Day
Night

An Elementary School Classroom in a Slum

Textbook Questions and Answers
Think it out

Question 1.

Tick the item which best answers the following :

(a) The tall girl with her head weighed down means :
The Girl …………..
(i) is ill and exhausted, बीमार व थकी हुई है।
(ii) has her head bent with shame, शर्म से सिर झुका लिया है।
(iii) has untidy hair, बाल बेतरतीब हैं।
Answer:
(i) is ill and exhausted.

(b) The paper-seeming boy with rat’s eye means :
The boy is …………..
(i) sly and secretive, धूर्त व गोपनशील।
(ii) thin, hungry and weak, पतला, भूखा व कमजोर।
(iii) unpleasant looking, दिखने में कुरूप।
Answer:
(ii) thin, hungry and weak.

(c) The stunted, unlucky heir of twisted bones means:
The boy …………..
(i) has an inherited disability, माता-पिता से मिली अक्षमता।
(ii) was short and bony, छोटे कद का व दुबला-पतला।
Answer:
(i) has an inherited disability.

(d) ‘His eyes live in a dream. A squirrel’s game, in the tree room other than this means:
The boy is …………..
(i) full of hope in the future, भविष्य की आशा से पूर्ण ।
(ii) mentally ill, मानसिक रूप से बीमार ।
(iii) distracted from the lesson, पाठ से ध्यान भंग ।
Answer:
(i) full of hope in the future.

(e) The children’s faces are compared to ‘rootless weeds’ This means they,
(i) are insecure, असुरक्षित हैं ।
(ii) are ill-fed, कुपोषित हैं ।
(iii) are wasters, बेकार हैं ।
Answer:
(ii) are ill-fed. कुपोषित हैं ।

Question 2.
What do you think is the colour faded ‘sour cream’? Why do you think the poet has used this expression to describe the classroom walls?
आपके विचार में कुरूप (अप्रिय) क्रीम का रंग क्या है? आपके विचार में कवि ने कक्षा की दीवारों का वर्णन करने के लिये इस अभिव्यक्ति का उपयोग क्यों किया है?
Answer:
The colour of ‘sour cream’ is off white. The poet has used this expression to describe pitiable condition of the classroom of these slum children. It indicates the whole unpleasant environment of slums.

अप्रिय (कुरूप) क्रीम का रंग है धूमिल सफेद। कवि ने इस अभिव्यक्ति का प्रयोग झुग्गी झोंपड़ी में रहने वाले बच्चों की कक्षा की दयनीय स्थिति का वर्णन करने के लिए किया है। यह झुग्गी झोंपड़ी के सम्पूर्ण अप्रिय वातावरण को इंगित करता है।

Question 3.
The walls of the classroom are decorated with the pictures of ‘Shakespeare’, ‘buildings with domes’, ‘world maps’ and ‘beautiful valleys’. How do these contrast with the world of these children?
कक्षा की दीवारें ‘शेक्सपियर की’, ‘गुम्बद वाली इमारतों की’, ‘संसार के मानचित्र’ और ‘सुन्दर घाटी’ की तस्वीरों से सजी हुई हैं। इन बच्चों के संसार से ये कैसे विरोधाभासी हैं?
Or
How do the pictures and maps on the wall contrast with the world the slum children live
दीवार पर टंगी तस्वीरें और मानचित्र उस गंदी बस्ती, जिसमें ये बच्चे रहते हैं, से किस प्रकार विरोधात्मक हैं?
Answer:
Through these pictures the poet wants to depict beauty, progress and prosperity of the world of the rich. The other world is of the slum children. Their bones peep through their .. skins.

इन तस्वीरों के माध्यम से कवि अमीर लोगों के संसार की खूबसूरती, प्रगति व समृद्धि को चित्रित करना चाहते हैं। दूसरा संसार है गंदी बस्ती में रहने वाले बच्चों का। उनकी त्वचा से उनकी हड्डियाँ झाँकती हैं ।

Question 4.
What does the poet want for the children of the slums? How can their lives be changed ?
कवि गंदी बस्ती में रहने वाले इन बच्चों के लिए क्या चाहते हैं? इनकी जिन्दगी को किस प्रकार परिवर्तित किया जा सकता है?
Answer:
The poet wants these children to be removed from slums. These slums are living hell for these children. Healthy environment, human love and care and education should be provided to them.

कवि चाहते हैं कि इन बच्चों को गंदी बस्तियों से बाहर निकाला जाये । ये गंदी बस्तियाँ इन बच्चों के लिए जीवित नरक हैं : उन्हें स्वस्थ वातावरण, मानवीय प्यार व देखभाल और शिक्षा प्रदान की जानी चाहिए।

RBSE Class 12 English An Elementary School Classroom in a Slum Important Questions and Answers
Short Answer Type Questions

Answer the following questions in about 20-25 words.

Question 1.
How do the children of the elementary school in a slum look like?
झुग्गी झोंपड़ी के प्राथमिक विद्यालय के बच्चे कैसे लगते हैं ?
Answer:
They look grim with pale and lifeless faces. Their dishevelled hair falls on their faces and their bones peep through their skins. Yet a little boy has dreams in his eyes.

वे पीले व निर्जीव चेहरे वाले दुखी प्रतीत होते हैं । उनके बिखरे बाल उनके चेहरों पर फैले है तथा उनकी हड्डियाँ उनकी त्वचा से बाहर निकल रही हैं। फिर भी एक छोटे बच्चे की आँखों में स्वप्न हैं।

Question 2.
How has the poet expressed his despair and hope?
कवि ने अपनी निराशा व आशा को किस प्रकार व्यक्त किया है?
Answer:
The poet expresses his despair through the thin, diseased boy and his hope through the little boy who dreams of living in a treehouse like a squirrel.

कवि अपनी निराशा को एक दुबले-पतले, बीमार लड़के के द्वारा तथा अपनी आशा को उस छोटे बच्चे से व्यक्त करता है जो एक गिलहरी के समान पेड़ पर बने घर में रहने का स्वप्न देखता है।

Question 3.
Why don’t the maps and pictures have any relevance to these children of the slum?
इन मानचित्रों व तस्वीरों का इन गंदी बस्ती के बच्चों के लिये कोई अर्थ क्यों नहीं है?
Or
Why does the poet say that the pictures and maps in the elementary school classroom are meaningless?
कवि क्यों कहते हैं कि प्राथमिक विद्यालय के कक्षा-कक्ष में तस्वीरें तथा नक्शे अर्थहीन हैं?
Answer:
The articles hung on the classroom walls are meaningless to the slum children because they show an alien world of the rich and powerful people that is out of their reach.

कक्षा की दीवारों पर टंगी वस्तुएँ गंदी बस्ती के बच्चों के लिए अर्थहीन हैं क्योंकि यह सम्पन्न और ताकतवर लोगों के अनजान संसार को दिखाती हैं जो कि उनकी पहुँच से परे है।

Question 4.
What does the poet want for these children of the slum? And why?
कवि इन गंदी बस्ती के बच्चों के लिए क्या चाहता है? और क्यों?
Answer:
The poet wants these slum children to be taken out of the slum and provided a healthy environment to live in. The poet demands social justice for them.

कवि चाहता है कि इन मलिन बस्तियों के बच्चों को मलिन बस्ती से निकाल कर एक स्वस्थ वातावरण रहने के लिए दिया जाए। कवि उनके लिए सामाजिक न्याय की माँग करता है।

Question 5.
According to the poet, why is the map a bad example ?
कवि के अनुसार यह मानचित्र एक बुरा उदाहरण क्यों है?
Answer:
The map shows the world of rich and powerful people, whereas the slum children live in a deprived world. So they cannot relate to that alien world.

मानचित्र सम्पन्न व शक्तिशाली लोगों के संसार को दर्शाता है जबकि गंदी बस्ती के बच्चे एक वंचित संसार में रहते हैं। इसलिए वे इस अनजान संसार को समझने में असमर्थ है।

Question 6.
How has the poet painted two different worlds through this poem?
कवि ने इस कविता के माध्यम से किस प्रकार दो भिन्न संसारों को चित्रित किया है?
Answer:
Through beautiful things, the poet has shown the world of the rich whereas through the miserable condition of the slum, he has painted the world of the slum children.

खूबसूरत चीजों के माध्यम से कवि ने धनवान संसार को दिखाया है जबकि झुग्गी झोंपड़ी की दयनीय दशा द्वारा झुग्गी झोंपड़ी में रहने वाले बच्चों के संसार को चित्रित किया है।

Question 7.
What should governors, teachers, inspectors and visitors do for these children ?
शासकों, अध्यापकों, निरीक्षकों व आगन्तुकों को इन बच्चों के लिये क्या करना चाहिये?
Answer:
These people should endeavour for betterment of slum children by providing them with clean environment, good education and enough freedom and opportunities.

इन लोगों को गंदी बस्ती के बच्चों के लिए स्वच्छ वातावरण, अच्छी शिक्षा तथा समुचित स्वतंत्रता व अवसर प्रदान करने का प्रयास करना चाहिए।

Question 8.
Do these slum children have any hope for their future?
क्या इन झुग्गी झोंपड़ी के बच्चों में अपने भविष्य के लिये कोई आशा है?
Answer:
These children aspire for freedom to have a space and life of their own choice. They hope to achieve their dreams, if given a chance. ये बच्चे स्वेच्छा से अपना स्थान व जीवन तय करने की स्वतंत्रता प्राप्त करने की कामना करते हैं। यदि उनको अवसर दिया जाए तो वे भी अपने सपनों को साकार करने की आशा रखते हैं।

Question 9.
What kind of life do these children live?
ये बच्चे किस प्रकार का जीवन जीते हैं?
Answer:
These children live in very pitiable conditions. They suffer from malnutrition and diseases and spend all their life in narrow, dirty and suffocating lanes.

ये बच्चे बहुत ही दयनीय परिस्थितियों में रहते हैं। वे कुपोषण व रोगों से ग्रस्त हैं तथा अपना पूरा जीवन संकरी, गंदी व घुटन व घुटन-भरी गलियों में व्यतीत करते हैं।

Question 10.
What does the poet say about the open handed map?
कवि खुले हाथों से बनाये गए मानचित्र के विषय. में क्या कहता है?
Answer:
Powerful people have made the map of this world according their own will. They have no care for the slum children who have no place in it.

शक्तिशाली लोगों ने अपनी इच्छानुसार इस संसार का मानचित्र बनाया है। उन्हें गंदी बस्ती के बच्चों की कोई चिंता नहीं है व इन बच्चों के लिए इस मानचित्र में कोई स्थान नहीं है।

Question 11.
What is peeping through their skins?
उनकी त्वचाओं से क्या झाँक (झलक) रहा है?
Answer:
These children suffer from malnutrition and diseases. They make them weak, thin and have stunted their physical growth. So their bones peep through their skins.

ये बच्चे कुपोषण व बीमारियों से ग्रसित हैं। इससे वे कमजोर, पतले-दुबले हैं व उनका शारीरिक विकास रुक गया है। इस कारण उनकी हड्डियाँ उनकी त्वचा से झाँकती प्रतीत होती हैं।

Question 12.
What do you understand by ‘lead sky’?
‘Lead sky’ से आप क्या समझते हैं?
Answer:
‘Lead sky’ is a symbolism for the environment surrounding the bleak, dull life of the slum children who are weighed down by it in hoplessness and despair.

‘Lead sky’ उस वातावरण का प्रतीक है जिससे गंदी बस्ती के बच्चों का अंधकारमय व नीरस जीवन घिरा हुआ है व जिसके तले वे निराशा व हताशा से दबे हुए हैं।

Question 13.
What does the term ‘fog’ symbolize here in this poem?
कविता में ‘कोहरा’ शब्द किसका प्रतीक है?
Answer:
The ‘fog’ here symbolises the uncertain, gloomy and hopeless existence of the slum children. This fog covers them with misfortune and offers them nothing but a dark future.

469 ‘कोहरा’ मलिन बस्ती के बच्चों के अनिश्चित, अंधकारमय व आशाहीन जीवन का प्रतीक है। यह ‘कोहरा’ इन बच्चों को दुर्भाग्य से ढक देता है व उन्हें एक अंधकारमय भविष्य के अलावा कुछ नहीं देता।

Question 14.
What is the theme of this poem ? ।
इस कविता की विषय-वस्तु क्या है?
Or
What message does the poet convey through this poem ?
इस कविता के माध्यम से कवि क्या सन्देश देता है?
Answer:
The poem conveys the message that adversity affects a child’s body, mind and spirit to such an extent that even the beauty and goodness of the world seems meaningless to him.

यह कविता इस संदेश को देती है कि विपत्ति एक बच्चे के शरीर, मन व आत्मा को इतना प्रभावित करती है कि संसार की सुदरता व अच्छाई भी उसे निरर्थक लगती है।

Question 15.
Name the poet and the poem.
कवि और कविता का नाम बताइये।
Answer:
Stephen Spender is the poet of this poem titled “An Elementary School Classroom in a Slum.
” स्टीफन स्पेण्डर “An Elementary School Classroom in a Slum” शीर्षक वाली कविता के कवि हैं।

Question 16.
How do we know that children at the elementary school are coming from a slum ?
हम यह कैसे जाने कि प्राथमिक विद्यालय के बच्चे गंदी बस्ती से आते हैं?
Answer:
The weak, thin and diseased bodies of the children, their dishevelled appearance and their grim, dull faces tell us that they come from poor families living in slum.

बच्चों के कमजोर, दुर्बल व रुग्ण शरीर, उनका अस्त-व्यस्त रूप और उनके दुखी, कान्तिहीन चेहरे हमें बताते हैं कि वे गदी बस्तियों के निर्धन परिवारों से आते हैं।

Question 17.
Describe the boy sitting in the last row.
अंतिम कतार में बैठे हुए लड़के का वर्णन कीजिए।
Answer:
A sweet little boy is sitting quietly in the last row of the classroom in the dim light. His eyes are dreamy as if he longed to live freely like a squirrel on a tree.

एक प्यारा सा छोटा बच्चा कक्षा की अंतिम कतार में घुमिल प्रकाश में चुपचाप बैठा हुआ है। उसकी आँखों में सपना है मानो वह एक गिलहरी के समान पेड़ पर स्वच्छंद रहना चाहता है। .

Question 18.
What has been described for the tall girl ?
उस लम्बी लड़की के लिये क्या वर्णन किया गया है? ..
Answer:
A tall girl, sitting among other children in the classroom, seems drepressed and her head is bent down with countless worries. It indicates that she is ill and exhausted.

कक्षा-कक्ष में अन्य बच्चों के बीच बैठी हुए एक लम्बी लड़की उदास लगती है तथा अनगिनत चिन्ताओं के कारण अपना सिर नीचे किये हुए है। यह संकेत करता है कि वह बीमार व थकी हुई है।

Long Answer Type Questions

Answer the following questions in about 80 words.

Question 1.
Describe the surroundings of the slum school, the classroom and the children sitting in it.
गंदी बस्ती के विद्यालय के आस-पास के परिवेश, उस कक्षा व उसमें बैठे बच्चों का वर्णन जिए।
Answer:
The school is surrounded by heaps of garbage and puddles of dirty water. The classroom itself is dimly-lit, uninspiring and dirty. The colour of its wall is sour cream. It is decorated with the picture of Shakespeare’s head, world maps, buildings with domes and beautiful velleys.

The children are grim-faced and weak from malnutrition and disease. The children do not comb their hair properly. The tall girl is sitting with her bent head. There is a sweet boy who has dreams in his eyes.

विद्यालय कूड़े के ढेरों व गंदे पानी के भराव से घिरा हुआ है। कक्षा भी धुमिल प्रकाश में, प्रेरणाहीन और गंदी है। इसकी दीवारों का रंग भद्दा सफेद है। यह शेक्सपियर के चेहरे के चित्र की तस्वीर, संसार के नक्शे, ईमारतों के गुम्बदों तथा सुंदर घाटियों के चित्रों से सजी है। बच्चों के दु:खी चेहरे है तथा कुपोषण तथा बीमारी से कमजोर है। बच्चे अपने बालों को उचित तरीके से कंघी नहीं करते है। एक लम्बी लड़की सिर झुका कर बैठी हुई है। एक प्यारा सा लड़का भी है जिसकी आँखों में सपने है।

Question 2.
What does the poet expect the powerful and affluent people to do, if these slum children are to be assured a happy, fruitful and good life?
कवि गंदी बस्ती के बच्चों को प्रसन्न, फलदायी व अच्छे जीवन का आश्वासन देने हेतु शक्तिशाली व धनाढ्य लोगों से क्या करने की आशा करता है ?
Answer:
The poet wants the rich and powerful people to make honest efforts to provide all such facilities to slum children, so that they may enjoy good health, receive good education and have a bright future. He wants these children to be taken out of the slums and given enough opportunities in life to enable them become productive members of the mainstream society. This, the poet feels, is the only way in which these children can escape from their dark fate in the slums.

कवि चाहता है कि धनाढ्य व शक्तिशाली लोग गंदी बस्ती के बच्चों को वे सभी सुविधाएँ देने का ईमानदार प्रयास करें, जिससे ये बच्चे अच्छा स्वास्थ्य, अच्छी शिक्षा व एक सुनहरा भविष्य प्राप्त कर सकें। कवि चाहता है कि इन बच्चों को गंदी बस्तियों से निकालकर जीवन में समुचित अवसर दिए जाएँ ताकि वे समाज की मुख्यधारा के सशक्त सदस्य बन सकें। यही, लेखक के विचार में एकमात्र तरीका है जिससे ये बच्चे गंदी बस्तियों के अपने अंधकारमयी भाग्य से बच सकते हैं।

Question 3.
The poet describes the deprived existence of slum-dwelling children in this poem. What signs of deprivation do you see here ? Explain.
इस कविता में कवि गंदी बस्ती में रहने वाले बच्चों के वंचित जीवन का वर्णन करता है। आप यहाँ वंचित होने के कौन-से चिन्ह देखते हैं ? समझाइए।
Answer:
The slum children live a deprived life. They lack good education. Their classrooms are dark with no furniture. They live in cramped quarters in dirty streets drowned in fog. They are also deprived of healthy food and sanitation facilities, and therefore suffer from many diseases. Malnutrition makes them stunted. Their bones look through their skin and are twisted. They are hopless about their future too. They are so poor that they have to wear repaired spectacles with broken glasses.

गन्दी बस्तियों के बच्चे वंचन का जीवन जीते हैं। वे अच्छी शिक्षा-दीक्षा से वंचित रहते हैं। उनके कक्षाकक्ष बगैर फर्निचर के अंधेरे होते हैं । वे तंग आवासों में रहते हैं, जो कोहरे में डूबी हुई गलियों में स्थित होते हैं। वे स्वास्थ्यप्रद भोजन तथा सफाई की व्यवस्था से भी वंचित रहते हैं और इस कारण कई बीमारियों के शिकार होते हैं। कुपोषण उन्हें अर्द्धविकसित बनाता है। उनकी हड्डियाँ चमड़ी के भीतर से बाहर झांकती दिखाई पड़ती हैं और टेढ़ी-मेढ़ी होती हैं। वे उनके भविष्य के बारे में भी निराश रहते हैं। वे इतने गरीब हैं कि उन्हे टूटे हुए कॉच का सुधारा हुआ चश्मा पहनना पड़ता है।

Question 4.
The world of the slum-twelling children differs from the world shown in picture and maps. How does the poet depict this fact in this poem ?
गन्दी बस्तियों में रहने वाले बच्चों की दुनियां तस्वीरों तथा मानचित्रों में दिखाई दुनिया से बहुत भिन्न है। कवि इस तथ्य को इस कविता में कैसे दर्शाता है ?
Answer:
The pictures and maps hung on the dirty, pale walls of the slum school depict an entirely different world than that of slums. They depict a world where creative writers like Shakespeare write dramas, where the dawn is cloudless and clear and where buildings with domes fill the cities.

Nature scatters its beauty in the form of valleys, rivers, green fields and capes there. But the world of the slum children is marked by fog and darkness, dingy hutments, poverty, disease, ignorance, uncertainty and hopelessness.

गन्दी बस्ती के स्कूल की गन्दी, पीली दीवारों पर लगी तस्वीरें तथा मानचित्र मलिन बस्तियों से एक पूर्णतया भिन्न प्रकार की दुनियाँ प्रस्तुत करते हैं। वे एक ऐसी दुनियाँ प्रस्तुत करते हैं जहाँ शक्सपियर जैसे रचनात्मक लेखक नाटक लिखते हैं, जहाँ सूर्योदय बादलों से रहित तथा स्वच्छ होता है और जहाँ शहरों में गुम्बदों वाली इमारतें बहुतायत में पायी जाती हैं। वहाँ प्रकृति घाटियों, नदियों, हरे खेतों व अंतरीपों के रूप में अपना सौन्दर्य बिखेरती है। लेकिन गन्दी बस्ती में रहने वाले बच्चों का संसार कोहरे, अँधेरे , गन्दी झोपड़पट्टी, गरीबी, बीमारी, अज्ञानता, अनिश्चितता व निराशा से चिन्हित है।

An Elementary School Classroom in a Slum