता है। वह भूखा हो सकता है और बहुत डरा हुआ।” “मैं भी ऐसा “पा, मैं अब एक बड़ा लड़का हूँ और दूध पीने की (मुझे) आवश्यकता नहीं है। मैं क्यों नहीं जाऊँ और देखू कि क्या मैं मृगशावक को ढूँढ़ सकता हूँ?” 

“और इसे यहाँ लाना?” “और इसे पालना।” पेनि शान्त लेटा रहा, भीतरी छत को घूरते हुए। “लड़के, बुमने मुझे ऐसे असमंजस में डाल दिया कि न नहीं कह पाऊँ।” “पा, इसे पालने में अधिक (खर्चा) नहीं लगेगा। यह शीघ्र ही पत्ते और बंजुफल खाना आरम्भ कर देगा।” “तुम अपनी उम्र के बच्चों से अधिक विवेकशील हो।” 

“हमने इसकी माँ को ले लिया (अर्थात् छीन लिया) और इसे दोषारोपित नहीं किया जाना था (अर्थात् इस पर दोष नहीं मढ़ा जा सकता)।” “निश्चय ही इसे भूखा छोड़ने देना यह अकृतज्ञ जान पड़ता है। पुत्र, मैं तुमसे ना नहीं कह सकता हूँ। मैंने नहीं सोचा था कि मैं दूसरा (अगला) दिन देखने के लिए जीऊँगा।” 

Can I ride ………………….every which way. (Pages 88-89) 

कठिन शब्दार्थ : 

ride (राइड) = सवारी करना, sidled back (साइडल्ड बैक) = झिझकते हुए चलना, pouring (पोरिंग) = बर्तन में पेय पदार्थ परोसना, gasped (गास्प्ट) = सांस में कठिनाई, pity sake (पिटि सेक) = दयावश, anxiously (एंकशसलि) = चिन्तित भाव से, mounted (माउंटिड) = पर चढ़ा, every which way (एवरि विच वे) = अलग-अलग दिशाओं में। 

हिन्दी अनुवाद : 

“क्या मैं मिल-वील के साथ करके (सवारी) जा सकता हूँ और देख सकता हूँ कि क्या मैं इसे ढूँढ़ सकता हूँ?” “अपनी मा (माँ) को बता दो मैंने कहा है कि तुम जा सकते हो।” वह झिझकते हुए मेज तक गया और बैठ गया। उसकी माँ प्रत्येक के लिए कॉफी उँडेल रही थी। । उसने कहा, “मा; पा कहते (कह रहे) हैं कि मैं मृगशावक को वापिस लाने जा सकता हूँ।” उसने बीच हवा में कॉफी के बर्तन को थामे रखा। “क्या (कौनसा) मृगशावक?”

“मृगशावक जो कि उस हरिणी से सम्बन्धित था जिसे हमने मार डाला। हमने हरिणी के यकृत का प्रयोग विष को बाहर खींचने तथा पा को बचाने (के लिए) किया था।” वह सांस लेने में कठिनाई अनुभव करने लगी (अर्थात् उसे बहुत हैरानी व दुःख हुआ)। “अरे, तो दयावश ही……..” “पा कहते हैं कि उसे भूखे मरने देना छोड़ना अकृतज्ञता होगी।”

डॉक.(डॉक्टर) विलसन ने कहा, “वह ठीक है, मैम। इस संसार में कुछ भी मुफ्त नहीं आता है। लड़का ठीक है और इसके पिता भी ठीक हैं।” मिल वील ने कहा, “वह मेरे साथ पीछे सवारी कर सकता है। मैं इसे ढूँढ़ने में उसकी सहायता करूँगा।” उसने (विवश होकर) बर्तन (केतली) नीचे रख दिया। 

“अच्छा, यदि तुम इसे अपना दूध दोगे तो हमारे पास इसे खिलाने के लिए अन्य कुछ नहीं है।” मिल-वील ने कहा, “आओ, लड़के। हमें सवारी करनी है।” मा बैक्स्टर ने चिन्तित होकर पूछा, “तुम लम्बे (समय) तो नहीं जाओगे?” जोडि ने कहा, “मैं निश्चित ही डिनर (रात के खाने) से पूर्व लौट आऊँगा।”

मिल-वील अपने घोड़े पर बैठा और जोडि को अपने पीछे (बैठाने के लिए) ऊपर खींचा। उसने मिल-वील से कहा, “क्या आप सोचते हैं कि मृगशावक अभी भी वहाँ है? क्या आप मेरी सहायता उसे ढूँढने में करेंगे?” “हम उसे ढूँढ लेंगे यदि वह जीवित है। आप कैसे जानते हैं कि यह वह नर है?” “निशान सभी एक पंक्ति में थे। मादा मृग शावक पर, पा कहते हैं निशान अलग दिशा में होते हैं…… “

Jody gave himself …………….. cat and buzzards. (Pages 89-90) 

कठिन शब्दार्थ : 

abandoned (अबैनडेंन्ड) = परित्यक्त/अपसर्जित, unwilling (अनविलिंग) = अनिच्छुक, . disappointment (डिसॅपॉइन्टमॅन्ट) = निराशा, endure (इनड्युअर) = सहन करना, scrub (स्क्रब) = झाड़ियाँ, wandered (वान्डर्ड) = चला गया, pine (पाइन) = चीड़ का वृक्ष, makes a bearing (मेक्स अ बेअरिंग) = दिशा-सूचक के जैसे कार्य करना, obliged (अबलाइज्ड) = कृतज्ञ होना, hooves (हूव्ज) = खुर/टाप,

crackling (बॅकलिंग) = टूटने की, twigs (ट्विग्ज) = टहनियाँ, for an instant (फोर एन इंस्टॅन्ट) = एक क्षण के लिए, buzzard (बजॅर्ड) = गिद्ध, rose (रउज) = ऊपर उठा (यहाँ उड़कर गया), flapped (फ्लैप्ट) = पंख मारे, oaks (ओक्स) = बलूत वृक्ष, carcass (काकॅस) = कंकाल, scrawny (स्क्रॉनि) = पतली, hissed (हिस्ट) = फुफकारा, threw (श्रू) = फेंकी, bough (बाउ) = बड़ी टहनी, adjacent (अजेसन्र) = साथ वाले,

carrion (कैरिअन) = मरा मांस खाने वाले, parted (पाटिड) = हटाई, clacked (क्लैक्ट) = फड़फड़ाये, impatient (इमपेशन्ट) = बेचैन, emerged (इमॅज्ड) = नजर आया था, dropped (ड्रॉप्ट) = गिरकर, on all fours (ऑन ऑल फोज) = हाथ-पैरों पर, sand (सैंड) = रेत, tracks (ट्रैक्स) = निशान, except (इक्सेप्ट) = की बजाय/को छोड़कर।। 

हिन्दी अनुवाद : 

जोडि ने अपने आपको उस मृगशावक के ख्यालों में खो दिया। वे उस परित्यक्त/अपसर्जित क्षेत्र को पार कर गये।  उसने कहा, “उत्तर की दिशा लें, मिल-वील। यह यहाँ ऊपर था जहाँ पा को सर्प द्वारा काटा गया था और हरिणी को मारा गया था और मैंने मृगशावक को देखा था।” अचानक जोडि, मिल-वील को अपने साथ रखने का अनिच्छुक था।

यदि मृगशावक मर गया था, या ढूँढ़ा नहीं जा सकता था, तो वह अपनी निराशा को दिखाई पड़ने नहीं दे सकता। और यदि मृगशावक वहाँ था, तो मिलन इतना प्रिय होगा और इतना गुप्त कि वह इसे बाँटना सहन नहीं कर सकता। उसने कहा, “यह अब दूर नहीं है, किन्तु घोड़े के लिए झाड़ियाँ बहुत धनी हैं। मैं इसे पैदल ही (कर) सकता  “किन्तु, लड़के, मैं तुम्हें अकेले छोड़ने से डरता हूँ। मान लो तुम खो गए या तुम भी सर्प द्वारा काट लिये गए तो?” 

“मैं सावधानी रखूगा। मुझे मृगशावक को ढूँढ़ने में लम्बा समय लग सकता है, यदि वह भटक गया है। मुझे ठीक यहीं छोड़ दो।”  “ठीक है, किन्तु तुम इसे अब आसान लो। तुम जानते हो उत्तर यहाँ है और पूर्व?” .”वहाँ, और वहाँ । वह लम्बा चीड़ दिशासूचक का काम करता है।” “इतना लम्बा।” “इतना लम्बा, मिल-वील। मैं कृतज्ञ हूँ।” 

उसने खुरों की आवाज का अन्त होने की प्रतीक्षा की, फिर दाईं दिशा ली। झाड़ी शान्त थी। बड़ी टहनियों को तोड़ने की केवल उसकी अपनी आवाज शान्ति के पार ध्वनित हुई। वह कुछ क्षण के लिए आश्चर्यचकित हुआ कि (कहीं) वह अपनी दिशा को गलत तो नहीं समझ गया था। फिर एक गिद्ध उसके सामने से ऊपर उठा और हवा में पंख मारता उड़ गया।

वह बलूत के नीचे साफ क्षेत्र में आया। गिद्ध, हरिणी के कंकाल के चारों ओर एक गोले में बैठे थे। उन्होंने अपनी लम्बी पतली गर्दनों पर से अपने सिर घुमाये और उस (जोडि) पर फुफकारे। उसने (जोडि ने) अपनी बड़ी टहनी उन पर फेंकी और वे एक बगल के वृक्ष में उड़ गए। 

रेत में बड़ी बिल्ली (शेर) के (पंजों के) निशान दिख रहे थे किन्तु बड़ी बिल्लियाँ (शेर) ताजा मारते थे, और उन्होंने हरिणी को मरे जीव का मांस खाने वाले पक्षियों के लिए छोड़ दिया था। उसने उस स्थान से घास हटाई जहाँ उसने मृगशावक को देखा था। यह सम्भव प्रतीत नहीं हुआ कि यह केवल कल ही (घटित हुआ) था।

मृगशावक वहाँ नहीं था। उसने उस साफ क्षेत्र का चक्कर लगाया। वहाँ कोई आवाज नहीं थी, निशान नहीं था। गिद्धों ने अपने पंख फड़फड़ाये, अपने (खाने के) काम पर पहुँचने के लिए बेचैन होकर। वह उस स्थान पर लौट जहाँ मृगशावक दिखाई पड़ा था और अपने सभी चारों (हाथ-पैरों) पर गिरकर रेत पर छोटे खुर के निशान के लिए सावधानी से देखने लगा। रात्रि की वर्षा ने बिल्ली (शेर आदि) व गिद्ध के (निशानों को) छोड़कर सभी निशान धो डाले थे। 

Movement directly ………………………. him and bleated. (Pages 90-91) 

कठिन शब्दार्थ : 

startled (स्टाटल्ड) = विस्मित कर दिया, tumbled (टम्बल्ड) = लड़खड़ाकर गिर पड़ा, motion (मोशन) = गति, shook (शुक) = हिला दिया, liquid (लिक्विड) = द्रवित, quivering (क्विवरिंग) = काँपना, whispered (विस्पेंड) = बुदबुदाया, scenting (सेन्टिंग) = सूंघते हुए, delirious (डिलिरिअस) = अत्यधिक प्रसन्न, convulsion (कॅनवल्शन) = सिहरन, stir (स्टॅर) = हिलना, stroked (स्ट्रोक्ट) = सहलाया, aChina deer (अ चाइना डिअर) = एक चीनी मिट्टी का हरिण,

sleek (स्लीक) = चिकना व चमकदार, scent (सेन्ट) = गंध, hung (हंग) = लटके थे, limply (लिम्पलि.) = अशक्तता से, hoist (हॉइस्ट) = ऊपर उठाना, bleat (ब्लीट) = मिमियाना, skirted (स्कॅर्टिड) = किनारे-किनारे चला, thicket (थिकिट) = झुरमुट, burden (बॅर्डन) = बोझ, bushes (बुशिज) = झाड़ियाँ,

prickling (प्रिकलिंग) = कंटीली, vines (वाइन्ज) = अंगूर की बेल, bobbed (बॉब्ड) = झूला (जल्दी-जल्दी ऊपर-नीचे हुआ), stride (स्ट्राइड) = लम्बे कदम, thumped (थम्प्ट) = धड़का, marvel (मावल) = अद्भुत, shield (शील्ड) = रक्षा करना/बचाना, trail (ट्रेल) = पगडंडी, intersection (इंटरसेक्शन) = कटान, dangling (डैन्गलिंग) = लड़खड़ाती, wavered (वेवर्ड) = डगमगाया। 

हिन्दी अनुवाद : 

सीधे उसके सामने की हलचल ने उसे विस्मित कर दिया जिससे वह पीछे की ओर लुढ़क गया। मृगशावक ने अपना चेहरा उसकी ओर उठाया। इसने अपना सिर चौड़ी, विस्मित कर देने वाली गति में घुमाया और अपनी द्रवित आँखों की घूरन से उसे (जोडि को) सिहरा दिया। यह काँप रहा था। इसने उठने या दौड़ जाने का कोई प्रयत्न नहीं किया।

जोडि आगे बढ़ने का स्वयं पर विश्वास नहीं कर सका। वह बुदबुदाया, “यह मैं हूँ।” मृगशावक ने अपनी नाक उठाई, उसे सूंघते हुए। उसने एक हाथ बाहर पहुँचाया और इसे मुलायम गर्दन पर रख दिया। इस स्पर्श ने उसे (जोडि को) अत्यधिक प्रसन्न कर दिया। वह सभी चारों (हाथ-पैरों) पर आगे बढ़ा जब तक कि वह इसके समीप बगल में न आ गया था।

उसने अपनी बाँहें इसके शरीर के चारों ओर डाल दीं। एक हल्की सिहरन इसके ऊपर से गुजरी किन्तु यह हिला नहीं। उसने इसकी बगलें इतनी सहजता से सहलाईं जैसे कि मृगशावक एक चीनी मिट्टी का हरिण हो और वह इसे तोड़ सकता था। इसकी त्वचा बहुत कोमल थी। यह चिकना व चमकदार और स्वच्छ था और इसमें घास की मधुर गन्ध थी। वह धीरे से खड़ा हुआ और मृगशावक को जमीन से ऊपर उठाया। इसकी टांगें लंगड़ाहट से झूल रही थीं। वे आश्चर्यजनक रूप से लम्बी थीं और उसे मृगशावक को अपनी बाँह के नीचे इतना ऊँचा उठाना पड़ा था जितना सम्भव था। 

उसे आशंका थी कि यह अपनी माँ की गन्ध को सूंघकर तथा उस दृश्य को देखकर टाँग मार सकता था और मिमिया सकता था। वह साफ जगह के किनारे-किनारे चला और झुरमुटों के बीच से अपना रास्ता बनाया। अपने बोझ को लिये हुए लड़कर गुजरना कठिन था। मृगशावक की टाँगें झाड़ियों से फँस गईं और वह अपनी स्वयं की (टाँग) को भी स्वतन्त्रता से नहीं उठा सका। उसने अपने चेहरे को कंटीली अंगूर लताओं से बचाने का प्रयास किया।

इसका सिर उसके लम्बे कदमों के कारण झूल रहा था। उसका हृदय इसके उसकी स्वीकृति के आश्चर्य से धड़का। वह पगडंडी पर पहुंचा और इतनी तेज चला जितना सम्भव हो सकता था जब तक कि वह घर जाने वाली सड़क के कटान तक नहीं आ गया। वह आराम करने रुका और मृगशावक को उसकी लड़खड़ाती टाँगों पर ही खड़ा कर दिया। यह उन पर डगमगाया। इसने उसकी ओर देखा और मिमियाया। 

He said, enchanted …………….. you found him. (Pages 91-92) 

कठिन शब्दार्थ : enchanted (इनचान्टिड) = मन्त्रमुग्ध होकर, piteously (पिटिअसलि) = दयनीयता से, wobbling (वॉबलिंग) = डगमगाते हुए, light headed (लाइट हेडिड) = स्पष्ट सोचने में असमर्थ, fondle (फॉन्डल) = पुचकारना, romp (रॉम्प) = उछल-कूद (बच्चों या जानवरों की), dared not (डेअर्ड नॉट) = साहस नहीं किया, alarm (अलाम) = भयभीत करना, breeze (ब्रीज) = मंद पवन, fumbled (फमबल्ड) = टटोला, latch (लैच) = सिटकनी, balked (बॉक्ट) = अनिच्छुक, clutched (क्लच्ट) = पकड़े।
 
हिन्दी अनुवाद : 

उसने मन्त्रमुग्ध होकर कहा, “मैं अपनी सांस सामान्य होने के बाद तुम्हें उठा लूंगा।” उसे अपने पिता की यह बात याद आई कि एक मृगशावक पीछे-पीछे चलेगा यदि इसे एक बार गोद में उठाया गया होता है। वह धीरे-धीरे चलने लगा। मृगशावक पीछे से उसे देखने लगा। वह इसके पास वापस आया और इसे सहलाया और पुनः चलने लगा। इसने कुछ डगमगाते कदम उसकी ओर उठाये और फिर दयनीयता से चिल्लाया। यह उसके पीछे-पीछे चलने का इच्छुक था।

यह उससे सम्बन्धित था। यह उसका अपना था। वह खुशी के मारे कुछ स्पष्ट सोच पाने में असमर्थ था। वह इसे पुचकारना चाहता था, इसके साथ दौड़ना व उछल-कूद करना चाहता था, इसे उसके पास तक आने को बुलाना चाहता था। उसने इसे भयभीत करने का साहस नहीं किया। उसने इसे ऊपर उठाया और इसे अपनी दोनों भुजाओं पर अपने सामने उठाकर इसे ले गया। उसे ऐसा प्रतीत हुआ कि वह बिना प्रयास के चला।
 
उसकी भुजाओं ने दर्द करना आरम्भ कर दिया और उसे पुनः रुक जाने को बाध्य किया गया। जब वह फिर चला, तो मृगशावक तुरन्त ही उसके पीछे-पीछे चला। उसने इसे कुछ दूरी तक चलने की अनुमति दी, फिर इसे पुनः उठा लिया। घर की दूरी कुछ नहीं थी। वह पूरे दिन और रात में भी चल सकता था, इसे गोद में ले जाते हुए व इसे पीछे-पीछे आते देखते हुए। वह पसीने से गीला हो गया था किन्तु जून सवेरे की बहती मंद पवन उसे शीतलता दे रही थी।

आकाश इतना साफ था जितना कि नीले चीनी मिट्टी के रूप में झरने का जल। वह साफ स्थान पर आया। यह रात्रि की वर्षा के उपरान्त ताजा व हरि उसने सिटकनी को टटोला और मृगशावक का प्रबन्ध करने के लिए आखिरकार उसे नीचे रखने को बाध्य हुआ। फिर, उसे एक विचार आया-वह चलकर घर के अन्दर, मृगशावक को अपने पीछे-पीछे चलाकर ले जाते हुए, पैनि के शयनकक्ष में जायेगा। किन्तु सीढ़ी पर मृगशावक अनिच्छुक हो गया और उन्हें चढ़ने से इन्कार कर दिया।

उसने इसे उठाया और अपने पिता के पास गया। पेनि आँखें बन्द कर लेटा हुआ था। जोडि बोला, “पा! देखो!” पेनि ने अपना सिर घुमाया। जोडि उसकी बगल में मृगशावक को कसकर अपने से चिपकाए हुए, खड़ा था। पेनि को ऐसा लगा कि लड़के की आँखें उतनी ही चमकीली थीं जितनी कि मृगशावक की। उसने कहा, “मुझे प्रसन्नता है कि तुमने उसे ढूँढ़ लिया।” 

Jody then went …………………….. foam and gurgling. (Pages 92-93) 

कठिन शब्दार्थ : 

pan (पैन) = हत्थेदार छिछला पात्र. skimmed (स्किम्ड) = हटाया. cream (क्रीम) = मलाई, gourd (गोर्ड/गुअड) = तूंबा, butted (बटिंड) = सिर से टक्कर मारी, precariously (प्रिकेअरिअसलि). = खतरनाक ढंग से, dipped (डिप्ट) = डुबोया, sucked (सक्ट) = चूसा, greedily (ग्रीडिलि) = लालच से, frantically (फ्रनटिकलि) = व्यग्रता से, blew (ब्लू) = प्रहार किया, snorted (स्नोटिड) = फुफकारा, impatiently (इमपेशन्टलि) = अधीरता से, dreamily (ड्रीमिलि) = स्वप्नमय होकर/मदमस्त होकर, ecstasy (एक्सटॅसि) = आह्लाद, .tail (टेल) = पूँछ, flicked (फ्लिक्ट) = तेजी से हिलाई, forth (फोर्थ) = आगे, vanished (वैनिश्ट) = लुप्त हो गया, swirl (स्वर्ल) = चक्कर खाते हुए, foam (फोम) = झाग, gurgling (गगलिंग) = गरगर की आवाज। 

हिन्दी अनुवाद :

जोडि फिर रसोई तक गया। मृगशावक उसके पीछे लड़खड़ाते हुए चला। एक हत्थेदार छिछले पात्र में सुबह का दूध रसोई में सुरक्षित रखा था। इस पर मलाई आ गई थी। उसने मलाई हटाकर जग में डाल ली। उसने दूध को एक छोटे तूंबे में उंडेल दिया। उसने इसे मृगशावक के पास थामे रखा। दूध को सूंघकर उसने अचानक इसे सिर से टक्कर मारी।

उसने इसे फर्श पर फैलने से खतरनाक ढंग से बचाया। यह तूंबे में रखे दूध का कुछ उपयोग नहीं कर सका। उसने अपनी उँगलियाँ दूध में डुबोईं और उन्हें मृगशावक के कोमल, गीले मुख में ढूंस दी। इसने लालच से चूसा। जब उसने इन्हें खींचा, यह व्यग्रता से मिमियाया और सिर से उसे टक्कर मारी। मारी। उसने अपनी उँगलियाँ पुनः डुबोईं और जैसे ही मृगशावक ने चूसा, उसने उनको धीरे-धीरे दूध के अन्दर तक नीचा कर दिया।

मृगशावक किया, चूसा और फुफकारा। इसने अधीर होकर अपने छोटे खुर जमीन में पटक कर मारे। जब तक उसने अपनी उँगलियाँ दूध के स्तर से नीचे रखीं मृगशावक सन्तुष्ट था। इसने मदमस्त होकर अपनी आँखें बन्द कर लीं। इसकी जीभ को अपने हाथ पर महसूस करना आह्लादपूर्ण था। इसकी छोटी पूँछ पीछे व आगे हिल रही थी। दूध की अन्तिम घुट चक्कर खाते झाग के रूप में गड़पने की आवाज के साथ समाप्त हो गई। 

This is Jody’s Fawn Summary and Translation in Hindi